Connect with us

TRENDING

इस ट्वीट को पढ़ भावुक हुए सोनू सूद, कहा- ‘काश मेरी मां यह देखने के लिए मेरे साथ होतीं’

Published

on

मुंबई. बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद (Sonu Sood) इस बार देश के लिए बड़ी मिसाल बनकर उभरे हैं. कोरोना काल में एक्टर ने जिस तरह से फ्रंट लाइन वर्कर्स से लेकर छात्रों तक मदद पहुंचाई, उन्हें सबसे मुश्किल घड़ी से बाहर निकाला, इसके बाद से वह देश के रियल लाइफ हीरो बन गए हैं. उनके नेक कामों के चलते वह उन लोगों के मसीहा बन गए हैं, जिनकी उन्होंने कोरोना वायरस जैसी महामारी के बीच मदद की. सोनू सूद के इस नेक काम को देखते हुए देश के सबसे प्रतिष्ठित IAS और IPS प्रशिक्षण अकादमी में से एक ‘शरत चंद्र आईएएस अकादमी (Sarat Chandra IAS Academy)’ ने सोनू सूद के नाम पर एक विभाग बनाया है.

सोनू सूद (Photo Credit- @sonu_sood/Instagram)

सोनू सूद के नेक प्रयासों का सम्मान करते हुए और जरूरतमंद लोगों की मदद करने के लिए आंध्र प्रदेश स्थित शरत चंद्र आईएएस अकादमी, शरत चंद्र डिग्री कॉलेज और शरत चंद्र जूनियर कॉलेज ने उनके नाम पर एक विभाग बनाया है. इस सम्मान को लेकर सोनू सूद भी बेहद खुश हैं. उन्होंने ट्विटर पर एक पोस्ट के जरिए खुद को मिले इस सम्मान पर खुशी जाहिर की है. साथ ही इस बात पर दुख भी जाहिर किया है कि उनकी मां उनकी इस खुशी में उनके साथ नहीं हैं.

Advertisement

Advertisement

सोनू सूद ने एक पोस्ट को रिट्वीट करते हुए लिखा है- ‘काश यह देखने के लिए मेरी मां आज मेरे साथ होतीं.’ बता दें, कुछ समय पहले ही सोनू सूद ने अपनी मां के सम्मान में जरूरतमंद छात्रों के लिए स्कॉलरशिप प्रोग्राम की घोषणा की थी. इसके साथ ही उन्होंने कोरोना काल में कई छात्रों तक अपनी मदद पहुंचाई थी. यही नहीं, विदेश में फंसे छात्रों को देश वापस लाने के लिए भी सोनू सूद ने कई कदम उठाए थे.

Source : News18

Advertisement

Advertisement

TRENDING

27 साल बाद मेजर (रिटा) मां के बेटे ने उसी कहानी को दोहराया

Published

on

एक मां के लिए इससे बड़ा गर्व का क्षण क्या हो सकता है जब उसका बेटा उसी की राह पर चलते हुए उसी की अकेडमी से देश की सेना में ऑफिसर बनने में सफल हो जाए. जी हां, रिटायर्ड मेजर स्वाति चतुर्वेदी के लिए ऐसा ही क्षण था जब उसका बेटा चेन्नई के ऑफिसर ट्रेनिंग अकेडमी से कमीशन प्राप्त कर पासिंग आउट परेड में शामिल हुए. रक्षा मंत्रालय ने मां-बेटे के इस अद्भुत दृश्य को कैमरे में कैद कर लिया और उसे सोशल मीडिया पर पोस्ट किया है. दिल को छू लेने वाली यह तस्वीर अब सोशल मीडिया पर वायरल हो चुकी है. दरअसल, रिटायर्ड मेजर स्मिता चतुर्वेदी ने चेन्नई के इसी ऑफिसर ट्रेनिंग अकेडमी से 1995 में पास आउट हुई थी और अब उनका बेटा भी अब इसी ट्रेनिंग अकेडमी से कमीशन प्राप्त किया है.

मालदीव के मेजर जनरल के सामने पासिंग आउट परेड

Advertisement

स्वाति चतुर्वेदी ने 27 साल पहले चेन्नई के ऑफिसर ट्रेनिंग अकेडमी से कमीशन हुई थीं. पासिंग आउट परेड के लिए चेन्नई के ऑफिसर ट्रेनिंग अकेडमी में समारोह का आयोजन किया था जिसमें मालदीव के डिफेंस ऑफ स्टाफ मेजर जनरल अब्दुल्ला शमाल ने परेड की समीक्षा की. रक्षा मंत्रालय के चेन्नई स्थित पीआरओ ने इस तस्वीर को ट्विटर पर शेयर किया है और लिखा है कि 27 साल बाद बेटे ने मां की कहानी को दोहराया है. ट्विटर पर पीआरओ ने लिखा, मेजर स्मिता चतुर्वेदी (रिटायर्ड) चेन्नई के ऑफिसर ट्रेनिंग अकेडमी से 27 साल पहले 1995 में कमीशन हुई थीं. उन्होंने आज 27 साल बाद उसी तरह से इसी ट्रेनिंग अकेडमी में अपने बेटे को कमीशन प्राप्त करते हुए देखा.

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

याद आ गई 27 साल पुरानी यादें

Advertisement

यह खुशी महिला अधिकारी के जीवन में खुशी से भरा हुआ दुर्लभ क्षण था. रक्षा मंत्रालय के अधिकारी ने स्वाति चतुर्वेदी की वह तस्वीर भी पोस्ट की है जब वह चेन्नई के ऑफिसर ट्रेनिंग अकेडमी में प्रशिक्षण ले रही थीं. मेजर स्वाति चतुर्वेदी ने अपने पुराने दिनों को याद करते हुए बताया कि सचमुच यह मेरे जीवन का बेहद शानदार क्षण है. वीडियो संदेश में स्वाति चतुर्वेदी कहती हैं, यह पीढ़ी हमारी पीढ़ी से काफी आगे है और हर चुनौतियों का सामना करने के लिए पहले से ज्यादा तैयार है. मेरे लिए यह खुशी का क्षण है. मैं पासिंग आउट परेड से कमीशन प्राप्त करने वाले सभी कैडेट को बधाई देना चाहती हूं. मुझे अपने अकेडमी में बिताए दिनों की याद आ रही है. अब यहां बहुत कुछ बदल गया है. सब कुछ नया हो गया है. नई चुनौतियां भी हैं और सभी तरह से ये कैडेट सुसज्जित हो गए हैं. ये हमारी पीढ़ी से ज्यादा परिपूर्ण हैं.

Source : News18

Advertisement

nps-builders

Genius-Classes

Continue Reading

TRENDING

सुशांत सिंह राजपूत की तस्वीर को डिप्रेशन से जोड़ा, टीशर्ट बेच रहा फ्लिपकार्ट

Published

on

सुशांत सिंह राजपूत के फैंस ने ई-कॉमर्स वेबसाइट फ्लिपकार्ट पर दिवंगत एक्टर का मजाक उड़ाने और उनके खिलाफ प्रोपेगेंडा करने का आरोप लगाया है और कहा है कि कंपनी सुशांत की तस्वीर वाली टी-शर्ट बेचने के लिए ‘सस्ती मार्केटिंग’ का हथकंडा अपना रही है. नेटिजेंस कंपनी की आलोचना कर रहे हैं.

Sushant Singh Rajput, Flipkart, T shirt, Boycott Flipkart, Depression, Sushant Singh Rajput fans, Twitter Flipkart, Twitter Sushant Singh Rajput, सुशांत सिंह राजपूत, फ्लिपकार्ट

सोशल मीडिया पर शेयर की गई तस्वीरों में टी-शर्ट पर सुशांत सिंह राजपूत की तस्वीर के नीचे एक मैसेज में लिखा है, ‘डिप्रेशन डूबने जैसा एहसास है.’ मंगलवार को जब एक फैन ने सुशांत की तस्वीर वाली टी-शर्ट की तस्वीर शेयर की तो ट्विटर पर ‘बायकॉट फ्लिपकार्ट’ ट्रेंड करने लगा. बता दें कि एक्टर 34 साल के थे, जब उन्हें जून 2020 में उनके घर पर मृत पाया गया था.

Advertisement

फ्लिपकार्ट ने विरोध के बाद टीशर्ट साइट से हटाई

फ्लिपकार्ट ने टी-शर्ट पर दिए संदेश से यह संकेत दिया कि सुशांत की आत्महत्या से मृत्यु हुई थी, जिससे फैंस ने अपना गुस्सा जाहिर किया. कुछ लोगों ने फ्लिपकार्ट से माफी मांगने और अपनी वेबसाइट से यह टी-शर्ट हटाने की मांग की. टी-शर्ट अब साइट पर मौजूद नहीं है.

Advertisement

Genius-Classes

लोग चाहते हैं कि फ्लिपकार्ट माफी मांगे

दिवंगत एक्टर के फैंस ने सुशांत की तस्वीर वाली फ्लिपकार्ट की टी-शर्ट के स्क्रीनशॉट पोस्ट किए हैं. कई फैंस ने हैरानी जताई. कुछ कंपनी के ‘असंवेदनशील’ रवैये से हैरान थे, जबकि अन्य ने इसे दिवंगत एक्टर के खिलाफ एक प्रोपेगेंडा बताया है. एक फैन ने मंगलवार को स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए लिखा, ‘देश अभी तक सुशांत की दुखद मौत के सदमे से बाहर नहीं निकला है. हम न्याय के लिए आवाज उठाते रहेंगे. फ्लिपकार्ट को इस बुरी हरकत पर शर्म आनी चाहिए और माफी मांगनी चाहिए कि ऐसी घटना दोबारा नहीं होगी.’

Advertisement

सुशांत के फैंस ने कंपनी पर सस्ती मार्केटिंग का लगाया आरोप

कुछ लोगों ने कंपनी की इस तरह की टी-शर्ट बेचने के कदम को बकवास बताया. ‘अब यह क्या बकवास है फ्लिपकार्ट? एक मर चुके इंसान की खास तस्वीर को ‘डिप्रेशन’ के तौर पर लेबल करना. यह कैसी सस्ती मार्केटिंग है?’ एक अन्य व्यक्ति ने हैशटैग ‘बायकॉट फ्लिपकार्ट’ के साथ ट्वीट किया, ‘शर्म करो फ्लिपकार्ट. आप एक ऐसे व्यक्ति को बदनाम करना चाहते हैं, जो अब अपना बचाव करने के लिए इस दुनिया में नहीं है.’

Advertisement

Source : News18

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

nps-builders

Advertisement
Continue Reading

TRENDING

एक महीने का 3419 करोड़ का बिजली का बिल देखकर लगा ‘करंट’

Published

on

अगर आपका बिजली बिल हजारों लाखों में नहीं करोड़ों रुपये में नहीं, बल्कि अरबों रुपये में आ जाए तो सोचिए आपकी क्या हालत होगी. कुछ ऐसा ही हुआ मध्य प्रदेश के ग्वालियर में जहां 3,419 करोड़ रुपये का बिजली बिल देखकर ही ससुर और बहू को सदमा लग गया. बुजुर्ग ससुर को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा.

ये हैरान कर देने वाला मामला ग्वालियर के पॉश इलाके शिव बिहार कॉलोनी का है, जहां प्रियंका गुप्ता का घर है. प्रियंका गृहणी हैं और उनके पति संजीव कनकने पेशे से वकील हैं.

Advertisement

संजीव बताते हैं इस बार उनका बिजली का बिल 34 अरब 19 करोड़ 53 लाख 25 हजार रुपये का आया, जिसे देखकर उनकी पत्नी प्रियंका का बीपी बढ़ गया. उनके पिता राजेन्द्र प्रसाद गुप्ता जो हार्ट पेशेंट हैं, ब्लड प्रेशर बढ़ने के चलते उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा.

हालांकि बिजली विभाग के तमाम चक्कर काटने के बाद संजीव ने राहत की सांस ली, क्योंकि उनका बिल बिजली कंपनी ने संशोधित कर दिया है और अब महज 1300 रुपये का है. इस गलती को लेकर बिजली कंपनी के महाप्रबंधक का कहना है कि ये मानवीय भूल है और सबंधित अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई की गई है.

Advertisement

Genius-Classes

वहीं उपभोक्ता पक्ष का तर्क है कि बिजली कंपनी की इस खामी के पीछे की वजह अस्थाई कनेक्शनों को स्थाई नहीं करना है. इसी वजह से मकान खरीदे जाने के दो साल से ज्यादा वक्त बीत जाने पर भी मजबूरन कमर्शियल रेट पर बिजली का बिल देना पड़ रहा है. कुल मिलाकर मध्य प्रदेश में बिजली कंपनी की मनमानी से लोग खासे परेशान हैं.

कहीं लोग पॉवर कट की समस्या से दो-चार हो रहे हैं तो कहीं बढ़े हुए बिजली बिल उन्हें मुसीबत में डाल रहे हैं. ऐसे में देखने वाली बात यह है कि बिजली कंपनी की मनमानी से लोगों को कब तक राहत मिल पाएगी.

Advertisement

Source : Aaj Tak

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

nps-builders

Advertisement
Continue Reading
INDIA19 hours ago

मूसेवाला के पिता बोले- मेरे बेटे की हत्या के पीछे कुछ सिंगर और सफेदपोश, जल्द करूंगा खुलासा

INDIA20 hours ago

तलाक पर कोर्ट में समझौता, बाहर निकलते ही पत्नी की गला रेतकर हत्या की, बच्ची पर भी किया हमला

BIHAR20 hours ago

पत्नी को गैर की बाहों में देखा तो पति ने कर दी हत्या, लिखा- इसका यही अंजाम होता है

BIHAR20 hours ago

समस्तीपुर : पिस्टल से केक काटा, ड्रोन से खिंचाई फोटो,गर्लफ्रेंड से रिश्ता टूटने पर मनी ब्रेकअप पार्टी

INDIA21 hours ago

असम के मुख्यमंत्री ने आमिर खान से राज्य का दौरा स्थगित करने का आग्रह किया

BIHAR22 hours ago

नीतीश कुमार ने भले तोड़ा हो भाजपा से गठबंधन, हरिवंश नहीं देंगे इस्तीफा; बने रहेंगे राज्यसभा के उपसभापति

MUZAFFARPUR1 day ago

महिला सिपाही कविता की गर्दन की हड्डी टूटी, गले पर गहरा निशान

INDIA1 day ago

शेयर मार्केट किंग राकेश झुनझुनवाला का निधन, 62 साल की उम्र में ली आखिरी सांस #RakeshJhunjhunwala

BIHAR1 day ago

बिहार का नवादा बन रहा साइबर क्राइम का हब, 1.22 करोड़ कैश के साथ 4 गिरफ्तार

INDIA1 day ago

‘उठो राजू…’ रिकवरी के लिए राजू श्रीवास्तव को सुनाई जा रही है अमिताभ बच्चन की आवाज

job-alert
BIHAR2 weeks ago

बिहार: मैट्रिक व इंटर पास महिलाएं हो जाएं तैयार, जल्द होगी 30 हजार कोऑर्डिनेटर की बहाली

BIHAR4 weeks ago

बिहार में तेल कंपनियों ने जारी की पेट्रोल-डीजल की नई दरें

BIHAR2 weeks ago

बीपीएससी 66वीं रिजल्ट : वैशाली के सुधीर बने टॉपर ; टॉप 10 में मुजफ्फरपुर के आयुष भी शामिल

BIHAR1 week ago

एक साल में चार नौकरी, फिर शादी के 30वें दिन ही BPSC क्लियर कर गई बहू

BUSINESS2 weeks ago

पैसों की जरूरत हो तो लोन की जगह लें ये सुविधा; होगा बड़ा फायदा

BIHAR1 week ago

ग्राहक बन रेड लाइट एरिया में पहुंची पुलिस, मिली कॉलेज की लड़किया

BIHAR4 weeks ago

बिहार : अब शिकायत करें, 3 से 30 दिनों के भीतर सड़क की मरम्मत हाेगी

INDIA2 weeks ago

बुढ़ापे का सहारा है यह योजना, हर दिन लगाएं बस 50 रुपये और जुटाएं ₹35 लाख फंड

BIHAR2 weeks ago

बीपीएससी 66 वीं के रिजल्ट में परफेक्शन आईएएस के 131 अभ्यर्थी सफल..

BIHAR4 weeks ago

सात समुंदर पार कर इंग्लैंड से सुल्तानगंज गंगा घाट पहुंची भोलेनाथ की दीवानी रेबेका

Trending