महापौर ने एलईडी लाइट लगाने पर लगा दी रोक
Spread the love

शहर की सड़कों एवं गलियों को एलईडी लाइट से रोशन करने की योजना पर फिलहाल महापौर सुरेश कुमार ने रोक लगा दी है। उन्होंने सशक्त स्थाई समिति एवं निगम बोर्ड की अनुमति के बगैर एजेंसी से एकरारनामा करने एवं करार से संबंधित जानकारियों से अवगत नहीं कराने का आरोप लगाया है।

शहरी क्षेत्र में एलईडी लाइट लगाने एवं उसके रखरखाव को लेकर निजी एजेंसी एनर्जी एफिशिएंसी सर्विस प्राइवेट लिमिटेड (ईईएसएल) एवं नगर निगम के बीच 6 फरवरी को पटना में एकरारनामा हुआ था। इस दौरान नगर विकास विभाग के प्रधान सचिव चैतन्य प्रसाद, उपमहापौर मानमर्दन शुक्ला एवं नगर आयुक्त संजय दुबे मौजूद थे। एजेंसी ने दो हजार एलईडी लाइट मंगा ली हैं और वह अब इसे लगाने की तैयारी कर रही है।

Acme Solutions, Muzaffarpur, Bihar, Tally ERP. Eway Bill Generate

इसी बीच महापौर ने नगर आयुक्त को पत्र लिखकर बगैर उनकी अनुमति के एजेंसी के काम करने पर रोक लगाने का निर्देश दिया है। उनका कहना है कि सशक्त स्थाई समिति की बैठक में निर्णय लिया गया था कि एजेंसी को बोर्ड की बैठक में उपस्थित होकर अपनी कार्ययोजना एवं एकरारनामा की शतरे की जानकारी देने को कहा गया था, लेकिन वह जानकारी नहीं दे पाई।

ऐसे में बगैर पूरी जानकारी उसे कार्य करने की अनुमति नहीं दी जा सकती। उन्होंने कहा कि वे काम के विरोधी नहीं है, लेकिन पहले भी कई एजेंसी निगम को चूना लगा चुकी हैं। इसलिए उसके साथ हुए करार की जानकारी सदस्यों को होनी चाहिए। गलत होने पर निगम को बदनामी ङोलनी पड़ती है। इसी वजह से काम को रोका गया है।

 

 

सशक्त स्थाई समिति और बोर्ड की अनुमति नहीं लेने का लगाया आरोप

ईईएसएल को मिली है शहर में वेपर लाइट लगाने की जिम्मेदारी

कार्य को लेकर पटना में नगर निगम और एजेंसी के बीच हुआ था करार

 

Input : Dainik Jagran

 

Total 0 Votes
0

Tell us how can we improve this post?

+ = Verify Human or Spambot ?

News Reporter