Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

शहर को जाम की समस्या से निजात दिलाने के लिए 2015-16 रेल बजट में स्वीकृत सादपुरा, गोबरसही रामदयालुनगर में रेल ओवरब्रिज का निर्माण मार्च 2018 से शुरू कर दिया जाएगा। इसके अलावा मुजफ्फरपुर-मोतिहारी रेलखंड पर कांटी, मोतीपुर तथा मोतीपुर-महबल के बीच तीन और रेल ओवरब्रिज का निर्माण होगा। इन सभी छह रेल ओवरब्रिज के निर्माण में रही अड़चन को दूर करते हुए अगले माह से डीपीआर बनाने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव ने शुक्रवार को यहां समीक्षा बैठक के बाद पत्रकारों को उक्त जानकारी दी। साथ ही उन्होंने कहा मुजफ्फरपुर-हाजीपुर एनएच-77 पर दिग्घी के पास मार्च 2018 तक रेल ओवरब्रिज का निर्माण पूरा कर लिया जाएगा। वहीं लंबे समय से निर्माणाधीन आथरघाट लकड़ीढाई पुल का निर्माण भी जून 2018 तक पूरा कर लिया जाएगा।

छपरा-मुजफ्फरपुर एनएच-102 का काम जून 2018 तक होगा पूरा  

छपरा-मुजफ्फरपुरएनएच का काम जून 18 तक पूरा करने का लक्ष्य है। कुछ स्थानों पर फुटपाथ की आवश्यकता है। उसके लिए भी अधिकारियों को आदेश दिया गया है। डेढ़ साल पहले उद्घाटन के बावजूद मोतीपुर-सरैया स्टेट हाईवे 86 का काम पूरा नहीं होने के सवाल पर मंत्री ने कहा कि अप्रैल तक काम पूरा करने का आदेश दिया गया है। एक सवाल के जवाब में मंत्री ने कहा कि मुजफ्फरपुर-बरौनी रोड को फोरलेन बनाने के लिए विचार किया जा रहा है। एनएच 77 में कुछ स्थानों पर मुआवजा को लेकर काम फंसा हुआ है। डीएम को किसानों की समस्याओं के निपटारे का निर्देश दिया गया है।

क्षतिग्रस्त 7 पुलों का निर्माण फरवरी से 

पथ निर्माण मंत्री ने कहा कि बाढ़ से मुजफ्फरपुर अंचल के मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी शिवहर जिले में 7 पुल क्षतिग्रस्त हुए हैं। फरवरी 2018 से क्षतिग्रस्त पुलों का काम शुरू होगा। बाढ़ में जितनी भी सड़कें क्षतिग्रस्त हुईं उसका मेंटेनेंस कर लिया गया है। इसके बाद अब 15 दिसंबर तक इन सड़कों का पहले की तरह निर्माण करना है। मुजफ्फरपुर सर्किल में अभी 26 सौ करोड़ की योजनाएं चल रही हैं। अगले तीन साल में 9 हजार करोड़ का काम होना है। नक्सल प्रभावित इलाके की 23 सड़कों के चौड़ीकरण के लिए केंद्र सरकार के पास डीपीआर भेजी गई है।

Source : Dainik Bhaskar


Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •