‘वॉक फॉर बिहार’ से जुड़े सदस्य दीवारों पर बना रहे कलाकृतियां

0
41
Share Now
  •  
  •  
  •  
  • 159
  •  
  •  

बिहार के लोग दुनिया भर के अलग-अलग देशों में बेहद कामयाब हैं। लेकिन, प्रतिभाशाली होते हुए भी इसका लाभ बिहार को नहीं मिल रहा है। वॉक फॉर बिहार का जन्म इन्हीं बुनियादी सवालों के साथ हुआ है। यह देश-विदेश के एक रचनात्मक कलाकारों का समूह है। यह संस्था बिहार के गौरवशाली इतिहास को किताबों और ग्रंथों की जटिलताओं से बाहर दीवारों पर उकेर कर चित्रों के माध्यम से आम लोगों का जागरूक करती है। ये बातें वॉक फॉर बिहार के निदेशक मनीष तिवारी ने कही। वे मंगलवार को एलएस कॉलेज के आर्ट्स ब्लॉक में आयोजित प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहे थे।

Walk For Bihar, Wall Painting, Muzaffarpur, Bihar

उन्होंने कहा कि मुजफ्फरपुर जैसे मझोले स्तर के शहर में भगवान बुद्ध, महात्मा गांधी के म्यूरल (दीवारों पर चित्र) शहर को गौरवान्वित करते हैं। कहा कि जिला प्रशासन और भवन निर्माण विभाग के आर्थिक सहयोग से यह संभव हो सका है। वहीं, वॉक फॉर बिहार के फेस्टिवल डायरेक्टर एवं क्यूरेटर अभिषेक कुमार सिंह ने कहा कि ऐसी मान्यता रही है कि कलाकृतियों और बड़े चित्रों को संग्रहालयों, आर्ट गैलरीज में महंगे टिकट खरीदकर देखने की चीज है। लेकिन, वॉक फॉर बिहार इस अवधारण को तोड़ती है। संस्था की ओर से बनाई गई कलाकृतियां सीधे आम जनता के लिए उपलब्ध हैं।

Walk For Bihar, Muzaffarpur, Bihar, Wall Painting

जिला स्कूल में ‘पाप से डरो, पापी से नहीं’ थीम पर आधारित म्यूरल कर रहा आकर्षित 

गुजरात के विश्व प्रसिद्ध चित्रकार तुषार कामले रचित गांधी का विशालकाय चित्र बापू द टशन जिला कृषि पदाधिकारी कार्यालय भवन पर चित्रित है। इसे रोहतास जिले के कुणाल सिंह ने उकेरा है। वहीं, कुणाल द्वारा जिला स्कूल में उकेरा गया पाप से डरो, पापी से नहीं थीम पर आधारित चित्र काफी खूबसूरत है। यह महात्मा बुद्ध के अंगुलीमाल को दिए गए संदेश पर आधारित है। मौके पर डॉ. विभूति तिवारी, डॉ. भारती तिवारी, एलएस कॉलेज के प्राचार्य डॉ. अनिल कुमार सिंह, बीआरएबीयू के कुलानुशासक डॉ. विवेकानंद शुक्ला, डॉ. अभिषेक तिवारी, डॉ. विनीता, डॉक्यूमेंट्री फिल्मकार सुमित दास, फिल्म पटकथा लेखक रविराज पटेल उपस्थित रहे। टीम में सिनेमेटोग्राफर सुमित दास, प्रोजेक्ट मैनेजर सुधीर सिंह, मीडिया संयोजक रविराज पटेल शामिल हैं।

Walk For Bihar, Muzaffarpur, Wall Painting

Input : Dainik Bhaskar


Share Now
  •  
  •  
  •  
  • 159
  •  
  •