Connect with us

INDIA

नॉर्थ-ईस्ट में खतरनाक हुआ Corona, असम में एक हफ्ते में बढ़े 3 गुना केस

Muzaffarpur Now

Published

on

नई दिल्ली. भारत में मंंगलवार को कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमितों की संख्या एक लाख 98 हजार पहुंच गई. इनमें 97 हजार एक्टिव केस हैं. राज्यवार देखें तो देश में सबसे अधिक संक्रमण महाराष्ट्र और गुजरात में है. नॉर्थ-ईस्ट (North East India) समेत देश के कुछ हिस्सों में इस वायरस का प्रसार कम था. लेकिन लॉकडाउन (Lockdown) के बाद देश अनलॉक (Unlock-1) होते ही यह ट्रेंड बदलने लगा है. सोमवार को देश के पूर्वोत्तर में कोविड-19 (Covid-19) के केस तेजी से बढ़े हैं.

भारत सरकार ने रोज की तरह मंंगलवार को भी कोविड-19 के आंकड़े जारी किए. पूर्वोत्तर के राज्यों में वैसे तो इससे संक्रमितों की संख्या बहुत ज्यादा नहीं है, लेकिन नए आंकड़े खतरनाक संकेत दे रहे हैं. सोमवार और मंंगलवार के बीच त्रिपुरा (Tripura) में 100 से अधिक केस सामने आए. अब इस राज्य में कुल 446 केस हो गए हैं. इसी तरह अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) में कोविड-19 के पॉजिटव केस की संख्या 4 से बढ़कर 20 पहुंच गई. मणिपुर (Manipur) में यह संख्या 78 से 85 पहुंच गई है.

पूर्वोत्तर में असम और त्रिपुरा में सबसे खराब स्थिति है. यहां 192 नए केस सामने आए. इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक असम (Assam) में एक सप्ताह में तीन गुना मामले बढ़ गए हैं. यहां 25 मई को 526 केस थे, जो अब बढ़कर 1513 हो गए हैं. इसी तरह नगालैंड में 50, मेघालय में 28 और मिजोरम में 13 केस सामने आ चुके हैं. सिक्किम में अभी एक केस है.

पूरे भारत की बात करें तो सोमवार सुबह के आंकड़ों के मुताबिक देश में 1.98 लाख कोरोना के केस आ चुके हैं. देश में तीन दिन से रोज 8-8 हजार केस सामने आ रहे हैं. यानी, 24 घंटे के भीतर भारत में कुल केस 2.06 लाख पार कर जाएंगे. भारत में अब तक 5,598 लोगों की मौत हो चुकी है. भारत में अभी 97 हजार से अधिक एक्टिव केस हैं. जबकि, 95 हजार से अधिक लोग इस वायरस को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं.

Input : News18

INDIA

इस मंत्री ने मां दुर्गा को लिख डाली ‘चिट्ठी’, मांगा डिप्टी CM बनने का आशीर्वाद

Muzaffarpur Now

Published

on

बेंगलुरु: कर्नाटक (Karnataka) में संभावित मंत्रिमंडल विस्तार पर बहस जारी है. इस बीच राज्य के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री (Minister of Health and Family Welfare) बी. श्रीरामुलु (B Sriramulu) ने गुरुवार को कथित रूप से प्रसिद्ध देवी दुर्गा (गडे दुर्गम्मा) को पत्र लिखकर जल्द ही उपमुख्यमंत्री बनने का आशीर्वाद मांगा. श्रीरामुलु कलबुर्गी में कल्याण कर्नाटक उत्सव में हिस्सा लेने के लिए यादगीर पहुंचे थे. प्रसिद्ध गोनल दुर्गा देवी मंदिर, बेंगलुरु से 500 किलोमीटर दूर यादगीर जिले के शाहपुर तालुक में स्थित है.

Karnataka minister writes a letter to goddess Durga, asks for blessings to  become deputy chief minister soon | इस मंत्री ने मां दुर्गा को लिख डाली  'चिट्ठी', मांगा डिप्टी CM बनने का

श्रीरामुलु मुख्यमंत्री के कार्यक्रम का हिस्सा हैं और कई गणमान्य व्यक्ति पहले से ही कल्याण कर्नाटक उत्सव का हिस्सा बनने के लिए कलबुर्गी पहुंचे हैं. यह उत्सव हैदराबाद-कर्नाटक मुक्ति दिवस की खुशी में मनाया जा रहा है, जिसे पिछले साल से कल्याण कर्नाटक उत्सव के रूप में फिर से शुरू किया गया था. यह क्षेत्र हैदराबाद निजाम के शासन से मुक्त हुआ था.

Seeking Divine Intervention! Karnataka Health Minister Writes Letter to  Goddess to Make Him Deputy CM | India.com

देवी के चरणों में रखा पत्र

कलबुर्गी जाने से पहले श्रीरामुलु यादगीर में उतरे और वह सबसे पहले शाहपुर तालुक के गोनल गांव स्थित मंदिर में पहुंचे. उन्होंने वहां पूजा-अर्चना की और फिर अपना पत्र देवी के चरणों में रख दिया और उनसे आशीर्वाद मांगा.

पत्र में लिखे 2 लाइन

मंत्री के करीबी सूत्र के अनुसार, उन्होंने एक पत्र लिखा है, जिसमें दो पंक्तियों के साथ उनके हस्ताक्षर हैं. इसमें कहा गया है कि वह जल्द से जल्द उपमुख्यमंत्री बनना चाहते हैं. सूत्र ने आगे कहा कि मंदिर जाने से पहले श्रीरामुलु ने मंदिर के पुजारी, मारिस्वामी के घर का दौरा किया और वहां से दोनों मंदिर गए और पूजा की.

ये है मान्यता

यहां प्रचलित मान्यता के अनुसार, जो कोई भी इस मंदिर में जाता है और अपने या अपने परिवार के लिए कुछ चाहता है तो वह एक पत्र लिखता है और इसे दुर्गा देवी के चरणों में रख देता है और इच्छा पूरी होने का आशीर्वाद मांगता है.

डी. के. शिवकुमार भी लिख चुके हैं पत्र

कर्नाटक राज्य कांग्रेस कमेटी के प्रमुख डी. के. शिवकुमार ईडी में मामला दर्ज किए जाने के बाद जेल से रिहा होने पर इस मंदिर में गए थे. उनके अनुयायियों का मानना है कि इसी के परिणामस्वरूप उन्हें पार्टी का नेतृत्व करने के लिए चुना गया था.

Source : Zee News

Continue Reading

INDIA

अब देहरादून को अपना शहर बता रहा नेपाल! चलाया यह अभियान

Muzaffarpur Now

Published

on

नेपाल (Nepal) की सरकार और सत्ताधारी दल आए दिन कोई ना कोई अजीब-ओ-गरीब विवाद पैदा कर देते हैं. पहले कहा कि असली अयोध्या नेपाल में है. अब देहरादून (Dehradun) पर दावा ठोक दिया है. यहां पढ़ें पूरी रिपोर्ट

 पड़ोसी मुल्क नेपाल आए दिन कोई ना कोई नया कैंपेन चलाकर अपनी फज़ीहत कराने में जुटा रहता है. पहले कालापानी विवाद खुद पैदा किया और जब कुछ नहीं हुआ तो एक मनमर्जी नक्शा भी पेश कर दिया.

पड़ोसी मुल्क नेपाल आए दिन कोई ना कोई नया कैंपेन चलाकर अपनी फज़ीहत कराने में जुटा रहता है. पहले कालापानी विवाद खुद पैदा किया और जब कुछ नहीं हुआ तो एक मनमर्जी नक्शा भी पेश कर दिया.

 चीन की शह पर नेपाल सिर्फ यहीं तक नहीं रुका बल्कि अब उसने उत्तराखंड की राजधानी देहरादून पर भी अपना दावा कर दिया है. इसके लिए बकायदा ग्रेटर नेपाल कैंपेन चलाया जा रहा है.

चीन की शह पर नेपाल सिर्फ यहीं तक नहीं रुका बल्कि अब उसने उत्तराखंड की राजधानी देहरादून पर भी अपना दावा कर दिया है. इसके लिए बकायदा ग्रेटर नेपाल कैंपेन चलाया जा रहा है.

 नेपाल में सत्ताधारी दल ने वहां के नागरिकों को भी बरगला कर इस फिजूल के कैंपेन में शामिल कर लिया है. इसके लिए कई ट्विटर अकाउंट्स और फेसबुक पेज बनाए गए हैं.

नेपाल में सत्ताधारी दल ने वहां के नागरिकों को भी बरगला कर इस फिजूल के कैंपेन में शामिल कर लिया है. इसके लिए कई ट्विटर अकाउंट्स और फेसबुक पेज बनाए गए हैं.

भारतीय शहरों को अपना बताने के लिए नेपाल साल 1816 में हुए सुगौली संधि से पहले की तस्वीरें दिखा कर अपने नागरिकों से ही धोखा कर रहा है. इस कैपेन में विदेश में रहने वाले नेपाली नागरिक बढचढ़कर हिस्सा ले रहे हैं.

नेपाली नागरिकों के जरिए वहां कि सरकार भारत के खिलाफ ग्रेटर नेपाल यूट्यूब चैनल और ट्विटर पर जहर उगल रहा है. इतना ही नहीं नेपाल के इस कैंपेन में पाकिस्तानी युवक भी शामिल हैं. नेपाल में केपी शर्मा ओली की सरकार आने के बाद से ग्रेटर नेपाल की मांग जोर पकड़ रही है.

नेपाल ने भारत के बड़े धार्मिक और हिंदुत्व प्रतीक भगवान राम पर अपना अधिकार जताने की कोशिश की थी. काला पानी विवाद के तुरंत बाद ही सीमाओं के अतिक्रमण के बाद सांस्कृतिक अतिक्रमण का आरोप भारत पर लगाते हुए नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने दावा किया था कि राम वास्तव में नेपाल में पैदा हुए थे और असली अयोध्या भी नेपाल में ही है.

Source : News18

Continue Reading

INDIA

ये तस्वीरें साबित करती हैं, PM मोदी क्यों हैं सबसे पॉपुलर वर्ल्ड लीडर

Muzaffarpur Now

Published

on

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपना 70वां जन्मदिन (Narendra Modi Birthday) मना रहे हैं. इस मौके पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन समेत विश्व के कई बड़े नेताओं ने उन्हें बधाई संदेश भेजे हैं. पीएम मोदी विश्व के उन कुछ चुनिंदा नेताओं में शामिल हैं जिनके ज्यादातर वर्ल्ड लीडर्स के साथ अच्छे रिश्ते हैं और वे खुद भी सबसे पॉपुलर वर्ल्ड लीडर माने जाते हैं.

 अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी काफी अच्छे दोस्त माने जाते हैं. हाउडी मोदी से लेकर नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम तक पूरे विश्व ने इसकी झलकियां देखीं हैं. अभी हाल ही में ट्रंप ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की है. अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मेरे दोस्त हैं और एक महान नेता हैं. ट्रंप ने पीएम मोदी को लेकर कहा, प्रधानमंत्री मोदी मेरे दोस्त हैं और वह बहुत अच्छा काम कर रहे हैं. कुछ भी आसान नहीं है लेकिन वह बहुत अच्छा काम कर रहे हैं. भारत को एक महान नेता मिला है और एक महान व्यक्ति मिला है. (फोटो-AFP)

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी काफी अच्छे दोस्त माने जाते हैं. हाउडी मोदी से लेकर नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम तक पूरे विश्व ने इसकी झलकियां देखीं हैं. अभी हाल ही में ट्रंप ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की है. अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मेरे दोस्त हैं और एक महान नेता हैं. ट्रंप ने पीएम मोदी को लेकर कहा, प्रधानमंत्री मोदी मेरे दोस्त हैं और वह बहुत अच्छा काम कर रहे हैं. कुछ भी आसान नहीं है लेकिन वह बहुत अच्छा काम कर रहे हैं. भारत को एक महान नेता मिला है और एक महान व्यक्ति मिला है. (फोटो-AFP)

 रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से भी मोदी के काफी अच्छे संबंध माने जाते हैं. जन्मदिन के मौके पर पीएम मोदी को भेजे पत्र में पुतिन कहा है, माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, जन्मदिन की 70वीं वर्षगांठ पर मेरी ओर से शुभकामनाएं स्वीकार करें. एक सरकार के मुखिया के तौर पर अपने कामों से आपने देशवासियों के बीच सम्मान और अंतरराष्ट्रीय प्रतिष्ठा हासिल की है. आपकी अगुआई में भारत सामाजिक आर्थिक, वैज्ञानिक और तकनीकी विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है. बता दें कि चीन से तनावपूर्ण हालात के दौरान रूस भारत से दोस्ती निभाता रहा है. (फोटो- Reuters)

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से भी मोदी के काफी अच्छे संबंध माने जाते हैं. जन्मदिन के मौके पर पीएम मोदी को भेजे पत्र में पुतिन कहा है, माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, जन्मदिन की 70वीं वर्षगांठ पर मेरी ओर से शुभकामनाएं स्वीकार करें. एक सरकार के मुखिया के तौर पर अपने कामों से आपने देशवासियों के बीच सम्मान और अंतरराष्ट्रीय प्रतिष्ठा हासिल की है. आपकी अगुआई में भारत सामाजिक आर्थिक, वैज्ञानिक और तकनीकी विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है. बता दें कि चीन से तनावपूर्ण हालात के दौरान रूस भारत से दोस्ती निभाता रहा है. (फोटो- Reuters)

 भले ही भारत-चीन के बीच बीते कई महीनों से तनाव चरम पर हो लेकिन मोदी और जिनपिंग के बीच रिश्ते अच्छे माने जाते रहे हैं. साल 2014 में मोदी के सत्ता में आने के बाद से अब तक उनकी चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से कुल 18 बार मुलाक़ात हुई है. भारत के किसी भी अन्य प्रधानमंत्री के मुकाबले मोदी सबसे ज्यादा 5 बार चीन यात्रा पर गए हैं. यहां तक कि जिनपिंग भारत यात्रा के दौरान मोदी के गांव भी जा चुके हैं. (फोटो- PTI)

भले ही भारत-चीन के बीच बीते कई महीनों से तनाव चरम पर हो लेकिन मोदी और जिनपिंग के बीच रिश्ते अच्छे माने जाते रहे हैं. साल 2014 में मोदी के सत्ता में आने के बाद से अब तक उनकी चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से कुल 18 बार मुलाक़ात हुई है. भारत के किसी भी अन्य प्रधानमंत्री के मुकाबले मोदी सबसे ज्यादा 5 बार चीन यात्रा पर गए हैं. यहां तक कि जिनपिंग भारत यात्रा के दौरान मोदी के गांव भी जा चुके हैं. (फोटो- PTI)

 प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी ब्राजील के राष्ट्रपति जैर बोल्सोनारो से हाथ मिलाते हुए. बोल्सोनारो 28 जून को भारत यात्रा पर आए थे. दोनों के बीच रिश्ते काफी अच्छे माने जाते हैं.  (फोटो- Reuters)

प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी ब्राजील के राष्ट्रपति जैर बोल्सोनारो से हाथ मिलाते हुए. बोल्सोनारो 28 जून को भारत यात्रा पर आए थे. दोनों के बीच रिश्ते काफी अच्छे माने जाते हैं.  (फोटो- Reuters)

 हैदराबाद हाउस में एक बैठक के बाद बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के साथ जनता का अभिवादन करते नरेंद्र मोदी. मोदी के आने के बाद से दोनों देशों के रिश्तों में काफी सुधार हुआ है और व्यापार में भी बढ़ोतरी दर्ज की गयी है. (फोटो- Reuters)

हैदराबाद हाउस में एक बैठक के बाद बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के साथ जनता का अभिवादन करते नरेंद्र मोदी. मोदी के आने के बाद से दोनों देशों के रिश्तों में काफी सुधार हुआ है और व्यापार में भी बढ़ोतरी दर्ज की गयी है. (फोटो- Reuters)

 न्यूयॉर्क में एक मीटिंग के बाद ईरानी राष्ट्रपति हसन रोहानी के साथ नरेंद्र मोदी. मोदी की सरकार में ईरान के साथ कई अहम समझौते हुए हैं. हालांकि अमेरिका-ईरान तनाव का असर भी दोनों देशों के रिश्तों पर देखा गया है. (फोटो- PTI)

न्यूयॉर्क में एक मीटिंग के बाद ईरानी राष्ट्रपति हसन रोहानी के साथ नरेंद्र मोदी. मोदी की सरकार में ईरान के साथ कई अहम समझौते हुए हैं. हालांकि अमेरिका-ईरान तनाव का असर भी दोनों देशों के रिश्तों पर देखा गया है. (फोटो- PTI)

 पीएम मोदी और इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतान्याहू भी काफी अच्छे दोस्त माने जाते हैं. साल 2017 में मोदी पहले भारतीय प्रधानमंत्री थे जो इजरायल के दौरे पर गए थे. इसके बाद इजरायल और भारत के बीच काफी अहम रक्षा समझौते हुए हैं. (फोटो- Reuters)

पीएम मोदी और इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतान्याहू भी काफी अच्छे दोस्त माने जाते हैं. साल 2017 में मोदी पहले भारतीय प्रधानमंत्री थे जो इजरायल के दौरे पर गए थे. इसके बाद इजरायल और भारत के बीच काफी अहम रक्षा समझौते हुए हैं. (फोटो- Reuters)

 पीएम मोदी दिल्ली के हैदराबाद हाउस में म्यांमार के राष्ट्रपति यू विन मिन्त से हाथ मिलाते हुए. मिन्त 27 फरवरी 2020 को भारत में थे. (फोटो- PTI)

पीएम मोदी दिल्ली के हैदराबाद हाउस में म्यांमार के राष्ट्रपति यू विन मिन्त से हाथ मिलाते हुए. मिन्त 27 फरवरी 2020 को भारत में थे. (फोटो- PTI)

 मोदी की सरकार में सऊदी अरब और भारत के रिश्तों में काफी नजदीकी आई है. मोदी और क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान की कई बार मुलाक़ात हो चुकी हैं. सऊदी और भारत की बढ़ती नजदीकियों से पाकिस्तान काफी परेशान है. (फोटो- PTI)

मोदी की सरकार में सऊदी अरब और भारत के रिश्तों में काफी नजदीकी आई है. मोदी और क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान की कई बार मुलाक़ात हो चुकी हैं. सऊदी और भारत की बढ़ती नजदीकियों से पाकिस्तान काफी परेशान है. (फोटो- PTI)

 जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल और पीएम मोदी के बीच भी काफी अच्छे संबंध माने जाते हैं. मर्केल 1 नवंबर 2019 को भारत दौरे के बीच मोदी के साथ नई दिल्ली के गांधी स्मृति में भी गयी थीं. (फोटो- PTI)

जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल और पीएम मोदी के बीच भी काफी अच्छे संबंध माने जाते हैं. मर्केल 1 नवंबर 2019 को भारत दौरे के बीच मोदी के साथ नई दिल्ली के गांधी स्मृति में भी गयी थीं. (फोटो- PTI)

 ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन और पीएम मोदी भी काफी करीबी माने जाते हैं. बोरिस ने कई मौकों पर मोदी की जमकर तारीफ की है. बोरिस की कैबिनेट में मौजूद मंत्री प्रीति पटेल भी मोदी समर्थक मानी जाती हैं. (फोटो- PTI)

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन और पीएम मोदी भी काफी करीबी माने जाते हैं. बोरिस ने कई मौकों पर मोदी की जमकर तारीफ की है. बोरिस की कैबिनेट में मौजूद मंत्री प्रीति पटेल भी मोदी समर्थक मानी जाती हैं. (फोटो- PTI)

 पीएम मोदी सऊदी अरब के रियाद में जॉर्डन के किंग अब्दुल्ल्लाह द्वितीय से मुलाक़ात करते हुए. (फोटो- PTI)

पीएम मोदी सऊदी अरब के रियाद में जॉर्डन के किंग अब्दुल्ल्लाह द्वितीय से मुलाक़ात करते हुए. (फोटो- PTI)

 29 अक्टूबर 2019 को यूरोपियन संसद के सदस्यों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. सांसदों का यही दल बाद में जम्मू-कश्मीर की स्थिति का जायजा लेने भी आया था. (फोटो- PTI)

29 अक्टूबर 2019 को यूरोपियन संसद के सदस्यों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. सांसदों का यही दल बाद में जम्मू-कश्मीर की स्थिति का जायजा लेने भी आया था. (फोटो- PTI)

Source : News18

Continue Reading
BIHAR8 hours ago

‘रघुवंश बाबू के साथ आरजेडी ने बहुत बुरा बर्ताव किया, उन्हें शर्मिंदा होना चाहिए’

INDIA8 hours ago

इस मंत्री ने मां दुर्गा को लिख डाली ‘चिट्ठी’, मांगा डिप्टी CM बनने का आशीर्वाद

WORLD8 hours ago

दुनिया में पहली बार ‘Living Coffin’ में किया गया अंतिम संस्‍कार, अनूठी चीज से बना है ये ताबूत

BOLLYWOOD9 hours ago

जया बच्चन पर भड़कीं जया प्रदा, पूछा- जब आजम खां ने मुझ पर टिप्पणी की, तब क्यों चुप थीं

MUZAFFARPUR9 hours ago

मुजफ्फरपुर में बड़े व्यवसायी एवं वार्ड पार्षद के घर समेत वित्तीय ठिकानों पर आयकर की रेड

BIHAR9 hours ago

भाजपा विधायक को लोगों ने खदेड़ा, धक्का मारकर गांव से निकाला, MLA के साथ हाथापाई की नौबत

MUZAFFARPUR10 hours ago

मुजफ्फरपुर डीएम ने पोषण जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

BIHAR10 hours ago

वीडियो: ‘मैं हारा तो क्षेत्र में अकाल पड़ना तय’, सोशल मीडिया में वायरल हुआ BJP विधायक का बयान

BIHAR11 hours ago

शिक्षा और रोजगार के मुद्दे पर सत्ता और विपक्ष दोनों पक्षों को पप्पू यादव ने घेरा

BIHAR11 hours ago

सीट शेयरिंग पर लोजपा अब भी तेवर में, सूरजभान बोले टेटूआ दबाने पर बिल्ली भी हमला करती है…

BIHAR5 days ago

KBC जीत करोड़पति बने थे सुशील कुमार, सेलेब्रिटी बनने के बाद देखा सबसे बुरा समय

BIHAR5 days ago

जाते जाते भी लोगो के लिए मांग रखकर, रुला गए ब्रह्म बाबा..

JOBS2 weeks ago

Amazon दे रहा पैसा कमाने का मौका! सिर्फ 4 घंटे में कमा सकते हैं 60000-70000 रु

BIHAR1 week ago

बारिश में भीगकर ट्रैफिक कंट्रोल कर रहा था कांस्टेबल, रास्ते से गुजर रहे DIG ने गाड़ी रोक किया सम्मानित

MUZAFFARPUR6 days ago

पिता जदयू में और मां लोजपा में, बेटी कोमल सिंह लड़ेगी मुजफ्फरपुर के गायघाट से चुनाव!

BIHAR4 weeks ago

क्या बिहार के डीजीपी ने दे दिया इस्तीफा? जानिए खुद गुप्तेश्वर पांडेय ने ट्वीट कर क्या कहा?

BOLLYWOOD19 hours ago

कंगना रनौत का जया बच्चन को जवाब- हीरो के साथ सोने के बाद मिलता था 2 मिनट का रोल

BIHAR4 weeks ago

सुशांत सिंह की संपत्ति पर पिता ने जताया दावा, बोले- इस पर केवल मेरा हक

BIHAR3 weeks ago

बिहार में बड़ी संख्या में निकलने वाली है कंप्यूटर ऑपरेटर्स की भर्ती, कर लें तैयारी

INDIA3 weeks ago

एलपीजी सिलिंडर बुकिंग पर मिल रहा है 500 रुपये तक का कैशबैक, करें बस यह छोटा सा काम

Trending