Connect with us

Uncategorized

कोरोना वायरस: महाराष्ट्र सरकार ने 31 जुलाई तक बढ़ाया लॉकडाउन

Muzaffarpur Now

Published

on

मुंबई. महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) ने कोरोना वायरस (Coronavirus) के मद्देनजर लगाए गए लॉकडाउन (Lockdown) को 31 जुलाई तक बढ़ा दिया है. महाराष्ट्र में लगातार बढ़ रहे कोविड-19 (Covid-19) के मामलों को देखते हुए उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) नीत महाराष्ट्र विकास अघाड़ी सरकार (Maharashtra Vikas Agadhi Government) ने यह फैसला किया है. महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि  COVID19 को नियंत्रित करने के लिए राज्य में संबंधित नगर निगमों के आयुक्त और  जिला कलेक्टर कुछ गैर-आवश्यक गतिविधियों और व्यक्तियों की आवाजाही पर निर्दिष्ट स्थानीय क्षेत्रों में कुछ उपायों और आवश्यक प्रतिबंधों को लागू कर सकते हैं. सरकार ने आदेश जारी कर कहा कि आपातकालीन, स्वास्थ्य और चिकित्सा, कोषागार, आपदा प्रबंधन, पुलिस जैसे सरकारी कार्यालय 15 प्रतिशत क्षमता या फिर 15 व्यक्तियों (जो अधिक हो) के साथ काम करेंगे. सभी निजी कार्यालय 10% क्षमता या 10 लोग जो भी अधिक हो, के साथ काम कर सकते हैं.

Lockdown will not be lifted in Maharashtra post June 30, will ...

ठाकरे ने रविवार को ही कहा था कि 30 जून के बाद भी राज्य में पाबंदियां जारी रहेंगी. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) ने रविवार को टेलीविजन पर संबोधन में कहा कि 30 जून के बाद भी राज्य में लॉकडाउन की पाबंदियां जारी रहेंगी. ठाकरे ने पाबंदियों में ढील दिए जाने से इंकार करते हुए कहा कि राज्य में कोरोना वायरस का खतरा अब भी बना हुआ है. ठाकरे ने बाद में ट्वीट किया, ‘‘क्या 30 जून के बाद लॉकडाउन हटाया जाएगा? स्पष्ट उत्तर ‘नहीं’ है.’’ ठाकरे ने कहा कि अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाने के लिए अनलॉक की प्रक्रिया को धीरे-धीरे लागू किया जा रहा है, जिसे ‘मिशन बिगिन अगेन’ नाम दिया गया है. उन्होंने कहा कि 30 जून के बाद पाबंदियों में कुछ ढील होगी लेकिन धीरे-धीरे ज्यादा ढील दी जाएगी. उन्होंने कहा, ‘‘राज्य में मिशन बिगिन अगेन के तहत अनलॉक प्रक्रिया शुरू की गई है. 30 जून के बाद भी पाबंदियां जारी रहेंगी लेकिन धीरे-धीरे लोगों को ज्यादा ढील दी जाएगी.’’

Maharashtra govt extends lockdown: List of activities allowed till ...

जारी रहेंगी कुछ पाबंदियां
मुख्यमंत्री कार्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘मामले के आधार पर ढील दी जाएगी. उदाहरण के लिए यात्री परिवहन पर कुछ पाबंदियां जारी रहेंगी लेकिन कुछ स्थानीय सेवाओं को अनुमति दी जाएगी.’’ ठाकरे ने कहा कि चूंकि बड़ी संख्या में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं, इसलिए कड़ा अनुशासन लागू रहना जरूरी है. उन्होंने कहा, ‘‘मैं लॉकडाउन शब्द का प्रयोग नहीं भी कर रहा हूं तो भी गलतफहमी में नहीं रहें और सुरक्षा कम नहीं करें. वास्तव में हमें ज्यादा अनुशासन दिखाने की जरूरत है.’’

मुख्यमंत्री ने कहा कि संकट अभी खत्म नहीं हुआ है. उन्होंने कहा, ‘‘हम इस युद्ध को अंतिम चरण में आधा-अधूरा नहीं छोड़ सकते. मुझे विश्वास है कि आप सरकार के साथ सहयोग करते रहेंगे ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि लॉकडाउन फिर से लागू नहीं हो.’’ उन्होंने कहा कि हम शिक्षा को फिर से शुरू करने पर ध्यान दे रहे हैं क्योंकि यह स्कूल खोले जाने से ज्यादा महत्वपूर्ण है.

बारिश के कारण फैल सकती हैं बीमारियां
ठाकरे ने कहा कि मॉनसून शुरू हो चुका है और भारी बारिश तथा बीमारियों जैसे मुद्दे के समाधान के लिए हमने बैठकें करनी शुरू कर दी हैं. उन्होंने कहा, ‘‘बारिश के कारण बीमारियां फैल सकती हैं और हमने आसपास साफ-सफाई रखकर एहतियात बरतना शुरू कर दिया है और सुनिश्चित कर रहे हैं कि कहीं पानी जमा नहीं हो.’’

उन्होंने निजी डॉक्टरों से भी काम शुरू करने की अपील की ताकि स्वास्थ्य मशीनरी के बोझ को कम किया जा सके. (भाषा के इनपुट सहित)

Uncategorized

यशवंत सिन्हा आज नए मोर्चे का करेंगे एलान, बिहार चुनाव में किसे मिलेगा फायदा?

Muzaffarpur Now

Published

on

पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा आज पटना में बिहार चुनाव के पहले तीसरे मोर्चे का ऐलान करेंगे। यशवंत सिन्हा पिछले दिनों ही बिहार की राजनीति में सक्रिय हुए थे और उन्होंने इस बात के संकेत दे दिए थे कि एनडीए और महागठबंधन से अलग रहने वाले नेताओं को वह एक साथ लाएंगे। यशवंत सिन्हा आज सुबह 11:30 बजे एक प्रेस वार्ता करने वाले हैं जिसमें उनके साथ बिहार के कई अन्य राजनेता भी मौजूद रहेंगे।

Yashwant Sinha - Wikiwand

यशवंत सिन्हा बिहार विधानसभा चुनाव में तीसरे मोर्चे की मौजूदगी का एहसास करना चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने पूर्व केंद्रीय मंत्री देवेंद्र यादव से भी बातचीत की है। इसके अलावा नागमणि और पूर्व सांसद अरुण कुमार के साथ-साथ रेणु कुशवाहा, नरेंद्र सिंह और अरुण श्रीवास्तव जैसे नेता भी यशवंत सिन्हा के संपर्क में हैं। यशवंत सिन्हा की नजर ऐसे नेताओं पर है जो एनडीए से बाहर है और फिलहाल जिनका एडजस्टमेंट महागठबंधन में नजर नहीं आ रहा। यशवंत सिन्हा आज अपने अगली रणनीति का खुलासा करने वाले हैं। फर्स्ट बिहार से बातचीत में समाजवादी समागम से जुड़े नेता अरुण श्रीवास्तव ने कहा है कि यशवंत सिन्हा की कोशिश से सराहनीय है लेकिन यह बात सभी छोटे दलों को समझना होगा कि एकजुटता के बिना वह बीजेपी का मुकाबला नहीं कर सकते। अरुण श्रीवास्तव ने कहा है कि सभी छोटे दलों को एकजुट होकर एक साथ आना चाहिए और तब कांग्रेस से आगे की बातचीत होनी चाहिए। अरुण श्रीवास्तव ने कहा है कि शरद यादव और शरद पवार जैसे नेता इस मामले में यशवंत सिन्हा की मदद कर सकते हैं।

तीसरे मोर्चे के गठन को लेकर यशवंत सिन्हा की तरफ से किए जा रहे प्रयासों के बाद सियासी गलियारे में एक सवाल तैर रहा है कि आखिर इस नए फ्रंट से चुनाव में किसे फायदा होगा? सियासी जानकार मानते हैं कि नए मोर्चे का वजूद चुनाव के बाद मजबूती के साथ उभर कर आएगा इसमें संदेह है। लेकिन अगर एनडीए से अलग होकर जाने वाले नेता एक फोरम पर आते हैं तो इसका नुकसान सीटें बीजेपी और जेडीयू को पहुंचेगा। ऐसे में बड़ा सवाल यह भी है कि क्या यशवंत सिन्हा तीसरे मोर्चे का गठन एनडीए को झटका देने के लिए कर रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी से यशवंत सिन्हा की नाराजगी जगजाहिर है। यशवंत सिन्हा इसके पहले यूपी में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ भी नजर आ चुके हैं। चर्चा है कि यशवंत सिन्हा ने तेजस्वी यादव से बातचीत की है लेकिन इस खबर की पुष्टि नहीं हो सकी है। आरजेडी नेता और बिहार विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने भी यशवंत सिन्हा से मुलाकात की है हालांकि फर्स्ट बिहार को उन्होंने बताया है कि यशवंत सिन्हा से उनकी मुलाकात व्यक्तिगत है और इसका राजनीति से कोई लेना देना नहीं। यशवंत सिन्हा बिहार में छोटे-छोटे राजनीतिक दलों और बिखरे हुए नेताओं को एकजुट करने के मिशन पर निकले हैं लेकिन यह काम इतना आसान नहीं दिखता। ऐसे में इंतजार बात का करना होगा कि बिहार चुनाव के पहले यशवंत सिन्हा को अपने इस अभियान में किस हद तक सफलता मिल पाती है।

Input : First Bihar

Continue Reading

Uncategorized

गलवान घाटी में शहीद जवानों को याद कर राहुल गांधी ने शेयर किया वीडियो, देखकर नम हो जाएंगी आंखें

Muzaffarpur Now

Published

on

पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी (Galwan Valley Face off) में भारत और चीन के सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में शहीद हुए 20 भारतीय जवानों को यादकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने एक वीडियो शेयर किया है. इस वीडियो के साथ ही उन्होंने लिखा, ‘हमारे भाइयों को श्रद्धांजलि. हमारे लिए आपने सर्वस्व निछावर कर दिया. ये बलिदान हम कभी नहीं भूलेंगे. गलवान घाटी पर भारत और चीन की सेनाओं के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद से ही राहुल गांधी लगातार ट्वीट कर रहे हैं.’

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में शहीद हुए जवानों को एक बार फिर याद किया है. उन्होंने अपने ट्वीट के साथ एक वीडियो भी शेयर किया है. 2​ मिनट के इस वीडियो में गलवान घाटी में शहीद जवानों की तस्वीर के साथ ही उनके पार्थिव शरीर के पैतृक गांव पहुंचने तक की तस्वीरों को दिखाया गया है. इस वीडियो के साथ ही राहुल गांधी ने सीमा पर शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि भी दी है.

गौरतलब है कि पूर्वी लद्दाख सीमा पर पिछले कई महीनों से चला आ रहा तनाव 15 जून की रात हिंसक झड़प में ​तब्दील हो गया था. इस हिंसक झड़प में एक कर्नल समेत 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे. इस घटना में चीन को भी भारी नुकसान हुआ और उसके 43 सैनिक हताहत होने की खबर है. इस घटना के बाद से दोनों देशों के बीच सीमा पर तनाव और बढ़ गया है.

राहुल गांधी ने पीएम मोदी के बयान पर उठाए सवाल
इससे पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान पर सवाल उठाते हुए कहा था कि भारत माता की धरती पर चीन ने कब्जा कर लिया है. राहुल ने ट्वीट किया कि, ‘प्रधानमंत्री ने कहा- ना कोई देश में घुसा, ना ही हमारी ज़मीन पर किसी ने कब्ज़ा किया. लेकिन सैटेलाइट फ़ोटो साफ़ दिखाती हैं कि चीन ने पैंगोंग झील के पास भारत माता की पावन धरती पर कब्ज़ा कर लिया है.’

Input : News18

Continue Reading

Uncategorized

सुशांत की मौत के बाद खेसारी बोले- मेरे साथ भी गलत हो रहा, इंडस्ट्री में बहुत प्रॉब्लम है

Muzaffarpur Now

Published

on

PATNA : बिहार के रहने वाले बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद कई स्टार के बयान सामने आ रहे हैं. सुशांत के परिवार के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की जा रही है. भोजपुरी फिल्म के सुपरस्टार खेसारी लाल यादव भी शनिवार को सुशांत के परिजनों से मिलने पहुंचे. इस मौके पर इंडस्ट्री को लेकर उन्होंने एक बड़ा बयान दिया है.

भोजपुरी अभिनेता खेसारी लाल यादव ने सुशांत की मौत को लेकर कहा कि जो हुआ यह गलत है. अंदर की बात मैं भी नहीं जानता हूं.जांच चल रही है. मैं किसी को दोषी नहीं मानता हूं. बिहार के लोगों को सोचना चाहिए कि इंडस्ट्री में जो हमारे लोग हैं. उनके बारे में सोचना चाहिए. उन्हें प्रोमोट करना चाहिए. खेसारी ने कहा कि अगर बॉलीवुड के लोगों को पीछे करना है, तो अपने बच्चों (भोजपुरी इंडस्ट्री) को आगे कीजिये. बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों से यही अपील है. उन्होंने कहा कि ऐसा करने पर आगे कोई भी कलाकार ऐसा नहीं करेगा. सलमान खान पर लग रहे आरोपों को लेकर खेसारी ने कहा कि मैं किसी के लिए कुछ नहीं बोल सकता हूं. जांच चल रही है. इसलिए मैं किसी के लिए कुछ नहीं बोल सकता हूं.

Khesari Lal Yadav met Father of Sushant Singh Rajput said Bihari ...

बॉलीवुड इंडस्ट्री में बिहारियों की अनदेखी को लेकर उन्होंने कहा कि कहीं न कहीं, कोई न कोई प्रॉब्लम तो है. ये मैं ही नहीं, हर कोई जानता है कि बॉलीवुड के अंदर क्या बता है. किसी से यह छुपा नहीं है. मेरे साथ भी हमेशा भेदभाव किया जाता है. ऐसा हमको हमेशा लगता है. मैं भी स्ट्रगल करके के यहां तक पहुंचा हूं. इंडस्ट्री में अगर सुशांत को बैन किया गया है, तो यह गलत है. मैं भी एक आर्टिस्ट हूं और मेरे साथ भी ये चीजें होती रहती हैं. जो भी हुआ है, यह बहुत गलत हुआ है.

भोजपुरी हीरो खेसारी लाल यादव दिवंगत बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के पटना स्थित आवास पर पहुंचे थे. उन्होंने सुशांत के परिजनों को सांत्वना दी. खेसारी ने सुशांत सिंह राजपूत की फोटो पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी. खेसारी लाल यादव ने सुशांत के पिता केके सिंह और चचेरे भाई नीरज कुमार बबलू से मुलाकात की. उन्होंने कहा कि इस दुःख की घड़ी में हौसला बनाये रखें.

Input : First Bihar

Continue Reading
INDIA3 mins ago

अक्षय कुमार और सोनू सूद को भारत रत्न देने की उठी मांग, ट्वीट कर लोगों ने कही ऐसी बात

Uncategorized11 mins ago

कोरोना वायरस: महाराष्ट्र सरकार ने 31 जुलाई तक बढ़ाया लॉकडाउन

BIHAR3 hours ago

शेर सिंह राणा ने बिहार विधानसभा चुनाव में मारी एंट्री , बोले- आरजेपी( सत्य) सभी 243 सीटों पर चुनाव लड़ने को तैयार

MUZAFFARPUR4 hours ago

मुजफ्फरपुर की बेटी का जलवा, निफ्ट परीक्षा में 28वां स्थान

BIHAR4 hours ago

बिहार ने चीन को दिया बड़ा झटका- नीतीश सरकार ने छीन लिया चीनी कंपनियों से ये प्रोजेक्ट, जानिए

INDIA5 hours ago

दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी दे रही है 20000 लोगों को नौकरी, 12वीं पास भी कर सकते हैं अप्लाई

BIHAR5 hours ago

बिहार के BJP सांसद बोले केजरीवाल के बाप के …..से पैसा जा रहा था जो बिहारियों को दिल्ली से भगा रहे थे

INDIA6 hours ago

लद्दाख तनाव: भारत को जल्द हथियार मुहैया कराएंगे US, फ्रांस, रूस और इजराइल; हो सकता है 7,560 करोड़ का नया सौदा

BIHAR9 hours ago

बिहार के इस युवक ने कोरोना से बचाव के लिए तैयार किया डिजिटल पीपीई, यह इस तरह करता काम

MUZAFFARPUR9 hours ago

भाजपा नेताओं का पलटवार, पूर्व विधायक विजेंद्र चौधरी की वजह से बर्बाद हुआ नगर निगम

INDIA3 weeks ago

धोनी ने खरीदा स्‍वराज ट्रैक्‍टर तो आनंद महिंद्रा ने दिया बड़ा बयान, वायरल हुआ ट्वीट

BIHAR2 weeks ago

सुशांत के परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़, सदमा नहीं झेल पाईं भाभी, तोड़ा दम

BIHAR2 weeks ago

प्रिय सुशांत – एक ख़त तुम्हारे नाम, पढ़ना और सहेज कर रखना

INDIA2 weeks ago

सुशांत स‍िंह राजपूत की सुसाइड पर बोले मुकेश भट्ट, ‘मुझे पता था ऐसा होने वाला है…’

BIHAR3 weeks ago

लालू के बेटे तेजस्वी यादव की कप्तानी में खेलते हुए बदली विराट कोहली की किस्मत!

MUZAFFARPUR2 weeks ago

सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर एकता कपूर ने तोड़ी चुप्पी, कहा- मेरे खिलाफ मुकदमा करने के लिए शुक्रिया

BIHAR3 days ago

बिहार में नहीं चलेंगी सलमान खान, आलिया भट्ट, करण जौहर की फिल्में

INDIA7 days ago

सुशांत के व्हॉट्सऐप चैट आये सामने, उनको फिल्म करने में हो रही थी परेशानी

INDIA2 weeks ago

चांद पर प्लॉट खरीदने वाले पहले एक्टर थे सुशांत सिंह राजपूत!

INDIA2 weeks ago

मरने से पहले सुशांत सिंह राजपूत ने किया था ट्वीट, ‘मैं इस जिंदगी से तंग आ गया हूं, गुड बाय’

Trending