बूढ़ी गंडक नदी पर डबल लेन पुल, एनएच से जुड़ेगा बांध रोड
Spread the love

शहर को स्मार्ट सिटी बनाने की परियोजना के पहले चरण में स्मार्ट रोड के नेटवर्क पर जल्द काम शुुरू होगा. सड़क, पुल व पार्क निर्माण के लिए 159 करोड़ (अनुमानित) के प्रोजेक्ट का डीपीआर बनाने की प्रक्रिया शुरू हो गयी है. प्रमंडलीय आयुक्त एचआर श्री निवास ने पथ निर्माण विभाग के प्रधान सचिव को पत्र लिख कर जल्द डीपीआर बनवाने का आग्रह किया है. इन योजनाओं पर काम अर्ली बर्ड प्रोजेक्ट के तहत होगा.

अखाड़ाघाट पुल के साथ समानांतर बनेगा पुल

एरिया बेस्ड डेवलपमेंट (एबीडी) योजना के तहत बूढ़ी गंडक पर अखाड़ाघाट पुल के समानांतर डबल लेन पुल बनेगा. साथ ही बांध रोड का चौड़ीकरण कर उसे दादर पुल एनएच-57 (मुजफ्फरपुर-दरभंगा) रोड से जोड़ा जायेगा. शहर की सड़कों का कायाकल्प होगा. मुख्य रूप से अखाड़ाघाट से रेलवे जंक्शन को प्रधान रोड, स्टेशन से एमआइटी को स्पेशल रोड के रूप में विकसित किया जायेगा.

इन सड़कों का होगा चौड़ीकरण

सिकंदरपुर राणी सती मंदिर से लक्ष्मी चौक तक जाने वाली सड़क मरीन ड्राइव का भी चौड़ीकरण होगा. लक्ष्मी चौक, ब्रह्मपुरा, जूरन छपरा, इमलीचट्टी, छोटी सरैयागंज, कंपनी बाग रोड सरैयागंज टावर, कल्याणी व मोतीझील की ब्रांच सड़कों को चौड़ा कर निर्माण होगा. स्मार्ट पार्किंग की भी व्यवस्था होगी. सभी मुख्य बाजारों के आसपास पार्किंग होगी.

अर्ली बर्ड प्रोजेक्ट के तहत चयनित योजनाएं

योजना का नाम    अनुमानित लागत

बूढ़ी गंडक नदी पर डबल लेन पुल   20 करोड़
एनएच 57 से जुड़ने वाली अखाड़ाघाट बांध रोड   20 करोड़
अखाड़ाघाट से रेलवे जंक्शन (प्रधान रोड)   12 करोड़
स्टेशन से एमआइटी स्पाइनल रोड रिडेवलप्मेंट   24 करोड़
सिकंदरपुर झील से लक्ष्मी चौक रोड   12 करोड़
शहर के अंदर के संपर्क पथ   54 करोड़
रेलवे जंक्शन के एरिया विकास पर   चार करोड़
स्मार्ट पार्किंग एंड एमएलसीपीएस   13 करोड़

 

Input : Prabhat Khabar

Image : Demo

Total 1 Votes
1

Tell us how can we improve this post?

+ = Verify Human or Spambot ?

News Reporter