टीम इंडिया के भारतीय सेना की कैप पहनने पर बौखलाया पाकिस्तान, की ये मांग
Connect with us
leaderboard image

SPORTS

टीम इंडिया के भारतीय सेना की कैप पहनने पर बौखलाया पाकिस्तान, की ये मांग

Avatar

Published

on

पाकिस्तान (Pakistan) ने भारतीय क्रिकेटरों के ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के खिलाफ तीसरे वनडे के दौरान सेना की विशेष कैप पहनने के लिए आईसीसी से कार्रवाई की मांग की और विराट कोहली की टीम पर खेल में राजनीति करने का आरोप लगाया। पुलवामा आतंकवादी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों के प्रति सम्मान व्यक्त करने के लिये भारतीय क्रिकेटरों ने शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे वनडे में सेना की विशेष कैप पहनी और अपनी मैच फीस राष्ट्रीय रक्षा कोष में दी।

न्यूज एजेंसी भाषा के मुताबिक पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के कम से कम 40 जवान शहीद हो गए थे। पाकिस्तान के विदेशी मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद को इसके बारे में कुछ करना चाहिए। पाकिस्तानी मीडिया के हवाले से कुरैशी ने कहा, ”दुनिया ने देखा कि भारतीय टीम ने अपनी खेल वाली कैप के बजाय सेना की विशेष कैप पहनी, क्या आईसीसी ने इसे नहीं देखा? हमें लगता है कि यह आईसीसी की जिम्मेदारी है कि वे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड द्वारा इसका ध्यान दिलाये जाने के बजाय खुद इसका संज्ञान लें।

भारतीय टीम इस मैच में 32 रन से हार गयी थी लेकिन फिर भी पांच मैचों की श्रृंखला में 2-1 से आगे है। सूचना मंत्री फवद चौधरी ने भी कुरैशी की बात का समर्थन करते हुए ट्वीट किया, ”यह सिर्फ क्रिकेट नहीं है। उन्होंने कहा, ”और अगर भारतीय टीम को नहीं रोका गया तो पाकिस्तानी क्रिकेट टीम को भी दुनिया को कश्मीर में भारतीय ज्यादती के बारे में याद दिलाने के लिये काली पट्टी पहननी चाहिए। मंत्री ने साथ ही अनुरोध किया कि पीसीबी को भारत के खिलाफ खेल की विश्व संचालन संस्था में आधिकारिक विरोध दर्ज कराना चाहिए।

 Input : Hindustan

 

 

 

SPORTS

कुमार धर्मसेना बोले- हां ‘ओवरथ्रो’ पर मैंने गलत फैसला दिया, लेकिन मुझे इसका मलाल नहीं

Avatar

Published

on

अंपायर कुमार धर्मसेना ने स्वीकार किया है कि विश्व कप फाइनल में ओवरथ्रो पर इंग्लैंड को छह रन देना उनकी गलती थी। लेकिन साथ ही धर्मसेना ने यह भी कहा कि इस फैसले का उन्हें कभी मलाल नहीं होगा। मार्टिन गुप्टिल का थ्रो दूसरा रन लेने की कोशिश कर रहे बेन स्टोक्स के बल्ले से टकराने के बाद सीमा रेखा के पार चला गया था। जिसके बाद धर्मसेना ने पांच की जगह इंग्लैंड के स्कोर में छह रन जोड़ने का इशारा किया था।

फाइनल में ओवरथ्रो पर हुआ था विवाद     

यह मैच बाद में टाई रहा और सुपर ओवर में भी दोनों टीमों ने समान रन बनाए। जिसके बाद इंग्लैंड को अधिक बाउंड्री लगाने के कारण विजेता घोषित किया गया जिससे न्यूजीलैंड के खिलाड़ी हैरान थे। धर्मसेना ने ‘संडे टाइम्स’ से बातचीत में कहा, ‘टीवी रीप्ले देखने के बाद लोगों के लिए टिप्पणियां करना आसान होता है। अब टीवी रीप्ले देखने के बाद मैं स्वीकार करता हूं कि फैसला करने में गलती हुई।’

‘टीवी देखने वालों के लिए टिप्पणी आसान’

धर्मसेना ने कहा, ‘लेकिन मैदान पर टीवी रीप्ले देखने की सहूलियत नहीं थी और मुझे अपने फैसले पर कभी मलाल नहीं होगा। साथ ही आईसीसी ने उस समय किए फैसले के लिए मेरी सराहना की है।’ कुमार धर्मसेना ने लेग अंपायर मराइस इरासमस से सलाह मशविरे के बाद इंग्लैंड के स्कोर में छह रन जोड़ने का फैसला किया था। इंग्लैंड को अंतिम तीन गेंद पर जीत के लिए नौ रन की दरकार थी और इसके बाद उसे दो गेंद में तीन रन चाहिए थे।

हम टीवी रीप्ले नहीं देख सकते थे: धर्मसेना        

धर्मसेना ने कहा कि नियमों के अनुसार इस घटना को लेकर तीसरे अंपायर से सलाह लेने का कोई प्रावधान नहीं था। उन्होंने कहा, ‘नियमों में इस मुद्दे को तीसरे अंपायर के पास भेजने का कोई प्रावधान नहीं था क्योंकि कोई आउट नहीं हुआ था। इसलिए मैंने संवाद प्रणाली के जरिए लेग अंपायर से सलाह ली जिसे सभी अन्य अंपायरों और मैच रैफरी ने सुना। वे टीवी रीप्ले नहीं देख सकते थे, उन सभी ने पुष्टि की कि बल्लेबाजों ने रन पूरा कर लिया है। इसके बाद मैंने अपना फैसला किया।’

Input : Hindustan

Continue Reading

SPORTS

टीम इंडिया में मतभेद चरम पर, एक-दूसरे के खिलाफ खबरें लीक करवा रहे खिलाड़ी

Avatar

Published

on

भारतीय क्रिकेट टीम में दो वरिष्ठ खिलाड़ियों की लड़ाई अब चरम पर पहुंच गई है। इन दोनों के खेमे अब एक-दूसरे के खिलाफ खबरें लीक करने में जुट गए हैं। हालांकि, इससे टीम इंडिया का ही नुकसान हो रहा है। दैनिक जागरण ने ही सबसे पहले बताया था कि विश्व कप की 15 सदस्यीय टीम के चयन और उसके बाद अंतिम एकादश के चयन को लेकर टीम में मतभेद थे। अब ये मतभेद चरम पर पहुंच गए हैं और हालत यह है कि टीम के दो वरिष्ठ खिलाड़ियों से जुड़ी मैनेजमेंट एजेंसी और बीसीसीआइ में इनके गुट के लोग एक-दूसरे के खिलाफ खबरें लीक करने में जुट गए हैं।

एक दिन पहले ही यह खबर आई थी कि प्रशासकों की समिति (सीओए) ने कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री से पत्नी और प्रेमिकाओं की यात्राओं का ब्यौरा मांगा, तो अब खबर आई कि एक वरिष्ठ बल्लेबाज ने विश्व कप के दौरान 15 दिन से ज्यादा पत्नी को साथ में रहने की इजाजत मांगी थी, लेकिन सीओए ने इसे सिरे से खारिज कर दिया था।

कोच और कप्तान से इजाजत लिए बिना अपनी पत्नी को साथ रखा
सीओए ने खिलाड़ियों को विश्व कप में पत्नियों और गर्लफ्रेंड को साथ में रखने के लिए सिर्फ 15 दिन की इजाजत दी थी, लेकिन एक सीनियर खिलाड़ी ने कोच और कप्तान से इजाजत लिए बिना अपनी पत्नी को विश्व कप की शुरुआत से भारतीय टीम के सेमीफाइनल में बाहर होने तक साथ में रखा। इन दोनों खिलाडि़यों का प्रबंधन अलग-अलग मैनेजमेंट कंपनियां करती हैं और उनकी तरफ से भी एक-दूसरे के खिलाफ जाने वाली खबरों को लीक किया जा रहा है, जिससे एक-दूसरे की छवि को धूमिल किया जा सके। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के पदाधिकारी ने कहा कि अगर ऐसा हो रहा है तो यह टीम के लिए अच्छा नहीं है। सीनियर खिलाडि़यों को आपस में बैठकर विवाद को निपटा लेना चाहिए।

विश्व कप में परिवार के साथ में रुकने का सीनियर खिलाड़ी का निवेदन
वहीं प्रेट्र की खबर के मुताबिक टीम इंडिया के एक सीनियर खिलाड़ी ने निवेदन किया था कि उसके पत्नी और बच्ची को विश्व कप के दौरान सात सप्ताह तक साथ में रुकने दिया जाए। सीओए की बैठक में इस पर चर्चा भी हुई थी, लेकिन उस खिलाड़ी को इसकी इजाजत नहीं दी गई थी।

खिलाड़ियों के परिवार के रुकने को लेकर नियम बनाए गए थे
सीओए की 21 मई को हुई बैठक में विश्व कप में भाग लेने वाली टीम के खिलाड़ियों के परिवार के रुकने को लेकर नियम बनाए गए थे। उस मीटिंग के मिनट्स के अनुसार सिर्फ 15 दिन तक ही परिवार को खिलाडि़यों के साथ रुकने की अनुमति दी गई थी।

तय समय से ज्यादा रहने पर लेनी थी इजाजत
इसके साथ ही यह तय किया गया था कि अगर इस समय से ज्यादा कोई रहता है तो उसके लिए बीसीसीआइ प्रबंधन या फिर कोच और कप्तान से इजाजत लेनी होगी। मिनट्स में लिखा गया है कि इस तरह के मामलों को बीसीसीआइ प्रबंधन ही देखता है। इसके साथ ही बीसीसीआइ के संविधान में क्रिकेट और गैर क्रिकेट मामलों को अलग-अलग देखने की जरूरत भी बताई गई थी।

खिलाड़ी सवालों के घेरे में
बीसीसीआइ के एक अधिकारी ने कहा कि हां, वही खिलाड़ी सवालों के घेरे में है जिसके निवेदन को तीन मई को हुई बैठक में ठुकरा दिया गया था। उन्होंने विश्व कप में 15 दिन के नियम को तोड़ा है। अब सवाल यह उठता है कि क्या उन्होंने पत्नी की समय सीमा बढ़ाने पर कोच या कप्तान से इजाजत ली थी? जवाब है नहीं। इस मामले की रिपोर्ट अभी सीओए के पास जानी बाकी है।

टीम मैनेजर ने मामले को नहीं सुलझाया
सवाल यह भी उठता है कि टीम मैनेजर सुनील सुब्रमण्यम ने इस मामले को नहीं सुलझाया, जबकि यह उनके कार्य के अंतर्गत आता है। अधिकारी ने कहा कि सुनील क्या कर रहे थे? उनका कार्य टीम के ट्रेनिंग सत्र को देखना नहीं है। इसके लिए कोच कप्तान और दूसरे सहायक स्टाफ मौजूद हैं। उम्मीद है कि सीओए इस मामले को ध्यान में रखेगा और मैनेजर से रिपोर्ट मांगेगा।

Input : Dainik Jagran

Continue Reading

SPORTS

धोनी की तुरंत संन्यास लेने की कोई योजना नहीं, उनके दोस्त ने रिटायरमेंट की अटकलों को खारिज किया

Avatar

Published

on

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और क्रिकेट जगत में कैप्टन कूल के नाम से मशहूर महेंद्र सिंह धोनी के रिटायरमेंट को लेकर कयासों का बाजार गर्म है। इस बीच माही के पुराने दोस्त और उनकी स्पोर्ट्स कंपनी के मैनेजर अरुण पांडे ने कहा- अभी धोनी का रिटायर होने का कोई प्लान नहीं है। इतने बड़े खिलाड़ी के भविष्य को लेकर इस तरह के कयास लगाना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है।

दरअसल, विश्वकप सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों भारतीय क्रिकेट टीम की हार से खेल जगत में धोनी के रिटायरमेंट का मुद्दा छा गया था। पांडे का यह बयान ठीक ऐसे समय आया है, जब रविवार को भारतीय क्रिकेट टीम का चयन वेस्डइंडीज दौरे के लिए किया जाना है।

धोनी की स्पोर्ट्स कंपनी का काम संभालते हैं पांडे

रिपोर्ट के अनुसार एक बार धोनी का स्थिति स्पष्ट होने के बाद भारतीय टीम का चयन हो जाएगा। वेस्टइंडीज दौरा 3 अगस्त से शुरू होना है। माना जा रहा है कि बीसीसीआई जल्द ही एमएस से इस बारे में बात करेगी। पांडे, धोनी के साथ लंबे समय से जुड़े हुए हैं। वे उनकी स्पोर्ट्स मैनेजमेंट कंपनी का काम भी संभालते हैं।

धोनी ने आईसीसी के बड़े टूर्नामेंटों में भारत को जीत दिलाई

धोनी ने अपनी कप्तानी में भारतीय क्रिकेट टीम को आईसीसी के बड़े टूर्नामेंटों में जीत दिलवाई। इनमें विश्वकप, टी-20 विश्वकप और चैंपियंस ट्राफी शामिल है। धोनी ने पिछली पारी सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली थी। इसमें उन्होंने 50 रन बनाए थे। इस पारी को सराहा गया था। हालांकि भारत यह मैच हार गया। मार्टिन गप्टिल के सीधे थ्रो से धोनी रन आउट हो गए थे। भारत का विश्वकप का सफर समाप्त हो गया था।

धोनी ने भारत के लिए 350 वनडे खेले

इससे पहले धोनी और रवींद्र जडेजा ने 116 रनों की साझेदारी कर भारतीय प्रशंसकों के बीच एक बार फिर उम्मीद जगाई थी। भारत इस मैच में 240 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रहा था। धोनी ने भारत के लिए 350 वनडे, 90 टेस्ट, 98 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं। उन्होंने 10,773 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका औसत 50 से ज्यादा रहा। टेस्ट मैचों में धोनी ने 38.09 की औसत से 4876 रन बनाए हैं।

Input : Dainik Bhaskar

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
MUZAFFARPUR10 mins ago

बोल बम का गूंजा उद्घोष, शिवमय हुई गरीबनाथ नगरी

MUZAFFARPUR2 hours ago

मुजफ्फरपुर की ‘कृष्णा बम’ के जज्बे को सलाम, 38 सालों से कर रहीं देवघर में जलाभिषेक

INDIA3 hours ago

नई व्यवस्था : छात्र अब ले सकेंगे एक साथ कई डिग्रियां

BIHAR4 hours ago

प्रदेश में कोई भी बाढ़ पीड़ित भूखा नहीं रहेगा : मुख्यमंत्री

Uncategorized14 hours ago

बाबा गरीबनाथ की नगरी मुजफ्फरपुर में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्रावणी मेला की शुरूआत

SPORTS16 hours ago

कुमार धर्मसेना बोले- हां ‘ओवरथ्रो’ पर मैंने गलत फैसला दिया, लेकिन मुझे इसका मलाल नहीं

BIHAR21 hours ago

रामविलास पासवान के भाई रामचंद्र पासवान का निधन, समस्तीपुर से थे सांसद

MUZAFFARPUR22 hours ago

औरंगाबाद के डीएम ने बनाया किर्तिमान, मुजफ्फरपुर हैं मातृभूमि

WORLD22 hours ago

अमेरिका पहुंचे इमरान खान की एयरपोर्ट पर ‘घनघोर बेइज्जती’, स्वागत नहीं होने पर मेट्रो से जाना पड़ा होटल

INDIA23 hours ago

कोर्ट ने बढ़ाई एजाज खान की मुश्किलें, अब 14 दिनों के लिए पुलिस हि’रासत में

INDIA4 weeks ago

पूरे देश में एक जैसा होगा लाइसेंस, राज्य नहीं कर पाएंगे कोई बदलाव

BIHAR1 week ago

सुबह में ढोयी बालू की बोरियां, शाम में लग गए एनडीआरएफ के साथ… ऐसे हैं डीएम साहब

BIHAR6 days ago

बिहार में पहली बार पुलिसकर्मियों पर हुई बड़ी कार्रवाई, 3 DSP, 50 इंस्पेक्टर सहित 66 पर FIR

BIHAR6 days ago

पटना पहुंचे रितिक रोशन, आनंद कुमार के पैर छुए, कहा- लगता है पिछले जन्म में मैं बिहारी ही था

MUZAFFARPUR3 weeks ago

मुजफ्फरपुर में सरकारी राशि की मची है लूट, मनरेगा योजना में मजदूरों के बदले चल रहे JCB और टैक्टर

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर : लड़की ने किया सु’साइड, कूद गई पानी की टंकी से

MUZAFFARPUR4 weeks ago

DM ने बढ़ाई स्कूल खुलनें की तारीख, सभी सरकारी-गैर सरकारी मे जारी रहेगा धारा 144

BIHAR3 weeks ago

बिहार में मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, इन जिलों में भीषण बारिश और आंधी

MUZAFFARPUR2 weeks ago

पब्लिक ट्रांसपोर्ट : Hello My Taxi ने मुजफ्फरपुर कैब के साथ शुरू की कैब सर्विस

INDIA3 weeks ago

चलते वाहन की चाबी नहीं निकाल सकती पुलिस, सिर्फ इनका है चालान करने का अधिकार

Trending

0Shares