‘पप्पू-रंजीत जन आहार कैंटीन’ में भरपेट भोजन 20 रुपये में
Spread the love

जन अधिकार पार्टी के राष्‍ट्रीय संरक्षक सह सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव ने आज राजधानी पटना में आम छात्रों के लिए पटना कॉलेज के सामने ‘पप्पू-रंजीत जन आहार कैंटीन’ की शुरूआत की. इस दौरान पप्पू यादव ने कहा कि यह जन आहार कैंटीन छात्रों और आम जनता का अधिकार है. इसकी शुरूआत पटना और मधेपुरा से हो चुकी है. जल्‍द ही पटना में तीन और ‘पप्पू-रंजीत जन आहार कैंटीन’ आरंभ किए जायेंगे. इसके अलावा आने वाले छह महीनों में राज्‍य भर में 12 ऐसे कैंटीन खोलने की योजना है, जो कम से कम आम जनों को भरपूर पौष्टिक आहार दे सके.

सांसद ने कहा कि ‘पप्पू-रंजीत जन आहार कैंटीन’ की शुरूआत जन अधिकार छात्र परिषद के छात्रों की संयुक्‍त भागीदारी से हुई. मेरे मन में ये ख्‍याल छह महीने पहले आया, जब मुझे पता चला कि खाद्य सुरक्षा बिल का महज 4 % खाद्यान लोगों तक पहुंच पाता है. इसके अलावा छात्रों को समुचित पौष्टिक आहार नहीं मिल पाता है. ऐसे में मेरे सामने यही विकल्‍प था.

सांसद ने कहा कि भारत युवाओं का देश है और भारत की तकदीर भी युवा ही लिखेंगे. इसलिए युवाओं को हर स्‍तर से आगे होना अपने देश के निर्माण के लिए बूढ़ों की फौज ने तो देश का बुरा हश्र कर रखा है. अब इसे युवा ही संभाल सकते हैं.

उन्‍होंने कहा कि लोगों ने देश में सरकारी पैसों पर ‘अम्‍मा कैंटीन’ और ‘इंदिरा कैंटीन’ खोला और उस पर राजनीति की रोटी सेंकी. मगर हमारा मकसद राजनीति से परे लोगों के अधिकार को उन तक पहुंचाना है.

पप्पू यादव ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार पर भी हमला बोला और कहा कि राज्‍य में छात्रों की स्थिति दयनीय है. मगर इसकी चिंता उन्‍हें नहीं है. वे तो संवेदनहीन हो गए हैं, तभी तो गया में तीन–तीन बच्चियों के साथ बलात्‍कार हुआ. एक की हत्‍या हुई, मगर उन्‍हें इससे कोई फर्क नहीं पड़ा और वे गया एयरपोर्ट से ही लौट गए. ऐसे मुख्‍यमंत्री से क्‍यों नहीं तुरंत इस्‍तीफा ले लेना चाहिए, जो जनता से दूर भागते हैं.

सांसद ने बिना नाम लिए राजद नेता पर भी हमला बोला और कहा कि किसी को कुर्सी बचाने की पड़ी है तो किसी को परिवार बचाने की पड़ी है. इनके लिए तो वोट के अलावा जनता है ही नहीं. मगर जन अधिकार पार्टी (लो) और इसके कार्यकर्ता हमेशा राजनीति से उपर मानव सेवा को तवज्‍जो देते हैं.

इसलिए आज ‘पप्पू-रंजीत जन आहार कैंटीन’ की शुरूआत की गई है, ताकि बच्‍चे अपने पढ़ाई में खाने की उलझन में न रहें और ‘पप्पू-रंजीत जन आहार कैंटीन’ से पौष्टिक भोजन खाकर अपनी पढ़ाई पर ज्‍यादा ध्‍यान लगा सकें. सांसद ने बताया कि ‘पप्पू-रंजीत जन आहार कैंटीन’ में हर दिन का मेन्‍यू अलग होगा ताकि छात्रों के आहार में किसी पौष्टिक तत्व की कमी न रह जाये.

‘पप्पू-रंजीत जन आहार कैंटीन’ की शुरूआत के मौके पर पार्टी के राष्‍ट्रीय महासचिव व प्रवक्‍ता राघवेंद्र कुशवाहा, राजेश रंजन पप्‍पू चिकित्‍सा सेल के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष विश्‍वनाथ प्रसाद, आनंद मधुकर यादव, शंकर पटेल, इंद्रजीत प्रसाद, सूर्यनारायण सहनी, अवधेश कुमार लालू, विकास बॉक्‍सर, शशांक कुमार मोनू, पुरूषोत्तम, आकाश कुमार, डॉ. सुमन सिन्‍हा आदि मौजूद थे.

Input : Live Cities

 

 

Total 0 Votes
0

Tell us how can we improve this post?

+ = Verify Human or Spambot ?

News Reporter