Connect with us

WORLD

नेपाल में सुबह-सुबह भूकंप के तेज झटके, रिक्टर स्केल पर तीव्रता 5.4

Ravi Pratap

Published

on

नेपाल में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हैं। नेपाल की राजधानी काठमांठू में बुधवार सुबह 5 बजकर 04 मिनट पर भूकंप के तेज झटके आए। भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 5.4 की थी। भूकंप का केंद्र काठमांडू से 50 किमी पूर्व था। भूकंप के बार-बार आ रहे झटकों से लोग डरे हुए हैं। हालांकि इस भूकंप से किसी भी तरह के जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है। भूकंप के झटके महसूस करने के बाद लोग अपने घरों से बाहर निकल आए। नेपाल में साल 2015 में आए भूकंप ने भयंकर तबाही मचाई थी। 900 से ज्यादा लोगों की मौत उस भूकंप में हो गई थी।

आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों में नेपाल के अलग-अलग इलाकों में बार-बार भूकंप के झटके आ रही है। पिछले हफ्ते ही मध्य नेपाल और कठमांडू घाटी में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। मध्य नेपाल में आए भूकंप के झटके की तीव्रता 4.4 थी। हालांकि इससे किसी भी तरह के जानमाल की खबर नहीं मिली। वहीं नेपाल के सिंधुपालचौक जिले में रविवार को भूस्खलन की दो अलग-अलग घटनाओं में में करीब नौ लोग मारे गए। वहीं कई लोग लापता हो गए।

क्यों आते हैं भूकंप के झटके

दरअसल भूकंप तब आता है जब धरती के अंदर प्ल्टेस टकराती हैं। धरती के भीतरक 7 प्लेट्स होती हैं जो लगातार घूम रही हैं। जब ये प्लेटें किसी जगह पर आपस में टकराती हैं, जिसकी वजह से वहां फॉल्ट लाइन जोन बन जाता है और सतह के कोनो मुड़ जाते हैं। सतह के कोने मुड़ने की वजह से वहां प्रेशर बनता है और प्लेट्स टूटने लगती हैं। इन प्लेट्स के टूटने से अंदर की एनर्जी बाहर आने का रास्ता खोजती है, जिसकी वजह से धरती हिलती है और हम इसे भूकंप मानते हैं।

WORLD

दुनिया में पहली बार ‘Living Coffin’ में किया गया अंतिम संस्‍कार, अनूठी चीज से बना है ये ताबूत

Muzaffarpur Now

Published

on

नीदरलैंड: शव के डीकंपोजिशन में तेजी लाने के लिए नीदरलैंड में एक अनूठा प्रयोग किया गया है. यहां एक ‘जीवित ताबूत’ (Living Coffin) में एक व्‍यक्ति का अंतिम संस्‍कार किया गया. ऐसे अनूठे ताबूत में अंतिम संस्‍कार (Last Rites) किए जाने का ये दुनिया का पहला मामला है.

First deceased buried in 'living coffin' - Teller Report

इस ताबूत को ‘Living Cocoon’ नाम दिया गया है. यह ताबूत मायसेलियम (Mycelium) से बना है, जो कि मशरूम की जड़ होती है.

डेल्‍फ्ट टेक्‍नीकल यूनिवर्सिटी की स्‍टूडेंट लेबोरेटरी में इस ताबूत को बनाने वाले बॉब हेंड्रिक्‍स ने कहा, ‘यह दुनिया का पहला जीवित ताबूत है और पिछले शनिवार को नीदरलैंड में पहली बार एक इंसान के शरीर को खाद में तब्‍दील करने के लिए इसका इस्तेमाल हुआ.’

Video] Start-Up Develops One Of A Kind 'Living Coffin' That Becomes One With Nature

इन ताबूतों की मदद से शरीर दो से तीन वर्षों में डीकंपोज (Decomposition) हो सकता है जबकि पारंपरिक ताबूत में ऐसा होने में 10 साल लग जाते हैं. यह ताबूत 30 से 45 दिनों के भीतर गायब हो जाएगा.

हेंड्रिकैक्स ने माइसेलियम को प्रकृति का ‘सबसे बड़ा रिसाइकलर’ बताते हुए कहा कि शरीर को दफनाने के लिए इस ताबूत का उपयोग करना ‘सबसे अच्‍छा प्राकृतिक तरीका’ है. उन्‍होंने आगे कहा, ‘इसके कारण अब हम अपने शरीर, ताबूत और इसके साथ जाने वाली अन्‍य चीजों के साथ पर्यावरण को प्रदूषित नहीं करेंगे, बल्कि यह तो शरीर को खाद में बदलकर प्रकृति को और समृद्ध करेगा.’

हेंड्रिक्‍स ने कहा कि यह कास्केट (Casket) किसी की जेब पर बोझ भी नहीं डालेगा क्योंकि इसकी कीमत करीब 1500 यूरो (8 लाख रुपये या 1,764.87 अमेरिकी डॉलर) है.

Source : Zee News

Continue Reading

WORLD

अब अंतरराष्ट्रीय मंच पर पिटा चीन, संयुक्त राष्ट्र में भारत ने फिर दी मात

Muzaffarpur Now

Published

on

जिनेवा: सीमा से लेकर अंतरराष्ट्रीय मंच तक भारत चीन को मात देने में लगा है. अब भारत ने चीन को पछाड़ते हुए प्रतिष्ठित इकोनॉमिक एंड सोशल काउंसिल (ECOSOC) में जगह बना ली है. भारत काउंसिल से जुड़े महिला स्थिति आयोग का सदस्य (Member of Commission on Status of Women) बन गया है.

आयोग में इस सीट के लिए भारत, चीन और अफगानिस्तान के बीच मुकाबला था. भारत और अफगानिस्तान को 54 में से ज्यादातर सदस्यों का साथ मिला, जबकि चीन को खाली हाथ लौटना पड़ा. संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस तिरुमूर्ति (T. S. Tirumurti) ने ट्वीट करके यह जानकारी दी है.

अब अंतरराष्ट्रीय मंच पर पिटा चीन, संयुक्त राष्ट्र में भारत ने फिर दी मात

तिरुमूर्ति ने खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि ‘भारत ने प्रतिष्ठित ECOSOC में सीट हासिल कर ली है. भारत महिलाओं की स्थिति पर आयोग (CWS) का सदस्य चुना गया है. ये बताता है कि महिलाओं को लेकर हमारी प्रतिबद्धता किस तरह की है और महिला सशक्तिकरण की दिशा में हम कितना काम कर रहे हैं. हम सभी सदस्यों का इसके लिए आभार व्यक्त करते हैं’. गौरतलब है कि भारत इस आयोग का अगले चार साल तक सदस्य बना रहेगा.

Continue Reading

WORLD

TikTok के अधिग्रहण की दौड़ में Oracle ने मारी बाजी, माइक्रोसॉफ्ट का प्रस्ताव खारिज

Muzaffarpur Now

Published

on

वॉशिंगटन. अमेरिका में लोकप्रिय वीडियो शेयरिंग ऐप टिकटॉक (TikTok) के अधिग्रहण की दौड़ में ऑरैकल (Oracle) ने माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) को पछाड़ दिया है. सत्य नाडेला की अगुवाई वाली माइक्रोसॉफ्ट की टिकटॉक के अधिग्रहण की बोली को खारिज कर दिया गया है. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने टिकटॉक के अमेरिकी परिचालन की बिक्री के लिए 20 सितंबर की समयसीमा तय की थी. ट्रम्प ने कहा था कि यदि 20 सितंबर तक टिकटॉक की बिक्री किसी अमेरिकी कंपनी को नहीं की जाती है, तो इस ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा.

Oracle, one of Donald Trump's favorite companies, wins TikTok deal | Ars  Technica

माइक्रोसॉफ्ट का ऑफर खारिज

सूत्रों ने रविवार को कहा कि टिकटॉक का स्वामित्व रखने वाली कंपनी ने इस सौदे के लिए माइक्रोसॉफ्ट के बजाय ऑरैकल का चयन किया है. इस सौदे से अमेरिकी में यह लोकप्रिय ऐप चलन में बनी रह सकती है. माइक्रोसॉफ्ट ने रविवार कहा कि टिकटॉक का स्वामित्व रखने वाली चीन की कंपनी बाइटडांस ने उसे सूचित किया है कि इस अधिग्रहण के लिए उसकी बोली को खारिज कर दिया गया है. माइक्रोसॉफ्ट ने कहा, हमें भरोसा है कि हमारा प्रस्ताव टिकटॉक के प्रयोगकर्ताओं के लिए अच्छा है. साथ ही हम राष्ट्रीय सुरक्षा हितों का भी सरंक्षण करते.

Trump says Oracle could handle TikTok: 'Great company' | Fox Business

ऑरैकल करेगी टिकटॉक का अधिग्रहण

इस बीच, ‘द न्यूयॉर्क टाइम्स’ की एक रिपोर्ट के अनुसार अभी यह स्पष्ट नहीं है कि टिकटॉक द्वारा प्रौद्योगिकी भागीदार के रूप में ऑरैकल का चयन उसके (ऑरैकल) द्वारा सोशल मीडिया ऐप में बहुलांश हिस्सेदारी हासिल करने से भी है. ‘द वॉल स्ट्रीट जर्नल’ की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि ऑरैकल को टिकटॉक का प्रौद्योगिकी भागीदार घोषित किया जाएगा. इस सौदे को पूरी तरह सीधी बिक्री नहीं कहा जा सकता.

इससे पहले वॉलमार्ट ने इस अधिग्रहण में माइक्रोसॉफ्ट के साथ भागीदारी की इच्छा जताई थी. वॉलमार्ट ने रविवार को कहा कि उसकी टिकटॉक में निवेश करने में रुचि है और वह इस बारे में बाइटडांस और अन्य पक्षों से बातचीत कर रही है.

Oracle in talks with TikTok that could hijack Microsoft bid | Technology |  The Guardian

पूर्व में ट्रंप प्रशासन ने टिकटॉक पर 20 सितंबर तक प्रतिबंध लगाने की चेतावनी देते हुए बाइटडांस को निर्देश दिया था कि वह अमेरिका में अपने कारोबार को बेच दे. ट्रंप प्रशासन का कहना था कि टिकटॉक के चीन के स्वामित्व की वजह से यह ऐप अमेरिका की राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा है.

Source : News18

Continue Reading
INDIA4 hours ago

कृषि बिल के खिलाफ सड़क पर उतरेंगे किसान, सहयोगी दलों ने बढ़ाई BJP की मुश्किलें

BIHAR4 hours ago

बिहार पहुंचते ही आरजेडी पर बरसे संबित पात्रा, कहा – लालटेन में न तेज है और न प्रताप

INDIA4 hours ago

भारत ने लगाया निर्यात पर प्रतिबंध तो प्याज के आंसू रोने लगा नेपाल, 4 दिन में 150 रुपए किलो तक पहुंची कीमत

INDIA4 hours ago

इकबाल अंसारी का सीबीआई कोर्ट से आग्रह- बाबरी मस्जिद मामला खत्म कर सभी आरोपियों को बरी करें

INDIA4 hours ago

लोकसभा में पास हुए किसानों से जुड़े बिल, 10 प्वाइंट में जानें क्या हैं विधेयक, क्यों हो रहा विरोध, किसने क्या कहा

MUZAFFARPUR4 hours ago

जदयू शिक्षा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष कन्हैया सिंह पहुँचे मुजफ्फरपुर

JAYNAT-KANT-SSP-IPS
MUZAFFARPUR4 hours ago

बिहार चुनाव: मुजफ्फरपुर के SSP ने दिया निर्देश, पूर्ण शराबबंदी को हर हाल में लागू करें थानाध्यक्ष

INDIA5 hours ago

जया बच्चन पर गरजे ‘शक्तिमान’ बोले- ‘इंडस्ट्री किसी के बाप की नहीं है’

BIHAR5 hours ago

पीएम मोदी ने बिहार को दी 516 करोड़ की सौगात, कोसी महासेतु का किया उद्घाटन

BIHAR7 hours ago

बिहार में इस जगह मुस्लिमों ने भी किया सृजन के देवता भगवान विश्वकर्मा की पूजा

BIHAR5 days ago

KBC जीत करोड़पति बने थे सुशील कुमार, सेलेब्रिटी बनने के बाद देखा सबसे बुरा समय

BIHAR5 days ago

जाते जाते भी लोगो के लिए मांग रखकर, रुला गए ब्रह्म बाबा..

BOLLYWOOD1 day ago

कंगना रनौत का जया बच्चन को जवाब- हीरो के साथ सोने के बाद मिलता था 2 मिनट का रोल

JOBS2 weeks ago

Amazon दे रहा पैसा कमाने का मौका! सिर्फ 4 घंटे में कमा सकते हैं 60000-70000 रु

BIHAR1 week ago

बारिश में भीगकर ट्रैफिक कंट्रोल कर रहा था कांस्टेबल, रास्ते से गुजर रहे DIG ने गाड़ी रोक किया सम्मानित

MUZAFFARPUR7 days ago

पिता जदयू में और मां लोजपा में, बेटी कोमल सिंह लड़ेगी मुजफ्फरपुर के गायघाट से चुनाव!

BIHAR4 weeks ago

क्या बिहार के डीजीपी ने दे दिया इस्तीफा? जानिए खुद गुप्तेश्वर पांडेय ने ट्वीट कर क्या कहा?

BIHAR4 weeks ago

सुशांत सिंह की संपत्ति पर पिता ने जताया दावा, बोले- इस पर केवल मेरा हक

BIHAR3 weeks ago

बिहार में बड़ी संख्या में निकलने वाली है कंप्यूटर ऑपरेटर्स की भर्ती, कर लें तैयारी

INDIA3 weeks ago

एलपीजी सिलिंडर बुकिंग पर मिल रहा है 500 रुपये तक का कैशबैक, करें बस यह छोटा सा काम

Trending