Connect with us

BIHAR

अनोखा विश्वविद्यालय: छात्रों की परीक्षा और रिजल्ट तक निकालना भूल जाता है, मुजफ्फरपुर स्तिथ बिहार यूनिवर्सिटी

Abhishek Ranjan Garg

Published

on

बी.एच.एम. एस के छात्रों की स्थिति का अंदाजा शायद बिहार विश्वविद्यालय को नहीं है. विश्वविद्यालय ना जाने किन कामो मे मग्न है कि छात्रों की परीक्षा भी समय पर नही ली गयी. छात्रों का कहना है कि उन्हें यूनिवर्सिटी का चक्कर लगाना पड़ता है तब जाकर परीक्षा होती है और परीक्षा हो जाये तब भी लापरवाही का हद ऐसा है कि साहब रिजल्ट निकालना तक भूल जाते है. विद्यार्थि कहते है कि फिर से उन्हें यूनिवर्सिटी का चक्कर लगाना पड़ता है तब जाकर कहीं परीक्षाफल प्रकाशित किया जाता है.

ऐसी ही एक होमियोपैथी के छात्र ने बताया कि बिहार विश्वविद्यालय के अन्तर्गत महाविद्यालय में पढ़ने वाले उन जैसे हजारों होम्योपैथी के छात्रों की स्थिति बेहद खराब हो गई है.

अन्य विश्वविद्यालयों में पढ़ने वाले छात्र इन छात्रों से 1- 1.5 वर्ष आगे हो चुके हैं, बिहार विश्वविद्यालय का ये रवैया देखकर छात्र ख़ुद को कोस रहे है कि उन्होंने बेकार ऐसे यूनिवर्सिटी में दाखिला ले लिया जिन्हें छात्रों की सूद तक नही है.

राज्य के एक मात्र सरकारी और अन्य कई प्राइवेट होम्योपैथिक चिकित्सा संस्थान बी. आर. ए. बिहार विश्वविद्यालय मुज़फ़्फ़रपुर से संचालित हो रहे है, चिकित्सा प्रणाली का मानव जीवन मे महवपूर्ण स्थान होते हुए भी चिकित्सा के इस प्रणाली के प्रति ऐसा बरताव दुखदायी है.

छात्र कहते है कि होमियोपैथी आज भी चिकित्सा की दूसरी सबसे प्रमुख पद्धति घोषित है और असंख्य लोग इससे लाभान्वित हो रहे हैं, किसी विश्वविद्यालय के लिये तो ये गौरव की बात होनी चाहिए परन्तु मुज़फ्फरपुर स्तिथ बिहार विश्वविद्यालय के प्रशासन कानों में तेल डाल कर सो जाते है.

इस देश के हर विश्वविद्यालय में जहाँ भी होमियोपैथी (बी.एच.एम. एस) की पढ़ाई होती है वहां सभी जगह सेशन 2014-2019 का ईन्टर्नसिप पुरा हो गया है, यहाँ तक कि 2015-2020 का भी फाइनल परीक्षा परिणाम आ गया, परंतु बिहार विश्वविद्यालय मुज़फ़्फ़रपुर में अभी तक 2014 बैच( Final year) के साथ-साथ 2015,2016,2018 बैच का परीक्षा परिणाम तक नही आया है जबकि हमलोगों की परीक्षा फरवरी में ही ख़त्म हो गई थी.

बिहार विश्वविद्यालय के इस रवैया से छात्रों का भविष्य अधर में लटक गया है, ये पूरे देश के छात्रों से 1-1.5 वर्ष पूर्ण रूप से पीछे हो गया है.

इस सेशन के छात्र बिहार के छात्रों से सीनियर हो चुके हैं, एक बार विश्वविद्यालय प्रसाशन खुद से सोच कर देखे छात्रों का भविष्य ऐसे में कितना मानसिक,आर्थिक प्रताड़ना हो रहा होगा.

बिहार विश्वविद्यालय मुज़फ्फरपुर का ये रवैया सिर्फ इसी कोर्स में नही है बल्कि कई कोर्सो में यह यूनिवर्सिटी छात्रों के जीवन से खेलती है यूनिवर्सिटी को तमाम खबरो से भी फर्क नही पड़ता ये कहना जायज़ होगा कि बिहार विश्वविद्यालय के प्रसाशन और कर्मचारियों ने विश्वविद्यालय को भगवान भरोसे छोड़ दिया है ऐसे में छात्र दर दर की ठोकरें खा रहे है और ख़ुद को कोस रहे है.

BIHAR

COVID-19: मनमानी वसूली पर लगेगा लगाम, बिहार सरकार ने तय किया CT-Scan के रेट

Muzaffarpur Now

Published

on

पटना. बिहार (Bihar) में कोरोना (COVID-19) के बढ़ते मामलों के बीच एक राहत भरी खबर है. अब सूबे के मरीजों को मनमानी वसूली से निजात मिल सकता है. कोरोना मरीजों की सहुलियत के लिए नीतीश सरकार ने सीटी-स्कैन की चार्ज तय कर दिए हैं. सरकार ने (HRCT) Scan की दर तय किए हैं. अब 2,500 रुपये (एकल स्लाइस सीटी मशीन) और 3,000 रुपये (मल्टी स्लाइस सीटी मशीन) की दर से मरीजों को भुगतान करना होगा. सरकार ने अपने निर्देश में साफ तौर पर कहा है कि मरीजों से तय दर से ज्यादा राशि लेने पर नियमों के अनुरूप सख्त कार्रवाई भी की जा सकती है.

बिहार में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में कमी दर्ज की गई है. एक दिन में 13466 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है, वहीं इस अवधि के दौरान 62 लोगों की मौत हुई है. सबसे ज्यादा 2410 मरीज पटना जिले में मिले हैं, जबकि बेगूसराय में 488, भागलपुर में 512, गया में 517, मुजफ्फरपुर में 630, नालन्दा में 548, मुंगेर में 603, वैशाली में 509, वेस्ट चम्पारण में 537, सीवान में 425, सारण में 509, पूर्णिया 459 और समस्तीपुर में 378 मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई है. बिहार में अब एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 1,15,066 तक पहुंच गई है, जबकि पटना जिले में यह संख्या 22330 है.

सरकार का फैसला 

कोरोना  के दौरान रोजगार मुहैया कराना सरकार के लिए सबसे बड़ी चुनौती है. इसी को देखते हुए गुरुवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार  की अध्यक्षता में बैठक हुई, जिसमें शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले मजदूरों को मनरेगा के तहत और रोजगार कैसे मिले, इस पर चर्चा हुई. रोजगार के साथ-साथ गरीब असहाय और बेघर लोगों को लॉकडाउन के दौरान दो वक्त का खाना मिले इसके लिए पूरे बिहार में चलाए जा रहे कम्युनिटी किचन की जानकारी भी बैठक में सीएम नीतीश कुमार ने ली.

ग्रामीण विकास विभाग और आपदा विभाग से संबंधित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के  माध्यम से हुई बैठक में सीएम नीतीश कुमार ने कई निर्देश दिए. मुख्यमंत्री ने  कहा कि लॉकडाउन के दौरान इच्छुक सभी लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए तत्परता से काम करें. सब को रोजगार मिले यह सुनिश्चित हो. बिहार में कोई मजदूर काम से वंचित न रहे. ग्रामीण इलाकों के साथ-साथ शहरी क्षेत्रों में भी गरीब लोगों को काम मिलना चाहिए. श्रमिकों का पारिश्रमिक समय से मिले यह भी  सुनिश्चित किया जाए.

Source : News18

Continue Reading

BIHAR

अच्छी खबर: बिहार में कल से 18 साल से ऊपर वालों को लगेगी कोरोना वैक्सीन, सरकार ने किया एलान

Muzaffarpur Now

Published

on

बिहार में कोरोना वैक्‍सीन (Covid-19 Vaccination for 18-44 Age group) के लिए इंतजार कर रहे लोगों के लिए अच्छी खबर है। राज्‍य सरकार (Bihar Government) ने ऐलान किया है कि नौ मई यानी कल से बिहार में 18 से 44 वर्ष की उम्र के लोगों के लिए टीकाकरण शुरू हो कर दिया जाएगा। इसके लिए जरूरी वैक्‍सीन की डोज बिहार को मिल गई है। बिहार के स्‍वास्‍थ्‍य महकमे (Bihar Health Department) के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर जानकारी दी गई है कि राज्‍य को कोरोना वैक्‍सीन की करीब 3.5 लाख डोज मिल गई है। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि 18 वर्ष से अधिक उम्र वाले सभी लोगों को पूरी तरह मुफ्त में टीका लगाया जाएगा।

पहले से रजिस्‍ट्रेशन कराना है जरूरी

18 से 44 वर्ष की उम्र वाले लोगों को कोरोना का टीका लगवाने के लिए पहले रजिस्‍ट्रेशन कराना जरूरी है। यह रजिस्‍ट्रेशन कोविन ऐप, आरोग्‍य सेतु ऐप या फिर उमंग ऐप के जरिए किया जा सकता है। रजिस्‍ट्रेशन के लिए आपको किसी पहचान पत्र का ब्‍योरा और मोबाइल नंबर देना जरूरी है। रजिस्‍ट्रेशन के बाद आपको अपने नजदीकी स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र में टीकाकरण के लिए स्‍लॉट बुक करना होगा। पहले से रजिस्‍ट्रेशन करा चुके व्‍यक्ति भी स्‍लॉट बुक कर सकेंगे। अभी उन्‍हीं केंद्रों पर स्‍लॉट बुकिंग का ऑप्‍शन मिलेगा, जहां टीकों की खेप उपलब्‍ध करा दी गई है। जैसे-जैसे टीकों की सप्‍लाई अस्‍पतालों तक होगी, स्‍लॉट बुकिंग के लिए अधिक से अधिक जगह पर ऑप्‍शन मिलेगा।

मुफ्त में लगेगा कोरोना से बचाव का टीका

बता दें कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहले ही फ्री में वैक्सीन देने का ऐलान कर चुके हैं। ऐसे में वैक्सीन की उपलब्धता नहीं हो पाने की वजह से बिहार में 18 से अधिक उम्र के लोगों के टीकाकरण को लेकर बना संशय खत्म हो गया है। बता दें कि बिहार के स्वास्थ्य विभाग ने अप्रैल महीने की 18 तारीख को ही एक करोड़ वैक्सीन की आपूर्ति का ऑर्डर सीरम इंस्टीट्यूट को दिया था।

Source : Dainik Jagran

Continue Reading

BIHAR

बुरे फंसे राजीव प्रताप रूडी: एम्बुलेंस में बालू ढोने का वीडियो वायरल, पप्पू और तेजस्वी ने किया ट्वीट

Muzaffarpur Now

Published

on

बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के बीच एम्बुलेंस कंट्रोवर्सी में नया मोड़ आया है. पूर्व सांसद राजेश रंजन ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है. वीडियो में एक एम्बुलेंस से बालू ढोते हुए देखा जा रहा है. पप्पू यादव वीडियो शेयर कर बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रुडी से सवाल पूछा है.

पप्पू यादव (Pappu Yadav) ने ट्वीट कर लिखा, ‘एम्बुलेंस का राजीव प्रताप रूडी जी बालू ढोने में बहुत बेहतरीन उपयोग कर रहे थे. इसके लिए उनके पास ड्राइवर भी उपलब्ध था, लेकिन बीमारों की मदद के लिए एम्बुलेंस चलाने के लिए ड्राइवर नहीं था.’ उन्होंने इसके साथ ही एक वीडियो भी शेयर किया है.

पप्पू यादव द्वारा जारी इस वीडियो पर सोशल मीडिया यूजर्स भी जमकर भड़ास निकाल रहे हैं. एक यूजर्स अश्विनी कर्ण ने लिखा कि बिहार में अब यही देखना बाकी रह गया था. बिहार की जनता को ड्राइवर की कमी बताकर आंख में धूल झोंका जा रहा है. न जाने बिहार की जनता की आंख इस सबसे कब खुलेगी?

वहीं एक अन्य यूजर्स अभिषेक दुबे ने लिखा, ‘यह बालू डबल डेकर पुल का निर्माण हो रहा है छपरा में. उसी में शायद जा रहा है हमारे आदरणीय सांसद महोदय विकास के लिए एम्बुलेंस तक लगा दिए हैं. ऐसा सांसद कहां मिलेगा? लोग भले एम्बुलेंस के अभाव में मर जाएं, लेकिन विकास नहीं रुकना चाहिए.’

बताते चलें कि बिहार के सारण में शुक्रवार को राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने छुपाकर रखे गए एम्बुलेंस का खुलासा किया था. बताया जा रहा था कि यह एम्बुलेंस बीजेपी सांसद ने रखवाए थे, वहीं बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रुडी ने कहा कि ये सभी एम्बुलेंस ड्राइवर की कमी के कारण यहां पर है.

Continue Reading
BIHAR8 hours ago

COVID-19: मनमानी वसूली पर लगेगा लगाम, बिहार सरकार ने तय किया CT-Scan के रेट

BIHAR11 hours ago

अच्छी खबर: बिहार में कल से 18 साल से ऊपर वालों को लगेगी कोरोना वैक्सीन, सरकार ने किया एलान

BIHAR11 hours ago

बुरे फंसे राजीव प्रताप रूडी: एम्बुलेंस में बालू ढोने का वीडियो वायरल, पप्पू और तेजस्वी ने किया ट्वीट

BIHAR11 hours ago

तेजस्वी को लालटेन लेकर खोज रही राघोपुर की जनता, लापता होने का लगाया पोस्टर

BIHAR13 hours ago

कोरोना को चारों खाने चित्त कर देगी DRDO की ‘रामबाण’ दवाई, ऑक्सीजन की कमी भी होगी दूर

INDIA13 hours ago

कोरोना को चारों खाने चित्त कर देगी DRDO की ‘रामबाण’ दवाई, ऑक्सीजन की कमी भी होगी दूर

INDIA13 hours ago

अस्पतालों में भर्ती होने को नहीं होगी कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट की जरूरत, सरकार की नई गाइडलाइंस

BIHAR15 hours ago

पटना के महावीर मंदिर ने शुरू किया 40 बेड का कोविड अस्पताल, सरकारी दर पर होगा इलाज

MUZAFFARPUR16 hours ago

साहित्यकार सीताराम पांडेय को जगह जगह दी गई श्रद्धांजलि, मुजफ्फरपुर के सांसद और विधायक ने भी जताया शोक

MUZAFFARPUR16 hours ago

SKMCH में भर्ती होना है तो ऑक्सीजन साथ लाएं, वेंटीलेटर का नहीं किया जा रहा इस्तेमाल

HEALTH4 weeks ago

ये 5 लक्षण मुंह पर दिखें तो तुरंत करवा लें जांच, हो सकता है कोरोना

INDIA1 week ago

कोरोना की दूसरी लहर के बीच 3 से 20 मई तक लगेगा संपूर्ण लॉकडाउन? जानिए क्या है सच्चाई

BIHAR2 weeks ago

बिहार के इस जिले में 4 दिनों के कंपलीट लॉकडाउन की घोषणा, जानें क्या खुला रहेगा

INDIA2 weeks ago

सिगरेट पीने वालों और ‘O’ ब्‍लड ग्रुप वालों से दूर रहता है कोरोना वायरस: CSIR सीरोसर्वे

VIRAL3 weeks ago

पति ने शराब छोड़ी तो पत्नी ने तलाक ले लिया, बोली पति तो शराबी ही चाहिए

MUZAFFARPUR2 weeks ago

बिहार में कोरोना लील रहा परिवार, मुजफ्फरपुर में एक साथ सजी दो सगे भाइयों की अर्थी, दोनों चर्चित व्यवसायी

BIHAR3 weeks ago

बिहार में लॉकडाउन लगना तय? सीएम नीतीश बोले- जो लोग दूसरे राज्यों से वापस आना चाहते हैं, वे जरूर आयें, 18 को बड़ा एलान!

BIHAR2 weeks ago

मुन्ना शुक्ला के कार्यक्रम में नाइट कर्फ्यू की उड़ी धज्जियां, अभिनेत्री अक्षरा सिंह समेत 200 के खिलाफ केस दर्ज

MUZAFFARPUR2 weeks ago

मुजफ्फरपुर में कोच‍िंंग संचालक से बेपनाह प्‍यार के बाद प्रेम‍िका ने कहा- शादी कर लो, बोला-कोई और ढूंढ लो…

BIHAR3 weeks ago

साउथ फिल्मों के सुपरस्टार अल्लू अर्जुन के साथ नजर आएंगी बिहारी गर्ल संचिता बसु, टिकटॉक ने दिलाई थी पहचान

Trending