Connect with us
leaderboard image

MUZAFFARPUR

कई दुर्लभ संयोगों के बीच वासंतिक नवरात्र आज से

Ravi Pratap

Published

on

चैत्र शुक्ल प्रतिपदा के साथ बुधवार से वासंतिक नवरात्र शुरू होगा। इसमें मा भगवती के सभी नौ रूपों की उपासना की जाएगी। रमना स्थित मा राज राजेश्वरी देवी मंदिर के पुजारी आचार्य अमित तिवारी ने बताया कि इस नवरात्र में माता का आगमन नाव पर हो रहा है। इससे मनचाहा वरदान और सिद्धि की प्राप्ति होगी। माता की विदाई हाथी पर होगी। इससे अतिवृष्टि का योग बन रहा है।

रामदयालु स्थित मा मनोकामना देवी मंदिर के पुजारी पंडित रमेश मिश्र के अनुसार इस बार नवरात्र पर कई दुर्लभ संयोग बन रहा है।
सदर अस्पताल स्थित मा सिद्धेश्वरी दुर्गा मंदिर के पुजारी पंडित देवचंद्र झा ने बताया कि नवरात्र में कलश स्थापना का काफी महत्व है। इसकी स्थापना सही और उचित मुहूर्त में ही करनी चाहिए। राधाकृष्ण मंदिर के पंडित रवि झा ने बताया कि चैत्र नवरात्र में कन्या पूजन का विशेष महत्व है।

नवरात्र पर कोरोना का असर, खात्मे को होगा हवन : वासंतिक नवरात्र के तहत शक्ति की भक्ति की राह में इस बार कोरोना वायरस बाधक बना है। नवरात्र के बावजूद सभी देवी मंदिर बंद रहेंगे। लोग अपने घरों में ही पूजा-अर्चना करेंगे। हालांकि, सिद्धि के लिए तांत्रिकशक्ति की साधना करेंगे। इसमें आम जनता का प्रवेश वर्जित होगा।

श्रीसिद्धपीठ डकरामा के संत स्वामी जी सिंह ने बताया कि दो अप्रैल को हवन के बाद यहां भक्त माता के दर्शन को आएंगे। इस बार कोरोना के खात्मे के लिए यहां विशेष हवन होगा। बताते चलें कि श्री सिद्धपीठ डकरामा आस्था और भक्ति का केंद्र है। यहां के संत स्वामी शिवजी सिंह पिछले 53 साल से साल के सभी चार नवरात्र बगैर अन्न-जल के करते है।

मुजफ्फरपुर नाउ की अपील : कोरोना वायरस से लड़ने के लिए अपने घर में रहें और सुरक्षित रहें। लॉकडाउन और कर्फ्यू का पालन करें, घबराने की जरूरत नहीं है। 

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर : कालाबाजारी एवं जमाखोरी करने वालो पर होगी कड़ी कार्यवाई

Abhay Raj

Published

on

जिलाधिकारी डॉ चंद्रशेखर सिंह और एसएसपी जय कांत ने आज समाहरणालय स्थित सभा कक्ष में जिले के विभिन्न व्यवसाई संघो के प्रतिनिधियों के साथ एक महत्वपूर्ण बैठक की एवं लॉक डाउन में सहयोग की अपील भी की। उन्होंने कहा कि राष्ट्र के सामने अभी संकट की स्थिति है ऐसे में जिले के विभिन्न व्यवसायिक संघों के प्रतिनिधियों से प्रशासन की अपेक्षा है की लॉक डाउन की स्थिति में आवश्यक बस्तुओं की कालाबाजारी एवं जमाखोरी नहीं होगी। उन्होंने स्पष्ट कहा प्रशासन उनके साथ हैं परंतु कालाबाजारी और जमाखोरी पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बैठक में जिलाधिकारी ने आमजन से अपील भी किया कि आवश्यक वस्तुओं की कोई कमी नहीं रहने दी जाएगी।

इस संबंध में पैनिक होने की आवश्यकता नहीं है। जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन हालात पर नजर बनाए हुए है। बैठक में विभिन्न व्यवसायिक संघो के द्वारा लॉक डाउन की स्थिति में उत्पन्न हो रही परेशानियों से प्रशासन को अवगत कराया गया। जिलाधिकारी और एसएसपी ने बड़े ही धैर्य के साथ उनकी समस्याओं को सुना। विभिन्न व्यवसायिक संघों के प्रतिनिधियों के द्वारा महत्वपूर्ण सुझाव भी दिए गए। लॉक डाउन की स्थिति में आवश्यक खाद्य पदार्थों की कीमत में अनावश्यक बढ़ोतरी के मद्देनजर जो शिकायतें प्रशासन को प्राप्त हुई उस संदर्भ में जिलाधिकारी ने व्यवसायिक संघों के प्रतिनिधियों के साथ विमर्श किया। निर्णय लिया गया कि थोक विक्रेता आवश्यक वस्तुओं का थोक मूल्य दैनिक रूप से प्रशासन को उपलब्ध कराएंगे।

संघों के प्रतिनिधियों द्वारा विभिन्न खाद्य पदार्थों की आज का थोक मूल्य बताया गया — मसूर दाल 6500 प्रति क्विंटल, चना दाल ₹6000 प्रति क्विंटल, चना -5500 रुपये प्रति क्विंटल, अरहर दाल ₹8000 प्रति क्विंटल, रिफाइन ₹100 प्रति केजी डालडा ₹90 चावल 3000 से ₹4000 क्विंटल,आंटा- 2500-2700 रुपये प्रति क्विंटल, आलू 1600 से 1800 प्रति क्विंटल, प्याज 2500 से 2700 प्रति किवंटल, सरसों तेल 100 से ₹110 प्रति किलो, चीनी 3650 से ₹3700प्रति सौ केजी, नमक 8 से ₹10 प्रति किलो। इसके अतिरिक्त मुर्गी दाना और पशु चारा ,साबुन/सर्फ की ढुलाई पर भी कोई प्रतिबंध नहीं होगा।

व्यवसायिक संघ के प्रतिनिधियों को निर्देश दिया गया कि लॉक डाउन की स्थिति में खाद्य पदार्थों का थोक मूल्य अपने -अपने प्रतिष्ठानों पर चिपकाए साथ ही प्रशासन को भी उपलब्ध कराएं ताकि आम लोगों को सही मूल्य पर आवश्यक खाद्य पदार्थ उपलब्ध हो सके। बैठक में दूसरा जो महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया वह यह कि आवश्यक खाद्य पदार्थों और वस्तुओं की ढुलाई पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा ।बताया गया कि राज्य सरकार और केंद्र सरकार इस संबंध में कल तक आवश्यक निर्णय ले लेगी ।इंटरस्टेट /इंटर डिस्टिक आवश्यक वस्तुओं की ढुलाई सुगमता पूर्वक हो सकेगा। इस संबंध में समय निर्धारण किया गया कि बड़े मालवाहक गाड़ियां रात्रि में शहर में प्रवेश करेंगे और सुबह 8:00 बजे तक और विपरीत परिस्थिति में 9:00 बजे से पहले अनलोड हो शहर से निकल जाएंगे। वहीं दूसरी तरफ छोटी मालवाहक गाड़ियां जो सामान्यतः थोक विक्रेताओं से माल खरीद कर और लोड होकर निकलती हैं उन पर किसी तरह का प्रतिबंध नहीं होगा बशर्ते की थोक विक्रेता उन्हें रसीद उपलब्ध कराएंगे। परंतु इसमें महत्वपूर्ण बात यह होगी की छोटे मालवाहक गाड़ियां माल की ढुलाई मालवाहक वाहन पर ही कर सकेंगे न की पैसेंजर गाड़ियों पर।माल की ढुलाई पैसेंजर वाहनों पर करेंगे तो प्रशासन उन्हें सख्ती से निपटेगा और साथ ही सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Continue Reading

BIHAR

अफवाह के बाद आलू, प्याज, चावल और आटे की किल्लत, जानें उपलब्धता की स्थिति

Himanshu Raj

Published

on

कोरोना वायरस के संक्रमण पर रोक को लेकर सरकार द्वारा एहतियात के तौर पर शुरू लॉकडाउन का कई थोक से लेकर खुदरा कारोबारी बेजा फायदा उठाने से भी नहीं चूक रहे। लॉकडाउन के नाम पर उनमें गोडाउन (गोदाम) भरने की होड़ है। इस जमाखोरी को लेकर सोमवार को मुजफ्फरपुर शहर के बाजार में अफरातफरी रही। वहीं आवश्यक वस्तुओं की किल्लत की अफवाह के चलते आम जनता भी उपभोक्ता सामग्री की खरीदारी कर स्टॉक भरने में पीछे नहीं रही। हालत यह कि चंद घंटे के भीतर आलू की कीमत दोगुनी और प्याज की कीमत 50 फी कोरोना वायरस के संक्रमण पर रोक को लेकर सरकार द्वारा एहतियात के तौर पर शुरू लॉकडाउन का कई थोक से लेकर खुदरा कारोबारी बेजा फायदा उठाने से भी नहीं चूक रहे। लॉकडाउन के नाम पर उनमें गोडाउन (गोदाम) भरने की होड़ है। इस जमाखोरी को लेकर सोमवार को मुजफ्फरपुर शहर के बाजार में अफरातफरी रही। वहीं आवश्यक वस्तुओं की किल्लत की अफवाह के चलते आम जनता भी उपभोक्ता सामग्री की खरीदारी कर स्टॉक भरने में पीछे नहीं रही। हालत यह कि चंद घंटे के भीतर आलू की कीमत दोगुनी और प्याज की कीमत 50 फीसद अधिक हो गई। इन सबके बीच लॉकडाउन को लेकर प्रशासनिक व्यवस्था की भी पोल खुल गई।

आलू-प्याज की खरीदारी

बाजार समिति, बैरिया, नयाटोला सब्जी मंडी और पुरानी बाजार के इलाकों में लोग आलू प्याज की खरीदारी के लिए टूट पड़े। जबकि, गोला रोड इलाके में आटा-चावल, दाल, तेल और नमक आदि उपभोक्ता सामग्री की खरीदारी के लिए खुदरा कारोबारी और ग्राहकों की भीड़ लग गई। बैरिया के पास लोग आलू-प्याज की दुकान पर झपटते नजर आए। बारिश के चलते बाजार समिति परिसर में जलजमाव की स्थिति थी। ऊपर से कारोबारियों की भीड़ से पूरा परिसर कीचड़ से सन गया था। आलू-प्याज लेने के लिए लोग दौड़ रहे थे। इसके चलते कई लोग गिरते और चोटिल होते नजर आए। आखिरकार, अलग-अलग इलाकों में पहुंची पुलिस की टीम ने स्थिति संभाली।

कोरोना विश्व के लिए चुनौती

नॉर्थ बिहार चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के मीडिया प्रभारी सज्जन शर्मा ने कहा कि कोरोना वायरस पूरे विश्व के लिए चुनौती बन गया है। इससे बचाव के लिए संयम और जागरूकता जरूरी है। सरकार ने एहतियात के तौर पर लॉकडाउन किया है। नॉर्थ बिहार चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री सरकार की इस पहल के साथ है। खुद और समाज के लिए सरकार के हर निर्देश का पालन करना जरूरी है। सरकार और प्रशासन को लॉकडाउन के पालन के लिए जिस तरह की सख्ती का पालन करना चाहिए, वह दिख नहीं रहा है। आवाजाही बंद होने पर बाजार पर थोड़ा-बहुत असर पड़ता है। लेकिन यह स्थायी नहीं होता है। कुछ गलत लोग मानवता के अभाव में कालाबाजारी करते हैं।

सबसे ज्यादा आलू-प्याज खरीदने की होड़

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए प्रशासन की लॉकडाउन की पहल के बीच उपभोक्ता सामग्री की किल्लत की मची अफवाह के बाद शहर में खरीदारी को भीड़ उमड़ पड़ी। कमोवेश हर घर से निकले लोग कम से कम आलू-प्याज की खरीदारी कर घर लौटते दिखे। हालत यह रही कि शहर के कलमबाग,माड़ीपुर, स्पीकर चौक, लेनिन चौक, साहू चौक, गोला रोड, अंडी गोला रोड, कच्ची पक्की, नया टोला, मिठनपुरा आदि इलाकों में अवस्थित दुकानों पर ग्राहकों की भीड़ उमड़ पड़ी। चंद घंटे में खुदरा बाजार से आलू-प्याज का स्टॉक समाप्त हो गया। इसके बाद खुदरा कारोबारियों का हजूम बाजार समिति की ओर उमड़ पड़ा।

खुदरा बाजार में आलू की कीमत 30 से 35 रुपये प्रति किलो और प्याज की कीमत 40 रुपये के पार। बाजार समिति पुरानी बाजार और गोला रोड में उमड़ी व्यवसायियों की भीड़।
मुजफ्फरपुर, जेएनएन। कोरोना वायरस के संक्रमण पर रोक को लेकर सरकार द्वारा एहतियात के तौर पर शुरू लॉकडाउन का कई थोक से लेकर खुदरा कारोबारी बेजा फायदा उठाने से भी नहीं चूक रहे। लॉकडाउन के नाम पर उनमें गोडाउन (गोदाम) भरने की होड़ है। इस जमाखोरी को लेकर सोमवार को मुजफ्फरपुर शहर के बाजार में अफरातफरी रही। वहीं आवश्यक वस्तुओं की किल्लत की अफवाह के चलते आम जनता भी उपभोक्ता सामग्री की खरीदारी कर स्टॉक भरने में पीछे नहीं रही। हालत यह कि चंद घंटे के भीतर आलू की कीमत दोगुनी और प्याज की कीमत 50 फीसद अधिक हो गई। इन सबके बीच लॉकडाउन को लेकर प्रशासनिक व्यवस्था की भी पोल खुल गई।

आलू-प्याज की खरीदारी

बाजार समिति, बैरिया, नयाटोला सब्जी मंडी और पुरानी बाजार के इलाकों में लोग आलू प्याज की खरीदारी के लिए टूट पड़े। जबकि, गोला रोड इलाके में आटा-चावल, दाल, तेल और नमक आदि उपभोक्ता सामग्री की खरीदारी के लिए खुदरा कारोबारी और ग्राहकों की भीड़ लग गई। बैरिया के पास लोग आलू-प्याज की दुकान पर झपटते नजर आए। बारिश के चलते बाजार समिति परिसर में जलजमाव की स्थिति थी। ऊपर से कारोबारियों की भीड़ से पूरा परिसर कीचड़ से सन गया था। आलू-प्याज लेने के लिए लोग दौड़ रहे थे। इसके चलते कई लोग गिरते और चोटिल होते नजर आए। आखिरकार, अलग-अलग इलाकों में पहुंची पुलिस की टीम ने स्थिति संभाली।

र्स एंड इंडस्ट्री के मीडिया प्रभारी सज्जन शर्मा ने कहा कि कोरोना वायरस पूरे विश्व के लिए चुनौती बन गया है। इससे बचाव के लिए संयम और जागरूकता जरूरी है। सरकार ने एहतियात के तौर पर लॉकडाउन किया है। नॉर्थ बिहार चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री सरकार की इस पहल के साथ है। खुद और समाज के लिए सरकार के हर निर्देश का पालन करना जरूरी है। सरकार और प्रशासन को लॉकडाउन के पालन के लिए जिस तरह की सख्ती का पालन करना चाहिए, वह दिख नहीं रहा है। आवाजाही बंद होने पर बाजार पर थोड़ा-बहुत असर पड़ता है। लेकिन यह स्थायी नहीं होता है। कुछ गलत लोग मानवता के अभाव में कालाबाजारी करते हैं।

 

यूं आसमान चढ़ी आलू की कीमत

समय कीमत

सुबह 7 बजे 20 रुपये किलो

सुबह 8 बजे 22 रुपये किलो

सुबह 9 बजे 25 रुपये किलो

सुबह 10 बजे 28 रुपये किलो

सुबह 11 बजे 32 रुपये किलो

दोपहर 12 बजे 35 रुपये किलो

दोपहर 1 बजे 35 से 40 रुपये किलो

प्याज की कीमत भी कुछ ऐसे बढ़ी

समय कीमत

सुबह 7 बजे 28 रुपये किलो

सुबह 8 बजे 29 रुपये किलो

सुबह 9 बजे 30 रुपये किलो

सुबह 10 बजे 32 रुपये किलो

सुबह 11 बजे 35 रुपये किलो

दोपहर 12 बजे 35 रुपये किलो

दोपहर 1 बजे 40 रुपये किलो

इसके अलावा चावल, आटा, सरसों तेल, दाल और सोयाबीन की कीमत में भी पांच से लेकर दस फीसद की वृद्धि दिखी।

किल्लत जैसी स्थिति नहीं

सोमवार को भले ही शहर के बाजार में आलू-प्याज, चावल और आटा समेत उपभोक्ता सामग्री की खरीदारी को ग्राहकों की भीड़ रही, और इसके चलते कीमतों में वृद्धि दिखी। लेकिन, तत्काल, शहर में उपभोक्ता सामग्री की किल्लत जैसी स्थिति नहीं है। थोक और खुदरा बाजार में उपभोक्ता सामग्री उपलब्ध है। गोला रोड के एक व्यवसायी ने बताया कि तमाम उपभोक्ता सामग्री पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है।

सामान का स्टॉक कर रहे

ट्रक भी लगातार पहुंच रहे हैं। लोग नाहक ही सामान का स्टॉक करने में लगे हैं। जबकि, खुदरा व्यवसायियों ने कहा कि ग्राहकों द्वारा की गई खरीदारी के चलते कुछ सामग्री का स्टॉक खत्म हो गया है। उधर, गोला रोड पहुंचे शंकर प्रसाद, दीपक कुमार, रामाश्रय शर्मा, विनोद पाठक और सुधीर कुमार आदि ने बताया कि हर कोई चाहता है कि जरूरी सामान घर में रख लें। ताकि, उन्हें बार-बार घर से निकलने की जरूरत भी नही पड़े। यही कारण है कि लॉकडाउन के साथ ही लोग खरीदारी को उमड़ पड़े। जबकि, सुधीर कुमार व अरुण प्रसाद ने कहा कि लोग लॉकडाउन का मतलब नही समझ पा रहे हैं।

सुबह से ही उमड़ी लोगों की भीड़

रविवार को जनता कर्फ्यू के समापन के बाद सोमवार की सुबह ही लोग घरों से निकल पड़े। इस दौरान सबसे ज्यादा भीड़ दूध के लिए दिखी। शहर के सभी मिल्क पार्लर में ग्राहक उमड़े रहे। यही हाल सब्जी, फल और किराना दुकानों का रहा।

बंद रहीं शहर की दुकानें, पसरा रहा सन्नाटा

लॉकडाउन के चलते सोमवार को लगातार दूसरे दिन भी शहर के बाजार और दुकानें बंद रहीं। केवल मिल्क पार्लर, दवा दुकान, किराना दुकान खुले रहे। मॉल, होटल और रेस्तरा में ताले लटके रहे। मिठनपुरा, माड़ीपुर और मोतीझील के इलाके में सोमवार की सुबह कुछ दुकानें खुलीं। लेकिन पुलिस की टीम ने पहुंच कर दुकानों को बंद करा दिया। इसके बाद शहर के तमाम इलाकों की दुकानें और बाजार बंद हो गए। सराफा, कपड़ा, इलेक्ट्रॉनिक, इलेक्ट्रीक और आटोमोबाइल दुकानें बंद रहीं।

 

Input:Dainik Jagran

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर में लॉक डाउन को लागू करवाने के लिए प्रशासन ने दिखाई सख्ती

Abhay Raj

Published

on

कोरोना वायरस से बचाव के लिए सरकार की ओर से लॉकडाउन के आदेश को लागू कराने को लेकर पुलिस ने सख्ती दिखाई। मुजफ्फरपुर में सुबह में लोगों की आवाजाही देख पुलिस हरकत में आई। ऑटो वालों पर सख्ती दिखाई।लॉक डाउन में ऑटो चलाना और यात्रियों से मनमाना भाड़ा वसूलने की शिकायत पर पुलिस ने चालको पर डंडे बरसाए।लॉक डाउन बेअसर देख एसएसपी और डीएम सड़क पर उतरे और खुली दुकाने को बन्द करवाया।सड़को पर चल रही बसों को रोक दिया।पुलिस अधिकारियों ने पहले तो लोगों से घर जाने व दुकानों को बंद करने की अपील की। ऑटो चला रहे चालकों पर पुलिस ने लाठियां चटकाईं। इस सख्ती का असर कुछ देर दिखा लेकिन फिर ऐसे लोग शहर में घूमने से बाज नहीं आये।बिना काम के शहर में घूमते बाइक सवार को भी हड़काया।सड़क पर बैरियर लगाकर लोगों को शहर में प्रवेश व बाहर निकलने पर रोक लगा दी।

सुबह में बैरिया में कुछ बसें खुली बाद में बसों का परिचालन रोक दिया गया।

बाईट-जयंत कांत,एसएसपी

एसएसपी जयंतकांत ने कहा कि शहर के सभी महत्वपूर्ण स्थानों पर मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में पुलिस बलों को तैनात किया गया है। लोगों से घरों में रहने की अपील की गई है। विशेष परिस्थिति में ही उन्हें निजी वाहन से ही यात्रा करने एवं खाद्यान्न का अतिरिक्त संग्रह नहीं करने की सलाह दी गई है।

वही जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह ने कहा कि सड़को पर आवाजाही लोग कर रहे समझाया गया है नही मानने वालों पर कड़ी करवाई की जाएगी।

बाईट-चंद्रशेखर सिंह,जिलाधिकारी

Continue Reading
MUZAFFARPUR1 min ago

मुजफ्फरपुर : कालाबाजारी एवं जमाखोरी करने वालो पर होगी कड़ी कार्यवाई

MUZAFFARPUR1 hour ago

कई दुर्लभ संयोगों के बीच वासंतिक नवरात्र आज से

BIHAR2 hours ago

लॉकडाउन के बाद पैदल जयपुर से बिहार के लिए निकले 14 मजदूर, भूखे-प्यासे तीन दिन में जयपुर से आगरा पहुंचे

INDIA2 hours ago

लॉकडाउन पर तेलंगाना के मुख्यमंत्री बोले- लोग नहीं माने तो देने पड़ेंगे गोली मारने के आदेश

INDIA10 hours ago

कोरोना : GST, Income Tax रिटर्न फाइल करने की मियाद बढ़ी, बैंक ग्राहकों को भी बड़ी राहत

BIHAR11 hours ago

गृह मंत्रालय ने जारी किया गाइडलाइन, किराना दुकान और मेडिकल स्टोर खुला रहेगा

BIHAR12 hours ago

इंटर का रिजल्ट जारी, नेहा कुमारी साइंस में , कौसर फातमा और सुधांशु नारायण चौधरी कॉमर्स एवं साक्ष्य कुमारी बनी आर्ट में टॉपर

INDIA12 hours ago

गृह मंत्री ने डॉक्टरों को परेशान करने वाले मकान मालिकों पर सख्त कार्रवाई के दिए निर्देश

WORLD12 hours ago

कोरोना के बाद चर्चा में आया ‘HantaVirus’, जानिए इससे जुड़ी सभी जरूरी बातें

EDUCATION12 hours ago

इंटर का रिजल्ट जारी, नेहा कुमारी साइंस में , कौसर फातमा और सुधांशु नारायण चौधरी कॉमर्स एवं साक्ष्य कुमारी बनी आर्ट में टॉपर

cheating-on-first-day-of-haryana-board-exam
INDIA3 weeks ago

बिहार तो बेवजह बदनाम है… हरियाणा बोर्ड परीक्षा में शिखर पर नकल

BIHAR1 week ago

जूली को लाने सात समंदर पार पहुंचे लवगुरु मटुकनाथ, बोले- जल्द ही होंगे साथ

INDIA4 weeks ago

दं’गा’ईयों को दे’खते ही गो’ली मा’रने के आ’देश, ला’उडस्प’कर से पु’लिस कर रही ऐ’लान

INDIA4 weeks ago

दिल्ली हिं’सा के दौरान फाय’रिंग करने वाले उप’द्रवी शा’हरुख को पु’लिस ने किया गिर’फ्तार

BIHAR4 weeks ago

आम्रपाली दुबे को होली में लग रहा है देवर से डर, र‍िलीज होते ही छाया गाना

INDIA3 days ago

PM मोदी को पटना के बेटे ने दिए 100 करोड़ रुपये, कहा – और देंगे, थाली भी बजाई

BIHAR4 weeks ago

पहले दिन से हीं दरभंगा में एम्स और एयरपोर्ट की स्थापना मेरी ज़िद : सीएम नितीश कुमार

BIHAR7 days ago

बिहार में 81 एक्सप्रेस और 32 पैसेंजर ट्रेनें दो सप्ताह के लिए रद्द, देखें लिस्ट

BIHAR3 weeks ago

बड़ी खुशखबरी: बिहार में घरेलू गैस की अब नहीं होगी किल्लत, बांका में नया प्लांट शुरू

INDIA4 weeks ago

“आप” पार्षद, ताहिर हुसैन ने मारा अंकित को, खूब भड़काया दंगा

Trending