Connect with us

HEALTH

कभी खाया है लाल केला? स्वाद ही नहीं सेहत के लिए है लाजवाब

Muzaffarpur Now

Published

on

केला दुनिया में सबसे अधिक खाएं जाने वाले फलों में से एक है. लेकिन अधिकांश लोग केवल पीले छिलके वाले केले के बारे में ही जानते हैं लाल (Red Banana) के बारे में नहीं, लेकिन इस किस्म का भी केला होता है और वो भी सेहत (Health) के गुणों से भरपूर. इसमें 11 खनिज, 6 विटामिन, बहुत सारे फाइबर और अच्छे कार्बोहाइड्रेट होते हैं. यही वजह है कि इसे खाने से तुरंत एनर्जी (Energy) मिलती है. लाल केले के ऐसे ही गुणों के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं.

Red Banana

कैसा है स्वाद

इस केले को रेड डक्का (Red Dacca) के नाम से भी जाना जाता है. इसमें सामान्य केले से अधिक पोषक तत्व होते हैं. इसका स्वाद पीले छिलके वाले केले से अधिक मीठा और रसबेरी जैसी मिठास लिए होते हैं. एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरा यह केला दक्षिण पूर्व एशिया से केले के एक उपसमूह में आता है. ये पीले केले की तुलना में छोटे होते हैं.

इसे भी पढ़ेंः अपनी डाइट में जरूर शामिल करें प्लम, दिल से लेकर हड्डियों तक को रखेगा स्वस्थ

वजन कम करने में कारगर

लाल केले में बहुत सारा फाइबर होता है जो आपको अधिक समय तक भरा हुआ रखता है.एक पूरे लाल केले में केवल 90 से 100 कैलोरी और अच्छे कार्बोहाइड्रेट होते हैंं. जो आपको जल्दी भूख नहीं लगने देते और खाने की क्रेविंग (cravings) कम करते हैं. इससे वजन घटाने के में मदद मिलती हैं.

Red Bananas - Rare Species Stock Footage Video (100% Royalty-free) 26088542 | Shutterstock

किडनी स्टोन से बचाव

लाल केले में भरपूर मात्रा में पोटैशियम पाया जाता है. इससे किडनी स्टोन को बनने से रोकने में मदद मिलती है. कैल्शियम को शरीर में रोकने में मदद करता है. इससे हड्डियां मजबूत ही नहीं होती बल्कि उनकी अच्छी ग्रोथ(Growth) भी होती हैं.

ब्लड प्रेशर सही रखता है

रोजाना लाल केले खाने से ये आपके ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रखता है. इसमें भरपूर मात्रा में पोटैशियम मौजूद होता हैं. इससे हृदय रोग को खतरों को कम करने में मदद मिलती है.

निकोटीन से बचाव

मैग्नीशियम (Magnesium )और पोटैशियम (Potassium ) को निकोटीन (Nicotine) की वापसी में मदद के लिए जाना जाता है. इससे आपके स्मोक करने की इच्छा कम होती है. इसे खाने से केवल एनर्जी ही नहीं मिलती बल्कि इससे पूरा होने का अहसास होता है, जिससे मनोवैज्ञानिक परेशानियों से निपटने में मदद मिलती है.

रेड ब्लड सेल बढ़ाता है

ये केला एंटीऑक्सिडेंट और विटामिन से भरपूर होता है जो रक्त की गुणवत्ता और आपके हीमोग्लोबिन के स्तर में सुधार करता है. लाल केला आपकी प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है.लाल केले में विटामिन बी -6 होता है जो प्रोटीन के टूटने और लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण में मदद करता है.

स्किन के लिए फायदेमंद

लाल केले न केवल खाने के लिए ही अच्छे नहीं होते है, इनसे आपकी स्किन को भी कई फायदे मिलते हैं. इससे तैयार फेस मास्क चेहरे को गजब की चमक देता है. इसे बनाने के लिए मसला हुआ लाल केला, ओट्स और शहद की कुछ बूंदों को मिलाएं.इसे अपने चेहरे पर लगाएं और सूखने दें और फिर इसे धो लें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Source : News18

HEALTH

ये 5 लक्षण मुंह पर दिखें तो तुरंत करवा लें जांच, हो सकता है कोरोना

Ravi Pratap

Published

on

कोरोना वायरस नाम की महामारी ने पूरे विश्व को अपनी चपेट में ले लिया है। आए दिन बढ़ते संक्रमितों की संख्या लोगों के बीच परेशानी का सबब बनती जा रही है। वैज्ञानिक भी लगातार इस महामारी से बच निकलने के उपाय ढ़ूंढ़ रहे हैं। बावजूद इसके अभी तक कोरोना से निजात पाने में सफलता नहीं मिल पाई है।

कोरोना को खत्म करने के लिए वैज्ञानिक आए दिन नए-नए शोध कर रहे हैं। जिससे कभी लोगों की हैरानी बढ़ती है तो कभी परेशानी। अभी तक कोरोना के बारे में कहा जा रहा था कि यह मुख्य रूप से एक वायरल संक्रामक बीमारी है, जो एक बीमार व्यक्ति के खांसने, छींकने या छूने से एक स्वस्थ व्यक्ति को फैल सकती है। कोरोनावायरस बीमारी के सामान्य लक्षणों में बुखार, खांसी, गले में खराश, कभी-कभी सिरदर्द और थकान शामिल हैं।

हालांकि, दुनिया भर के डॉक्टर और वैज्ञानिक जो COVID-19 रोगियों का इलाज और उनके बारे में अध्ययन कर रहे हैं, वे कोरोनवायरस से संक्रमित लोगों द्वारा प्रदर्शित किए जा रहे नए लक्षणों का भी तेजी से अवलोकन कर रहे हैं। कोरोना फेफड़ों को प्रभावित नहीं करता है बल्कि यह शरीर के अन्य अंगों को भी नुकसान पहुंचा रहा है। कोरोना के कुछ लक्षण मुंह पर भी दिखाई देने शुरू हो गए हैं जिनका आप आसानी से पता लगा सकते हैं।

साल 2021, जनवरी में ऐसा ही एक अलग लक्षण ‘COVID Tongue’ के बारे में शोधकर्ताओं को पता चला है। इसके बारे में लंदन के किंग्स कॉलेज के एक प्रसिद्ध ब्रिटिश महामारी एक्सपर्ट प्रोफेसर टिम स्पेक्टर ने अपने ट्विटर पर एक पोस्ट शेयर करके बताया। प्रोफेसर टिम स्पेक्टर के अनुसार, COVID-19 के असामान्य गंभीर लक्षणों में से एक मुंह में भी विकसित हो सकता है।

NIH अध्ययन के अनुसार, कोरोना के मुंह से जुड़े लक्षण हल्के और गंभीर हो सकते हैं। यह लक्षण उनमें भी दिख सकते हैं जिनमें कोरोना के बाकी लक्षण जैसे खांसी या बुखार नहीं हैं। वैज्ञानिक पत्रिका नेचर मेडिसिन में प्रकाशित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ द्वारा किए गए एक नए अध्ययन के अनुसार, कोरोना वायरस के लगभग आधे पीड़ित संक्रमण के दौरान मुंह के लक्षणों से पीड़ित होते हैं।

आइए जानते हैं कोरोना के मुंह से जुड़े उन लक्षणों के बारे में, जिनके दिखते ही आपको तुरंत करवाना चाहिए अपना कोविड टेस्ट।

कोविड टंग-
यह एक वायरल लक्षण है। इसमें कोरोना व्यक्ति की जीभ को प्रभावित करता है। जिसकी वजह से रोगी की जीभ की सतह पर जलन और सूजन महसूस होती है।

जीभ का रंग बदलना-
कोरोना के मरीजों में जीभ का रंग बदलना जैसे लक्षण भी देखे जा रहे हैं। मुंह में जलन और सूजन जीभ को अजीब महसूस करा सकते हैं। इससे मुंह में जलन, होंठ और जीभ में झुनझुनी हो सकती है। यह जीभ के रंग में बदलाव का कारण भी बन सकता है।

जीभ पर सफेद पैच-
कोरोना के मरीजों की जीभ पर सफेद पैच भी देखे जा सकते हैं।

ड्राई होंठ-
कोविड सिम्पटम्स स्टडी ऐप के संयोजन में ब्रिटिश एसोसिएशन ऑफ डर्मेटोलॉजिस्ट के अनुसार, यदि आप कोरोना से संक्रमित हैं, तो आपके होंठ ड्राई dry lips) और पपड़ीनुमा महसूस हो सकते हैं। होठों की यह समस्या मुंह के अंदर तक फैल सकती है, शोधकर्ताओं ने यह चेतावनी दी। कोरोनोवायरस का यह मौखिक संकेत स्किन से संबंधित लक्षणों की एक छोटी सी समस्या है। यूके में अब तक 46 हजार से भी अधिक लोगों की मौत कोरोनावायरस के कारण हो चुकी है।

मुंह के छाले-
कोरोना के कई रोगियों ने अपने जीभ पर आए उभार या छाले को पिंपल्स यानी मुंहासों के समान बताया है। ये छाले, रैश या बम्प्स बिना कुछ खाए पीए भी काफी दर्दनाक हो सकते हैं। हालांकि, यह जरूरी नहीं कि आपको लाई बम्प्स हो गया है, तो आप कोरोनावायरस से संक्रमित हो गए हैं। लाई बम्प्स कई बार अधिक मसालेदार भोजन, खाने से एलर्जी या फिर गलती से जीभ कटने की वजह से भी हो सकता है।

इन लक्षणों को न करें नजरअंदाज-
हालांकि मुंह और जीभ में देखे गए ये बदलाव अभी कोरोना के सटीक लक्षण नहीं माने जा रहे हैं। कहा जा रहा है कि कोरोना से जुड़े ये लक्षण हर संक्रमित व्यक्ति को प्रभावित करें यह जरूरी नहीं है। लेकिन वायरस के बदलते व्यवहार और मामलों में वृद्धि के साथ, किसी भी लक्षण और अचानक, असामान्य लक्षण को जांचने की जरूरत बताई जा रही है। तो अगर आपको भी इस तरह के लक्षण महसूस हो तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

Disclaimer- इस आलेख में दी गई जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी Muzaffarpur Now की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

Input: Live Hindustan

Continue Reading

HEALTH

लापरवाही: कोरोना वैक्सीन की जगह बुुजुर्ग महिलाओं को लगा दिया रैबिज का इंजेक्शन

Muzaffarpur Now

Published

on

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में तीन वृद्ध महिलाओं को कोरोना वैक्सीन के स्थान पर रैबिज का टीका लगा दिया गया। इसी दौरान एक महिला की हालत बिगड़ने लगी तो लापरवाही उजागर हो गई। इस पर परिजनों ने हंगामा किया। उधर, इस मामले में स्वस्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी।

जानकारी के अनुसार गुरुवार को कस्बे के मोहल्ला सरावज्ञान निवासी 70 वर्षीय सरोज पत्नी स्वर्गीय जगदीश नगर के रेलवे मंडी निवासी 72 वर्षीय अनारकली व 60 वर्षीय सत्यवती के साथ ई रिक्शा में बैठकर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में कोरोना की पहली वैक्सीन डोज लगवाने के लिये पंहुची थी। आरोप है कि जैसे ही महिलायें स्वास्थ्य केन्द्र पर पहुंचीं तो वहां कर्मचारियों ने उन से 10-10 रुपये वाली सिरींज मंगवाकर उन्हें कोरोना का टीका लगाने की बजाय एंटी रैबिज का इंजेक्शन लगाकर घर भेज दिया। आरोप है कि इसी बीच वृद्ध महिला सरोज की हालत बिगड़ गई।

महिला को तेज चक्कर आने के बाद घबराहट शुरू हो गई। परिजनों आनन-फानन में प्राइवेट चिकित्सक के पास वृद्ध महिला को उपचार कराने के लिये ले गए। चिकित्सक को स्वास्थ्य केन्द्र की पर्ची दिखाकर कोरोना वैक्सीन लगवाने का हवाला दिया तो प्राईवेट चिकित्सक स्वास्थ्य केन्द्र पर्ची देखकर हैरान रह गया।

प्राईवेट चिकित्सक ने महिला के परिजनों को बताया कि स्वास्थ्य केन्द्र पर महिला को रैबिज का टीका लगाया गया है। तीनों महिलाओं के परिजनों ने मामले की जांच की तो सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के कर्मचारीयों की लापरवाही की पोल खुल गई। इस पर पीड़िता महिलाओं के परिजनों ने हंगामा करते हुए सीएमओं शामली को मामले के शिकायत करते हुए कार्रवाई की मांग की है।

तीन वृद्ध महिलाओं को कोरोना वैक्सीन के स्थान पर रैबिज का टीका लगाये जाने का मामला संज्ञान में आया है। मामले की जांच कर लापरवाह कर्मचारियों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।
डा. बिजेन्द्र सिंह- सीएचसी प्रभारी कांधला

Input: Live Hindustan

Continue Reading

HEALTH

कई सालों तक लगाना पड़ सकता है मास्‍क, सोशल डिस्‍टेंसिंग भी जरूरी- विशेषज्ञ

Muzaffarpur Now

Published

on

लंदन. दुनिया भर में कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर लगातार जारी है. कई देशों में इसकी दूसरी लहर का डर बना हुआ है. हालांकि लोगों को कोरोना वैक्‍सीन (Corona Vaccine) दी जा रही है, फिर भी मास्‍क और सोशल डिस्‍टेंसिंग (Social Distancing) को जरूरी बताया जा रहा है. इस बीच इंग्‍लैंड के पब्लिक हेल्‍थ विभाग के टीकाकरण प्रमुख डॉ. रैमसे ने बड़ा दावा किया है. उनका कहना है कि हम लोगों को सोशल डिस्‍टेंसिंग और फेस मास्‍क का इस्‍तेमाल कई सालों तक करते रहना पड़ सकता है.

डॉ. रैमसे का कहना है कि दुनियाभर में लोगों को अब निम्‍न स्‍तर के प्रतिबंधों की आदत हो गई है और अब वे इसके साथ ही रह सकते हैं. अर्थव्‍यवस्‍था भी इन प्रतिबंधों के साथ ही आगे बढ़ सकती है. सरकार को भी किसी भी प्रतिबंध को हटाने से पहले सावधानीपूर्वक देखना होगा.

डॉ. रैमसे ने कहा, ‘ज्यादा दर्शकों वाले इवेंट की अधिक सावधानीपूर्वक निगरानी जरूरी है. साथ ही साफ दिशानिर्देश भी सुरक्षित रखने के लिए आवश्‍यक हैं.’ वहीं अगर भारत की बात करें तो देश के कई राज्‍यों में कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति खराब है. महाराष्‍ट्र, पंजाब, मध्‍य प्रदेश और तमिलनाडु में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए कई अहम कदम उठाए जा रहे हैं.

इनके बीच केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने भी लोगों से कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए जरूरी दिशानिर्देशों का पालन करने की अपील की है. उनका कहना है कि लोग लोग लापरवाही बरतकर कोरोना को किसी कीमत पर नहीं बढ़ने दें. लोग सोशल डिस्‍टेंसिंग और फेस मास्‍क जेसे उपायों का पालन करना चाहिए.

Source : News18

Continue Reading
BIHAR3 hours ago

साउथ फिल्मों के सुपरस्टार अल्लू अर्जुन के साथ नजर आएंगी बिहारी गर्ल संचिता बसु, टिकटॉक ने दिलाई थी पहचान

BIHAR5 hours ago

इन राज्यों से बिहार आने वाले यात्री ध्यान दें, आपको 72 घंटे पूर्व देनी होगी कोरोना जांच की निगेटिव रिपोर्ट

MUZAFFARPUR6 hours ago

गायघाट के शिवदाहा अग्निकांड में पीड़ितों को अबतक नहीं मिला है कोई सरकारी सहायता, लाखों की हुई थी क्षति

BIHAR6 hours ago

नीतीश के पुराने दोस्त ने कोरोना संकट पर लिखा सीएम को पत्र, कहा- काले अक्षरों में लिखा जाएगा आपका नाम

INDIA6 hours ago

चुनावी रैली में बोलीं ममता बनर्जी- बीजेपी की वजह से पश्चिम बंगाल में बढ़े कोरोना केस

MUZAFFARPUR8 hours ago

दुष्कर्म का आरोपी निकला कोरोना पॉजिटिव, जांच के बाद पुलिस महकमे में मचा हड़कंप

BIHAR10 hours ago

बिहार के इस मंत्री का फेसबुक एकाउंट हैक, फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर मांग रहे पैसे

BIHAR10 hours ago

पटना AIIMS के 150 बेड समेत ICU फुल फिर भी इलाज के लिए पहुंच रहे मरीज

sadar-thana-police-station
MUZAFFARPUR11 hours ago

मुजफ्फरपुर में रिटायर्ड दारोगा का परिवार बहू को कर रहा प्रताडि़त, घर से निकाला, केस दर्ज

MUZAFFARPUR11 hours ago

दो दिन बाद मुजफ्फरपुर समेत पूरे उत्तर बिहार में कई स्थानों पर होगी हल्की बारिश

BIHAR3 weeks ago

अलर्ट! बिहार में वैक्सीन लेने के बावजूद आंगनबाड़ी सेविका कोरोना पीड़ित, पटना एम्स में तोड़ा दम

VIRAL4 weeks ago

पबजी खेलते हुआ था प्यार, हिमाचल से वाराणसी पहुंची महिला, युवक निकला कक्षा 2 का छात्र

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर में नौ जगहों पर बनेगा माइक्रो कंटेनमेंट जोन, इसमें कहीं आपका इलाका तो नहीं

INDIA4 weeks ago

SBI, HDFC बैंक में हैं खाता तो हो जाएं सावधान! चेतावनी जारी की गई

HEALTH4 days ago

ये 5 लक्षण मुंह पर दिखें तो तुरंत करवा लें जांच, हो सकता है कोरोना

BIHAR3 weeks ago

दरभंगा एयरपोर्ट पर जादूगर का साया, एक व‍िमान फ‍िर गायब

INDIA3 weeks ago

ये 4 बैंक जल्द ही सरकारी से प्राइवेट हो सकते हैं! करोड़ों ग्राहकों पर क्या होगा असर?

INDIA3 weeks ago

होली पर अपने घर जाने वाले यात्रियों को बड़ा झटका, रेलवे ने कैंसिल कर दी कई ट्रेनें

TRENDING3 weeks ago

मिट्टी का तेल सिर पर छिड़ककर बाल सीधे करने के प्रयास में लड़के की मौत

BIHAR4 weeks ago

बिहार में 24 घंटे में दोगुना हुए कोरोना केस, हाई अलर्ट पर स्वास्थ्य महकमा

Trending