मीनापुर में सिंगल तार पर पेड़ों के बीच दौड़ती बिजली

0
78

मीनापुर प्रखंड के पानापुर सहित कई गांवों में सिंगल तार पर बिजली की सप्लाई की जा रही। टूटे पोल और पेड़ों के बीच से दौड़ रही बिजली से लोगों को जान का हर वक्त खतरा बना रहता है। सिंगल तार से लो वोल्ट की समस्या बनी रहती है। डिबिया की रोशनी में वहां की करीब 5000 की आबादी प्रभावित है। पानापुर में बास-बल्ली के सहारे एक फेज से विद्युत आपूर्ति दी जा रही है। बिजलीं होने के बावजूद बच्चे लैंप व लालटेन में पढ़ने को मजबूर हैं। बीच खेत से होकर बांस-बल्ली के सहारे गए तारों से किसान खेती करने से भी डर रहे हैं।

Cambridge Montessori, School, Muzaffarpur

बिन बिजली भुगतान का दबाव

रमतोमहां में 4 जनवरी को अशोक सिंह का पॉल्ट्रीफार्म शॉर्ट-सर्किट से जल गया। पिछले साल बरसात के मौसम में तार टूट कर गिरने से एक युवक की मौत हो गई थी। मीनापुर प्रखंड के उप प्रमुख रंजन सिंह कहते हैं कि यहां एस्सेल विद्युत वितरण कंपनी का गजब खेल चल रहा है। कई घरों में केवल मीटर लगाकर छोड़ दिया गया है। बिजली जलती नहीं, बिल भेजा जा रहा है। बिल भरने के लिए लगातार फोन कर परेशान किया जा रहा है।

Source : Dainik Jagran

यह भी पढ़ेंबिहार की इस बेटी ने मॉस्को में लहराया तिरंगा, बनींराइजनिंग स्टार

यह भी पढ़ें -» यह भी पढ़ें -» पटना स्टेशन स्थित हनुमान मंदिर, जानिए क्यों है इतना खास

यह भी पढ़ें :ट्रेन के लास्ट डिब्बे पर क्यों होता है ये निशान, कभी सोचा है आपने ?

यह भी पढ़ें -» गांधी सेतु पर ओवरटेक किया तो देना पड़ेगा 600 रुपये जुर्माना

यह भी पढ़ें -» अब बिहार के बदमाशों से निपटेगी सांसद आरसीपी सिंह की बेटी IPS लिपि सिंह

यह भी पढ़ें -» बिहार के लिए खुशखबरी : मुजफ्फरपुर में अगले वर्ष से हवाई सेवा

 

(मुज़फ़्फ़रपुर नाउ के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैंआपहमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)