BSEB का आदेश, जूता-मोजा पहनकर नहीं दे पाएंगे मैट्रिक परीक्षा

0
34
Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मैट्रिक परीक्षा में जूता-मोजा पहनकर प्रवेश की इजाजत नहीं होगी। परीक्षार्थियों से चप्पल पहनकर आने को कहा गया है। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने प्रतियोगी परीक्षाओं के तर्ज पर नई व्यवस्था लागू करने का आदेश जारी किया है। राज्य में 21 फरवरी से शुरू हो रही मैट्रिक परीक्षा को कदाचार मुक्त बनाने के लिए बोर्ड ने सख्ती के निर्देश दिए हैं।

समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि परीक्षा में जूता और मोजा नहीं पहनने के सम्बंध में निर्देश बिहार राज्य में अयोजित विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में दिया जाता रहा है, जिसे इस वर्ष से वार्षिक माध्यमिक परीक्षा में लागू करने का निर्णय लिया गया है। समिति द्वारा सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी, केंद्राधीक्षक, परीक्षार्थी, अभिभावकों के लिए निर्देश जारी किया गया है।

वार्षिक माध्यमिक परीक्षा 2018 के लिए राज्य में 1426 केंद्र बनाए गए हैं। 21 से 28 फरवरी तक दो पालियों में परीक्षा होगी। परीक्षा में 17.70 लाख परीक्षार्थियों को प्रवेश पत्र जारी किया गया है। पटना जिले में कुल 74 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। जिले में दो पालियों में 82.50 हजार से भी अधिक परीक्षार्थी सम्मिलित होंगे।

Input : Dainik Jagran


Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •