मूर्ति विसर्जन के लिए लाइसेंस नहीं लेगी पूजा समितियां

0
118
Visrjan, durga, Maa, Muzaffarpur, Bihar
Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

जिला एवं पुलिस प्रशासन के मनमाने रवैये से नाराज एक दर्जन पूजा समितियों ने मूर्ति विसर्जन के लिए प्रशासन से लाइसेंस नहीं लेने का निर्णय लिया है। श्री दुर्गा मंदिर समिति अघोरिया बाजार परिसर में एक दर्जन पूजा समितियों के पदाधिकारियों की बैठक नंद किशोर प्रसाद की अध्यक्षता में हुई।

Visrjan, durga, Maa, Muzaffarpur, Bihar

बैठक में प्रशासन पर धार्मिक स्वतंत्रता पर रोक लगाने का आरोप लगाया गया। पिछले साल पूजा समितियों पर प्राथमिकी दर्ज की गई और इसकी सुचना पूजा समितियों को नहीं दी गई। एक साल बाद जब पूजा शुरु हो गया तो समितियों को बताया गया कि उनका प्राथमिकी दर्ज की गई। जबकि इस साल कई समितियों के पदाधिकारी बदल चूके है।

प्रशासन द्वारा पिछले साल किए गए मुकदमे के नाम पर इस साल समिति के पदाधिकारियों को परेशान किया जा रहा है। समितियों द्वारा लाइसेंस के लिए आवेदन किया गया तो उनके आवेदन को वापस कर दिया गया और समितियों को अपना नाम बदलकर आवेदन को कहा गया।

बैठक में कहा गया कि प्रशासन के इस तुगलकी फरमान को पूजा समितियां नहीं मानेंगी और लाइसेंस के लिए आवेदन नहीं करेंगी। बैठक में कोलकाता उच्च न्यायालय के फैसले का हवाला भी दिया गया जिसमें प्रशासन द्वारा मूर्ति विसर्जन का समय तय करने पर रोक लगा दी गई है।

बैठक में प्रस्ताव पारित कर निर्णय लिया गया कि यदि पूजा समितियों को प्रताड़ित किया गया तो समितियां पूजा को बीच में ही छोड़ देगी और सभी कमेटी भंग कर दी जाएगी।

बैठक में श्री दुर्गा मंदिर पूजा समिति के पदाधिकारियों के अलावा वार्ड 27 के पार्षद अजय ओझा, श्री जानकी पूजा समिति सादपुरा के अध्यक्ष बबलू सिंह, गन्नीपुर मिश्रा टोला पूजा समिति के सचिव कौशल कुमार मिश्रा, महामाया स्थान पूजा समिति धर्मशाला के रवि रंजन शुक्ला, वार्ड 30 के पार्षद प्रतिनिधि संतोष कुमार आदि ने भाग लिया।

बैठक में महामाया दुर्गा पूजा मंदिर पूजा समिति सिकंदरपुर, दुर्गा पूजा समिति छाता चौक, अल्पना दुर्गा पूजा समिति, नवदुर्गा पूजा समिति कच्ची पक्की, श्री दुर्गा पूजा पूजनोत्सव समिति पुरानी धर्मशाला दुर्गा पूजा समिति अतरदह आदि ने पदाधिकारियों ने भाग लिया। बैठक का संचालन डा. महेंद्र चंद्र प्रसाद ने की।

Source : Dainik Jagran

Photo : Satish Kumar

यह भी पढ़ें -» बिहार की इस बेटी ने मॉस्को में लहराया तिरंगा, बनीं ‘राइजनिंग स्टार’


Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •