पाकिस्‍तान के रेल मंत्री शेख रशीद अहमद ने गुरुवार को कहा कि पाकिस्तान रेलवे एक गंभीर वित्तीय संकट का सामना कर रहा है और विभाग प्रमुख रूप से निवेश की कमी से जूझ रहा है. पाकिस्‍तानी समाचार पत्र डॉन की वेबसाइट में प्रकाशित खबर के अनुसार, रेल मंत्री रशीद ने रेलवे पर सीनेट की स्थायी समिति को विकास परियोजनाओं पर संक्षिप्त सत्र के दौरान बयान दिया.

 

उन्‍होंने कहा कि 4 अरब रुपये के प्रावधान के बावजूद एमएल-1 के बारे में अंतिम निर्णय अब तक नहीं किया गया है. हालांकि, विभाग इसकी डिजाइनिंग के लिए अतिरिक्त 7 बिलियन रुपये की मांग को पूरा करने के लिए उसके पास धन नहीं है. उन्होंने प्रधानमंत्री इमरान खान की यात्रा में बीजिंग के साथ चर्चा के बाद चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (CPEC) परियोजना में क्वेटा, ताफ्तान, हेरात, कंधार मार्गों को शामिल करने की घोषणा की गई थी.

पाकिस्‍तान रेलवे की जमीन पर अवैध अतिक्रमण के बारे में जानकारी देते हुए मंत्री ने कहा कि अधिकारियों ने सक्रिय रूप से भू-माफियाओं से तख्त-ए-बही तक की जमीनें छुड़वा कर ली हैं.

रशीद ने कहा कि उन्होंने 15 साल पहले पाकिस्तान रेलवे का प्रभार संभालने के बाद से रेलवे सिग्नलिंग कार्यक्रम को 8 बिलियन पर छोड़ा था, जबकि इसका वर्तमान वित्तीय मूल्य 32 बिलियन है.

Input : Zee News

Total 0 Votes
0

Tell us how can we improve this post?

+ = Verify Human or Spambot ?