पूरे भारत में रविवार को सबसे ज्यादा प्रदूषित रहा मुजफ्फरपुर, पटना तीसरे नंबर पर
Connect with us
leaderboard image

MUZAFFARPUR

पूरे भारत में रविवार को सबसे ज्यादा प्रदूषित रहा मुजफ्फरपुर, पटना तीसरे नंबर पर

Muzaffarpur Now

Published

on

रविवार को समूचे देश में मुजफ्फरपुर की हवा सबसे ज्यादा प्रदूषित दर्ज की गयी. प्रदूषित हवा के मामले में पटना भी तीसरे स्थान पर रहा. प्रदेश की हवा की गुणवत्ता का स्तर बहुत खराब (वैरी पूअर) दर्ज की गयी. गया की हवा की गुणवत्ता मोडरेट श्रेणी की रही. इस तरह बिहार के दो मुख्य शहरों की हवा बहुत खराब रही. यह स्थिति कमोबेश पिछले करीब बीस दिन से बनी हुई है. जहां तक अच्छी हवा का सवाल है पूरे देश में केवल दो शहरों इलूर और तिरुवंतपुरम की हवा सांस लेने योग्य (अच्छी) दर्ज की गयी.

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की आधिकारिक जानकारी के मुताबिक देश में हवा की बहुत खराब श्रेणी कुल 5 शहरों में दर्ज की गयी. इसमें मुजफ्फरपुर का एयर क्वालिटी इंडेक्स सबसे अधिक 315, वाराणसी का 312, पटना का 309, कानपुर का 307, कटनी का 304 रहा. गया का एयर क्वालिटी इंडेक्स 188 दर्ज किया गया है. उल्लेखनीय है कि समूचे देश में 102 शहरों केवल 23 शहरों की हवा की गुणवत्ता खराब श्रेणी की दर्ज की गयी है. इनमें दिल्ली भी शामिल है. 44 शहरों की हवा मोडरेड श्रेणी ( कम खराब) दर्ज की गयी है. कुल 103 शहरों में 31 शहरों की हवा संतोषजनक रही.

देश में केवल दो शहर इलूर और तिरुवनंतपुरम की हवा ही सांस लेने योग्य रही, एक्यूआइ रहा क्रमश. 27 व 40

प्रदूषण से बचने के लिए चलाएं साइकिल

शहर को वायु प्रदूषण से बचाने के लिए साइकिल चलाना होगा. अधिकारी हो या सामान्य लोग, वे साइकिल का इस्तेमाल करेंगे तो दूसरों को भी प्रेरणा मिलेगी. शहर इतना बड़ा नहीं है कि हम बाइक व कार छोड़ साइकिल से नहीं चल सकते. जरूरत हो तो गाड़ी का भी इस्तेमाल करें.

लेकिन दैनिक कार्यकलापों में साइकिल चलाएं. इससे शहर में प्रदूषण बहुत हद तक कम हो जायेगा. जिनका घर कार्यालय से नजदीक हो वे पैदल भी आ सकते हैं. इससे उनकी सेहत भी ठीक रहेगी. हमलोगों को इसे अपने जीवन में उतारना चाहिए. हम अब भी नहीं संभले तो आने वाले समय में वायु प्रदूषण को नियंत्रित करना असंभव हो जायेगा.

छुट्टियों के दिन पौधे लगाना अपनी दिनचर्या में शामिल करें. बच्चों को भी बतायें कि पौधे लगाना क्यों जरूरी है. शहर में ज्यादा धुआं छोड़ने वाले गाड़ियों के प्रवेश पर रोक लगायी जाए. सरकारी व गैर सरकारी स्तर पर लोगों को बताया जाए कि वायु प्रदूषण से क्या हानियां हैं. फिलहाल जो शहर की स्थिति है, उससे क्या प्रभाव पड़ रहा है. जब हम खुद को बदलेंगे तो हमारा शहर भी बदलेगा.

Input : Prabhat Khabar

 

 

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर-हाजीपुर बाइपास का निर्माण मुआवजे के फेर में फंसा

Santosh Chaudhary

Published

on

राष्ट्रीय राजमार्गो के विस्तार और विकास को लेकर आइएमटी मानेसर में आयोजित दो दिवसीय मैराथन बैठक में बिहार के लिए तीन महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। पहला पटना-गया-डोभी राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण हर हाल में अक्टूबर तक फिर से शुरू कर दिया जाएगा। दूसरा हाजीपुर-मुजफ्फरपुर रोड पर सराय मार्केट में अंडरपास का निर्माण अगले सप्ताह से शुरू कर दिया जाएगा। तीसरा यह कि मुजफ्फरपुर-हाजीपुर बाइपास का निर्माण अब भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआइ) द्वारा नहीं किया जाएगा। मुआवजे के फेर ने एनएचएआइ को हाथ पीछे खींचने के लिए मजबूर कर दिया है।

बैठक के दौरान केंद्रीय भूतल सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने बिहार से संबंधित एनएचएआइ के सभी प्रोजेक्ट पर चर्चा की। सबसे अधिक चर्चा मुजफ्फरपुर-हाजीपुर बाइपास पर की गई। यह हाजीपुर-मुजफ्फरपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर लगभग 14 किलोमीटर का भाग है। लंबे समय से मुआवजे को लेकर रस्साकशी चल रही है। जिनकी जमीन है, वह नए एक्ट के मुताबिक मुआवजा चाहते हैं, लेकिन इससे प्रोजेक्ट की राशि काफी अधिक हो जाएगी। इस बारे में कई दौर की वार्ता हुई, पर बात नहीं बनी। इस चक्कर में जो प्रोजेक्ट पांच साल पहले पूरा होना चाहिए था, अब तक लटका है। इसे देखते हुए एनएचएआइ ने मुजफ्फरपुर बाइपास का निर्माण करने से हाथ पीछे खींच लिया। 127 मीटर लंबा पटना-गया-डोभी राष्ट्रीय राजमार्ग को चार लेन बनाने का काम अक्टूबर से हर हाल में फिर से शुरू करने का निर्णय लिया गया है। इससे पहले सारी बाधाओं को दूर किया जाएगा। एनएचएआइ के चेयरमैन से लेकर संबंधित सभी वरिष्ठ अधिकारी समय-समय पर इसके लिए संवाद करेंगे। रि-अवार्ड का काम अंतिम चरण में है। पहले निर्माण की जिम्मेदारी आइएलएफएस नामक कंपनी को सौंपी गई थी, पर वह उम्मीदों पर खड़ी नहीं उतरी। निर्माण बीच में रुकने से राजमार्ग में काफी गड्ढे बन गए हैं। इससे दुर्घटनाएं बढ़ गई हंैं। हाजीपुर-मुजफ्फरपुर रोड पर सराय मार्केट में अंडरपास का निर्माण अगले सप्ताह से हर हाल में शुरू कर दिया जाएगा। इस बारे में जो भी दिक्कतें थीं, वह दूर कर ली गईं। लंबे समय से अंडरपास निर्माण की मांग चल रही है।

निर्माण की राह में रोड़ा

  • एनएच के विस्तार व विकास को लेकर गुरुग्राम में हुई बैठक में बिहार के लिए तीन महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए
  • हाजीपुर-मुजफ्फरपुर राष्ट्रीय राजमार्ग के 14 किलोमीटर भाग के मुआवजे को लेकर चल रही रस्साकशी

मुजफ्फरपुर-हाजीपुर बाइपास का निर्माण करना संभव नहीं है। निर्माण जल्द पूरा हो, इसके लिए काफी प्रयास हुए, पर सफलता नहीं मिली। इसे देखते हुए फैसला हुआ कि बाइपास का निर्माण एनएचएआइ नहीं करेगी।-नितिन गडकरी, केंद्रीय भूतल सड़क परिवहन मंत्री

गड्ढे में तब्दील हुई सड़क, निर्माण पूरा होने का इंतजार

मुजफ्फरपुर-हाजीपुर बाइपास का निर्माण कार्य मुआवजे के पेच में फंस कर रह गया है। लोग इस राष्ट्रीय राजमार्ग पर करीब 14 किमी की सड़क का लंबे से निर्माण कार्य पूरा होने के इंतजार में हैं, ताकि गड्ढे में तब्दील इस मार्ग में हिचकोले खाने से उन्हें निजात मिल सके। समस्या के समाधान को लेकर कई बार वार्ता हुई, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकल सका। मामला मुआवजा पर आकर फंस जाता। जमीन वाले नए एक्ट के मुताबिक मुआवजा चाहते हैं। इसके कारण पांच साल में पूरा होने वाला प्रोजेक्ट अबतक लटका हुआ है। एनएच-77 हाजीपुर-मुजफ्फरपुर खंड में कुल लंबाई 66 किलोमीटर है। इसमें मधौल-सदातपुर बाइपास सड़क करीब 14 किलोमीटर लंबी है। 2009 में इस कार्य की शुरुआत हुई और इसे 2013 तक पूरा हो जाना था। इस समय इसकी लागत करीब 671 करोड़ आंकी गई थी। जिला भू-अर्जन पदाधिकारी मो. उमैर ने बताया कि पटना रोड में मधौल के आगे के लंबित निर्माण काम को लेकर एक्ट के अनुसार प्रस्ताव बनाकर एनएचएआइ को प्रतिवेदन भेजा जा चुका है। कई बार स्मार पत्र भी भेजा गया। लेकिन एनएचएआइ के पास मामला लंबित है। इसके वजह से आगे का काम नहीं हो रहा है।

Input : Dainik Jagran

 

Continue Reading

MUZAFFARPUR

जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम को दिया जाएगा नेशनल स्टेडियम का लुक

Santosh Chaudhary

Published

on

सिकंदरपुर स्थित पंडित नेहरू स्टेडियम को नेशनल स्टेडियम का लुक दिया जाएगा। स्मार्ट सिटी मिशन के तहत इसे हाईटेक बनाने के लिए जल्द इसकी डीपीआर तैयार की जाएगी। बीते सप्ताह स्मार्ट सिटी की बैठक में नगर विकास एवं आवास मंत्री सुरेश कुमार शर्मा ने इसके जीर्णोद्धार व विस्तार का निर्देश दिया था। इस आलोक में पीडीएमसी एजेंसी के टीम लीडर को इसकी जवाबदेही सौंपी गई है। नगर आयुक्त मनेश कुमार मीणा ने बताया कि सिकंदरपुर पंडित नेहरू स्टेडियम को स्मार्ट सिटी मिशन से विकसित करने की योजना है। इसे राष्ट्रीय स्तर का बनाया जाएगा। इसके लिए एजेंसी को 15 दिनों में तकनीकी सुझाव लेकर डीपीआर तैयार करने का निर्देश दिया गया है। अगर समय पर डीपीआर मिल गयी तो पहले चरण की योजना में स्टेडियम के जीर्णोद्धार व विस्तार को जगह मिल सकेगी। डीपीआर के लिए स्मार्ट सिटी के इंजीनियर खेल विभाग के अधिकारियों एवं तकनीकी विशेषज्ञ से विमर्श करेंगे।

इलेक्ट्रॉनिक स्कोर बोर्ड लगेगा

सूत्रों के अनुसार, शहर में नए स्टेडियम के लिए जगह नहीं मिलने के कारण फिलहाल पुराने स्टेडियम का ही जीर्णोद्धार किया जाएगा। इसे आधुनिक सुविधाओं से लैस किया जाएगा। इसमें पवेलियन निर्माण के साथ क्रिकेट पिच भी बनाया जाएगा। स्टेडियम में इलेक्ट्रॉनिक स्कोर बोर्ड के साथ फ्लड लाइट भी लगाया जाना है। मैदान में प्रैक्टिस ग्राउंड का भी निर्माण कराया जाना है।

इंडोर स्टेडियम का आधुनिकीकरण

इसके अलावा यहां बास्केटबॉल, वॉलीबॉल व कबड्डी के भी कोर्ट बनाए जाने की योजना है। स्मार्ट सिटी के तहत यहां आउटडोर के साथ इसी कैंपस में स्थित इंडोर स्टेडियम का भी आधुनिकीकरण होगा। इसका भी डीपीआर तैयार करने का आदेश दिया गया है। पीडीएमसी एजेंसी के नये टीम लीडर ने भी इसकी पुष्टि की है।

Input : Hindustan

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मंच स्थापना की 36 वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में वृहत स्वचछता कार्यक्रम

Santosh Chaudhary

Published

on

अखिल भारतीय मारवाड़ी युवा मंच के 36 वें स्थापना दिवस के  अवसर पर बिहार प्रांतीय मारवाड़ी युवा मंच के द्वारा “मिशन 57” के तहत मारवाड़ी युवा मंच मुजफ्फरपुर संस्कृति शाखा के द्वारा हरिहर नारायण कन्या मध्य विधालय में छात्र-छात्राओं के बीच स्वच्छता अभियान चलाया गया। शाखा की अध्यक्षा सविता वर्मा जी ने बताया कि प्रांत “मिशन 57” के तहत पूरे बिहार के सरकारी स्कूलों में “स्वच्छ भारत जागरूकता अभियान” का कार्यक्रम किया जा रहा है। वहीं शाखा मंत्री प्रीति पोद्दार जी ने बताया की बच्चें भविष्य की नींव है, अगर इन्हें अभी से ही स्वच्छता के प्रति जागरूक करेंगें तो ये आगे जाकर महात्मा गांधी जी के सपनों को साकार करेंगे । कार्यक्रम संयोजिका निधि तुलस्यान रही।

 

Continue Reading
Advertisement
INDIA25 mins ago

CAA प्रदर्शन पर CM योगी के बि’गड़े बोल- महिलाएं धरने पर और पुरुष रजाई में

BIHAR37 mins ago

बढ़ते अ’पराध पर तिलमिलाए DGP, कहा- 1 हफ्ते के अंदर नालायक पुलिस वालों को नाप दूंगा

BREAKING NEWS MUZAFFARPUR
BIHAR2 hours ago

हाजीपुर में पुलिस-अ’पराधियों के बीच ए’नका’उंटर, बाल-बाल बचे थाना प्रभारी, एक अ’पराधी ढे’र

BIHAR2 hours ago

बिजली कंपनी देगी जबरदस्त झटका, फिर बढ़ेगा इलेक्ट्रिसिटी बिल

MUZAFFARPUR3 hours ago

मुजफ्फरपुर-हाजीपुर बाइपास का निर्माण मुआवजे के फेर में फंसा

BIHAR12 hours ago

पत्नी ने खाना नहीं बनाया तो गुस्‍से में लाल हुआ पति, सि’र में गो’ली मार उडा दिया भे’जा

BIHAR13 hours ago

पटना हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, नियोजित पंचायत शिक्षकों को मिलेगा EPF का लाभ

BIHAR13 hours ago

अ’भी-अ’भी: सीवान में गो’ली मा’रकर डॉक्टर की ह’त्या

BIHAR14 hours ago

दुखद : पटना की डॉ. बेटी बरेली में जिं’दा ज’ली

INDIA14 hours ago

पहली बार देश का संविधान छापने वाली दोनों मशीनें कबाड़ के भाव बिकीं

INDIA4 days ago

महज 3.80 लाख रुपये में मिल रही है Maruti Suzuki की 7 सीटर कार

MUZAFFARPUR7 days ago

मुजफ्फरपुर में युवक की गो’ली मा’रकर ह’त्या, फेसबुक लाइव होकर बिहार पु’लिस से मांगी थी सु’र’क्षा

BIHAR3 weeks ago

लंबे समय बाद नए लुक में नजर आए तेज प्रताप, पत्‍नी ऐश्‍वर्या के मायके जाने के बाद कटवाए बाल

INDIA2 weeks ago

बिहार के लोगों ने दीपिका पादुकोन को नकारा, पटना में छपाक देखने पहुंचे मात्र तीन लोग

INDIA3 weeks ago

निर्भया के चारों दो’षियों को 22 जनवरी की सुबह दी जाएगी फां’सी, डे’थ वा’रंट जारी

MUZAFFARPUR3 weeks ago

मुजफ्फरपुर के एक साधारण किसान का पुत्र बना Air Force में Flying Officer, ग्रामीण युवाओं के सपनों को लगे पंख

MUZAFFARPUR3 weeks ago

गाय ने दो मुंह व चार आंख वाली बछिया को जन्म दिया

INDIA5 days ago

बड़ी खबर : 1 जून से शुरू होगी ‘एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड’, देश में कहीं भी खरीद सकेंगे राशन

INDIA4 days ago

उस गांव की कहानी, जहां ज्यादातर औरतों की कोख नहीं

BIHAR2 weeks ago

BPSC Civil Services की परीक्षा देनी है तो ध्‍यान दें, अब पहले से कठिन हो जाएगा पाठ्यक्रम

Trending

0Shares