मझौलिया में ¨हसक झड़प, पुलिस-सीओ से भिड़े

0
48
Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सदर थाना क्षेत्र के मझौलिया इलाके में एक दिन पूर्व गंदा पानी झोंकने के विवाद को लेकर रविवार को मझौलिया एनएच चौक रणक्षेत्र बन गया। दोनों पक्षों के बीच जमकर हॉकी स्टिक, लाठी, डंडे व रॉड चले। दोनों पक्षों के बीच झड़प व ¨हसक मारपीट में दो युवक घायल हो गए। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस व मुशहरी सीओ के साथ भी उग्र लोगों ने अभद्र व्यवहार किया। भीड़ में से एक युवक ने थानेदार का मोबाइल छीन लिया। हालांकि, सख्ती के बाद पुलिस ने उग्र लोगों को समझाकर शांत कराया। फिर मोबाइल उक्त युवक से मोबाइल वापस लिया। इधर, घटना में घायल दोनों को इलाज के लिए निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामले को लेकर जिला व पुलिस प्रशासन की मौजूदगी में शांति समिति की बैठक की गई। इसमें दोनों पक्षों के बीच सुलह समझौता कराया गया। मामले में किसी पक्ष ने थाने में लिखित शिकायत नहीं की है।

शनिवार को तीन युवक बाइक से जा रहे थे। आरोप है कि मझौलिया-गोबरसही मोहल्ले में एक युवक ने उन पर गंदा पानी झोंक दिया। इस पर दोनों पक्षों में मारपीट हुई। इसमें बाइक सवार दो युवक घायल हो गए। घटना को लेकर शनिवार की शाम क्षेत्र में भारी तनाव उत्पन्न हो गया। रविवार की सुबह दूसरे पक्ष का एक युवक इस क्षेत्र में आया। प्रतिशोध में एक पक्ष के लोगों ने उसकी पिटाई कर दी। सूचना मिलते ही मझौलिया चौक के निकट एनएच पर दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए। दोनों में जमकर भिड़ंत हो गई। हालांकि, दूसरे पक्ष ने गंदा पानी फेंकने की बात तो स्वीकार की है, लेकिन उनका दावा है कि यह किसी को लक्ष्य करके नहीं, बल्कि सामान्य तौर पर फेंका गया था। बाइक सवार युवकों के शरीर पर यह पानी नहीं गिरा। फिर भी बाइक सवार युवक उलझ गया।

मझौलिया में बवाल की सूचना पर पहले सदर थाना फिर कई थाना की पुलिस वहां पहुंची। पुलिस के पहुंचने पर झड़प में शामिल लोग तितर-बितर हो गए। डीसीएलआर पूर्वी शाहजहां, मुशहरी सीओ, बीडीओ, इंस्पेक्टर घंटों एनएच पर कैंप करते रहे।

प्रशासनिक पदाधिकारी की पहल पर दोनों पक्षों के बीच मझौली खेतल पंचायत भवन में शांति समिति की बैठक शुरू हुई। शुरू में यहां भी दोनों पक्ष एक दूसरे से उलझने लगे। थोड़ी देर के लिए यहां भी हो-हल्ला हुआ। बाद में गणमान्य लोगों की पहल पर दोनों पक्षों में सुलह-समझौता हुआ। फिर दोनों पक्ष शांति बहाल रखने को लेकर अपनी-अपनी सहमति दी। मुखिया पति संजीत, सरपंच भोला राम, पंचायत समिति सदस्य मो. तुफैल, वार्ड दस के पार्षद अभिमन्यु सिंह व दोनों पक्ष के बीच बैठक में बांड भरवाया गया। यह कहा गया कि अगली बार किसी से गलती होती है तो पुलिस कार्रवाई होगी। वहीं समाज भी अपने स्तर से कार्रवाई करेगा।

Source : Dainik Jagran

 यह भी पढ़ें -» पटना स्टेशन स्थित हनुमान मंदिर, जानिए क्यों है इतना खास

यह भी पढ़ें :ट्रेन के लास्ट डिब्बे पर क्यों होता है ये निशान, कभी सोचा है आपने ?

यह भी पढ़ें : भारत की मानुषी छिल्लर ने जीता मिस वर्ल्ड का ताज


Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •