बिहार बोर्ड ने किए मैट्रिक-इंटर कॉपियों में ये बदलाव, जानिए कैसी रहेगी OMR शीट
Spread the love

इंटर और मैट्रिक वार्षिक परीक्षा 2018 की कॉपी पिछले साल की तुलना में भिन्न होगी। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि माध्यमिक और उच्च माध्यमिक वार्षिक परीक्षा 2017 की कॉपी में मुख्य पृष्ठ की ओएमआर शीट दो भाग में थी। इस साल मुख्य पृष्ठ की ओएमआर शीट बाएंं, मध्य और दाहिने भाग में होगी।

आनंद किशोर ने बताया कि परीक्षार्थी बाएं और दाहिने भाग में निर्देशित कॉलम के गोलक को काले या नीले बॉल पेन से पूरी तरह रंगकर भरेंगे। मध्य भाग अवार्ड शीट है। इसे मूल्यांकन के दौरान केंद्रों पर परीक्षक या प्रधान परीक्षक भरेंगे। मध्य भाग पर परीक्षार्थियों को कुछ भी दर्ज नहीं करना होगा।

उन्‍होंने बताया कि 50 फीसद अंक के वस्तुनिष्ठ प्रश्नों के उत्तर के लिए ओएमआर शीट अलग से उपलब्ध कराई जाएगी। यह ओएमआर शीट दो भागों में होगी। एक भाग में परीक्षार्थी अपनी विवरणी तथा दूसरे भाग में वस्तुनिष्ठ प्रश्नों का जवाब गोला रंगकर देंगे। गोला नीले और काले बॉल पेन से ही भरना होगा। प्रायोगिक परीक्षा की उत्तरपुस्तिका का मुख्य पृष्ठ भी ओएमआर शीट होगी। बिहार बोर्ड जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (माध्यमिक) तथा मास्टर टे्रनर के माध्यम से बदलाव की जानकारी सभी शिक्षकों को देगा।

डीपीओ और मास्टर ट्रेनर का प्रशिक्षण


बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा आयोजित प्रशिक्षण में सभी जिलों के जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (माध्यमिक), तीन माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक और प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी शामिल होंगे। प्रशिक्षण दो पालियों में होगा। प्रथम पाली में पटना, मगध, तिरहुत तथा सारण प्रमंडल के 20 जिलों के मास्टर ट्रेनर भाग लेंगे। दोपहर दो बजे से दूसरी पाली में दरभंगा, कोसी, पूर्णिया, भागलपुर तथा मुंगेर प्रमंडल के 18 जिलों के मास्टर ट्रेनर शामिल होंगे।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रायोगिक और सैद्धांतिक परीक्षा से संबंधित ओएमआर शीट भरने, उत्तरपुस्तिका, ओएमआर आंसर-शीट, उपस्थिति पत्रक, डिस्पैच स्टेटमेंट, निष्कासन से संबंधित सूची, फ्लाइंग स्लिप, अवार्ड शीट आदि के निष्पादन और पैकिंग की जानकारी दी जाएगी। मास्टर ट्रेनर नौ और 10 जनवरी को जिला स्तर पर दो चरणों में प्रशिक्षण अन्य शिक्षकों और पदाधिकारियों को देंगे।

दो चरण में जिलास्तर पर ट्रेनिंग


जिला स्तर पर प्रशिक्षण दो चरणों में होगा। प्रथम चरण में ओएमआर शीट भरने से संबंधित जानकारी दी जाएगी। इसमें सभी माध्यमिक और उच्च माध्यमिक स्कूलों के प्राचार्य तथा दो-दो शिक्षक शामिल होंगे। दूसरे चरण के प्रशिक्षण में परीक्षा केंद्र पर उपयोग होने वाली उत्तरपुस्तिका, ओएमआर आंसर शीट, उपस्थिति पत्र, डिस्पैच स्टेटमेंट, निष्कासन से संबंधित सूची सहित अन्य कार्यों के निष्पादन और पैकिंग की जानकारी दी जाएगी। इसमें सभी केंद्रों के केंद्राधीक्षक और उनके द्वारा चयनित दो शिक्षक या कर्मी शामिल होंगे।

कल तक उपलब्ध करा दी जाएगी डमी ओएमआर शीट


बिहार बोर्ड छह जनवरी तक सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालयों को ओएमआर शीट उपलब्ध करा देगा। सभी स्कूलों के प्राचार्य डीईओ कार्यालय से उपलब्ध कराई गई ओएमआर शीट की एक-एक कॉपी सभी परीक्षार्थियों को उपलब्ध कराएंगे। प्रत्येक परीक्षार्थी को कॉपी के कवर पेज तथा वस्तुनिष्ठ प्रश्नों के उत्तर के लिए प्रयुक्त ओएमआर शीट की एक-एक कॉपी मिलेगी। परीक्षार्थियों के बीच वितरण के लिए बोर्ड ने 66 लाख ओएमआर शीट पिं्रट कराई है। बोर्ड पहली बार परीक्षार्थियों के बीच डमी ओएमआर शीट का वितरण करेगा।

Source : Dainik Jagran

 

यह भी पढ़ेंबिहार की इस बेटी ने मॉस्को में लहराया तिरंगा, बनींराइजनिंग स्टार

यह भी पढ़ें -» यह भी पढ़ें -» पटना स्टेशन स्थित हनुमान मंदिर, जानिए क्यों है इतना खास

यह भी पढ़ें :ट्रेन के लास्ट डिब्बे पर क्यों होता है ये निशान, कभी सोचा है आपने ?

यह भी पढ़ें -» गांधी सेतु पर ओवरटेक किया तो देना पड़ेगा 600 रुपये जुर्माना

यह भी पढ़ें -» अब बिहार के बदमाशों से निपटेगी सांसद आरसीपी सिंह की बेटी IPS लिपि सिंह

यह भी पढ़ें -» बिहार के लिए खुशखबरी : मुजफ्फरपुर में अगले वर्ष से हवाई सेवा

 

(मुज़फ़्फ़रपुर नाउ के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैंआपहमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Total 0 Votes
0

Tell us how can we improve this post?

+ = Verify Human or Spambot ?

News Reporter