सलमान खान की हत्या की साजिश का खुलासा
Spread the love

काला हिरण मामले के आरोपी फिल्म अभिनेता सलमान खान की हत्या की साजिश का खुलासा गुरुग्राम एसटीएफ की टीम ने किया है. दरअसल गुरुग्राम की एसटीएफ की टीम ने हैदराबाद से गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के गुर्गे संपत नेहरा को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की थी. संपत नेहरा पर हत्या, हत्या के प्रयास और फिरौती मांगने के दो दर्जन से ज्यादा मामले हरियाणा सहित कई राज्यों में दर्ज हैं. गिरफ्तारी के बाद जब संपत नेहरा से एसटीएफ की टीम ने पूछताछ शुरू की तो एक बार टीम के भी उस वक्त होश उड़ गए जब संपत नेहरा ने कबूला की वो फिल्म अभिनेता सलमान खान की हत्या की साजिश रच रहा था.एसटीएफ की टीम के मुताबिक संपत नेहरा ने कबूला कि वो सलमान खान की हत्या के लिए दो दिन तक उसके घर की रेकी भी कर चुका है. साजिश किसी भी तरह से नाकामयाब न हो, इसके लिए बकायदा नेहरा घर के आसपास की टोह लेने के साथ-साथ सलमान के आने-जाने के समय और सिक्योरिटी की जानकारी भी जुटा रहा था.

संपत नेहरा से एसटीएफ की टीम ने पूछताछ शुरू की तो एक बार टीम के भी उस वक्त होश उड़ गए जब संपत नेहरा ने कबूला की वो फिल्म अभिनेता सलमान खान की हत्या की साजिश रच रहा था.

मई में की सलमान के घर की रैकी

संपत नेहरा मई के पहले सप्ताह में सलमान के घर की रैकी करने के लिए गया था. संपत नेहरा फैन बनकर उस वक्त सलमान की हत्या की ताक में था, जब सलमान अपने घर की बालकनी पर खड़े होकर अपने फैन से रूबरू होते हैं. इतना ही नहीं, फैन्स और सलमान के बीच कितना फासला है और इस फासले में किस हथियार से गोली दागी जा सकती है, इसकी भी जानकारी संपत नेहरा ने जुटाई थी, लेकिन संपत नेहरा अपने इस मंसूबे में कामयाब हो पाता, उससे पहले ही एसटीएफ की टीम ने उसे हैदराबाद में धरदबोचा.

लॉरेंस बिश्‍नोई ने दी थी सलमान को धमकी

सलमान खान की हत्या की साजिश लॉरेंस बिश्नोई की उस धमकी से जोड़कर देखी जा रही है, जब गैंगस्टर बिश्‍नोई ने सलमान खान को काला हिरण के शिकार के मामले में जान से मरवाने की बात कही थी. फिलहाल संपत नेहरा की गिरफ्तारी से सलमान खान की हत्या की साजिश तो नाकामयाब हो गई है, लेकिन इस साजिश में संपत नेहरा के और कौन-कौन मददगार थे, उनकी जानकारी और तलाश में अब एसटीएफ की टीम लगी हुई है. संपत नेहरा से आगे की पूछताछ में कई और बड़े खुलासे होने की भी उम्मीद है.


जेल में रहकर ही रची साजिश

एसटीएफ को संपत नेहरा से जो जानकारी मिली, उसके मुताबिक लॉरेंस विश्नोई जेल में बैठकर ही इस पूरी साजिश को रच रहा था. इसके लिए संपत नेहरा को ये जिम्मेदारी दी गई थी. संपत नेहरा की दोस्ती लॉरेंस बिश्नोई से जेल में ही हुई थी. इसके बाद संपत विश्नोई गैंग से जुड़ा. संपत नेहरा चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में छात्र राजनीति के दौरान लॉरेंस विश्नोई के संपर्क में आया था.

कार चोरी के मामले में हुआ था गिरफ्तार

संपत नेहरा 2016 में कार चोरी के मामले में गिरफ्तार हुआ और बाद में बिश्नोई गैंग में शामिल हो गया. संपत नेहरा पर इनेलो के पूर्व विधायक के भाई की हत्या के प्रयास का मामला भी दर्ज है. इतना ही नहीं हरियाणा, राजस्थान और पंजाब पुलिस ने दो लाख रुपए का इनाम भी इस सुपारी किलर पर घोषित किया हुआ था. अब देखना ये होगा कि संपत नेहरा की गिरफ्तारी के बाद और कौन-कौन से बड़े खुलासे होते हैं.

Input : News18

Total 0 Votes
0

Tell us how can we improve this post?

+ = Verify Human or Spambot ?

News Reporter