Connect with us

BIHAR

कोरोना महामारी: बुरे वक्त में ही इस नेता में ‘देवदूत’ क्यों देखते हैं लोग?

Published

on

जन अधिकार पार्टी के संयोजक राजेश रंजन उर्प पप्पू यादव अक्सर सुर्खियों में रहते हैं. अलग-अलग वक्त पर कारण भी अलग रहते हैं. कभी वे जरायम पेशे (अपराध) की दुनिया का बड़ा नाम रहे तो कभी कोसी और पूर्णिया इलाके में उनकी छवि किसी रॉबिनहुड से कम नहीं रही है. किसी आपदा के वक्त वे लोगों के साथ हरदम खड़े नजर आते हैं. आज जब कोरोना काल के घने अंधेरे में हर तरफ अफरा-तफरी है. लोग परेशानी में जूझ रहे हैं, वहीं पप्पू यादव मुसीबत में घिरे लोगों के लिए हर वक्त घने अंधेरे के बीच रोशनी के रूप में खड़े नजर आ रहे हैं.

हाल में ही गंभीर बीमारी को देखते हुए पप्पू यादव का ऑपरेशन हुआ था. डॉक्टरों ने उन्हें रेस्ट की सलाह दी है, लेकिन वे कभी पटना के पीएमसीएच तो अगले ही पल एनएमसीएच में नजर आते हैं. दानापुर से दीदारगंज तक करीब 25-30 किमी के दायरे में आने वाले हर जगह, जहां भी उनकी जरूरत होती है वे एक कॉल में पहुंच जाते हैं. डॉक्टरों से मिलते हैं, लोगों की मुश्किलों का निदान करते हैं और अगर सामान्य तरीके से मदद न मिल रही हो तो वे अपने अंदाज में हड़काते हुए नजर आते हैं.

पप्पू यादव के बारे में वरिष्ठ पत्रकार सुनील सिन्हा कहते हैं कि हाल में ही उनकी पत्नी की मृत्यु हो गई, लेकिन उनकी मौत से पहले जब उन्हें ऑक्सीजन की जरूरत थी तो सरकार के स्तर पर उन्हें कई कोई सहायता नहीं मिली. अंत में पप्पू यादव के पटना में मंदिरी स्थित आवास से उन्हें ऑक्सीजन सिलिंडर मुहैया करवाई गई थी. पत्नी की मौत के बाद भी वे पप्पू यादव की इस मदद के लिए वे खुद को ऋणी बताते हैं.

अस्पतालों की कार्यशैली से नाराज हैं पप्पू

एक ओर जहां बड़े राजनीतिक दलों के बड़े-बड़े नेता जमीन पर नजर नहीं आ रहे हैं वहीं, जन अधिकार पार्टी के संयोजक लागतार अस्पतालों का जायजा लेते दिख रहे हैं. आए दिन उन्हें राजधानी पटना के सरकारी अस्पतालों में देखा जाता है. जिस दौरान वो अस्पतालों में मरीजों को होने वाली परेशानी को उनके परिजनों के द्वारा सुनते हैं और अस्पताल की कार्यशैली को लेकर सवाल उठाते रहते हैं.

सेना के हवाले करना चाहते हैं बिहार के अस्पताल

कोरोना संकट के बीच खुद अस्पतालों के निरीक्षण के लिए निकलते हैं. इस दौरान कुव्यवस्था को वो लोगों के बीच रखते हैं और सरकार पर हमला बोलते हैं. वे जरूरतमंदों की यथासंभव मदद करते हैं और  इस बात की भी वकालत करते हैं कि सरकार अगर बिहार में कोरोना के चेन को तोड़ना चाहती है तो सभी कोविड अस्पतालों को सेना के हवाले कर देना चाहिए तभी बिहार से कोरोना का खात्मा हो पाएगा.

जब डूब रहा था पटना

बता दें कि पप्पू यादव की सक्रियता तब भी इसी तरह थी जब 2 साल पहले जब पटना डूब गया था. तब भी इन्होंने इसी तरह से किया था. उस समय भी जब सब नेता भागे चल रहे थे ये फरिश्ता बन कर आए थे. पटना की सड़कों पर गले भर पानी में डूब-डूबकर दिन रात मदद कर रहे थे. जरूरतमंदों तक पीने का पानी और राशन पहुंचा रहे थे. रेस्क्यू कर रहे थे. तब कहा गया था कि पप्पू यादव नाटक कर रहे हैं. लेकिन मदद करना क्या नाटक हो सकता है? इस बार भी कुछ लोग ऐसा ही कह रहे हैं कि वे एक बार फिर नाटक कर रहे हैं. पर सवाल यह है कि कोविड संक्रमण के खतरों के बीच सीधे कोविड वार्ड में दाखिल हो जाना क्या नाटक है? बिना जाति-धर्म पूछे लोगों की मदद को हर स्तर पर आगे रहना क्या ढोंग है? क्या मीडिया में रहने के लिए कोई अपनी ही जान को जोखिम में डालेगा?

नहीं मिला राजनीतिक लाभ

हालांकि कई लोग कहते हैं कि उनकी राजनीतिक महत्वाकांक्षाएं हैं. जाहिर है इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि ऐसा हो सकता है. यह बात तब सही होती दिखी थी जब वर्ष 2020 में उन्होंने अपने कैंडिडेट उतारे थे. लेकिन हकीकत भी यह है कि कुम्हरार से इनके कैंडिडेट को कितना वोट मिला था? पानी में डूबे पटना में इस इलाके में इन्होंने शायद ही कोई घर हो जिसको उस विपदा में मदद न की होगी, लेकिन उनके कैंडिडेट की बुरी हार हुई थी.

तब कहां थे बड़े नेता?

बहरहाल हकीकत भी यही है कि हमारे यहां ऐसे सेवा भाव वाले को वोट नहीं मिलता. वोट तो जाति और धर्म पर मिलता है. जब पूरा पटना बाढ़ में डूब रहा था उस समय मदद करने न बीजेपी वाले आये थे न राजद वाले. लोग आज भी तत्कालीन डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी का वह हाफ पैंट पहने हुए रेस्क्यू वाला दृश्य नहीं भूले हैं. कैसे वे कई दिनों तक अपने घर में घिरे थे. तेजस्वी यादव दिल्ली में थे और नीतीश कुमार भी लंबे वक्त के बाद ही पटना का जायजा लेने निकले थे.  तब यह सच्चाई थी कि पप्पू यादव लगातार पानी में डूब-डूबकर लोगों की मदद कर रहे थे.

गौरतलब है कि पप्पू यादव ने तब अधिक सुर्खियां हासिल की थीं जब वर्ष 2015 में वे लालू-नीतीश की जोड़ी के खिलाफ खड़े थे और एनडीए द्वारा फंडेड बताए जाते थे. हालांकि तब यह प्रयोग फेल रहा था. इसके बाद 2019 के लोकसभा चुनाव में भी इनपर वोटकटवा होने का आरोप लगा. लेकिन हर मुसीबत के समय लोगों की सेवाभाव में इन्होंने कोई कमी नहीं की. पप्पू यादव जहां कोरोना के मरीजों को दवाइयां और ऑक्सीजन पहुंचाने में लगे हैं, वहीं कई लोग इसे फिर ‘नाटक’ कह रहे हैं. हालांकि कुछ लोग कहते हैं कि मुसीबत के समय खड़ा होने वाला शख्स अगर नाटक भी कर रहा है, तो यह सभी को करना चाहिए. लेकिन आपातकाल में घरों में छिपने वाला नेता नहीं चाहिए.

Input: News18

BIHAR

दारोगा की पार्टी में मेहमान बनकर आईं दो महिला चोर, लाखों के गहने और कैश से भरा बैग उड़ाया

Published

on

PATNA : अगर आप मैरिज हॉल में शादी समारोह कर रहे हैं या उसमें शिरकत कर रहे हैं तो सावधान रहें। मैरिज हाल के पास महिला चोर गिरोह सक्रिय है। वे नजर चुराकर नकदी और कीमती गहने से भरा बैग उड़ा सकती हैं, और जश्न के माहौल में आपकी नींद उड़ा सकती हैं। ताजा मामला बिहार की राजधानी पटना के दीघा इलाके का है। यहां महिला चोरों ने एक दारोगा की रिसेप्शन पार्टी से लाखों के गहने से भरा बैग उड़ा लिया।

मेहमान बनकर आईं दो महिलाओं ने चोरी की वारदात को अंजाम दिया और फरार हो गईं। पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। शिकायत पर दीघा थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोपी महिलाओं की तलाश की जा रही है। जानकारी के मुताबिक शशि रंजन मूल रूप से दीघा गणेश लाल रोड के रहने वाले हैं। वर्तमान में वह सारण जिले में दारोगा के पद पर तैनात हैं। शादी के बाद गत 28 नवंबर को दीघा आशियाना रोड स्थित डान बास्को हाई स्कूल स्थित मैरिज हॉल में उनकी रिसेप्शन पार्टी थी।

समारोह में आने वाले लोग दूल्हा और दुल्हन को बधाई दे रहे थे। इसी दौरान बढ़िया कपड़े पहनकर दो महिलाएं पार्टी में आईं। कुछ समय तक वह मैरिज हॉल में टहलती रहीं। मौका देखते ही एक महिला ने दूसरे को इशारा किया। इसके बाद सलवार कमीज पहनी महिला ने मंच पर रखा गहने से भरा नीले रंग का बैग चुरा लिया।

RAMKRISHNA-MOTORS-IN-MUZAFFARPUR-CHAKIA-RAXUAL-MARUTI-

बैग में दुल्हन और गिफ्ट में मिली सोने की 6 सेट अंगूठियां, चार सेट हाथ के कड़े, दो कान के झुमके, दो नाक की नथनी, पांच सेट चांदी के पायल और दो महंगी घड़ियां समेत 27 हजार कैश थे। चोरी हुए गहनों की कीमत करीब ढाई लाख रुपये बताई जा रही है। घटना के बाद पीडित ने इसकी सूचना दीघा थाना पुलिस को दी। पीड़ित के मुताबिक चोरी करने वाली महिलाओं की उम्र 25 से 30 वर्ष के बीच है। सीसीटीवी कैमरे में कैद फुटेज में आरोपी महिलाएं चोरी के बाद तेजी से भागती दिख रही हैं।

Source : Hindustan

nps-builders

Genius-Classes

Continue Reading

BIHAR

आर्केस्ट्रा गर्ल का वीडियो हुआ वायरल… कहा-लड़की गलत नही होती बना दी जाती हैं.. सबने धोखा दिया

Published

on

By

बिहार के एक आर्केस्ट्रा गर्ल का वीडियो वायरल हो रहा हैं। जिसे लड़की ने फांसी के फंदे पर लटकने से पहले जारी किया है। इस वायरल वीडियो में लड़की बहुत भावुक हैं व समाज से ऐसे सवाल करती हैं जो हमें सोचने को मजबूर करती हैं। लड़की उस वीडियो में रो-रो कर कह रही हैं कि “लड़कियां गलत नहीं होती है,उसे जबरदस्ती गलत बनाया जाता है। मुझे सब ने धोखा दिया हैं। जबतक मेरे पास पैसे थें सब मेरे साथ थें और जब पैसे खत्म हो गए सबने छोड़ दिया। जब लोग जिंदगी बना नही सकते तो बर्बाद क्यों करते हैं। लड़की को इंसाफ क्यों नही दिया जाता। वह लड़की हैं इसलिए उसको इंसाफ नहीं मिलेगा।मेरा सबकुछ छीन गया, बर्बाद हो गया। सबने मुझे अकेला छोड़ दिया। अब मैं जीना नहीं चाहती”।

हालांकि इस वीडियो की पुष्टि मुजफ्फरपुर नाउ नही कर रही हैं लेकिन प्राप्त जानकारी के मुताबिक यह वीडियो सोनपुर के थियेटर में काम करने वाली लड़की का हैं, जो पटना में रहती है। चार मिनट दो सेकेंड के इस वीडियो में पीड़ित लड़की बहुत रो रही है। उसने पंखे में दुपट्टे से फांसी का फंदा बांध रखी है। जिसे दिखा कर कह रही हैं कि अब वह जीना नहीं चाहती…उसका सबकुछ छीन गया।

RAMKRISHNA-MOTORS-IN-MUZAFFARPUR-CHAKIA-RAXUAL-MARUTI-

nps-builders

Genius-Classes

Continue Reading

BIHAR

17 जिलों के हवाई अड्डे होंगे अतिक्रमण मुक्त, जल्द शुरू होगा हवाई अड्डे का मापी

Published

on

भागलपुर समेत 17 जिलों के हवाई अड्डों को अतिक्रमण मुक्त कराया जाएगा। इसके लिए सिविल विमानन निदेशालय ने संबंधित जिलों के जिलाधिकारियों से रिपोर्ट मांगी है।

वर्तमान में राज्य सरकार के स्वामित्व में जिलों के संबंधित हवाई अड्डे हैं, लेकिन यहां से घरेलू सेवा भी अब तक शुरू नहीं हो सकी है, जबकि इनमें कुछ जिले उड़ान परियोजना में शामिल हैं। निदेशालय को रिपोर्ट देने के लिए अब मंत्रिमंडल सचिवालय के संयुक्त सचिव निशीथ वर्मा ने पत्र भेज कर जिलाधिकारियों को मापी कराते हुए अतिक्रमण मुक्त कराने का जिम्मा दिया है।

एसडीओ-डीसीएलआर को मापी का जिम्मा भागलपुर के डीएम ने एसडीओ और डीसीएलआर को हवाई अड्डे की मापी कर अतिक्रमण मुक्त कराते हुए रिपोर्ट देने को कहा है। जानकारी के मुताबिक, कोसी प्रमंडल में सहरसा और सुपौल, सीमांचल में पूर्णिया, कटिहार और किशनगंज, अंग क्षेत्र में मुंगेर के अलावा बेगूसराय, सारण, कैमूर, रोहतास, आरा, बक्सर, मधुबनी, पश्चिमी चंपारण, पूर्वी चंपारण, नालंदा और जहानाबाद में भी हवाई अड्डा की जमीन की मापी के निर्देश मंत्रिमंडल सचिवालय से दिए गए हैं। बता दें कि हवाई अड्डा मामले में इन दिनों पटना हाईकोर्ट में हरेक माह सुनवाई भी हो रही है। इसमें हरेक मुद्दे पर मुख्य सचिव को निर्देश दिए जा रहे हैं।

RAMKRISHNA-MOTORS-IN-MUZAFFARPUR-CHAKIA-RAXUAL-MARUTI-

इन जिलों के हवाई अड्डों की मापी के दिये गये निर्देश

पूर्णिया, कटिहार, किशनगंज, सुपौल, सहरसा, मुंगेर, बेगूसराय, सारण, कैमूर, रोहतास, आरा, बक्सर, मधुबनी, पश्चिमी चंपारण, पूर्वी चंपारण, नालंदा और जहानाबाद में भी हवाई अड्डा की जमीन की मापी के निर्देश दिये गये हैं।

Source : Hindustan

nps-builders

Genius-Classes

Continue Reading
BIHAR4 hours ago

दारोगा की पार्टी में मेहमान बनकर आईं दो महिला चोर, लाखों के गहने और कैश से भरा बैग उड़ाया

BIHAR6 hours ago

आर्केस्ट्रा गर्ल का वीडियो हुआ वायरल… कहा-लड़की गलत नही होती बना दी जाती हैं.. सबने धोखा दिया

BIHAR10 hours ago

17 जिलों के हवाई अड्डे होंगे अतिक्रमण मुक्त, जल्द शुरू होगा हवाई अड्डे का मापी

MUZAFFARPUR12 hours ago

मुजफ्फरपुर : डॉ. रविकांत को मिला ट्रू लीजेंड पुरस्कार

INDIA12 hours ago

निर्देश : ट्रेन के सफर में जरूरत पर दवा मिलेगी

BIHAR13 hours ago

कलयुग के श्रवण कुमार की खूब हो रही चर्चा, पिता के निधन के बाद बनाई मंदिर,11 सालों से कर रहा पूजा

BUSINESS1 day ago

घर में कितना रख सकते हैं कैश, जानिए क्या हैं इनकम टैक्स के नियम

INDIA1 day ago

पुलिस की ‘जानलेवा’ करतूत: सब्जी वाले का तराजू रेलवे ट्रैक पर फेंका, उठाने गया तो कट गए दोनों पैर

crime-news-muzaffarpur-now-india-bihar
MUZAFFARPUR1 day ago

मुजफ्फरपुर के सिविल इंजीनियर की सुंदरगढ़ में हुई हत्या

BIHAR2 days ago

बिहार बोर्ड: 11 वीं में दाखिले के लिए 15 दिसंबर तक बढ़ी रजिस्ट्रेशन की डेट

TRENDING4 weeks ago

प्यार की खातिर टीचर मीरा बनी आरव, जेंडर बदल कर स्कूल स्टूडेंट कल्पना से रचाई शादी

MUZAFFARPUR4 weeks ago

इंतजार की घड़ी खत्म: 12 साल पहले बना सिटी पार्क 15 नवंबर से पब्लिक के लिए खुलेगा

INDIA3 weeks ago

गर्लफ्रेंड शादी करना चाहती थी, प्रेमी ने उसके 35 टुकड़े किए, कई दिन फ्रिज में रखा

SPORTS3 weeks ago

खुशखबरी! टी20 वर्ल्ड कप में हार के बाद भारतीय टीम में फिर होगी धोनी की वापसी

ENTERTAINMENT3 weeks ago

‘कसौटी जिंदगी की’ एक्टर सिद्धांत वीर सूर्यवंशी का जिम में वर्कआउट करते वक्त निधन

MUZAFFARPUR4 weeks ago

सोनपुर मेले में भारी भीड़ को देखते हुए आज और कल मुजफ्फरपुर से चलेगी स्पेशल ट्रेनें

OMG4 weeks ago

पाकिस्तानी एक्ट्रेस सेहर शिनवारी का जिम्बाब्वे को ऑफर, इंडिया को हराया तो तुमसे करूंगी शादी

BIHAR3 weeks ago

भोजपुरी एक्ट्र्रेस अक्षरा सिंह की बढ़ीं मुश्किलें, पटना के घर पर पुलिस ने चिपकाया इश्तेहार

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर शहर के बैंड-बाजा कलाकार लग्न में नहीं बजाएंगे अश्लील व फूहड़ गाने

VIRAL4 weeks ago

मोहब्बत की अजीब दास्तां : 83 साल की विदेशी महिला को हुआ 28 साल के युवक से इश्क़, किया निकाह

Trending