Connect with us

WORLD

जिंदा हैं तानाशाह किम जोंग उन, 20 दिन बाद बहन किम यो के साथ आए नज़र

Muzaffarpur Now

Published

on

प्योंगयांग. उत्तर कोरिया (North Korea) के सुप्रीम लीडर किम जोंग उन (Kim Jong Un) ब्रेन डेड होने और हार्ट सर्जरी के दौरान मौत होने जैसी अटकलों के बीच शुक्रवार को सार्वजनिक तौर पर लोगों के सामने आ गए. उत्तर कोरिया की सरकारी न्यूज एजेंसी ने इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि किम 20 दिनों के बाद एक बार फिर लोगों के बीच पहुंचे और उसने बातचीत भी की.

कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (केसीएनए) के अनुसार किम जोंग उन प्योंगयांग के काफी नजदीक बनी एक फर्टिलाइजर फैक्ट्र्री का काम पूरा होने के मौके पर वहां पर पहुंचे थे. इस दौरान किम की बहन किम यो जोंग भी उनके साथ मौजूद थीं. हालां​कि उत्तर कोरिया की मीडिया ने उनके इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण भी किया था.

मुस्कुराते नज़र आए किम जोंग

KCNA के मुतबिक किम जोंग के इस तरह जनता के सामने आने से उनकी सेहत को लेकर उठाए गए सभी सवालों के जवाब मिल गए हैं. सुप्रीम लीडर जो कि नॉर्थ कोरिया में सभी लोगों के नेता हैं ने फैक्ट्री का उदघाटन पर कई लोगों की जिंदगी सुधारी है. किम की जो तस्वीरें जारी की गयीं हैं उनमें वे मुस्कुराते हुए नज़र आ रहे हैं. किम ने इस पूरे प्लांट का दौरा भी किया और कई लोगों से मुलाक़ात भी की.

उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन को लेकर दावा किया जा रहा है कि उनका ‘ब्रेन डेड’ हो गया है. यानी वो कोमा में चले गए हैं. इससे पहले अमेरिकी ख़ुफ़िया एजेंसियों ने दावा किया था कि किम जोंग की हार्ट की सर्जरी असफल रही और उनकी मौत हो गई है. हालांकि नॉर्थ कोरिया की तरफ से अधिकारिक तौर किसी भी दावे कि पुष्टि नहीं की गई थी.

कोरोना की वजह से खुद को छुपाया

किम जॉन्ग उन को लेकर दुनियाभर में चल रही खबरों के बीच दक्षिण कोरिया की तरफ से लगातार कहा गया है कि उन्हें कुछ नहीं हुआ है. एक दक्षिण कोरियाई मंत्री ने दावा किया कि संभव है किम जॉन्ग उन ने खुद को कोरोना के डर से छुपा रखा हो. हालांकि दुनियाभर से कटे हुए देश उत्तर कोरिया में कोरोना का एक भी मामला सामने नहीं आया है.

2014 में भी गायब हुआ था किम

ऐसा पहली बार नहीं है जब किम जॉन्ग लोगों की नजरों से ओझल हुआ हो. साल 2014 में भी एक बार वो तकरीबन एक महीने के लिए गायब हो गया था. हालांकि उस वक्त दक्षिण कोरिया के मीडिया की तरफ से दावा किया गया था कि किम की तबीयत खराब है. खैर इन सारी खबरों के बीच करीब 25 दिन बीत चुके हैं लेकिन न किम जॉन्ग सामने आया है और न ही उसकी सरकार की तरफ से कोई स्पष्टीकरण दिया गया है. ऐसे में संभव है कि आने वाले दिनों में उत्तर कोरिया को लेकर और कयासबाजी सामने आए.

Input : News18

INDIA

इंग्लैंड में भी है एक पटना, बिहार की राजधानी से भी जुड़ा है इसका नाता

Muzaffarpur Now

Published

on

आपको जानकर हैरानी होगी कि बिहार (Bihar) की राजधानी पटना (Patna) के नाम पर इंग्लैंड के स्कॉटलैंड में एक गांव बसा है. इससे भी ज्यादा हैरान आप तब हो जाएंगे जब आपको इस बात की जानकारी मिलेगी कि इस पटना का बिहार की राजधानी पटना से कनेक्शन भी है. स्कॉटलैंड (Scotland) में स्थित यह पटना बिहार की राजधानी पटना की तरह गंगा नदी के तट पर ही एक नदी के तट पर स्थित है. इस नदी का नाम है दून नदी है, जिसके दोनों किनारों पर यह गांव स्थित है. गांव के बीच से ही दून नदी निकलती है. बिहार के लोग भले ही स्कॉटलैंड के पटना गांव को नहीं जानते लेकिन पटना गांव के लोग बिहार और पटना से बखूबी परिचित हैं.

दरअसल, पटना गांव के प्राइमरी स्कूल के बच्चों को उनके गांव के इतिहास से जब अवगत कराया जाता है तब उसमें बिहार की राजधानी पटना की चर्चा होती है. इस पटना गांव के लोग बिहार के पटना को बखूबी जानते हैं. स्कॉटलैंड का यह पटना बिहार की राजधानी पटना से 10 हज़ार किलोमीटर दूर है. यह पटना गांव ग्लास्गो के पास इस्ट ईयर शायर काउंसिल में और इंग्लैंड की राजधानी लंदन से करीब 650 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. क्षेत्रफल के हिसाब से यह गांव छोटा है जिसकी ख्याति शांत और स्वच्छ वातावरण के लिए अधिक है. बिहार की राजधानी पटना की आबादी लाखों में हो है लेकिन स्कॉटलैंड वाले पटना की आबादी काफी कम है.

फुलटीन परिवार ब्रिटेन वापस लौट गया

दरअसल, इस गांव का नाम पटना ऐसे ही नहीं पड़ा है. बिहार की राजधानी पटना से इसका कनेक्शन भी जुड़ा है. 1745 में एक ब्रिटिश कारोबारी विलियम इन ब्रिटिश इंडिया कंपनी के साथ बिहार पहुंचा था. बिहार से ब्रिटेन में यह कारोबारी भारी मात्रा में चावल का निर्यात करता था. इसके बाद कारोबारी के भाई जॉन फुलटीन ईस्ट इंडिया कंपनी की सेना में मेजर जनरल के पद पर पटना में पदस्थापित हुआ. 1774 में पटना में हीं मेजर जनरल को एक बेटा हुआ जिसका नाम रखा गया विलियम फुलटीन. इस बच्चे का बचपन पटना में ही बीता था. जॉनफुल टीन की मौत के बाद फुलटीन परिवार ब्रिटेन वापस लौट गया.

नौकरी के लिए पलायन करते हैं लेकिन इस दौरान भारत में यह परिवार आर्थिक रूप से काफी संपन्न हो चुका था, जिसने लौटने के बाद स्कॉटलैंड में खादान का धंधा शुरू किया. साल 1802 में विलियम फुलटन ने यही अपनी जन्मस्थली पटना के नाम पर गांव बसाया जिसमें कोयला खदान में काम करने वाले मजदूर रहा करते थे. अभी यह खदान बंद हो चुका है लेकिन इस गांव में पटना नाम से एक रेलवे स्टेशन भी था जो 1964 के बाद अस्तित्व में नहीं रहा. कभी साधन संपन्न रहें इस गांव में रोजगार की कमी की वजह से लोग बाहर दूसरी जगह पर नौकरी के लिए पलायन करते हैं.

Source : News18

Continue Reading

WORLD

चीन का दौरा करने वाली WHO की टीम ने पेश की रिपोर्ट, बताया दुनिया में कैसे फैला कोरोना

Muzaffarpur Now

Published

on

सार्स-कोव-2 वायरस यानी कोरोना वायरस के किसी प्रयोगशाला से लीक होने की आशंका न के बराबर है। यह वायरस संभवत: चमगादड़ से अन्य जंतुओं के जरिये मनुष्यों में फैला होगा। कोविड-19 की उत्पत्ति का रहस्य खंगालने के लिए चीन का दौरा करने वाली विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की टीम की मसौदा रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।

रिपोर्ट में कई अनसुलझे सवालों के जवाब नहीं दिए गए हैं। डब्ल्यूएचओ टीम ने वायरस के प्रयोगशाला से लीक होने के मामले को छोड़कर अन्य सभी पहलुओं पर आगे जांच करने का प्रस्ताव रखा है। रिपोर्ट को जारी किए जाने में लगातार देरी हो रही है, जिससे सवाल उठ रहे हैं कि कहीं चीनी पक्ष जांच के निष्कर्ष को प्रभावित करने का प्रयास तो नहीं कर रहा, ताकि बीजिंग पर कोविड-19 महामारी फैलने का दोष न मढ़ा जाए।

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने हाल ही में सीएनएन को दिए एक साक्षात्कार में कहा था, हमारी चिंता इस रिपोर्ट की कार्यप्रणाली और प्रक्रिया को लेकर है। यह भी एक तथ्य है कि चीनी सरकार ने इस रिपोर्ट को तैयार करने में मदद की है। वहीं, चीन ने सोमवार को ब्लिंकन की इस आलोचना को खारिज कर दिया। चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने कहा कि अमेरिका रिपोर्ट के संबंध में जो कुछ बोल रहा है, उसके जरिये क्या वह डब्ल्यूएचओ के विशेषज्ञों पर राजनीतिक दबाव डालने का प्रयास नहीं कर रहा?

एक जांच एजेंसी को सोमवार को जेनेवा में डब्ल्यूएचओ के सदस्य देश के राजनयिक से जांच टीम की रिपोर्ट मिली है। हालांकि, यह स्पष्ट नहीं हो पाया गया है कि रिपोर्ट को जारी करने से पहले उसमें बदलाव किया जाएगा या नहीं। वहीं, राजनयिक का कहना है कि यह रिपोर्ट का अंतिम संस्करण है।

इस बीच, डब्ल्यूएचओ प्रमुख टेड्रोस अदानोम गेब्रेयसस ने स्वीकार किया कि उन्हें सप्ताहांत में रिपोर्ट प्राप्त हो गई थी। इसे मंगलवार को औपचारिक तौर पर पेश किया जाएगा। विशेषज्ञों ने सार्स-कोव-2 वायरस की उत्पत्ति की चार परिस्थितियां बताई हैं। इनमें चमगादड़ों से अन्य जंतुओं में इसका प्रसार मुख्य है।

Input: Live Hindustan

Continue Reading

WORLD

12 साल के लड़के को मिठाई देकर खेत में ले गई 38 साल की महिला, फिर की गंदी हरकत

Muzaffarpur Now

Published

on

ब्रिटेन में एक 38 साल की महिला 12 साल के बच्चे का यौन शोषण करने की दोषी पाई गई है। करीब दो सप्ताह तक सुनवाई के बाद महिला दोषी करार दी गई है। महिला बच्चे को मिठाई और खाने-पीने का अन्य सामान देकर खेत में ले गई और उसके साथ गंदी हरकतें कीं।

लंदन के डर्बी में 38 वर्षीय डेबोरा येट्स ने बच्चे को फोन और पैसों का भी लालच दिया और उसे स्कूल बंक करने पर तैयार किया। महिला पर तीन अपराध साबित हुए हैं। इसमें 13 साल से कम उम्र के बच्चे का यौन शोषण और अपहरण शामिल है। दोषी पाई गई महिला 3 बच्चों की मां है।

अभियोजक एंड्र्यू वोउट ने 2017 में हुए इस अपराध के बारे में बताया कि महिला ने बच्चे को लालच देकर तैयार किया। स्कूल के पास एक खेत में ले जाकर उसने बच्चे को किस किया और उसके साथ छेड़छाड़ की। बच्चा जब स्कूल से अक्सर गायब रहने लगा तो टीचर चिंतित हो गए थे। इस बीच एक दिन टीचर ने उसे महिला के साथ झाड़ियों में देख लिया। इसके बाद महिला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था।

Input: Live Hindustan

Continue Reading
BIHAR14 mins ago

लापरवाही: बिहार में पुलिसिया रौब दिखाकर पान की गुमटी चलाता रहा कोरोना पॉजिटिव, संक्रमण चेन बनने का बढ़ा खतरा

BIHAR31 mins ago

बिहार में 3.82 फीसदी की औसत दर से बढ़ रहा है कोरोना संक्रमण, टॉप 4 जिलों में ही 56 फीसदी केस

BIHAR35 mins ago

बिहार में 16 मई तक सभी म्यूजिम, स्टेडियम और पुरातत्विक स्थल बंद, जिम, स्विमिंग पूल, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स भी नहीं खुलेंगे

BIHAR43 mins ago

बिहार में लॉकडाउन लगना तय? सीएम नीतीश बोले- जो लोग दूसरे राज्यों से वापस आना चाहते हैं, वे जरूर आयें, 18 को बड़ा एलान!

MUZAFFARPUR47 mins ago

कोरोना के बीच चमकी का कहर शुरू, मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच में एक बच्ची ने तोड़ा दम

MUZAFFARPUR52 mins ago

पताही हवाई अड्डे में फिर कोविड अस्पताल खोलने की मांग

DHARM1 hour ago

दुल्हन की तरह सजा मां वैष्णो का दरबार, जयकारों से गूंज रहा त्रिकुटा पर्वत

MUZAFFARPUR11 hours ago

कोरोना काल में पांच राज्यों में हो रहे चुनाव को रद्द करने की मांग को लेकर धरने पर बैठे कांग्रेस विधायक

MUZAFFARPUR12 hours ago

गायघाट में एसडीओ ने गेहूं काटकर किया क्रॉप कटिंग का शुभारंभ, बेरूआ में क्राप कटिंग का निरीक्षण करते अधिकारी

INDIA12 hours ago

कोरोना से बचाव की गारंटी नहीं है वैक्सीन, तीव्रता होगी कम: एक्सपर्ट्स

BIHAR4 weeks ago

अलर्ट! बिहार में वैक्सीन लेने के बावजूद आंगनबाड़ी सेविका कोरोना पीड़ित, पटना एम्स में तोड़ा दम

VIRAL4 weeks ago

पबजी खेलते हुआ था प्यार, हिमाचल से वाराणसी पहुंची महिला, युवक निकला कक्षा 2 का छात्र

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर में नौ जगहों पर बनेगा माइक्रो कंटेनमेंट जोन, इसमें कहीं आपका इलाका तो नहीं

HEALTH7 days ago

ये 5 लक्षण मुंह पर दिखें तो तुरंत करवा लें जांच, हो सकता है कोरोना

INDIA3 weeks ago

ये 4 बैंक जल्द ही सरकारी से प्राइवेट हो सकते हैं! करोड़ों ग्राहकों पर क्या होगा असर?

BIHAR4 weeks ago

दरभंगा एयरपोर्ट पर जादूगर का साया, एक व‍िमान फ‍िर गायब

INDIA4 weeks ago

होली पर अपने घर जाने वाले यात्रियों को बड़ा झटका, रेलवे ने कैंसिल कर दी कई ट्रेनें

TRENDING3 weeks ago

मिट्टी का तेल सिर पर छिड़ककर बाल सीधे करने के प्रयास में लड़के की मौत

TRENDING3 weeks ago

‘प्रदूषण का पुरुषों के प्राइवेट पार्ट पर पड़ रहा बुरा असर’, दीया मिर्जा ने ऐसे किया रिएक्ट

BIHAR4 weeks ago

बिहार के स्कूल में कोरोना की दस्तक, छठी कक्षा का छात्र निकला पॉजिटिव

Trending