Connect with us

INDIA

नि’र्भया के दो’षियों की फां’सी का रास्ता साफ, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की विनय और मुकेश की क्यूरे’टिव पि’टीशन

Santosh Chaudhary

Published

on

नई दिल्ली :

दिल्ली के नि’र्भया गैं’गरे’प के’स में पटियाला हाउस कोर्ट से डे’थ वॉरं’ट जारी होने के बाद 2 दो’षियों विनय और मुकेश की ओर से डाली गई क्यूरेटिव पि’टीशन पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने खारिज कर दी है. फां’सी की तारीख तय होने के बाद दो’षी विनय शर्मा और मुकेश सिंह ने क्यूरेटिव पिटीशन दायर की थी. क्यूरेटिव पिटिशन पर सुनवाई खुली अदालत में न होकर जजों के चैंबर में दोपहर पौने दो बजे हुई, जिसमें किसी भी पक्ष के वकील को मौजूद होने और बहस करने की इजाज़त नहीं होती है.

जस्टिस एनवी रमना, अरुण मिश्रा, आरएफ नरीमन, आर. भानुमति और अशोक भूषण की बेंच इस मामले पर सुनवाई की. ऐसे में निर्भया के दोषियों को 22 जनवरी को फांसी दिए जाने का रास्ता साफ हो गया है. हालांकि अभी उनके पास राष्ट्रपति के पास दया याचिका भेजने का विकल्प बचा हुआ है.

निर्भया के दोषी विनय शर्मा के वकील एपी सिंह ने दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में 9 जनवरी और मुकेश सिंह के वकील वृंदा ग्रोवर ने 10 जनवरी को क्यूरेटिव पिटीशन दायर की थी. पिटीशन में दोनों दोषियों की फांसी की सज़ा को उम्रकैद में बदलने की मांग की गई थी. विनय ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट सहित सभी अदालतों ने मीडिया और नेताओं के दबाव में आकर उन्हें दोषी ठहराया है. गरीब होने के कारण उसे मौत की सजा सुनाई गई है. विनय ने दलील दी कि जेसिका लाल मर्डर केस में दोषी मनु शर्मा ने नृशंस और अकारण हत्या की थी, लेकिन उसे सिर्फ उम्रकैद की सजा दी गई.

निर्भया की मां ने कहा- 22 जनवरी को बेटी को मिलेगा न्याय

दोषियों की क्यूरेटिव पिटीशन पर निर्भया की मां आशा देवी ने कहा, ‘दोषियों ने फांसी में बस देरी करने के लिए क्यूरेटिव पिटीशन डाली है. मुझे पूरा भरोसा है कि आज भी उनकी याचिका खारिज हो जाएगी. 22 जनवरी की सुबह चारों दोषियों को फांसी पर लटकाया जाएगा और निर्भया को न्याय मिलेगा.’

क्या होता है क्यूरेटिव पिटीशन

क्यूरेटिव पिटीशन को न्यायिक व्यवस्था में इंसाफ पाने के आखिरी उपाय के तौर पर जाना जाता है. ये आखिरी उपाय है, जिसके जरिए कोई अनसुनी रह गई बात या तथ्य को कोर्ट सुनती है. ये सुप्रीम कोर्ट द्वारा दी गई व्यवस्था है, जो उसकी ही शक्तियों के खिलाफ काम करती है.

क्यूरेटिव पिटीशन में पूरे फैसले पर चर्चा नहीं होती है. इसमें सिर्फ कुछ बिन्दुओं पर दोबारा से विचार किया जाता है. कोर्ट में आखिरी ऑप्शन के तौर पर इसका इस्तेमाल किया जाता है. निर्भया केस के आरोपी अपने फांसी की सजा टालने के आखिरी उपाय के तौर पर इसे अपना रहे हैं. वो चाहते हैं कि किसी भी तरह से उनकी फांसी की सजा उम्रकैद में बदल जाए.

NIRBHAYA

आज क्या हो सकता है?

अभी तक जो सुप्रीम कोर्ट की परंपरा रही है, उसमें ‘रेयरेस्ट ऑफ द रेयर’ मामले में ही शीर्ष अदालत ने क्यूरेटिव पिटिशन में अपना फैसला पलटा है. ऐसे में दोषियों की फांसी टलना मुश्किल लग रहा है.

कब जारी हुआ डेथ वॉरंट?

इसके पहले पटियाला हाउस कोर्ट ने 7 जनवरी को निर्भया के चारों दोषियों अक्षय ठाकुर (31), पवन गुप्ता (25), मुकेश सिंह (32) और विनय शर्मा (26) के खिलाफ डेथ वॉरंट जारी किया था. अदालत ने सभी चारों दोषियों को 22 जनवरी को सुबह 7 बजे फांसी देने का आदेश दिया है.

खारिज हो गई थी दोषियों को अंगदान के लिए मनाने वाली याचिका

वहीं, अदालत ने निर्भया के दोषियों को अंगदान के लिए मनाने वाली पिटीशन भी खारिज कर दी है. एक एनजीओ ने निर्भया के दोषियों से मिलने की अनुमति मांगी थी, ताकि उन्हें अंगदान के लिए मनाया जा सके. हालांकि, कोर्ट ने ये कहते हुए पिटीशन खारिज कर दी थी कि दोषियों के खिलाफ डेथ वॉरंट जारी हुआ है. ऐसे में उनसे परिवार का एक सदस्य और वकील के अलावा कोई नहीं मिल सकता.

क्या है मामला?

16 दिसंबर 2012 को निर्भया गैंगरेप का शिकार हुई थी. 9 महीने बाद यानी सितंबर 2013 में निचली अदालत ने चारों दोषियों को फांसी की सजा सुनाई थी. मार्च 2014 में हाईकोर्ट और मई 2017 में सुप्रीम कोर्ट ने फांसी की सजा बरकरार रखी थी. इस बर्बर कांड के एक आरोपी राम सिंह ने तिहाड़ जेल में कथित तौर पर आत्महत्या कर ली थी, जबकि एक अन्य दोषी नाबालिग था और तीन साल तक सुधार गृह में रहने के बाद उसे रिहा कर दिया गया.

Input : News18

INDIA

लॉकडाउन में खोल ली स्टेट बैंक की फर्जी ब्रांच, तीन गिरफ्तार

Ravi Pratap

Published

on

तमिलनाडु में फर्जी बैंक खोलने वाले तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। कडलोर जिले के पनरुत्ती में स्टेट बैंक के एक पूर्व कर्मचारी के 19 साल के बेटे ने स्टेट बैंक की ही फर्जी ब्रांच खोल रखी थी। अब स्टेट बैंक की असली ब्रांच के मैनेजर वहां पहुंचे को सेटअप देखकर हैरान रह गए क्योंकि यह पूरी तरह स्टेट बैंक की तरह ही बनाई गई थी। अब पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है।

Son of former bank employees open duplicate SBI branch in ...

एसबीआई के एक पूर्व कमर्चारी के बेटे कमल बाबू ने फर्जी बैंक में कंप्यूटर, लॉकर, फर्जी कागज और अन्य चीजें रखकर इसे एकदम बैंक जैसा बनाया था। यहां तक कि पनरुत्ती बाजार ब्रांच के नाम पर एक वेबसाइट भी बनाई गई थी। पुलिस ने कमल के साथ-साथ ए कुमार (42) और एम मणिकम को भी पकड़ा है। इन लोगों ने लॉकडाउन के बीच अप्रैल में ही ब्रांच खोली थी।

Fake SBI branch busted in TN, police arrest 3 men including a 19 ...

ग्राहकों ने पूछताछ की तो खुल गई पोल

इस फर्जी ब्रांच की पोल उस वक्त खुली, जब एसबीआई के एक ग्राहक ने इस ब्रांच के बारे में नॉर्थ बाजार ब्रांच में पूछताछ की। एक ग्राहक ने इस फर्जी ब्रांच में मिली पर्ची नॉर्थ बाजार ब्रांच के मैनेजर को दिखाई तो उनका दिमाग सन्न रह गया। जब वे फर्जी ब्रांच पहुंचे तो हैरान रह गए क्योंकि इस फर्जी बैंक में भी सबकुछ असली जैसा था। अब पुलिस ने इन तीनों के खिलाफ आईपीसी की धारा 473, 469, 484 और 109 के तहत केस दर्ज किया है।

बताया गया कि कमल के पिता बैंक के कर्मचारी थी। लगातार बैंक आने-जाने के कारण कमल को बैंक के कामकाज के बारे में काफी हद तक जानकारी थी। कुछ साल पहले ही उसके पिता की मौत हुई और मां रिटायर हुईं। पिता की मौत के बाद उसने नौकरी के लिए अप्लाई किया। नौकरी मिलने में देरी हुई तो उसने अपनी ही ब्रांच खोल ली।

अभी तक धोखाधड़ी का केस नहीं, जांच जारी

फिलहाल किसी ग्राहक ने नुकसान की सूचना नहीं दी है। कमल ने भी कहा है कि उसने किसी के साथ धोखाधड़ी करने के लिए बैंक नहीं खोली थी। हालांकिस उसकी मां और चाची के बैंक अकाउंट के बीच कई सारे ट्रांजैक्शन किए गए हैं। इस केस में जांच की जा रही है।

Input : NBT 

Continue Reading

INDIA

दिवाली 2020 से पहले लॉन्च होगी सेकंड जनरेशन फोर्स गोरखा, अपकमिंग नई महिंद्रा थार को चुनौती देगी

Muzaffarpur Now

Published

on

फोर्स मोटर्स इस साल के अंत में भारतीय बाजार में अपनी सेकंड जनरेशन गोरखा एसयूवी पेश करने की तैयारी में है। कंपनी ने पहली बार इस मॉडल को फरवरी में ऑटो एक्सपो 2020 में पेश किया गया था।

2020 Force Gurkha Launch In June - Modern and More Powerful

2020 फोर्स गोरखा का कीमतों का ऐलान कब होगा? नई गोरखा इस साल अप्रैल में शोरूम में उतारने के लिए तैयार थी लेकिन वर्तमान में चल रही कोविड-19 महामारी की वजह से फोर्स सहित कई कार निर्माताओं के लॉन्च प्लान पर पानी फिर गया। रिपोर्ट्स के मुताबिक, जब प्लांट में बड़े पैमाने पर ऑपरेशन्स शुरू कर दिया है, तो ऐसे में अब नई गोरखा का प्रोडक्शन शुरू होना बाकी है। नई एसयूवी को बाजार में अब अक्टूबर के अंत या नवंबर की शुरुआत में लॉन्च किया जाएगा यानी दिवाली से पहले।

Force Gurkha Price - Reviews, Images, specs & 2019 offers | Gaadi

2020 गोरखा में क्या नया मिलेगा?

  • साल की शुरुआत में दिल्ली में हुए ऑटो एक्सपो में नई गोरखा को पेश किया गया था। एसयूवी आउटगोइंग मॉडल से काफी मिलती-जुलती दिख रही है, बावजूद इसमें कई बड़े बदलाव देखने को मिलेंगे। क्लोजर लुक से पता चलता है कि एसयूवी का स्टाइल बिल्कुल नया है और केबिन को भी पूरी तरह से रीडिजाइन किया गया है।
  • इसे अंदर एक नया डुअल-टोन डैशबोर्ड, एक टचस्क्रीन सिस्टम और पावर विंडो दी गई है। इसके अतिरिक्त, इसमें एक टिल्ट और टेलिस्कोपिक एजडस्टेबल स्टीयरिंग व्हील, डुअल फ्रंट एयरबैग और एबीएस भी है।
  • नई एसयूवी का सेटअप लेडर-फ्रेम पर किया गया है, जिसे बेहतर क्रैश प्रोटेक्शन प्रदान करने के लिए अपडेट किया गया है और सरकार के नए नियमों के अनुसार तैयार किया गया है।
  • ​​इंजन की बात करें तो नई गोरखा में मर्सिडीज-बेंज OM616 ड्राइव्ड 2.6-लीटर डीजल इंजन का हैविली अपडेटेड बीएस 6 वर्जन मिलेगा जो कि 90hp और 260Nm का पीक टॉर्क जनरेट करता है। इसमें 5-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स यूनिट दिया जाएगा।

Force Gurkha Price - Reviews, Images, specs & 2019 offers | Gaadi

बाजार में किसे चुनौती देगी नई गोरखा? लॉन्च के समय नई गोरखा का सीधा मुकाबला नई महिंद्रा थार से होगा, जो उसी दौरान शोरूम से आएगी। महिंद्रा की तरह फोर्स मोटर्स भी अपने सेकंड जनरेशन ऑफ-रोडर की बिक्री को आगे बढ़ाने के लिए गोरखा के कस्टमाइजेशन ऑप्शन की लंबी लिस्ट तैयार कर रहा है।

Input : Dainik Bhaskar

Continue Reading

INDIA

बड़ा फैसला: दिल्ली की सभी यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं रद्द, जानिए अब क्या होगा

Muzaffarpur Now

Published

on

दिल्ली के सभी विश्वविद्यालयों के छात्रों के लिए कोई परीक्षा नहीं होगी. डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा, “राज्य भर के सभी विश्वविद्यालयों में छात्रों के लिए कोई परीक्षा आयोजित नहीं की जाएगी. छात्रों का मूल्यांकन पिछली परीक्षाओं के आधार पर किया जाएगा. यह निर्णय तीसरे वर्ष के छात्रों पर भी लागू होता है.”

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने ये जानकारी, बयान देकर जारी की. इससे पहले दिल्ली उच्च न्यायालय ने गुरुवार को दिल्ली विश्वविद्यालय को एक हलफनामा दाखिल करने का निर्देश दिया था. जिसमें फाईनल ईयर अंडरग्रेजुएट एग्जाम का शेड्यूल दिया गया हो. फाईनल एग्जाम्स को 10 जुलाई से 15 अगस्त तक के लिए स्थगित कर दिया गया था. उच्च न्यायालय ने हलफनामे में यह भी बताने के लिए कहा था कि वे परीक्षाओं को कैसे आयोजित करेंगे. ऑनलाइन, ऑफ-लाइन या दोनों मोड. इसके अलावा पूरी डेटशीट और छात्रों को स्पष्टता प्रदान करने के लिए भी पूछा था.

अदालत ने दिल्ली विश्वविद्यालय का प्रतिनिधित्व करने वाले वरिष्ठ अधिवक्ता सचिन दत्ता की प्रार्थना को कुछ समय के लिए मंजूरी दे दी थी. क्योंकि उन्हें विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के नवीनतम दिशानिर्देशों के अनुसार परीक्षा आयोजित करने की नई योजना तैयार करनी थी. अदालत ने 13 जुलाई तक हलफनामा दायर करने का आदेश दिया और मामले को 14 जुलाई को आगे की सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया.

दिल्ली विश्वविद्यालय ने फाइनल ईयर की परीक्षाएं अगस्त तक के लिए स्थगित कर दी थी, जो 10 जुलाई से शुरू होने वाली थी. एग्जाम टालने का डीयू का निर्णय यूजीसी के दिशा-निर्देशों के एक दिन बाद आया था. जिसमें कहा गया था विश्वविद्यालय अंतिम सेमेस्टर की परीक्षाएं ऑनलाइन या नियमित मोड में आयोजित कर सकते हैं, या मिश्रित प्रारूप (blended format) का विकल्प चुन सकते हैं.

Input : News18

Continue Reading
SPORTS55 mins ago

पैसों की कमी के कारण कोरोना संकट में BMW बेचने को मजबूर एथलीट दुती चंद

INDIA1 hour ago

लॉकडाउन में खोल ली स्टेट बैंक की फर्जी ब्रांच, तीन गिरफ्तार

BIHAR3 hours ago

विकास दुबे एनकाउंटर के बाद पप्पू यादव भड़के हुए हैं, योगी राज में 600 ब्राम्हणों की हत्या का लगाया आरोप

INDIA3 hours ago

दिवाली 2020 से पहले लॉन्च होगी सेकंड जनरेशन फोर्स गोरखा, अपकमिंग नई महिंद्रा थार को चुनौती देगी

MUZAFFARPUR3 hours ago

मुजफ्फरपुर में खतरे के निशान से ऊपर बह रही बागमती, NDRF-SDRF को किया गया अलर्ट

BIHAR3 hours ago

ड्राइविंग के वक़्त भी मास्क लगाइये, वरना कट जाएगा चालान

BIHAR3 hours ago

विक्रमशिला सेतु के समानांतर बनेगा नया पुल, केंद्र सरकार ने दी हरी झंडी

WORLD3 hours ago

चीन के साथ तनाव बढ़ने पर ट्रंप भारत का समर्थन करेंगे, इसकी कोई गारंटी नहीं: जॉन बोल्टन

MUZAFFARPUR5 hours ago

मुजफ्फरपुर: हाथ में बोतल लेकर थाने पहुंचा शराबी, पुलिस से बोला- मुझे जेल जाना है

BIHAR8 hours ago

रक्षाबंधन का त्योहार 3 को, कोरोना संकट में इस बार कई देशों में भाइयों की कलाई रह जाएंगी सूनीं

BIHAR4 weeks ago

सुशांत के परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़, सदमा नहीं झेल पाईं भाभी, तोड़ा दम

ENTERTAINMENT2 weeks ago

सामने आया चंद्रचूड़ सिंह के फिल्म इंडस्ट्री छोड़ने का असली रीजन

BIHAR4 weeks ago

प्रिय सुशांत – एक ख़त तुम्हारे नाम, पढ़ना और सहेज कर रखना

INDIA4 weeks ago

सुशांत स‍िंह राजपूत की सुसाइड पर बोले मुकेश भट्ट, ‘मुझे पता था ऐसा होने वाला है…’

MUZAFFARPUR1 week ago

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत खुदकुशी मामले में सलमान के अधिवक्ता मुजफ्फरपुर कोर्ट में हुए हाजिर

INDIA6 days ago

महिला सब इंस्पेक्टर गिरफ्तार, रेप के आरोपी को बचाने के लिए 35 लाख रुपए लिया रिश्वत

BIHAR2 weeks ago

बिहार में नहीं चलेंगी सलमान खान, आलिया भट्ट, करण जौहर की फिल्में

MUZAFFARPUR3 weeks ago

सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर एकता कपूर ने तोड़ी चुप्पी, कहा- मेरे खिलाफ मुकदमा करने के लिए शुक्रिया

INDIA3 weeks ago

सुशांत के व्हॉट्सऐप चैट आये सामने, उनको फिल्म करने में हो रही थी परेशानी

BOLLYWOOD1 week ago

निधन से पहले सरोज खान ने सुशांत सिंह राजपूत को लेकर शेयर की थी आखिरी पोस्ट

Trending