दीवानगी ऐसी की हर चीज रंग दी रेड और व्‍हाइट
Spread the love

बंगलुरू के एक शख्‍स को रेड और व्‍हाइट रंग का ऐसा जुनून है कि उसने अपने घर की दीवारों, पर्दों, कटलरी और कार के साथ कपड़े तक इन दो रंगों में रंग दिए हैं।

ये लाल सफेद रंग की दीवानगी

आपने शायद वो गाना सुना हो कि ये लाल रंग कब मुझे छोड़ेगा इस को थोड़ा बदल कर मैं ये लाल सफेद रंग नहीं छोड़ुंगा कर दिया जाये तो, ये बंगलुरु के रियल स्‍टेट एजेंट सवनराज पर एकदम फिट बैठेगा। सरवन  ने अपने इस अनोखे शौक या कहिये पागलपन के लिए अपने आसपास की पूरी दुनिया इन दो रंगों में रंग दी है।

गाड़ी से लेकर कपड़े तक

सवन का ये क्रेज इस कदर है कि उनके घर का हर वाहन जाहे कार हो या दोपहिया लाल और सफेद ही है। इतना ही नहीं उनका पूरा परिवार इन्‍ही दो रंगों के कपड़े पहनता है।

लाल सफेद अत:सज्‍जा

बात यहीं खत्‍म नहीं होती सवन के घर के अंदर का पूरा इंटीरियर भी लाल और सफेद रंग का ही है। सोफा हो, दीवारें हो या फिर पर्दे हों सब इन्‍हीं दो रंगों के कांबिनेशन में दिखाई पड़ते हैं। घर के लिविंग रुम में इस विचित्र शौक से सिर्फ टीवी ही बचा हुआ दिखाई देता है।

ऊबते नहीं इस रंग से 

कोई और हो तो एक जैसे रंगों के बीच रहते हुए पागल हो जाये पर सवनराज के साथ ऐसा बिलकुल नहीं है वे अपने इस जुनून से बेहद खुश और संतुष्‍ट हैं और कतई ऊबते नहीं हैं।

कमिटमेंट की हद 

सवन का अपने रंगों से दीवानेपन के साथ कमिटमेंट मैचलेस है, इसीलिए घर, गाड़ी और कपड़ों पर ही खत्‍म नहीं होता उनकी हर फैशन ऐसेसरी जैसे, फोन का कवर, घड़ी, कफलिंक, अंगूठी, ब्रेसलेट, की चेन और हेडफोन तक लाल और सफेद रंग का ही है।

क्‍या क्‍या देखोगे 

आप देख कर थक जायेंगे पर सवन इन रंगों के सामान से नहीं थकेंगे इसीलिए वो टूथपेस्‍ट, टूथब्रश  और टॉयलेट ऐसेसरीज भी लाल और सफेद रंगों की ही इस्‍तेमाल करते हैं।

ऑफिस भी नहीं बचा

घर तो घर ऑफिस भी देख लो जिसे सवन ने रेड एंड व्‍हाइट कर दिया है।

डायनिंग टेबल पर भी वही नजारा

अब रोटी, दाल और सब्‍जी का रंग तो बदला नहीं जा सकता, पर इसके लिए डायनिंग टेबल को इन रंगों से दूर भी नहीं किया जा सकता, तो कटलरी और क्रॉकरी से लेकर टेबल मैट और कुर्सी तक सब हैं जाल सफेद रंग की।

बन गया है सेलिब्रिटी

अपने इस जुनून के कारण सवनराज बंगलुरु में एक सेलिब्रिटी की तरह मशहूर हो चुके हैं और उनके परिवार को लोग रेड एंड व्‍हाइट फेमिली के नाम से पहचानते हैं।

Source : Dainik Jagran

यह भी पढ़ें -» बिहार की इस बेटी ने मॉस्को में लहराया तिरंगाबनीं ‘राइजनिंग स्टार

यह भी पढ़ें -» यह भी पढ़ें -» पटना स्टेशन स्थित हनुमान मंदिरजानिए क्यों है इतनाखास

यह भी पढ़ें :ट्रेन के लास्ट डिब्बे पर क्यों होता है ये निशानकभी सोचा है आपने ?

यह भी पढ़ें -» गांधी सेतु पर ओवरटेक किया तो देना पड़ेगा 600 रुपये जुर्माना

यह भी पढ़ें -» अब बिहार के बदमाशों से निपटेगी सांसद आरसीपी सिंह की बेटी IPS लिपि सिंह

यह भी पढ़ें -» बिहार के लिए खुशखबरी : मुजफ्फरपुर में अगले वर्ष से हवाई सेवा

 

मुज़फ़्फ़रपुर नाउ के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैंआपहमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

 

Total 0 Votes
0

Tell us how can we improve this post?

+ = Verify Human or Spambot ?

News Reporter