जरा भी देर होती तो बिक जाती महिला, मुजफ्फरपुर में मानव तस्करी के रैकेट का खुलासा
Spread the love

मुजफ्फरपुर जिले में मवेसियों की तस्करी के बाद अब मानव तस्करी का भी बड़ा खुलासा हुआ हैं. घटना इलाके में चर्चा का विषय बनी हुई है. दरअसल बैरिया के कोल्हुआ पैगम्बरपुर गांव में बुधवार की शाम मानव तस्करी के एक बड़े रैकेट का खुलासा हुआ है. स्थानीय लोगों के प्रयास से एक महिला बिकने से बाल-बाल बच गयी. घटना की जानकारी मिलने पर अहियापुर पुलिस ने छापेमारी कर मानव तस्करी में शामिल एक युवक व युवती को गिरफ्तार किया है.

हालांकि आधा दर्जन युवक व युवती मौके से फरार हो गए. पूरे मामले का खुलासा उस वक्त हुआ जब तस्कर ने मुजफ्फरपुर जंक्शन से मीनापुर की एक महिला को झांसे में लेकर बंधक बना लिया. पीड़िता किसी तरह उनके चंगुल से बचकर भागी और स्थानीय लोगों को आपबीती सुनाई. न्याय की गुहार लगाई. मामले में थानेदार विजय कुमार ने कोल्हुआ पैगम्बरपुर के गुड्डू राम के बयान पर एफआईआर दर्ज की है.

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि पति पटना और पिता हरियाणा में रहते हैं. सोमवार को ससुराल में पारिवारिक विवाद हो गया था. गुस्से में आकर पिता के पास हरियाणा जा रही थी. दिन के करीब 11 बजे जंक्शन पर ट्रेन पकड़ने के लिए खड़ी थी. इसी बीच एक युवक व एक युवती अकेली देखकर बातचीत करने लगे. मेलजोल बढ़ाने के बाद दोनों ने साथ चलने को कहा. दोनों उसे समस्तीपुर ले गए. वहां से बस से रात में वापस बैरिया ले आए. उसे एक घर में लाकर रखा. वहां चार युवतियां पहले से मौजूद थीं.

छुड़ाई गई महिला ने बताया कि सबने उसे कपड़ा बदलने के लिए दिया. एक युवती ने बताया कि कोलकाता चलना है. वहां देह व्यापार करना होगा. इसमें अच्छे पैसे मिलेंगे. पीड़िता ने इसका विरोध किया और किसी तरह रात में भागकर गुड्डू राम के घर में जाकर छुप गई. बुधवार की सुबह स्थानीय लोगों की मदद से अहियापुर थाने पहुंची. और शिकायत की. जिसके बाद मामले का खुलासा हुआ.

ADVERTISMENT, MUZAFFARPUR, BIHAR, DIGITAL, MEDIA

गुड्डू राम ने पुलिस को बताया कि काफी समय से पास के एक मकान में संदिग्ध गतिविधि देखी जा रही थी. बराबर युवतियों को बहला- फुसलाकर लाया जाता था. मंगलवार की रात पीड़िता रोते हुए चौक पर आयी. रात में उसे अपने घर में शरण दी. साथ ही इसकी सूचना पुलिस, पंचायत के मुखिया व सरपंच को दी. सरपंच कृष्णा देवी व उनके पति संजीव कुमार सुमन ने भी पुलिस को बताया कि हरिसाह चौक के आसपास एक दर्जन से अधिक महिला व पुरुषों की गतिविधियां संदिग्ध देखी जा रही थी. सभी बस स्टैंड, रेलवे जंक्शन पर से भूली-भटकी युवती व महिला को बहला-फुसलाकर कब्जे में ले लेते थे.

वहीं थानेदार विजय कुमार ने बताया कि कई बार पुलिस ने छापेमारी भी की है. मंगलवार की रात भी तस्कर मीनापुर की उक्त महिला को लेकर पहुंचे थे. इसकी जानकारी महिला के वहां से भाग निकलने के बाद हुई. महिला को पुलिस के हवाले कर दिया गया है. उन्होंने बताया कि पांच को नामजद किया गया है. दो को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है. मौके से एक बाइक भी जब्त की गई है. पुलिस गिरोह के फरार तस्करों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है.

Source : Live Cities

 यह भी पढ़ें -» पटना स्टेशन स्थित हनुमान मंदिर, जानिए क्यों है इतना खास

यह भी पढ़ें :ट्रेन के लास्ट डिब्बे पर क्यों होता है ये निशान, कभी सोचा है आपने ?

यह भी पढ़ें : भारत की मानुषी छिल्लर ने जीता मिस वर्ल्ड का ताज

Total 0 Votes
0

Tell us how can we improve this post?

+ = Verify Human or Spambot ?

News Reporter