Connect with us

TRENDING

गाय को गले लगाना क्यों दुनिया में बन रहा है ट्रेंड, क्या ये कोई थेरेपी है?

Muzaffarpur Now

Published

on

हॉलैंड (Holland) के नाम से मशहूर देश नीदलैंड्स (Netherlands) के एक ग्रामीण इलाके रूवर से शुरू हुआ एक ट्रेंड दुनिया भर में अपनाया जा रहा है. इस तरह की खबरें आईं कि रूवर में ‘को नफलेन’ (डच भाषा का शब्द ‘Koe Knuffelen’, जिसका अर्थ है गाय को गले लगाना ‘Cow Hugging’) प्रैक्टिस शुरू हुई और देखते ही देखते दुनिया भर के लोग इसे अपनाने लगे. ऐसा क्यों हुआ? इसका कारण बताया गया है कि गाय को गले लगाने (Cow Cuddling) से न केवल तनाव से राहत मिलती है बल्कि मा​नसिक स्वास्थ्य (Mental Health) के लिहाज़ से किसी पालतू जानवर (Pets) का साथ बहुत उपयोगी है.

जी हां. वैसे ‘थेरेपी एनिमल’ का कांसेप्ट नया नहीं है, लेकिन कोरोना वायरस (Corona Virus Pandemic) की महामारी से जूझने वाली दुनिया में मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याओं से कई लोग जूझ रहे हैं इसलिए यह ट्रेंड काफी पॉपुलर हो रहा है. इस ट्रेंड, गाय को गले लगाने से जुड़ी तमाम दिलचस्प बातें और वैज्ञानिक समझ के बारे में आपको जानकर न केवल मज़ा आएगा बल्कि हो सकता है कि आपको कुछ मदद मिले.

क्या सच में गाय से लिपटने में सुकून है?

पहले तो आपको यह जानना चाहिए कि लिपटने के लिए सबसे ज़्यादा मुफीद पालतू जानवर गाय ही है. साल 2007 में एक स्टडी हुई थी, जिसमें पता चला था कि गाय की गर्दन और पीठ की तरफ कुछ खास नर्म हिस्सों को सहलाया जाए तो गाय को बड़ा आराम मिलता है और वह आपके साथ बहुत दोस्ताना हो जाती है. जो लोग ग्रामीण इलाकों से वास्ता रखते हैं, उन्हें पता है कि दूध दुहने से पहले गाय के साथ इस तरह प्यार किया जाता है.

lockdown impact, covid 19 updates, corona virus update, cow essay, लॉकडाउन असर, कोविड 19 अपडेट, कोरोना वायरस अपडेट, गाय पर निबंध

लेकिन यह सिर्फ गाय के लिए ही फायदेमंद नहीं है. बीबीसी की रिपोर्ट की मानें तो इस तरह के बर्ताव से आपको भी एक सकारात्मक ऊर्जा मिलती है, तनाव कम करने में अहम ऑक्सिटॉसिन हार्मोन शरीर में बढ़ता है, जो आम तौर से सोशल बांडिंग के वक्त शरीर में बनता है. पालतू जानवरों के साथ खेलने में शरीर और मन को शांति मिलती है और ये भी फैक्ट है कि बड़े स्तनधारी पशु के साथ प्यार करने से ज़्यादा.

कोविड-19 : अकेलेपन के साथी हैं पेट्स?

जी हां. इस ट्रेंड के पीछे प्रमुख कारण यही है कि सोशल डिस्टेंसिंग, घरों में कैद होने और सामाजिक गतिविधियों के कम से कम हो जाने के कारण दुनिया भर में लोग अकेलेपन के शिकार हुए हैं. इससे कई तरह की मानसिक समस्याएं पेश आई हैं. स्वास्थ्य विशेषज्ञों के हवाले से रिपोर्ट्स कह रही हैं कि दुनिया भर में कोविड के कारण मानसिक स्वास्थ्य के मोर्चे पर सेवाएं संभवत: सबसे ज़्यादा प्रभावित हुईं.

पालतू जानवरों से जुड़ी एक कंपनी पेटवॉच के डेटा की मानें तो कोविड 19 महामारी के दौरान पालतू जानवरों को लेने के आंकड़े कम हुए लेकिन मार्च के मध्य से पशुपालन केंद्रों में पशुओं की संख्या बढ़ी. एक और संस्था ASPCA के डेटा के मुताबिक पशुपालन केंद्रों में कुछ देर के लिए आकर लोग पालतू जानवरों के साथ खेलने और उनकी देखभाल करने में पहले से ज़्यादा रुचि लेते भी दिखे.

कैसे लोकप्रिय हुआ गाय के साथ खेलना?

असल में, दस साल से भी पहले हॉलैंड के गांवों में यह एक पासटाइम मस्ती के तौर पर शुरू हुआ था, लेकिन अब यह आंदोलन जैसा बन चुका है. इसे लोगों के प्रकृति के साथ जुड़ने और वक्त बिताने के अभियान के तौर पर प्रचार दिया गया. रॉटेरडम, स्विटज़रलैंड और अमेरिका तक यह मुहिम पहुंची और अब तनाव से राहत और मानसिक सेहत के लिए बाकायदा ‘गाय को गले लगाने’ के सेशन आयोजित किए जा रहे हैं.

हालांकि भारत और कई दक्षिण एशियाई देशों या पशुपालन करने वाले कम या मध्यम आय वर्ग के देशों में इस तरह की प्रैक्टिस होती रही है. इन देशों की बड़ी आबादी चूंकि गांवों में है इसलिए यहां यह आम बात है और शहरी इलाकों में भी पालतू जानवरों के साथ लोगों का रहना आम जीवन का हिस्सा है. विकसित देशों में प्रकृति से दूरी बढ़ने के कारण वहां यह ट्रेंड काफी लोकप्रिय हो रहा है.

Source : News18

TRENDING

ई-रिक्‍शा चालक ने पेश की ईमानदारी की मिसाल, पुलिस की मदद से लौटाया महिला का सूटकेस

Muzaffarpur Now

Published

on

गोरखपुर: ई-रिक्‍शा चालक ने ईमानदारी की मिसाल पेश करते एक महिला का सूटकेस वापस लौटाया है. मामला गोरखपुर विश्‍वविद्यालय कचहरी का है जहां एक ई- रिक्शा चालक ने एक महिला को शास्त्री चौक लाकर छोड़ा था. जल्द बाजी में महिला अपना सूटकेस ई-रिक्शा में भूल निकल गई. वहीं ई-रिक्शा चालक ने बिना देरी करते हुए पुलिस के हाथ सूटकेस थमा दिया.

E rickshaw driver sets an example of honesty returned woman suitcase with the help of police ANN

बताया जा रहा है कि महिला के पास एक बड़ा लाल रंग का सूटकेस का था जो वो ई-रिक्शा में ही भूल गई. दीनाथान नाम के ई-रिक्शा चालक ने तत्‍काल इसकी जानकारी पुलिस को दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने बैग को अपने कब्‍जे में ले लिया. इसके बाद पुलिस ने महिला की तलाश कर उसे बैग लौटा दिया. महिला ने सभी को इस नेक कार्य के लिए धन्‍यवाद दिया.

E Rickshaw Driver Sets An Example Of Honesty Returned Woman Suitcase With The Help Of Police ANN | गोरखपुर: ई-रिक्‍शा चालक ने पेश की ईमानदारी की मिसाल, पुलिस की मदद से लौटाया

ई-रिक्‍शा चालक दीनानाथ मणि ने बताया कि महिला मेघदूत बस से आई थी. उसको गोरखपुर विश्‍वविद्यालय कचहरी से ई-रिक्‍शा से शास्‍त्री चौक ले आकर छोड़ा. उसने बताया कि महिला को खजनी जाना था. जब महिला को तलाशने के बाद भी वो नहीं मिली, तो उसनके पुलिस को सूचना दी. वो अब इस बैग को पुलिस चौकी को सुपुर्द करने जा रहा है.

महिला के पास एक साल का बच्‍चा और दो छोटे बैग भी थे. वो बिहार से आई थी. कलेक्ट्रेट चौकी प्रभारी एसके शर्मा के अथक प्रयास से महिला को ढूंढ कर उसका बैग उसको सुपुर्द कर दिया गया. महिला के चेहरे पर भी खुशी की मुस्कान और उसने चौकी प्रभारी और उनकी टीम के साथ गोरखपुर पुलिस का धन्यवाद किया.

Source : ABP News

Continue Reading

TRENDING

मरीज देखता रहा पसंदीदा शो बिग बॉस और डॉक्टरों ने कर दी सफल ओपन ब्रेन सर्जरी

Muzaffarpur Now

Published

on

गंभीर बीमारियों से पीड़ित मरीज का ऑपरेशन करना कई बार डॉक्टरों के लिए भी बेहद मुश्किल होता है और वो भी मामला जब सिर से जुड़ा हो तो यह और संवेदनशील हो जाता है. ऐसे में गलती की कोई गुंजाईश नहीं होती. एक ऐसा ही मामला आंध्र प्रदेश के गुंटूर से सामने आया है जहां एक मरीज का ऑपरेशन डॉक्टरों ने उसे होश में रखते हुए किया. ऑपरेशन के दौरान वो जगते रहे और उसका ध्यान ऑपरेशन पर ना रहे इसलिए ऑपरेशन थियेटर में मरीज को उसका पसंदीदा शो बिग बॉस और हालीवुड फिल्म दिखाई गई.

सफल ओपन ब्रेन सर्जरी

एक निजी अस्पताल में डॉक्टरों ने मरीज का पसंदीदा शो दिखाकर उसे जगाए रखते हुए गंभीर ओपन ब्रेन सर्जरी की. यह ऑपरेशन सफल हुआ. 33 साल के मरीज वारा प्रसाद के ब्रेन में ग्लियोमा और मोटर कॉर्टेक्सवा को हटाने के लिए उसकी ओपन ब्रेन सर्जरी की गई. सर्जरी गुंटूर के बृंदा न्यूरो सेंटर में की गई और इसके बाद ठीक होने पर उसे शनिवार को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई.

सफल ओपन ब्रेन सर्जरी

सबसे खास बात यह है कि इस सर्जरी में वारा प्रसाद को बेहोश होने से बचाने के लिए जगाए रखना जरूरी था. बिग बॉग और अवतार फिल्म के जरिए उसे जगाए रखा गया ताकि डॉक्टर ब्रेन में होने वाली गतिविधि को कंप्यूटर के जरिए मॉनिटर कर सकें. जब डॉक्टरों की टीम उनके सिर से ट्यूमर को हटाने की प्रक्रिया कर रहे थे उस दौरान मरीज अपने पसंदीदा शो और फिल्म का आनंद ले रहा था.

सफल ओपन ब्रेन सर्जरी

पहले भी साल 2016 में हैदराबाद में वारा प्रसाद का ऑपरेशन किया गया था लेकिन वो पूरी तरह सफल नहीं पाया था जिससे उसे दिक्कत हो रही थी.

सफल ओपन ब्रेन सर्जरी

गुंटूर के सरकारी अस्पताल के डॉक्टर बी. श्रीनिवास रेड्डी, डॉ शेषाद्री सेखर (न्यूरोसर्जन), और डॉ त्रिनाथ (एनेस्थेटिस्ट) ने एक निजी अस्पताल में सर्जरी की जिसमें सभी लेटेस्ट तकनीक और मशीनों का इस्तेमाल किया गया.

Source : Aaj Tak

Continue Reading

TRENDING

भारती सिंह पर कॉमेडियन सुनील पॉल बोले- ”कूल दिखने की चाह ने उसे ऐसा बनाया”

Muzaffarpur Now

Published

on

ड्रग्स मामले में भारती और उनके पति हर्ष को गिरफ्तार किया गया है. भारती सिंह के बारे में बात करते हुए एक्टर-कॉमेडियन सुनील पॉल ने आजतक को बताया कि – ‘The Great Indian Laughter Challenge के सीजन 4 में मुझे सेलिब्रिटी गेस्ट के तौर पर बुलाया गया था और उस वक्त मैंने ही भारती सिंह को पहली बार टीवी पर लॉन्च किया था. इसलिए भारती मुझे अपना बड़ा भाई मानती हैं. हांलाकि उन्होंने मुझे अपनी शादी में नहीं बुलाया था. खैर वो अलग बात है लेकिन अपने करियर के शुरुआती दौर में भारती ने बहुत मेहनत की है. आज वो जिस मुकाम पर पहुंची हैं अपनी मेहनत से ही पहुंची हैं’

Bharti Singh Arrest: Raju Srivastav Says Shraddha Kapoor & She Should Do  Yoga, Sunil Pal Asks “What Sort Of Groupism This Is?”

सुनील पॉल आगे कहते हैं कि ‘अपने आपको को कूल दिखाने के चक्कर में, वेस्टर्न दिखाने के चक्कर आप पार्टी करते हैं, नशा करते हैं क्योंकि आजकल कलाकारों को लगता है कि अगर हम ऐसा करेंगे तो हम उन लोगों से जुड़ सकेंगे और उनके ग्रुप का हिस्सा बन जाएंगे जो प्रभावशाली हैं. जिनसे आपको आगे और काम मिल सकता है. जब वक्त आपका अच्छा होता है तो आप कामयाबी एन्जॉय करते हैं और जब आपका वक्त खराब होता है तो आप बुरे फंस भी जाते हैं. इसलिए जहां तक हो सके हमेशा इस तरह की बुराई से बचना चाहिए.

Sunil Pal reacts to Bharti Singh arrest, says wanting to look famous pushed  her to drugs - Television News

राजीव निगम के बारे में बात करते हुए सुनील पॉल ने कहा कि ‘मैं नहीं जानता कि राजीव निगम ने ऐसा क्यों कहा कि मनीष पॉल के अलावा इंडस्ट्री के किसी इंसान ने उनकी मदद नहीं की. क्योंकि मैंने और कई और लोगों ने उनकी हर मुमकिन मदद करने की कोशिश की. खैर इससे क्या फर्क पड़ता है अगर राजीव, मनीष पॉल का नाम लेना चाहते हैं तो ये उनकी मर्जी है. वैसे हम आपको ये बता दें कि सुनील पॉल ने ही सबसे पहले सोशल मीडिया पर राजीव निगम के बेटे के देहांत की खबर दी थी.

Sunil Pal Comedian (@iSunilPal) | Twitter

बिग बॉस के बारे में बात करते हुए सुनील पॉल कहते हैं कि ‘मेरे हिसाब से राहुल वैद्य ही इस बार बिग बॉस का विनर होगा, इसकी खास वजह ये है कि मैं उन्हे काफी पहले से जानता हूं और मैं जानता हूं कि वो एक अच्छे इंसान और एक अच्छा इंसान ही बिग बॉस का विनर होना चाहिए’

सुनील पॉल के आगे का प्लान

सुनील पाल ने बताया कि वो अगले साल 2021 में दो फिल्मों के जरिए पर्दे पर वापसी करने जा रहे हैं जिसमें एक उनकी होम प्रोडक्शन फिल्म ‘लॉक डाउन टू अनलॉक’ है और दूसरी फिल्म है मनोज शर्मा निर्देशित ‘देहाती डिस्को’. ये एक मल्टीस्टारर फिल्म है. टीवी पर वापसी को लेकर फिलहाल अभी सुनील पॉल का कोई प्लान नहीं है.

Source : Aaj Tak

Continue Reading
INDIA1 hour ago

घूसखोरी में भारत के लोग एशिया में नंबर 1, पुलिस सबसे ज्यादा भ्रष्ट

BIHAR2 hours ago

लालू यादव के वायरल ऑडियो को लेकर झारखंड HC पहुंची BJP, PIL की दायर

BIHAR3 hours ago

ट्विटर ने सुशील मोदी का ट्वीट हटाया, लालू के फोन पर बात करने वाला नंबर किया था सार्वजनिक

BIHAR3 hours ago

ट्रेड यूनियंस का भारत बंद : वैशाली में भैंसों के साथ सड़क पर उतरे RJD कार्यकर्ता

MUZAFFARPUR4 hours ago

मुजफ्फरपुर : खुले में मांस-मछली बेचने पर हो कार्रवाई

MUZAFFARPUR4 hours ago

तीन से 23 दिसंबर तक होगी प्री लॉ व एलएलबी की परीक्षा

MUZAFFARPUR4 hours ago

प्रशासन के आदेश से ही खुलेगा ड्यूक हॉस्टल

MUZAFFARPUR5 hours ago

मुजफ्फरपुर शहर में दिन में चला अभियान, शाम होते सड़क पर सजीं दुकानें

BIHAR6 hours ago

शनिवार से बदलेगा हवा का रुख, और बढ़ेगी ठंड

INDIA6 hours ago

बैंक और बीएसएनएल कर्मी भी आज की हड़ताल में होंगे शामिल, कामकाज पर पड़ेगा असर

BIHAR1 week ago

सात समंदर पार रूस से छठ करने पहुंची विदेशी बहू

WORLD2 weeks ago

संयुक्त राष्ट्र की शाखा ने चेताया- 2020 से भी ज्यादा खराब होगा साल 2021, दुनिया भर में पड़ेगा भीषण अकाल

BIHAR3 days ago

खाक से फलक तक : 18 साल की उम्र में घर से भागे, मजदूरी की, और अब हैं बिहार के मंत्री

INDIA4 weeks ago

JEE MAINS का टॉपर गिरफ्तार, परीक्षा में दूसरे को बैठाकर पाए थे 99.8 % अंक

TRENDING4 days ago

यात्री नहीं मिलने से पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्‍सप्रेस हो जाएगी बंद

BIHAR1 week ago

एम्स से दीघा तक एलिवेटेड रोड पर आज से परिचालन शुरू, कोइलवर पुल पर आज ट्रायल रन

INDIA1 week ago

मिट्टी से भरी ट्रॉली खाली करते वक्त अचानक गिरने लगे सोने-चांदी के सिक्के, लूटकर भागे लोग

TRENDING2 weeks ago

ठंड से ठिठुर रहा था भिखारी, DSP ने गाड़ी रोकी तो निकला उन्हीं के बैच का ऑफिसर

BIHAR2 weeks ago

जीत की खुशी में पटाखा जलाने पर BJP नेता के बेटे की पीट-पीटकर हत्या, शव पेड़ पर लटकाया

BIHAR4 weeks ago

झूठा साबित हुआ लिपि सिंह का आरोप, भीड़ ने नहीं पुलिस ने की थी फायरिंग, CISF की रिपोर्ट से खुलासा

Trending