कुमार धर्मसेना बोले- हां 'ओवरथ्रो' पर मैंने गलत फैसला दिया, लेकिन मुझे इसका मलाल नहीं
Connect with us
leaderboard image

SPORTS

कुमार धर्मसेना बोले- हां ‘ओवरथ्रो’ पर मैंने गलत फैसला दिया, लेकिन मुझे इसका मलाल नहीं

Santosh Chaudhary

Published

on

अंपायर कुमार धर्मसेना ने स्वीकार किया है कि विश्व कप फाइनल में ओवरथ्रो पर इंग्लैंड को छह रन देना उनकी गलती थी। लेकिन साथ ही धर्मसेना ने यह भी कहा कि इस फैसले का उन्हें कभी मलाल नहीं होगा। मार्टिन गुप्टिल का थ्रो दूसरा रन लेने की कोशिश कर रहे बेन स्टोक्स के बल्ले से टकराने के बाद सीमा रेखा के पार चला गया था। जिसके बाद धर्मसेना ने पांच की जगह इंग्लैंड के स्कोर में छह रन जोड़ने का इशारा किया था।

फाइनल में ओवरथ्रो पर हुआ था विवाद     

यह मैच बाद में टाई रहा और सुपर ओवर में भी दोनों टीमों ने समान रन बनाए। जिसके बाद इंग्लैंड को अधिक बाउंड्री लगाने के कारण विजेता घोषित किया गया जिससे न्यूजीलैंड के खिलाड़ी हैरान थे। धर्मसेना ने ‘संडे टाइम्स’ से बातचीत में कहा, ‘टीवी रीप्ले देखने के बाद लोगों के लिए टिप्पणियां करना आसान होता है। अब टीवी रीप्ले देखने के बाद मैं स्वीकार करता हूं कि फैसला करने में गलती हुई।’

‘टीवी देखने वालों के लिए टिप्पणी आसान’

धर्मसेना ने कहा, ‘लेकिन मैदान पर टीवी रीप्ले देखने की सहूलियत नहीं थी और मुझे अपने फैसले पर कभी मलाल नहीं होगा। साथ ही आईसीसी ने उस समय किए फैसले के लिए मेरी सराहना की है।’ कुमार धर्मसेना ने लेग अंपायर मराइस इरासमस से सलाह मशविरे के बाद इंग्लैंड के स्कोर में छह रन जोड़ने का फैसला किया था। इंग्लैंड को अंतिम तीन गेंद पर जीत के लिए नौ रन की दरकार थी और इसके बाद उसे दो गेंद में तीन रन चाहिए थे।

हम टीवी रीप्ले नहीं देख सकते थे: धर्मसेना        

धर्मसेना ने कहा कि नियमों के अनुसार इस घटना को लेकर तीसरे अंपायर से सलाह लेने का कोई प्रावधान नहीं था। उन्होंने कहा, ‘नियमों में इस मुद्दे को तीसरे अंपायर के पास भेजने का कोई प्रावधान नहीं था क्योंकि कोई आउट नहीं हुआ था। इसलिए मैंने संवाद प्रणाली के जरिए लेग अंपायर से सलाह ली जिसे सभी अन्य अंपायरों और मैच रैफरी ने सुना। वे टीवी रीप्ले नहीं देख सकते थे, उन सभी ने पुष्टि की कि बल्लेबाजों ने रन पूरा कर लिया है। इसके बाद मैंने अपना फैसला किया।’

Input : Hindustan

SPORTS

अभी क्रिकेट में नहीं टेनिस में हाथ आजमाएंगे धौनी, टूर्नामेंट की तैयारी

Santosh Chaudhary

Published

on

क्रिकेटर महेंद्र सिंह धौनी क्रिकेट से कब संन्यास लेंगे, पता नहीं, कोलकाता के डे नाइट टेस्ट में कमेंट्री करेंगे या नहीं यह भी पता नहीं, परंतु वह जेएससीए स्टेडियम की टेनिस अकादमी में शुरू होने वाली टेनिस प्रतियोगिता की तैयारी में जोर-शोर से जुट गए हैं। यह प्रतियोगिता सात नवंबर से शुरू हो रही है।

खिताब बचाना है: महेंद्र सिंह धौनी इस प्रतियोगिता के डबल्स वर्ग में पिछले साल के चैंपियन हैं। दिसंबर 2018 में हुई जेएससीए कंट्री क्लब टेनिस के फाइनल में धौनी ने सुमित कुमार के साथ मिलकर डबल्स खिताब जीता था। हलांकि फाइनल जीतने के बाद पुरस्कार वितरण समारोह का मुख्य अतिथि भी धौनी को ही बनाया गया था। उन्होंने खिलाड़ियों में पुरस्कार बांटे, ऑटोग्राफ दिए,फोटो खिंचवाई और अपनी ट्रॉफी भी ग्रहण की।

रोज कर रहे अभ्यास: धौनी पिछले तीन-चार दिन से जेएससीए की टेनिस अकादमी में जाकर वहां खिलाड़ियों के साथ अभ्यास कर रहे हैं।

बाइक से स्टेडियम पहुंचे धौनी

मंगलवार की शाम भी वह अपने सिमलिया स्थित आवास से अपनी कावासाकी बाइक पर सवार होकर जेएससीए स्टेडियम में स्थित टेनिस कोर्ट में पहुंचे और अभ्यास किया। प्रैक्टिस के बाद काफी समय तक कोर्ट के बाहर बैठे। चाय पी और वहां मौजूद लोगों के साथ बात की। बच्चों के साथ फोटो खिंचवाई। धौनी जब भी रांची में रहते हैं, वह जेएससीए में जाकर जिम में पसीना बहाते हैं और रात के समय बिलियर्ड्स खेलते हैं।

 

अन्य कप्तानों के साथ टेस्ट में कमेंटरी करेंगे

भारत इसी महीने बांग्लादेश के खिलाफ कोलकाता के ईडन गार्डंस में अपना पहला दिन-रात प्रारूप का टेस्ट मैच खेलेगा। 22 से 26 नवंबर तक होने वाले इस मैच में पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी कमेंटरी करते हुए देखे जा सकते हैं। मैच के प्रसारणकर्ता स्टार स्पोर्ट्स ने बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली के सामने दिन-रात टेस्ट के लिए जो प्रस्ताव रखा है, उसमें बताया गया है कि भारत के सभी पूर्व टेस्ट कप्तानों को इसके लिए बुलाया जाना चाहिए।

प्रस्ताव में लिखा है, टेस्ट के पहले और दूसरे दिन भारत के सभी पूर्व टेस्ट कप्तानों को बुलाया जाए। सभी पूर्व कप्तान मैदान पर मौजूदा कप्तान विराट कोहली और बाकी टीम के साथ-साथ अन्य अतिथियों के राष्ट्रगान के लिए खड़े होंगे। पूरे दिन पूर्व कप्तान बारी-बारी से गेस्ट कमेंटेटर के तौर पर आएंगे और अपने टेस्ट करियर के अहम पल साझा करेंगे। अगर ऐसा होता है तो धौनी को पहली बार कमेंटरी करते देखा जा सकता है। जानकारी के अनुसार एमएस धौनी को इसके लिए आमंत्रण भी भेजा जा चुका है।

Input : Hindustan

Continue Reading

SPORTS

भारत में बना दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम, इतने लाख दर्शक बैठ पाएंगे एक साथ

Santosh Chaudhary

Published

on

Biggest Cricket Stadium in the World: अभी तक दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम होने का दर्जा ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (MCG) को है। ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न शहर में स्थित इस स्टेडियम की दर्शक क्षमता 1 लाख 24 है। इस क्रिकेट ग्राउंड पर दो ओलंपिक और दो क्रिकेट वर्ल्ड कप (1992 और 2015) फाइनल हो चुके हैं, लेकिन अब इससे दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट ग्राउंड कहलाने का दर्ज छिनने वाला है, क्योंकि इससे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम भारत में बनकर तैयार हो गया है।

दरअसल, भारत के गुजरात राज्य के अहमदाबाद के मोटेरा में सरदार पटेल स्टेडियम बनकर तैयार हो गया है। हालांकि, ये नया स्टेडियम नहीं है। इससे पहले इसी जगह पर स्टेडियम था, जो मोटेरा स्टेडियम के नाम से मशहूर था, लेकिन अब इसको तोड़कर फिर से बनाया गया है और इसमें मेलबर्न ग्राउंड से ज्यादा की सीट लगाई गई हैं। इसी के साथ ये दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम कहलाने का गौरव जल्द हासिल कर लेगा। हालांकि, अभी इसके लिए एक दो महीने का समय और लग सकता है, क्योंकि एक मैच होना जरूरी है।

मोटेरा स्टेडियम जनवरी 2020 में होगा तैयार

मोटेरा का सरदार पटेल स्टेडियम 63 एकड़ में फैला है। इस स्टेडियम की रूप-रेखा उसी आर्केटेक्ट कंपनी ने बनाई है, जिसने एमसीजी को डिजायन किया था। इस स्टेडियम को खूबसूरत बनाने का काम अब अंतिम चरण में पहुंच गया है। बीते कई साल से इसमें लगातार काम जारी है। कहा जा रहा है कि अगले साल इसमें एक टी20 मैच भी खेला जा सकता है।

ये होगी मोटेरा के स्टेडियम की दर्शक क्षमता

दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम का औहदा हासिल करने जा रहे इस स्टेडियम में 1 लाख 10 हजार लोगों के बैठने की क्षमता है, जो मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड से दस हजार ज्यादा है। इसमें 76 कॉर्परेट बॉक्स हैं, जबकि 4 ड्रैसिंग रूम, 3 प्रैक्टिस ग्राउंड, इंडोर प्रैक्टिस पिच, ट्रेंनिग सेंटर और एक 55 रूम का क्लब हाउस है। इसके अलावा एक ओलपिंक साइज का स्विमिंग पूल, बैडमिंटन और टेनिस कोर्ट, squash एरेना, टेबल टेनिस एरिया और एक 3D projector थियेटर है। इस वर्ल्ड क्लास स्टेडियम को बनाने में 700 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं।

मेट्रो जैसी सुविधाएं भी हैं उपलब्ध

मोटेरा के इस नए स्टेडियम को बनाने का विचार गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री और वर्तमान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल के दौरान आया था। गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के उपाध्यक्ष Parimal Nathwani ने अपने एक बयान में जानकारी दी थी कि इस स्टेडियम के महज 300 मीटर की दूरी पर मेट्रो सुविधा भी उपलब्ध होगी।

स्टेडियम से एक साथ 60 हजार लोगों के निकलने के लिए एक बड़ा रैंप भी बनाया गया है, जो सड़क, मेट्रो और पार्किंग क्षेत्रों के लिए जाएगा। पूरा स्टेडियम कॉमप्लेक्स फ्लडलाइट्स से रोशन रहेगा। मोटेरा ग्राउंड में LED के जरिए मैच के लिए दूधिया रोशनी होगी। इस पूरे परिसर में सोलार पॉवर का ज्यादा इस्तेमाल किया गया है।

Input : Dainik Jagran

Continue Reading

SPORTS

सौरव गांगुली बने BCCI के नए अध्यक्ष 23 अक्टूबर को संभालेंगे पद

Ravi Pratap

Published

on

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अगले अध्यक्ष बनने को लेकर पूरी तरह से तैयार हैं. गांगुली ने मंगलवार को उन सभी भावी अधिकारियों के साथ एक फोटो साझा कि जो उनकी टीम का हिस्सा होंगे. गांगुली के साथ उस फोटो में जय शाह, जयेश जॉर्ज, बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष अनुराग ठाकुर, अरुण धुमल और महिम वर्मा हैं.

उन्होंने इस फोटो पर लिखा, बीसीसीआई में नई टीम.. उम्मीद है कि हम साथ मिलकर अच्छा काम कर सकेंगे. अनुराग ठाकुर शुक्रिया इसके लिए. गांगुली का निर्विरोध बीसीसीआई का अगला अध्यक्ष चुना जाना तय है. वहीं केंद्रीय गृह मंत्री के बेटे जय शाह बीसीसीआई के अगले सचिव होंगे. जयेश जॉर्ज संयुक्त सचिव और अरुण कोषाध्यक्ष के पद पर बैठेंगे. महिम उपाध्यक्ष होंगे. बृजेश पटेल का अगला आईपीएल चेयरमैन बनना तय है.

गांगुली हालांकि सितंबर-2020 यानि सिर्फ 10 महीनों के लिए इस पद पर रहेंगे क्योंकि इसके बाद वह बोर्ड के नए नियम के तहत कूलिंग ऑफ पीरियड पर चले जाएंगे. 23 अक्टूबर को प्रशासकों की समिति (सीओए) बीसीसीआई के नए अधिकारियों को कार्यभार सौंप देगी.

Input : Palpal India

(हम ज्यादा दिन WhatsApp पर आपके साथ नहीं रह पाएंगे. ये सर्विस अब बंद होने वाली है. लेकिन हम आपको आगे भी नए प्लेटफॉर्म Telegram पर न्यूज अपडेट भेजते रहेंगे. इसलिए अब हमारे Telegram चैनल को सब्सक्राइब कीजिए)

Continue Reading
Advertisement
BIHAR1 hour ago

प्‍याज के शतक पर गरमाई बिहार की सियासत, BJP बोली- नौटंकी कर रहे पप्‍पू

BIHAR3 hours ago

बिहार में बंद होंगे पो’र्न साइट्स, नीतीश कुमार केंद्र को लिखेंगे पत्र

HEALTH3 hours ago

गुणों की खान हैं आंवला, आंखों से लेकर दिल तक का रखता है ख्‍याल – जानिए

BIHAR5 hours ago

राबड़ी देवी ने है’दराबाद पु’लिस को सराहा, कहा- बिहार में भी इस तरह के ए’नकाउंट’र की जरुरत है

BIHAR6 hours ago

घर वापसी पर शिवांगी को सम्मानित करेगा पूर्व सैनिक संघ

BIHAR7 hours ago

है’दराबाद पु’लिस का ऑन स्पॉट ए’नका’उंटर, बिहार पुलिस अ’धज’ले श’वों को कब दिलाएगी इं’साफ

TRENDING8 hours ago

है’दराबाद एन’काउंटर: पु’लिस पर फूलों की बारिश, लगाए गए जिं’दाबाद के नारे

INDIA9 hours ago

श’र्मनाक : है’दराबाद एन’काउंटर पर उठे सवाल, पु’लिस पर FI’R द’र्ज करने की मांग

INDIA9 hours ago

म’हिला डॉ’क्‍टर के पिता बोले- अब मिली बेटी को शांति

INDIA9 hours ago

है’दराबाद के द’रिंदों के ए’नकाउं’टर पर बोलीं नि’र्भया की मां- वो इसी लायक थे…

TRENDING1 week ago

अक्षय कुमार के गाने फिलहाल ने तोड़ा वर्ल्ड रिकॉर्ड, सबसे कम समय में 100 मिलियन व्यूज़ मिले

INDIA3 days ago

12वीं पास के लिए CISF में नौकरियां, 81,100 होगी सैलरी

OMG1 day ago

पति ने खुद की पढ़ाई रोककर पत्नी को पढ़ाया, नौकरी लगते ही पत्नी ने दूसरी शादी कर ली

MUZAFFARPUR1 week ago

मुजफ्फरपुर बैंक मैनेजर की ह’त्या करने पहुचे शूट’र की लो’डेड पिस्ट’ल ने दिया धो’खा, लोगो ने जम’कर पी’टा

INDIA6 days ago

डॉक्टर गैंगरे’प: पुलिस ने बताई उस रात की है’वानियत की कहानी

MUZAFFARPUR1 week ago

मुजफ्फरपुर में 8 ब’म मिलने से ह’ड़कंप, घर में छिपाकर रखा गया था ब’म

BIHAR2 weeks ago

मुजफ्फरपुर पहुंची श्रीराम जानकी विवाह बरात का शंख ध्वनि के बीच भव्य स्वागत

MUZAFFARPUR3 weeks ago

मुजफ्फरपुर का थानेदार नामी गुं’डा के साथ मनाता है जन्मदिन! केक काटते हुए सोशल मीडिया पर तस्वीर वायरल…खाक होगा क्रा’इम कंट्रोल?

BIHAR3 days ago

बिहार पुलिस: सब इंस्‍पेक्‍टर के 221 पदों के ल‍िये आवेदन शुरू, 1 लाख से ज्‍यादा होगी सैलरी

tharki-proffesor
MUZAFFARPUR3 weeks ago

खुलासा: कोचिंग आने वाली हर छात्रा को आजमाता था मुजफ्फरपुर का ‘पा’पी प्रोफेसर’, भेजा गया जे’ल

Trending

0Shares