Connect with us

BIHAR

इंसानो की अस्पताल को बना दिया जानवरों का डेरा

Muzaffarpur Now

Published

on

वैसे तो बिहार सरकार और स्वास्थ्य विभाग दावा करते हैं कि सूबे के ग्रामीण इलाकों में भी लोगों को मुफ्त में चिकित्सा सुविधाएं मिल रही हैं, लेकिन जमुई  जिले में स्थित एक सरकारी अस्पताल की तस्वीरें सरकार के दावे की कलई खोलती नजर आती हैं।

इस सरकारी अस्पताल में जहां मरीज या डॉक्टर या फिर कोई स्वास्थ्यकर्मी नहीं आता. बल्कि 10 साल पहले बने सरकारी अस्पताल के परिसर में मवेशी बांधे जाते हैं. अस्पताल भवन के कमरों में सूअर-बाड़ी है. जमुई जिले के नक्सल इलाके खैरा में स्थित गरही का अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र आजकल गोशाला के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है।

गरही में स्थित इस स्वास्थ्य केंद्र के बारे में स्थानीय लोगों का कहना है कि यहां डॉक्टर नहीं आते. अस्पताल में कोई स्वास्थ्यकर्मी भी तैनात नहीं है. ऐसे में मरीजों के आने का तो सवाल ही नहीं उठता. सरकारी अनदेखी और डॉक्टर-स्वास्थ्यकर्मी की गैर-मौजूदगी का फायदा कुछ लोग उठाते हैं. आसपास के गांव से विस्थापित लोगों ने इस अस्पताल भवन को रैन बसेरा बना लिया है. इस वजह से अस्पताल का भवन, जो दस साल पहले बना था, उसके कमरों में सूअर रखे जाते हैं. बाहर में लोग मवेशी बांधते हैं।

गरही के अस्पताल की जर्जर हालत को देखते हुए स्थानीय लोग इलाज के लिए जिला मुख्यालय जाने को मजबूर हैं. या फिर लोगों को निजी अस्पतालों के भरोसे रहना पड़ता है. गरही में रहने वालों ने बताया कि कई बार शिकायत करने के बाद भी कोई सुनवाई नहीं हुई. स्थानीय ग्रामीण पिंकी देवी ने कहा कि जब डॉक्टर नहीं आते, इलाज नही होता तो लोग अस्पताल भवन को जानवरों को रखने में इस्तेमाल करते हैं. एक अन्य युवा विनय केशरी का कहना है कि उसने इस स्वास्थ्य केंद्र में कभी न तो किसी डॉक्टर को देखा है और न ही किसी स्वास्थ्यकर्मी को।

ऐसा नहीं है कि इस अस्पताल में डॉक्टर या स्वास्थ्यकर्मी की तैनाती नहीं की गई है. खैरा के गरही के इस सरकारी स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सक और कर्मी तैनात हैं, लेकिन अस्पताल की दुर्दशा के कारण यहां कोई आता ही नहीं. वर्षों से यह स्वास्थ्य केंद्र कागज पर ही चल रहा है. न्यूज 18 ने जब जमुई जिला स्वास्थ्य समिति के प्रबंधक सुधांशु कुमार से इस बारे में बात की तो उनका कहना था कि जल्द ही वहां सारी व्यवस्था ठीक कर ली जाएगी. इसके लिए विभाग ने काम शुरू कर दिया है।

Input : News18

BIHAR

सुशांत सिंह राजपूत को पद्म श्री देने की मांग, CBI जांच नहीं कराने पर होगा बिहार बंद

Muzaffarpur Now

Published

on

PATNA : बिहार के लाल सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) दुनिया को अलविदा कह चुके हैं. सुशांत को न्याय दिलाने के लिए कई सामाजिक संगठन लगातार अपनी आवाज़ बुलंद कर रहे हैं. बिहार सहित कई राज्यों के लोगों में आक्रोश है. बिहार में ‘जस्टिस फॉर सुशांत सिंह’ अभियान की शुरुआत करते हुए युवाओं ने उन्हें पद्म श्री (Padma Shri ) देने की मांग की है.

The Everyday Superstar

सवर्ण सेना के अध्यक्ष भागवत शर्मा ने सुशांत केस की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है. उन्होंने कहा कि बॉलीवुड (Bollywood) माफियाओं ने सुशांत सिंह राजपूत का मर्डर कराया है. बॉलीवुड के माफिया पिछले काफी समय से उनके पीछे पड़े हुए थे. सुशांत सिंह राजपूत की लोकप्रियता और सफलता से वे लोग जलते थे. बॉलीवुड में जिन्होंने नेपोटिज्म के बल पर फिल्म हासिल किया है, जो खानदानी कलाकार हैं उनको यह डर लग रहा था इंडस्ट्री में उनकी वैल्यू खत्म हो जाएगी.

‘जस्टिस फॉर सुशांत सिंह’ (Justice For Sushant) अभियान को लेकर राजधानी पटना में पोस्टर लगाए गए हैं. सुशांत को न्याय दिलाने की मांग हो रही है. सवर्ण सेना की ओर से 4 मांगे रखी गई हैं. सुशांत सिंह की आत्महत्या की CBI जांच कराने की मांग की जा रही है. बिहार के राजगीर में बन रही फिल्म सिटी को उनके नाम पर रखने की बात हो रही है. सबसे बड़ी बात ये है कि सवर्ण सेना ने सुशांत को पद्म श्री (Padma Shri ) देने की मांग की है. कला, साहित्य, विज्ञान, खेल, समाज सेवा और सार्वजनिक जीवन आदि में विशिष्ट योगदान देने वाले लोगों को इस पुरुस्कार से अलंकृत किया जाता है, जिसे सुशांत को भी देने की मांग की जा रही है.

सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म को ओटीटी प्लेटफार्म पर रिलीज करने को लेकर भी लोगों में नाराजगी देखी जा रही है. सवर्ण सेना ने इसपर भी आपत्ति जताई है. अध्यक्ष भागवत शर्मा ने कहा कि सुशांत की आखिरी फिल्म दिल बेचारा को बड़े पर्दे पर रिलीज किया जाये. इतना ही नहीं उन्होंने सरकार से ये भी मांग की कि टैक्स फ्री करते हुए देश के सभी सिनेमाघरों में रिलीज किया जाये.

Input : First Bihar

Continue Reading

BIHAR

सुशांत सिंह का पटना स्थित आवास बनेगा उनका स्मारक, ‘Legacy Account’ बन जाएगा इंस्टाग्राम

Muzaffarpur Now

Published

on

पटना. फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) ने 14 जून को उनके मुंबई स्थित घर पर आत्महत्या कर ली थी. उनके असमय निधन के बाद परिवार के लोग बेसुध हैं. उनके निधन के सदमे में उनकी एक भाभी की मौत हो गई थी. सुशांत के पिता केके सिंह (Sushant’s father KK Singh) ने हाल ही में एक बातचीत में कहा था कि उन्हें अपने बेटे पर बहुत गर्व है. छोटी सी उम्र में उसने इतना नाम कमा लिया, जिसको कमाने में आदमी सारी जिंदगी बिता देता है, लेकिन फिर भी अपने ख्वाबों को पूरा नहीं कर पाता. सुशांत अपने सभी भाई बहनों में सबसे छोटे थे. उनके एक बहनोई ओपी सिंह आईपीएस अफसर हैं जो हरियाणा कैडर में हैं और फिलहाल वे ओएसडी हरियाणा चीफ मिनिस्टर हैं. उन्होंने एक शोक संदेश जारी किया है जिसमें जानकारी दी गई है कि पटना स्थित उनके आवास को उनका स्मारक बनाया जाएगा.

पटना लाया जाएगा सुशांत सिंह राजपूत ...

राजीव नगर में बीता था सुशांत का बचपन

परिजनों की ओर से जारी संदेश में कहा कि सुशांत सिंह का बचपन पटना के राजीव नगर में बीता था इसलिए उनके आवास को उनका स्मारक बनाने का विचार है. इसमें सुशांत के हजारों किताब, दूरबीन, फ्लाइट सिम्युलेटर, गिटार, फर्निचर एवं अन्य चीजों को प्रदर्शित किया जाएगा.

इंस्टाग्राम अकाउंट भी रहेगा जिंदा

संदेश में यह भी कहा गया है कि परिजनों की  हार्दिक इच्छा है कि उनके प्रशंसक उनसे जुड़े रहें इसलिए उनके इंस्टाग्राम पेज को भी  ‘लिगेसी अकाउंट’ की तरह चलाया जाएगा. उनका कहना है कि सुशांत के इंस्टाग्राम पेज को करोड़ों प्रशंसक फॉलो करते हैं ऐसे में हम इसके जरिये सुशांत के दिल का रिश्ता उनके प्रशंसकों के साथ हमेशा बनाए रखना चाहते हैं.

श्राद्ध कर्म की पूरी का जा रही प्रक्रिया

बता दें कि 14 जून को निधन व 15 जून को अंतिम संस्कार के बाद सुशांत के श्राद्ध कर्म की प्रक्रिया पटना के राजीवनगर स्थित उनके आवास पर पूरी की जा रही है. 25 जून को नख-बाल के बाद 26 जून को श्राद्ध कर्म किया गया. शनिवार यानि 27 जून को ब्रह्म भोज का आयोजन किया जा रहा है.

राजीव नगर में सुशांत के नाम पर चौक

बता दें कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद उनके फैन्स एवं बिहारवासी अलग-अलग तरीके से उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं. इसी क्रम में राजीव नगर में ही दिवंगत एक्टर के नाम से एक चौराहे पर उनके नाम का बोर्ड लगा दिया गया है. हालांकि यह बोर्ड नगर निगम की तरफ से आधिकारिक तौर पर नहीं लगाया गया है, पर ऐसा माना जा रहा है कि नगर निगम भी इसपर अपनी सहमति दे देगा.

Input : News18

Continue Reading

BIHAR

RJD को लगा एक और तगड़ा झटका, प्रदेश उपाध्यक्ष ने पार्टी से दिया इस्तीफा

Muzaffarpur Now

Published

on

ARRAH :अभी-अभी बड़ी खबर आ रही है। खबर सियासी गलियारे से हैं। आरजेडी को  एक और तगड़ा झटका लगा है। पार्टी के एक प्रदेश उपाध्यक्ष ने पद से इस्तीफा दे दिया है। पांच विधान पार्षदों के पार्टी  छोड़ कर जेडीयू में शामिल होने और पार्टी उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह के पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा देने के बाद पार्टी को एक और बड़ा झटका लगा है।

राजद के प्रदेश उपाध्यक्ष सह पूर्व विधायक विजेंद्र यादव ने पद और पूर्ण रूप से पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। विजेंद्र यादव लालू यादव के काफी करीबी माने जाने वाले नेताओं में शुमार हैं।विजेन्द्र य़ादव के इस्तीफे से भोजपुर में आरजेडी को तगड़ा झटका लगा है। भोजपुर इलाके में वे राजद के कद्दावर नेता के तौर पर जाने जाते हैं। बताया जा रहा है कि विजेन्द्र यादव पार्टी से काफी दिनों से नाराज चल रहे थे।

बता दें कि कुछ दिनों पहले ही आरजेडी को दोहरा झटका लगा था। राजद के पांच विधान पार्षद पार्टी छोड़कर जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) में शामिल हो गए वहीं, राजद के उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया था । एमएलसी संजय प्रसाद, कमरे आलम, राधाचरण सेठ, रणविजय सिंह और दिलीप राय आरजेडी छोड़ कर जेडीयू में शामिल हो गये थे।

Input : First Bihar

 

 

Continue Reading
BIHAR40 mins ago

सुशांत सिंह राजपूत को पद्म श्री देने की मांग, CBI जांच नहीं कराने पर होगा बिहार बंद

INDIA1 hour ago

सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस: पुलिस का बड़ा खुलासा, पहली कोशिश में फेल होने के बाद दूसरी बार लगाई फांसी

BIHAR2 hours ago

सुशांत सिंह का पटना स्थित आवास बनेगा उनका स्मारक, ‘Legacy Account’ बन जाएगा इंस्टाग्राम

Uncategorized2 hours ago

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय पहुंचे सीतामढ़ी, बोले- कौन थानेदार शराब बिकवा रहा है, कौन पैसे ले रहा है …

INDIA2 hours ago

ड्राइविंग लाइसेंस को लेकर सरकार का बड़ा फैसला, मोटर वाहन नियमों में बदलाव

BIHAR2 hours ago

RJD को लगा एक और तगड़ा झटका, प्रदेश उपाध्यक्ष ने पार्टी से दिया इस्तीफा

BIHAR3 hours ago

बिहार: शादी के 10 दिनों के बाद दुल्हन ने पति को छोड़ा, बोली ..आपसे नहीं अपनी सहेली से करती हूं प्यार

Uncategorized4 hours ago

यशवंत सिन्हा आज नए मोर्चे का करेंगे एलान, बिहार चुनाव में किसे मिलेगा फायदा?

INDIA6 hours ago

देश में संक्रमितों की संख्या पांच लाख के पार, एक दिन में आए रिकॉर्ड 18552 नए मामले

BIHAR6 hours ago

बिहार में बस के किराये में भारी इजाफे की तैयारी, कोरोना की मार झेल रहे लोगों को बड़ा झटका

INDIA3 weeks ago

धोनी ने खरीदा स्‍वराज ट्रैक्‍टर तो आनंद महिंद्रा ने दिया बड़ा बयान, वायरल हुआ ट्वीट

BIHAR2 weeks ago

सुशांत के परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़, सदमा नहीं झेल पाईं भाभी, तोड़ा दम

BIHAR2 weeks ago

प्रिय सुशांत – एक ख़त तुम्हारे नाम, पढ़ना और सहेज कर रखना

INDIA2 weeks ago

सुशांत स‍िंह राजपूत की सुसाइड पर बोले मुकेश भट्ट, ‘मुझे पता था ऐसा होने वाला है…’

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर आ रहें हैं सोनू सूद, कहा साइकिल से घूमेंगे पुरा मुजफ्फरपुर

BIHAR2 weeks ago

लालू के बेटे तेजस्वी यादव की कप्तानी में खेलते हुए बदली विराट कोहली की किस्मत!

MUZAFFARPUR1 week ago

सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर एकता कपूर ने तोड़ी चुप्पी, कहा- मेरे खिलाफ मुकदमा करने के लिए शुक्रिया

TECH4 weeks ago

आ रहा नोकिया का 43 इंच का TV, जानें कितनी होगी कीमत

INDIA5 days ago

सुशांत के व्हॉट्सऐप चैट आये सामने, उनको फिल्म करने में हो रही थी परेशानी

INDIA2 weeks ago

चांद पर प्लॉट खरीदने वाले पहले एक्टर थे सुशांत सिंह राजपूत!

Trending