डीएम के आदेश पर भी नहीं हुई पहल, 16वें दिन भी बंद रहा विवि
Spread the love

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय में गतिरोध दूर कर कामकाज सामान्य कराने का डीएम धर्मेंद्र सिंह का आदेश भी बेअसर रहा। विश्वविद्यालय को खुलवाना तो दूर कोई पहल तक होती नहीं दिखी। इस कारण लगातार 16वें दिन विश्वविद्यालय में कामकाज ठप रहा। डीएम ने एसडीओ और डीएसपी को निर्देश दिया था कि वे प्रदर्शनकारी छात्रों से वार्ता कर विवि में गतिरोध खत्म कराएं ताकि कामकाज सामान्य हो सके।

उल्लेखनीय है कि विवि में लगातार बंदी और धरना-प्रदर्शन से होने वाली परेशानी और ठप पड़े कामकाज के मद्देनजर विवि के रजिस्ट्रार डॉ. एके श्रीवास्तव ने डीएम को पत्र लिखकर मुकम्मल सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध कराने की बात कही थी। विवि के पत्र के आलोक में डीएम ने एसडीओ और डीएसपी को निर्देश देते हुए प्रदर्शनकारी छात्रों से वार्ता कर धरना- प्रदर्शन को समाप्त कर विश्वविद्यालय को खुलवाने की दिशा में निर्देश दिया था। विवि का तर्क है कि छात्रों की मांगों के आलोक में विवि ने आवश्यक कदम उठाए हैं, लेकिन धरना जारी है।

विशेष शाखा ने खूनी संघर्ष की जताई आशंका, डीएम-एसएसपी को भेजी रिपोर्ट 

बीआरए बिहार विवि में खूनी संघर्ष की जमीन तैयार हो रही है। विवि की बंदी से कैंपस में उपजा तनाव इसका कारण है। विशेष शाखा की ओर से डीएम और एसएसपी को भेजी गई रिपोर्ट में इसका खुलासा करते हुए प्रशासन को आगाह किया गया है। बताया जा रहा है कि विवि में लगातार बंदी होने से छात्रों के गुटों में काफी तनाव है। ऐसे में कई छात्र समुदाय के आधार पर गुटों में विभाजित होकर विवि खुलवाना चाहते हैं। वहीं, दूसरी ओर प्रदर्शनकारी टस से मस नहीं हो रहे हैं। ऐसे में विवि में कोई भी अप्रिय घटना हो सकती है।

डीडीई निदेशक के निलंबन की मांग पर अड़े हैं छात्र 

डीडीईमें अवैध नियुक्ति के विरोध में विवि बचाओ संघर्ष समिति के बैनर तले छात्रों का विरोध प्रदर्शन लगातार जारी है। इस तरह 16वें दिन भी विवि नहीं खुला। डीडीई निदेशक और उप निदेशक को सस्पेंड किए जाने की मांग को लेकर प्रदर्शनकारी छात्र दिनभर नारे लगाते रहे। छात्रों ने बताया कि शुक्रवार को धरनास्थल पर कोई भी विवि प्रतिनिधि वार्ता के लिए नहीं पहुंचे।

दारोगा भर्ती अभ्यर्थियों को राहत, तैयार हुए 400 प्रोविजनल  

दारोगाभर्ती में अपनी किस्मत आजमाने वाले छात्रों को बीआरए बिहार विवि ने थोड़ी राहत दी है। शनिवार को दोपहर बाद परीक्षा विभाग खुलने की स्थिति में विवि ने लगभग 400 से अधिक छात्रों का प्रोविजनल तैयार कर लिया है। अगर सबकुछ ठीकठाक रहा तो इन तैयार किए गए प्रोविजनल का वितरण सोमवार को होगा। वहीं अब तक विवि में आए आवेदनों के आधार पर रविवार को भी परीक्षा विभाग के कर्मचारी छात्र हित में अपना कामकाज करेंगे। शुक्रवार की दोपहर बाद बैंक में जमा किए गए चालान की कॉपी विवि को उपलब्ध होने के बाद छात्रों के आवेदन पर प्रोविजनल तैयार किया गया। वहीं शनिवार को शाम में पहुंचाया जाने वाला चालान पर रविवार को दस्तावेज तैयार किए जाएंगे। शनिवार को विवि कर्मचारी संघ की ओर से पहले करते हुए प्रदर्शनकारी छात्रों से बातचीत की गई। इसमें कर्मचारियों ने परीक्षा विभाग को खोले जाने की बात कही।

Source : Dainik Bhaskar

Total 0 Votes
0

Tell us how can we improve this post?

+ = Verify Human or Spambot ?

News Reporter