Connect with us

INDIA

अखिलेश का Tweet- ये कार नहीं पलटी है, राज़ खुलने से सरकार पलटने से बचाई गई है

Muzaffarpur Now

Published

on

कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर में दुर्दांत अपराधी विकास दुबे (Vikas Dubey) को यूपी एसटीएफ (UP STF) ने एनकाउंटर (Encounter) में मार गिराया है. दरअसल उज्जैन (Ujjain) से गिरफ्तार कर कानपुर ला रही एसटीएफ की गाड़ी कानपुर में दुर्घटनाग्रस्त (Car Accident) हुई. पुलिस के अनुसार इसी दौरान विकास ने पुलिसकर्मी की पिस्टल छीनकर भागने की कोशिश की और जवाबी फायरिंग में वो मारा गया. उधर विकास दुबे मामले में विपक्ष लगातार हमलावर है, इसी क्रम में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने इस पूरे घटनाक्रम पर सवाल उठाते हुए तंज किया है. उन्होंने एक लाइन का ट्वीट किया है कि दरअसल ये कार नहीं पलटी है, राज़ खुलने से सरकार पलटने से बचाई गयी है.

पूछा था आत्मसमर्पण है या गिरफ्तारी

बता दें कल ही अखिलेश ने यादव ने विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद तंज भरा ट्वीट किया था. उन्होंने लिखा, “ख़बर आ रही है कि ‘कानपुर-काण्ड’ का मुख्य अपराधी पुलिस की हिरासत में है. अगर ये सच है तो सरकार साफ़ करे कि ये आत्मसमर्पण है या गिरफ़्तारी. साथ ही उसके मोबाइल की CDR सार्वजनिक करे जिससे सच्ची मिलीभगत का भंडाफोड़ हो सके.”

उज्‍जैन में हुआ था गिरफ्तार

यूपी का मोस्ट वॉन्टेड अपराधी विकास दुबे को उज्जैन में गिरफ्तार किया गया था. मध्‍य प्रदेश पुलिस ने उसे यूपी पुलिस को सौंप दिया था. उसे सड़क मार्ग से यूपी एसटीएफ की टीम कानपुर ला रही थी. इससे पहले उज्जैन के महाकाल मंदिर में गुरुवार को एक व्यक्ति ने खुद को यूपी का मोस्ट वांटेड अपराधी विकास दुबे बताने लगा था. बताया जा रहा है कि महाकाल मंदिर परिसर में पहुंच कर यह शख्स चिल्ला-चिल्ला कर ख़ुद को विकास दुबे बता रहा था. उसे फौरन मंदिर परिसर में तैनात सुरक्षा गार्ड ने पकड़ लिया और पुलिस को इसकी सूचना दी थी. जिसके बाद महाकाल थाना पुलिस उसे गाड़ी मे बैठाकर कंट्रोल रूम की तरफ रवाना हो गयी. पुलिस ने जब शख्‍स को पकड़ा तो चिल्‍लाने लगा- मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला.

Input : News18

INDIA

बड़ा खुलासा: सुब्रमण्यम स्वामी का दावा, ‘एंबुलेंस में सुशांत का पैर मुड़ा हुआ था’

Muzaffarpur Now

Published

on

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) मामले में लगातार आवाज उठाने वाले भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी (Subramanian Swamy) ने एक बार फिर से इस मामले को लेकर बयान दिया है. उन्होंने सुशांत की बॉडी का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों पर सवाल उठाए हैं. स्वामी ने कहा कि सीबीआई (CBI) को कूपर अस्पताल के उन पांच डॉक्टरों से भी पूछताछ करनी चाहिए जिन्होंने सुशांत के शव का पोस्टमार्टम किया था. यहां से जरूर उन्हें कुछ पुख्ता जानकारी मिलेगी.

BJP leader Subramanian Swamy calls for uniting Hindus, creating ...

स्वामी ने ट्वीट किया, ‘सीबीआई (CBI) को कूपर अस्पताल के उन पांच डॉक्टरों से कड़ी पूछताछ करनी चाहिए जिन्होंने सुशांत के शव का पोस्टमार्टम किया था. सुशांत सिंह राजपूत की बॉडी को अस्पताल ले जाने वाले एंबुलेंस कर्मचारियों के अनुसार, सुशांत का पैर टखने के नीचे से मुड़ा हुआ था (जैसे कि वह टूट गया हो). मामला सुलझने वाला नहीं है!!

इससे पहले सुशांत सिंह राजपूत केस में सोमवार को रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) अपने पिता और भाई के साथ मुंबई में प्रवर्तन निदेशालय (ED) के दफ्तर में फिर हाजिर हुईं. ईडी इन तीनों से मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पूछताछ कर रही है. सुशांत के पिता ने रिया चक्रवर्ती पर 15 करोड़ हड़पने का आरोप लगाया है. कल रिया के भाई शोविक से ED ने 18 घंटे पूछताछ की थी. वहीं रिया चक्रवर्ती से शुक्रवार को भी ED ने 8 घंटे पूछताछ की थी. सूत्रों के मुताबिक, सुशांत की रजिस्टर्ड कंपनी का IP एड्रेस 17 बार बदला गया है. रिया के पास पैसों से जुड़े सवालों की सही जानकारी नहीं है. रिया और उनके चार्टर्ड अकाउंटेंट के बयान में फर्क है. सुशांत की 2 कंपनियां रिया के पिता के फ्लैट के नाम पर रजिस्टर हैं.

Maharashtra Police ask people not to post pictures of deceased ...

ED के सूत्रों के मुताबिक रिया चक्रवर्ती से पूछताछ में सुशांत सिंह के एकाउंट से निकाले गए पैसों का हिसाब सबसे बड़ा पॉइंट है. सूत्रों के मुताबिक, रिया चक्रवर्ती के चार्टर्ड अकाउंटेंट और रिया चक्रवर्ती के बयान में काफी फर्क देखने के लिए मिल रहा है. सुशांत सिंह के एकाउंट से निकाले गए पैसों से जुड़े कई सवालों का रिया साफगोई से जवाब नहीं दे पाई हैं.

With a Heavy Heart and Teary Eyes Sushant's Sister Arrived at ...

इसके अलावा, ED के सूत्र बताते है कि नवी मुंबई का फ्लैट रिया चक्रवर्ती के पिता ने साल 2011 में खरीदा था. यह भी पूछताछ के सबसे बड़ा पॉइंट है. रिया के पिता इंद्रजीत चक्रवर्ती के द्वारा खरीदे गए इसी फ्लैट के नाम पर सुशांत सिंह की दो कंपनियों को रजिस्टर किया गया है जबकि इसका IP एड्रेस करीब 17 बार बदला गया है. ED अब इसी बात की पड़ताल कर रही है.

Input : Zee News

Continue Reading

INDIA

प्रसिद्ध तिरुपति मंदिर के 743 कर्मचारी पाए गए COVID-19 पॉजिटिव, तीन की मौत

Ravi Pratap

Published

on

भगवान वेंकटेश्वर मंदिर के कुछ पुजारियों सहित तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम (टीटीडी) (Tirumala Tirupati Devasthanams) के कम से कम 743 कर्मचारियों को राज्य में लॉकडाउन में छूट के बाद कोरोना वायरस पॉजिटिव पाया गया है. एक रिपोर्ट के अनुसार मंदिर कर्मचारियों ने कहा कि अब तक यहां 11 से जून तीन लोगों की मौत हुई है. टीटीडी के कार्यकारी अधिकारी अनिल कुमार सिंघल ने 9 अगस्त को जानकारी दी कि 743 संक्रमितों में से तीन कर्मचारियों ने की मौत हो गई और लगभग 402 कर्मचारी अबतक संक्रमण से उबर चुके हैं. जबकि 338 लोगों का इलाज विभिन्न COVID-19 देखभाल सुविधाओं से चल रहा है.

तिरुमाला में प्रसिद्ध भगवान वेंकटेश्वर के मंदिर को 11 जून को ढाई महीने तक बंद रहने के बाद फिर से खोला गया था. टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार TTD के कार्यकारी अधिकारी अनिल कुमार सिंह ने कहा मंदिर में प्रार्थना करने वाले एक भी भक्त को पॉजिटिव नहीं पाया गया. उन्होंने कहा कि अकेले तिरुपति में मामलों में वृद्धि नहीं हुई है, पूरे राज्य के साथ-साथ देश में भी समान रूप से बढ़ोतरी हुई है. सिंघल ने इन आरोपों को भी खारिज किया कि खजाने की चिंता के कारण मंदिर को खोला गया है.

जुलाई में आंध्र ने पब्लिक हेल्थ के मद्देनजर तिरूमाला मंदिर के दर्शन को बंद करने का सुझाव दिया था, क्योंकि 140 कर्मचारियों को पॉजिटिव पाया गया था. जुलाई के महीने में तिरुमाला मंदिर में देशभर के लगभग 2.38 लाख भक्तों ने पूजा की और TTD को 16.69 करोड़ रुपए हुंडी संग्रह और 3.97 करोड़ रुपए ई-हुंडी के माध्यम से प्राप्त हुए. लॉकडाउन के कारण 80 दिनों तक बंद रहने के बाद 11 जून को तिरुमाला मंदिर तीर्थयात्रियों के लिए फिर से खुल गया था. पहले मंदिर कोविड-19 प्रोटोकॉल के सख्त पालन के साथ प्रति दिन केवल 6,000 तीर्थयात्रियों को दर्शन की अनुमति दी गई थी, जो बाद में दोगुनी हो गई.

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार भारत में पिछले 24 घंटों में #COVID19 के 62,064 मामले सामने आए हैं और 1,007 मौतें हुई हैं. देश में अब कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 22,15,075 हो गई है जिसमें 6,15,945 सक्रिय मामले हैं. अबतक 15,35,744 लोगों को ठीक किया गया है. देश में
कोरोना वायरस से मरने वालों की कुल संख्या 44,386 है.

Continue Reading

INDIA

आगामी 30 सितंबर तक रद्द रहेंगी रेलगाड़ियां? रेलवे बोर्ड ने लगाया अफवाहों पर विराम

Muzaffarpur Now

Published

on

पूर्व रेलवे के चीफ पैसेंजर ट्रांसपोर्टेंशन मैनेजर (सीपीटीएम) के नाम से जारी तथाकथित मेल को लेकर आज सोशल मीडिया में अफवाहों का बाजार खूब गर्म रहा। उसमें कहा गया है कि देश में सभी रेलगाड़ियां अगले 30 सितंबर तक बंद रहेंगी। इनमें मेल और एक्सप्रेस, पैसेंजर गाड़ी तथा ईएमयू—डीएमयू शामिल हैं। इसे पूर्व रेलवे के सभी डिविजन हेडक्वार्टर को मार्क किया गया है।

रेलवे बोर्ड (Railway Board) से जब इस बारे में पूछा गया तो उसने इसे फर्जी करार दिया। रेलवे बोर्ड ने कहा कि उसकी तरफ से ऐसा कोई ऑर्डर इश्यू नहीं किया गया है। रेलवे बोर्ड ने जो चिट्ठी निकाली है, उसमें अगले आदेश तक के लिए सभी ट्रेनों को रद्द किया गया है। इस दौरान स्पेशल ट्रेनें चलती रहेंगी। इससे पहले, बीते 25 जून को रेलवे बोर्ड ने सभी नियमित मेल, एक्सप्रेस और यात्री ट्रेन सेवाओं के साथ उपनगरीय ट्रेनें 12 अगस्त तक के लिए रद्द किया था।

NBT

रेल मंत्रालय (Ministry of Railways) ने भी इस बारे में ट्वीट किया कि मीडिया में इस तरह की खबरें आ रही हैं कि नियमित ट्रेनों को 30 सितंबर तक रद्द कर दिया गया है। यह सही नहीं है। इस बारे में रेल मंत्रालय ने कोई सर्कुलर जारी नहीं किया है। स्पेशल मेल एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन जारी रहेगा।

22 मार्च से बंद है परिचालन

उल्लेखनीय है कि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देश में 22 मार्च से पैसेंजर ट्रेनों और मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया गया था। यह पहला मौका है जब देश में रेल सेवाएं रोकी गई हैं। हालांकि देश में जहां तहां फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए 1 मई से श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई गई थीं। 12 मई से राजधानी के मार्ग पर कुछ स्पेशल ट्रेनें चलाई गई थीं और फिर 1 जून से 100 जोड़ी ट्रेनें शुरू की गई थीं।

Continue Reading
INDIA6 hours ago

बड़ा खुलासा: सुब्रमण्यम स्वामी का दावा, ‘एंबुलेंस में सुशांत का पैर मुड़ा हुआ था’

INDIA6 hours ago

प्रसिद्ध तिरुपति मंदिर के 743 कर्मचारी पाए गए COVID-19 पॉजिटिव, तीन की मौत

BOLLYWOOD7 hours ago

आनंद कुमार के साथी आईपीएस अभयानंद की कहानी लाए प्रकाश झा, 36 साल बाद पहुंचे फिर उसी स्कूल में

TRENDING7 hours ago

शिक्षा मंत्री ने 11वीं क्लास में लिया दाखिला, मैट्रिक तक पढ़े होने के कारण होती थी फजीहत

BIHAR7 hours ago

बिहार के इस जिले में मैट्रिक का अंकपत्र देने के बदले हेडमास्टर साहब लेते हैं चढ़ावा, वसूली का वीडियो वायरल

BIHAR7 hours ago

प्रधानमंत्री से नीतीश कुमार बोले-नेपाल ने बिहार में बाढ को विकराल कर दिया है, आप हस्तक्षेप करके समाधान कराइये

BIHAR7 hours ago

नीतीश पर हमलावर चिराग ने कहा – लोजपा अकेले बिहार विधानसभा की सभी 243 सीटों पर लड़ने को तैयार

BIHAR8 hours ago

लालू ने बिहार की स्वास्थ्य व्यवस्था पर कसा तंज, कहा- अस्पताल में रुई भी मिले तो भगवान को शुक्रिया कहना रे भाई

INDIA8 hours ago

आगामी 30 सितंबर तक रद्द रहेंगी रेलगाड़ियां? रेलवे बोर्ड ने लगाया अफवाहों पर विराम

BIHAR8 hours ago

सुशांत केस की CBI जांच पर संजय राउत का बिहार सरकार पर तंज- ‘मेरे आंगन में तुम्हारा क्या काम है’

BIHAR4 days ago

भोजपुरी एक्ट्रेस अनुपमा पाठक ने की खुदकुशी, मरने से पहले किया फेसबुक लाइव

INDIA4 weeks ago

सलमान खान ने शेयर की किसानी करने की ऐसी तस्वीर, लोगों ने जमकर सुनाई खरीखोटी

INDIA4 weeks ago

एक दूल्हे के संग दो दुल्हनों ने लिए फेरे : एक गर्लफ्रेंड, दूसरी मम्मी-पापा की पसंद, Video देखें

INDIA3 weeks ago

वाहनों में अतिरिक्त टायर या स्टेपनी रखने की जरूरत नहीं: सरकार

BIHAR6 days ago

UPSC में छाए बिहार के लाल, जानिए कितने बच्चों का हुआ चयन

BIHAR4 weeks ago

बिहार लॉकडाउन: इमरजेंसी हो तभी निकलें घर से बाहर, नहीं तो जब्त हो जाएगी गाड़ी

MUZAFFARPUR6 days ago

उत्तर बिहार में भीषण बिजली संकट, कांटी थर्मल पावर ठप्प

BIHAR1 week ago

पप्पू यादव का खतरनाक स्टंट: नियमों की धज्जियां उड़ा रेल पुल पर ट्रैक के बीच चलाई बुलेट, देखें VIDEO

MUZAFFARPUR3 days ago

बिहार के प्रमुख शक्तिपीठों में प्रशिद्ध राज-राजेश्वरी देवी मंदिर की स्थापना 1941 में हुई थी

BIHAR1 day ago

IPS विनय तिवारी शामिल हो सकते है, सुशांत केस की CBI जांच टीम में…

Trending