Connect with us

BIHAR

जाते जाते भी लोगो के लिए मांग रखकर, रुला गए ब्रह्म बाबा..

Sant Raaz Bihari

Published

on

आप सही में राजनीति के ब्रह्म बाबा ही थे,रघुवंश बाबु।

कहते है न कि कोई भी पुजा कीजिये जब तक ब्रह्म बाबा को नही पूजियेगा, आपकी पूजा सफल नही होगी।

2006-07 की बात होगी,पहली बार टीवी पर लोकसभा की कार्यवाही देख रहा था।मन में यही लालशा थी के देखते है संसद में नेता लोग क्या बोलते है..लगभग आधे घण्टे तक बहस देखता रहा कई संसद आये बोले कुछ पता ही नही चला।सब अपने अपने अपने निजी समस्या और पार्टी बयान से जुड़ें बात रख रहे थे और हल्ला कर रहे थे।

मैं अब चैनल चेंज ही करने वाला था कि लोकसभा अध्यक्ष ने नाम पुकारा बिहार के वैशाली के सांसद रंघुवंश सिंह अपनी बात रखेंगे।

मैं बिहार का नाम सुनते रुक गया ,सोचा अपने बिहार के नेता की भी सुन लू। जब रंघुवंश बाबु ने बोलना शुरू किया तो मैं सन्न रह गया,मैं क्या पूरा संसद खामोश हो गया कि ऐसे भी कोई बोलता वही भी अपने गठबंधन के सरकार में,अब तो ऐसे नही होता है साहब।

क्या दूरदर्शी सोच थी उस व्यक्ति की।उन्होंने संसद में उस समय कहा की देश मे किसानों और गरीबों का विकास तब तक नही हो सकता जब तक हर पंचायत में एक बैंक शाखा न हो और एक एक लोगो को उससे जोड़ न दिया जाए।
डीबीटी जैसे ऐतिहासिक कदम की संकल्पना करने वाले व्यक्ति रंघुवंश बाबु ही थे।

वो अलग बात है कि उस समय की सरकार इस बात को गंभीरता से नही ले सकी, मगर आज की सरकार उनके इस सलाह को माना। असल में रघुवंश बाबू के जीवन के देखे तो उनके हर बात में समाज मे अंतिम पंक्ति में खड़े लोगो की बात होती थी।वो हमेशा पार्टी,जाती, धर्म से परे लोगो के जनमुद्दे की बात किया करते थे।

ऐसा नेता अब कहां मिलेगा साहब जो विद्वता और जमीनी हकीकत के साथ अपनी बात संसद में रखता था, वह भी तार्किक रूप से।

जब आप देश के गरीब मजदूर को समर्पित योजना और देश की रीढ़ माने जाने वाली योजना मनरेगा के बारे में जानेंगे तो पता चलेगा उस योजना के बहुत बड़े सूत्रधार थे रंघुवंश बाबु।

रंघुवंश बाबु बिहार और खासकर वैशाली और मुज़फ़्फ़रपुर की धरती आपके उस कार्य को कभी नही भूल सकता जो आपने ग्रामीण विकास मंत्री रहने के दौरान जो आपने उस बिहार की गड्ढे भरे रोड की हेमामालिन का गाल बना दिया।
आज भी वह सड़के किनारे में लगा बोर्ड में लिखा कि वैशाली की धरती पर आपका स्वागत है ऐतिहासिक गवाही दे रहा है।

raghuvansh-prasad-singh

क्या क्या गिनाऊ बाबा के काम के बारे में,सैंकड़ों आलेख कम पड़ जाएंगे।

आपने विश्व के पहले लोकतंत्र वैशाली के पहचान के लिए क्या क्या नही किया।बाबा आपको पता था कि आप अब ज्यादा दिन नही रह पाएंगे।इसलिए जाते जाते भी अपने पहले लोकतंत्र वैशाली की पहचान के लिए आपने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से अपनी कई मांगे रख दी।

यही तो होता है बाबा असली नेता की पहचान जो विपक्ष में रहते हुए भी सत्ता पक्ष से एक सकारात्मक मांग करे। हमें भी आशा है बाबा की आपकी इस जनाकांक्षित मांग को मुख्यमंत्री जी जरूर पूरा करेंगे।

हमारे संस्कृति में कहा जाता है कि व्यक्ति जाते जाते अपने लिए मांगता है मगर बाबा आपने तो पूरे राष्ट्र की पहचान मांग कर हम सबको रुला दिया।मरते वक्त भी आप सिर्फ बिहार के लिए लिखते रहे वह भी अपने हाथों से।
बाबा आपने तो वो काम कर दिया जिसे संग्रहालय में ही जगह दिया सकता है।मैं बिहार सरकार से अनुरोध करूँगा की बाबा की जो भी चिठ्ठी और संदर्भ अभी बिहार को लेकर लिखी गई है उसे संग्रहालय में सुरक्षित सम्मान दिया जाए।

बाबा आपकी राजनीति शिष्टाचार और व्यवहारिकता को जगह देने के लिए तो गिनीज बुक रिकॉर्ड भी कम पर जाए। आज भी जहां लोग सोसल मीडिया पर एक दूसरे को गलियाते है और अपनी बात रखकर झूठी संवेदना लेते हैं।

वही पिछले दिन पूरे देश ने देखा कि आपने किस तरह शिष्टाचार पूर्वक एक चिठ्ठी लिख जो कि राजीनीति और कार्यपालिका की संवैधानिक शैली माना जाता है उसमें आपने राजीनीति मित्र लालू जी को लिखी और एक राज्य हित के लिए राज्य के आलाकमान को।

बाबा आप कभी डरे नही जो आपको अच्छा लगा,आपने सबसे कहा और यही चीज आपको राजीनीति का ब्रह्मा बाबा बना दिया।

बाबा आप बिहार राजनीति के पितामह थे और रहेंगे।बाबा आपको ये बिहार कभी नही भूल सकता। बस आज के नेताओ से इतनी सी गुजारिश है कि जिस तरह सर्वसामाज और सर्वपार्टी के लोकप्रिय नेता हमारे बाबा की ही तरह आपलोग भी बने। ताकि आपके लिए भी ऐसा लिखा जाए और कहा जाए।

बस बाबा ऊपर जाते है बिहार की वर्तमान स्थिति और राजनीति को माफ कर देना जिसकी चिंता चिंता करते करते आप स्वर्ग को चले गए।

कहना उस प्रभु की हमारे बिहार के नेताओ को सद्बुद्धि दे ताकि हमारा बिहार आगे बढ़ सके और तुम ऐसा करोगे बाबा मुझे पता है क्योंकि आपकी आत्मा सिर्फ बिहार और देश के लिए जीती थी।

आपसे कभी मिल न सका लेकिन आपके एक एक कार्य को सीने में लगाये बैठा हूँ और मैं ही नही पूरा बिहार आपके नाम और काम को जानता है बाबा।

इसी श्रद्धासुमन और श्रद्धांजलि के साथ आपही के बिहार और आपके मुज़फ़्फ़रपुर का एक छोटा सा लेखक.. संत राज़ बिहारी पूरे बिहार के श्रद्धामयी आंसुओ के साथ सत सत नमन करता है।

MUZAFFARPUR

सड़क पर बालू-गिट्टी रखना पड़ा महंगा, निगम ने काटा जुर्माना

Muzaffarpur Now

Published

on

मुजफ्फरपुर : वैसे दुकानदार जो सड़क किनारे बालू-गिट्टी रखकर अपना कारोबार चला रहे थे। उनके खिलाफ नगर निगम ने अब कार्रवाई करनी शुरू कर दी है, जहां लकड़ी ढाई सड़क पर जितने भी बालू-गिट्टी बेचने वाले कारोबारी थे उनमें से 4 दुकानदारों को 5000 का जुर्माना अधिरोपित किया गया। इसके साथ ही उन्हें 24 घंटे के अंदर सड़क पर रखी सभी अपनी सामग्री को हटाने का निर्देश जारी किया गया है।

नगर निगम ने आज कुल ₹20000 जुर्माने इसी तरह वसूले, जहां नगर निगम द्वारा यह कार्रवाई पूरे शहर में लगातार चलाए जाने का आश्वासन जारी किया गया है।

Continue Reading

BIHAR

बिहार में 22 अक्टूबर को होगा डीएलएड का एंट्रेंस एग्जाम, संयुक्त प्रवेश परीक्षा के लिए बनाये गए 380 सेंटर

Muzaffarpur Now

Published

on

बिहार बोर्ड ने डीएलएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा की तारीख जारी कर दी है। परीक्षा 22 अक्टूबर को आयोजित की जाएगी। परीक्षा के लिए प्रदेश भर में 380 केंद्रों पर बनाए गए हैं। पटना में ही इस परीक्षा के लिए 23 केंद्र बनाए गए हैं। इस परीक्षा का आयोजन सुबह 10 बजे से अपराह्न 12.30 तक किया जाएगा जिसमें कुल 150 प्रश्न वस्तुनिष्ठ होंगे, जिसका जवाब विद्यार्थियों द्वारा OMR SHEET पर दिया जाएगा।

आपको बता दें कि इससे पहले बिहार बोर्ड ( BSEB ) ने डीएलएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा 2020 को स्थगित कर दिया था। यह परीक्षा 10 अगस्त को होने वाली थी। बोर्ड द्वारा यह निर्णय कोविड-19 संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर लिया गया था। इसकी जानकारी सभी केंद्राधीक्षक, सभी जिलाधिकारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी, वरीय पुलिस अधीक्षक, पुलिस अधीक्षक को दे दी गई है। इससे पहले यह परीक्षा जुलाई में होनी वाली थी लेकिन हालात के चलते इस माह डेट नहीं तय की गई थी। इससे पहले यह परीक्षा 28 मार्च को होने वाली थी जिसे बोर्ड ने स्थगित कर दिया था।

इस परीक्षा में 1.8 लाख उम्मीदवारों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। इसके लिए बिहार बोर्ड की वेबसाइट www.biharboardvividh.com पर 29 दिसंबर तक आवेदन किए गए थे। संयुक्त प्रवेश परीक्षा एक घंटा 30 मिनट की होगी।

परीक्षा में 150 अंकों के प्रश्न और उनके 450 अंक निर्धारित हैं। परीक्षा में गलत उत्तर पर अंक भी काटे जायेंगे। प्रत्येक सही उत्तर के लिए तीन अंक दिये जायेंगे, जबकि प्रत्येक एक गलत उत्तर पर एक अंक काट लिया जाएगा।

प्रवेश परीक्षा का प्रारूप

विषय – कुल प्रश्न – निर्धारित अंक

सामान्य हिन्दी – 30 – 90

गणित – 30 – 90

विज्ञान – 20 – 60

सामाजिक अध्ययन – 20 – 60

विश्लेषणात्मक – 25 – 75

Source : Hindustan

Continue Reading

BIHAR

अब नेपाल जाना हुआ आसान, जयनगर-जनकपुर नेपाल रेल मार्ग पर ट्रेनों का परिचालन शुरू

Muzaffarpur Now

Published

on

मधुबनी जिले के जयनगर भारत-नेपाल अंतर्राष्ट्रीय सीमावर्ती क्षेत्र के लोगों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा, जब इन लोगों की वर्षो की आस पूरी हुई. भारत-नेपाल अंतराष्ट्रीय सीमावर्ती क्षेत्र के लिए लाइफलाइन माने जाने वाले नवनिर्मित जयनगर जनकपुर नेपाल रेल मार्ग पर आज पहली ट्रेन दौड़ी.

nepal-rail-janakpur-jaynagar

कोकन रेलवे के अभियंताओं की टीम यहां जैसे ही ट्रेन लेकर जनकपुर के लिए रवाना हुए मौके पर मौजूद लोगों ने ताली बजाकर स्वागत किया. रास्ते में भी ट्रेन को देखने के लिए काफी संख्या में लोग घंटों इंतजार करते दिखे.

Image

इससे पहले गुरुवार को नेपाल जाने के लिए कोकन से चलकर जैसे ही ट्रेन जयनगर रेलवे स्टेशन पहुंची जयनगर के स्थानीय लोगों में प्रसन्नता की लहर दौड़ गई. इस ट्रेन को देखने के लिए हजारों की संख्या में रात में लोग पहुंच गए. नेपाल सरकार को ट्रेन हैंड ओवर करने पहुंचे कोकन रेलवे के मुख्य अभियंता दीपक त्रिपाठी तथा मुख्य अभियंता जीबी नागेंद्र ने बताया कि अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित स्क्रीन में एक एसी कोच दो सेकंड क्लास, 1 पावर व्हाइट डीडीसी कोच कुल पांच बोगी है.

Image

एक जोड़ी ट्रेन यानी दो ट्रेन इसे नेपाल को सौंपने के लिए कोकन रेलवे के डिप्टी चीफ मैकेनिकल इंजीनियर बीपी राजन एवं शुभम पांडे लेकर जा रहे हैं.उन्होंने बताया कि ट्रेन कब से और कितने बजे से चलेगी या नेपाल सरकार को तय करना है . मौके पर निर्माण एजेंसी इरकॉन के प्रोजेक्ट मैनेजर बीके सहाय , निगम डिप्टी मैनेजर अरुण कुमार प्रभाकर ओवैस आलम डीके त्रिपाठी स्टेशन अधीक्षक राजेश मोहन मलिक उप स्टेशन अधीक्षक मंगल यादव आरपीएफ प्रभारी नागेंद्र सिंह समेत अन्य रेलकर्मी आम लोग उपस्थित रहे.

Source : Live Cities

Continue Reading
MUZAFFARPUR20 mins ago

सड़क पर बालू-गिट्टी रखना पड़ा महंगा, निगम ने काटा जुर्माना

BIHAR1 hour ago

बिहार में 22 अक्टूबर को होगा डीएलएड का एंट्रेंस एग्जाम, संयुक्त प्रवेश परीक्षा के लिए बनाये गए 380 सेंटर

BIHAR1 hour ago

अब नेपाल जाना हुआ आसान, जयनगर-जनकपुर नेपाल रेल मार्ग पर ट्रेनों का परिचालन शुरू

MUZAFFARPUR2 hours ago

पीएम मोदी के जन्मदिन पर सुलभ ने चलाया मुजफ्फरपुर में विशेष अभियान, मास्क वितरण कर लोगों को जागरूक किया

TECH2 hours ago

Google ने Paytm को प्ले स्टोर से हटाया, नियमों के उल्लंघन का आरोप

INDIA2 hours ago

Google ने गूगल प्ले स्टोर से Paytm को हटाया, App हटाने के पीछे बताई ये वजह

MUZAFFARPUR3 hours ago

गायघाट : BDO व थानाध्यक्ष ने बूथों का किया निरीक्षण

BIHAR3 hours ago

सीतामढ़ी से आनंद विहार के लिए चली स्पेशल ट्रेन, पीएम मोदी ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

MUZAFFARPUR3 hours ago

मुजफ्फरपुर : सलमान और करण जौहर समेत 8 फिल्मी हस्तियों को कोर्ट में पेश होने का आदेश

INDIA7 hours ago

कृषि बिल के खिलाफ सड़क पर उतरेंगे किसान, सहयोगी दलों ने बढ़ाई BJP की मुश्किलें

BIHAR6 days ago

KBC जीत करोड़पति बने थे सुशील कुमार, सेलेब्रिटी बनने के बाद देखा सबसे बुरा समय

BIHAR5 days ago

जाते जाते भी लोगो के लिए मांग रखकर, रुला गए ब्रह्म बाबा..

BOLLYWOOD1 day ago

कंगना रनौत का जया बच्चन को जवाब- हीरो के साथ सोने के बाद मिलता था 2 मिनट का रोल

JOBS2 weeks ago

Amazon दे रहा पैसा कमाने का मौका! सिर्फ 4 घंटे में कमा सकते हैं 60000-70000 रु

BIHAR1 week ago

बारिश में भीगकर ट्रैफिक कंट्रोल कर रहा था कांस्टेबल, रास्ते से गुजर रहे DIG ने गाड़ी रोक किया सम्मानित

MUZAFFARPUR7 days ago

पिता जदयू में और मां लोजपा में, बेटी कोमल सिंह लड़ेगी मुजफ्फरपुर के गायघाट से चुनाव!

BIHAR4 weeks ago

क्या बिहार के डीजीपी ने दे दिया इस्तीफा? जानिए खुद गुप्तेश्वर पांडेय ने ट्वीट कर क्या कहा?

BIHAR4 weeks ago

सुशांत सिंह की संपत्ति पर पिता ने जताया दावा, बोले- इस पर केवल मेरा हक

BIHAR3 weeks ago

बिहार में बड़ी संख्या में निकलने वाली है कंप्यूटर ऑपरेटर्स की भर्ती, कर लें तैयारी

INDIA3 weeks ago

एलपीजी सिलिंडर बुकिंग पर मिल रहा है 500 रुपये तक का कैशबैक, करें बस यह छोटा सा काम

Trending