सेना ने भेजी तलवार से हमले की रिपोर्ट, लोगों ने सेना पर अभद्र व्यवहार-मारपीट का लगाया आरोप

0
91

चक्कर मैदान के रेसकोर्स इलाका स्थित डिफेंस लैंड में रोड-नाला विवाद में स्थानीय लोगों व सेना के जवानों के बीच हुई भिड़ंत में 151 इनफेंट्री जाट रेजिमेंट ने दानापुर मुख्यालय को रिपोर्ट भेज दी है। इसमें क्यूआरटी के सूबेदार संजय तिवारी के नेतृत्व में निकले 8 सैनिकों पर 100 से अधिक तलवार-लाठी लिए लोगों द्वारा हमले की बात कही गई है। इसमें 3 सैनिकों के गंभीर रूप से जख्मी होने व 5 अन्य जवानों के चोटिल होने की बात कही गई है। सैनिकों की वर्दी फाड़ने, हथियार छीनने का प्रयास, कैमरा क्षतिग्रस्त करने व मोबाइल छीनने का भी आरोप लगाया गया है। दूसरी तरफ रेसकोर्स मोहल्ले के लोगों ने बैठक कर निर्दोषों को फंसाने का आरोप लगाते हुए आक्रोश जताया। उसके बाद मोहल्ले के एक प्रतिनिधिमंडल ने काजी मोहम्मदपुर थाना पहुंच कर सेना के 3 अधिकारियों व 150 अज्ञात जवानों को आरोपित करते हुए आवेदन सौंपा।

 

घायल महिला की ओर से 3 सेना अधिकारी व 150 जवानों के खिलाफ थाने में दिया गया आवेदन

 

घायल महिला जयकांता देवी की ओर से दिए उक्त आवेदन में आरोप लगाया है कि जवानों ने घर में घुसकर महिलाओं से अभद्र व्यवहार व मारपीट की। इसमें महिला-पुरुष 6 लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए। जवानों पर कीमती सामन लूटने का भी आरोप लगाया गया है। थानेदार संजीव शेखर झा ने जांच का हवाला देते हुए लोगों को वरीय अधिकारियों के निर्देश पर आगे की कार्रवाई का भरोसा दिलाया। देर शाम तक जयकांता के आवेदन पर एफआईआर दर्ज नहीं की गई थी। कर्नल ने सेना पर लगाए गए आरोप को निराधार व जमीन पर कब्जे की साजिश बताई है।

 

रेसकोर्स में जाने से लोगों को रोक रही सेना, पुलिस ने बताया स्थिति सामान्य 
नरेंद्र मोदी के आगमन को लेकर रेसकोर्स इलाके में डीएम के आदेश पर बने कंक्रीट रोड को काटने के बाद सेना के जवानों को तैनात कर दिया गया है। मार्ग से जानेवाले लोगों को जवान डिफेंस लैंड बता कर रोक रहे हैं। पुलिस स्थिति सामान्य होने की बात कह रही है।

रेसकोर्स से गिरफ्तार चार लोगों को भेजा गया जेल, मोहल्ले में सन्नाटा 
बवाल में बुधवार को गिरफ्तार किए गए 4 युवकों को पुलिस ने गुरुवार को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। घटना के बाद गिरफ्तारी के भय से मोहल्ले के 8 परिवार घर में ताला लगाकर रिश्तेदारों के यहां शरण लिए हुए हैं। मोहल्ले में सन्नाटा पसरा हुआ है।

बवाल के दौरान हुई फोटोग्राफी से की जाएगी अज्ञात आरोपितों की पहचान 
मामले में पुलिस कार्रवाई की मॉनिटरिंग कर रहे नगर डीएसपी आशीष आनंद ने बताया कि बवाल के दौरान ली गई तस्वीर में सेना के जवानों के साथ मारपीट व पथराव का दृश्य है। अज्ञात आरोपितों की पहचान तस्वीर देखकर की जाएगी।

पार्षद ने कहा- अधिकारी के साथ गया था, फिर भी बना दिया हमले का आरोपित 
वार्ड 10 के पार्षद अभिमन्यु कुमार ने बताया कि वे बवाल के बाद नगर डीएसपी व एसडीओ पूर्वी के साथ मौके पर पहुंचे थे। इसके बावजूद एफआईआर में नामजद आरोपित बनाया गया है। शुक्रवार को एसएसपी से मिलकर अपना पक्ष रखेंगे।

 

मोहल्ले के लोगों की ओर से दिए गए आवेदन की सूचना नहीं 

रेसकोर्स बवाल व सेना के जवानों के साथ मारपीट के आरोप में गिरफ्तार 4 आरोपितों को जेल भेजा गया है। मामले में आगे बवाल के दौरान की तस्वीर से पहचान कर कार्रवाई होगी। मोहल्ले के लोगों की ओर से दिए गए आवेदन की सूचना नहीं है। –आशीष आनंद, नगर डीएसपी। 

कर्नल समेत चार नामजद और 150 अज्ञात के विरुद्ध सीजेएम कोर्ट में परिवाद
चक्कर मैदान बवाल मामले में गुरुवार को सीजेएम कोर्ट में कर्नल नीरज कुमार समेत चार नामजद व 150 अज्ञात के विरुद्ध परिवाद दायर कराया गया है। चक्कर मैदान हनुमान मंदिर निवासी जयकांति देवी की ओर से दर्ज परिवाद में कर्नल नीरज कुमार के साथ-साथ संजय तिवारी, सिपाही अनुज कुमार व शैलेंद्र सहनी समेत 150 अज्ञात को आरोपित किया गया है।

Input : Dainik Bhaskar