Connect with us

INDIA

बत्ती हुई गुल तो फिक्र न करें, बिना बिजली के भी 6 घंटे तक जलेगा ये इनवर्टर बल्ब!

Santosh Chaudhary

Published

on

बत्ती गुल हो जाए और अगले कुछ घंटे तक बिजली आने की कोई उम्मीद भी नहीं हो तो घबराने की जरूरत नहीं है, क्योंकि मार्केट में जल्द ही इनवर्टर बल्ब दस्तक देने वाला है। यह इनवर्टर बल्ब बिना थमे-रुके 6 घंटे तक रोशनी देगा।

इंडिया एक्सपो मार्ट में इनवर्टर बल्ब हुआ लॉन्च

देश में अभी भी कई इलाके ऐसे हैं, जहां 24 घंटे बिजली की उपलब्धता नहीं हो पाती है। ऐसे में डीजी सेट और इंवर्टर का सहारा लेना पड़ता है। डीजी सेट प्रदूषण करता है और इनवर्टर महंगा होने से हर कोई इसे लगवा नहीं पाता। इन परिस्थितियों से निपटने के लिए इंडिया एक्सपो मार्ट में चल रहे एलईडी प्रदर्शनी में ऐसा बल्ब लांच किया गया है। जो बिजली जाने के छह घंटे के बाद भी जलता रहता है। पावर बैकअप के लिए इसके अंदर बैटरी लगाई गई है। इसमें बैटरी प्रोटेक्शन का विकल्प दिया गया है, जिससे यह ओवर चार्ज और डिस्चार्ज नहीं होता है।

बिजली होने पर इन्वर्टर चलेगा एसी मोड पर

वहीं, बल्ब बनाने वाली कंपनी की निदेशक अंजू जैन ने बताया कि आज भी देहात क्षेत्र में बिजली 24 घंटे नहीं मिल पाती है। आम आदमी की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होती है, जो कि घर में इनवर्टर लगा सकें। ऐसे में इस बल्ब को बनाने का विचार आया। इसे तैयार करने में तीन महीने का समय लगा। इसे आमतौर पर लगाए जाने वाले होल्डर में फिट किया जाता है। बिजली होने पर यह एसी मोड पर चलता है।

ग्रामीण इलाके के लोगों को ज्यादा देगा लाभ

अंजू जैन के मुताबिक, बिजली जाने पर ऑटोमेटिक डीसी मोड पर जाकर जलने लगता है। यह छह घंटे तक पूरी रोशनी देता है। गांव में पावर फ्लेक्चुएशन (वोल्टेज का उतार-चढ़ाव) ज्यादा होता है। यह बल्ब चार केवी तक के बिजली के झटके को आसानी से सह लेता है और फ्यूज भी नहीं होता। ऊर्जा खपत की बात करें तो चार्ज होने के समय नौ वाट बिजली खर्च करता है, जबकि पूरे दिन जलने पर केवल चार वाट बिजली की खपत करता है। इसके एक बल्ब की कीमत करीब 200 रुपये है।

तीन चरण से बिजली बचाएगा यह बल्ब

इस कंपनी ने तीन चरण में काम करने वाला एलईडी बल्ब भी तैयार किया है। इसको एक ही स्विच को तीन बार ऑन-ऑफ करके रोशनी को नियंत्रण किया जा सकेगा। पहली बार स्विच ऑन करने पर यह 15 वाट की रोशनी देगी। जो कि रात के समय पढ़ने व खाना बनाने में काम आएगा। दूसरी बार ऑफ कर ऑन करने से 7 वाट की रोशनी मिलेगी। तीसरी बार यह जीरो वाट की रोशनी देगा।

Input : Dainik Jagran

INDIA

विकास दुबे का कबूलनामा- 5 पुलिसकर्मियों के लाशों की बनाई दीवार, जलाने की थी तैयारी

Muzaffarpur Now

Published

on

लखनऊ. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के उज्जैन (Ujjain) में गिरफ्तार हुए यूपी के दुर्दांत अपराधी विकास दुबे (Vikas Dubey) को यूपी लाने की प्रक्रिया तेजी से चल रही है. इस बीच विकास दुबे का कुबूलनामा (Confession) सामने आया है. सूत्रों के अनुसार पुलिस के सामने विकास दुबे ने घटना की रात को लेकर बयान दिया है. इस बयान में पता चलता है कि किस तरह से नृशंस तरीके से सीओ और पुलिसकर्मियों की हत्या की गई. यही नहीं पुलिसकर्मियों के शवों को जलाने की भी साजिश थी ताकि सबूत मिट जाएं.

मौका नहीं मिला जलाने का और फरार हो गया

पुलिस सूत्रों के अनुसार अपने कबूलनामे में विकास दुबे ने बताया कि कानपुर में घटना के बाद उसके घर के ठीक बग़ल में कुएं के पास 5 पुलिसवालों की लाशों को एक के ऊपर एक रखा गया था, जिससे उनमें आग लगा कर सबूत नष्ट कर दिये जाए. आग लगाने के लिये घर में गैलनों में तेल रखा गया था. एक 50 लीटर के गैलन में तेल से जलाने का इरादा था. लेकिन लाशें इकट्टठा करने के बाद उसे मौक़ा नहीं मिला और वह फ़रार हो गया.

सीओ देवेंद्र मिश्रा से मेरी नहीं बनती थी, इसलिए पैर काटा गया

वहीं विकास दुबे ने शहीद सीओ देवेंद्र मिश्र के बारे में बताया कि देवेंद्र मिश्र से मेरी नहीं बनती थी. कई बार वो मुझसे देख लेने की धमकी दे चुके थे. पहले भी बहस हो चुकी थी. विनय तिवारी ने भी बताया था कि सीओ तुम्हारे ख़िलाफ़ है. लिहाजा मुझे सीओ पर ग़ुस्सा था. सीओ को सामने के मकान में मारा गया था. मैंने नहीं मारा सीओ को लेकिन मेरे साथ के आदमियों ने दूसरी तरफ़ के आहाते से कूदकर मामा के मकान के आंगन में मारा था. पैर पर भी वार किया था क्योंकि मुझे पता चला था कि वो बोलता है कि विकास का एक पैर गड़बड़ है. दूसरा भी सही कर दूंगा. सीओ का गला नहीं काटा था. गोली पास से सिर मे मारी गयी थी, इसलिये आधा चेहरा फट गया था.

Input : News18

Continue Reading

INDIA

विकास दुबे के बाद अब उसकी पत्नी और बेटा भी लखनऊ से गिरफ्तार

Muzaffarpur Now

Published

on

लखनऊ. कानपुर (Kanpur) में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या करने के बाद उज्जैन से गिरफ्तार हुए विकास दुबे (Vikas Dubey) की पत्नी और बेटे को भी पुलिस ने दबोच लिया है. जानकारी के अनुसार विकास की पत्नी ऋचा और उसके बेटे को पुलिस ने को लखनऊ के कृष्णानगर इलाके से गिरफ्तार किया है. दोनों के साथ ही पुलिस ने विकास दुबे के नौकर को भी पकड़ा है. गौरतलब है कि इससे पहले गुरुवार को ही पुलिस ने विकास दुबे को उज्जैन स्थित महाकाल मंदिर से गिरफ्तार किया था. बता दें कि उत्तर प्रदेश पुलिस विकास दुबे को लेकर उज्जैन से रवाना हो गई है. यूपी पुलिस की टीम सड़क मार्ग से मध्य प्रदेश से निकली है. उज्जैन पुलिस ने यूपी पुलिस की टीम को विकास दुबे का हैंडओवर दे दिया है. बता दें कि उज्जैन (Ujjain) से विकास दुबे के गिरफ्तार होने के बाद उसे यूपी लाने की प्रक्रिया तेजी हुई. इस बीच विकास दुबे का कुबूलनामा (Confession) सामने आया है. सूत्रों की मानें तो पुलिस के सामने विकास दुबे ने कानपुर घटना को लेकर कई खुलासे कुए हैं. विकास दुबे ने पुलिसकर्मियों के शवों को जलाने और सबूत मिटाने की बात कही है.

पुलिस वालों को जलाने की थी साजिश

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, अपने कबूलनामे में विकास दुबे ने बताया कि कानपुर की घटना के बाद उसके घर के ठीक बगल में कुएं के पास 5 पुलिसवालों की लाशों को एक के ऊपर एक रखा गया था, जिससे उनमें आग लगा कर सबूत नष्ट कर दिए जाए. आग लगाने के लिए घर में गैलनों में तेल रखा गया था. एक 50 लीटर के गैलन में तेल से जलाने का इरादा था. लेकिन लाशें इकट्टठा करने के बाद उसे मौक़ा नहीं मिला और वह फ़रार हो गया.

विकास दुबे के बाद अब उसकी पत्नी और बेटा भी लखनऊ से गिरफ्तार

कबूलनामे में बोला विकास दुबे!

वहीं, विकास दुबे ने शहीद सीओ देवेंद्र मिश्र के बारे में कहा, देवेंद्र मिश्र से नहीं बनती थी. कई बार वो मुझसे देख लेने की धमकी दे चुके थे. पहले भी बहस हो चुकी थी. विनय तिवारी ने भी बताया था कि सीओ तुम्हारे खिलाफ है. लिहाजा मुझे सीओ पर ग़ुस्सा था. सीओ को सामने के मकान में मारा गया था. मैंने नहीं मारा सीओ को लेकिन मेरे साथ के आदमियों ने दूसरी तरफ़ के आहाते से कूदकर मामा के मकान के आंगन में मारा था. पैर पर भी वार किया था क्योंकि मुझे पता चला था कि वो बोलता है कि विकास का एक पैर गड़बड़ है. दूसरा भी सही कर दूंगा. सीओ का गला नहीं काटा था. गोली पास से सिर में मारी गयी थी, इसलिए आधा चेहरा फट गया था.

Input : News18

Continue Reading

INDIA

जिस विकास दुबे के नाम से कांपती है कानपुर पुलिस, उसे MP पुलिस के जवान ने मारा थप्पड़

Muzaffarpur Now

Published

on

BHOPAL: जिस गैंगस्टर विकास दुबे के नाम से कानपुर पुलिस कांपती है उसको उज्जैन पुलिस ने थप्पड़ मारकर उसकी औकात बता दी. गिरफ्तारी के दौरान विकास दुबे को जब पुलिसकर्मियों ने कॉलर पकड़ा तो रौब दिखाने लगा और खुद को कानपुर वाला विकास दुबे परिचय देने लगा. इतना सुनते ही एक जवान ने विकास को एक थप्पड़ जड़ दिया. जिससे विकास के होश ठिकाने लगे गए.

पुलिस को देख चिल्लाया मैं हूं विकास दुबे

जब पुलिस ने उसको पकड़ा तो विकास दुबे ने चिल्लाया है कि मैं ही विकास दुबे हूं. वह बार-बार मध्य प्रदेश की पुलिस को बता रहा था कि मैं कोई आम अपराधी नहीं हूं. विकास को भी डर था कि कही पुलिस गोली न मार दे. इसलिए वह मीडिया के सामने खुद का परिचय दे रहा था. गिरफ्तारी के बारे में बताया जा रहा है कि गैंगस्टर विकास दुबे मध्य प्रदेश के उज्जैन महाकाल मंदिर में पूजा करने के लिए गया हुआ था. इस दौरान ही पुलिस ने यह कार्रवाई की है. विकास दुबे ने पूजा को लेकर बकायदा अपने नाम का पर्ची भी कटाया हुआ था. इस दौरान ही मंदिर के गार्ड ने विकास को पकड़ा. उसे बाद महाकाल पुलिस के हवाले उसको कर दिया गया. मध्यप्रदेश की पुलिस यूपी पुलिस के संपर्क कर रही है.

देखिए वीडियो : 

विकास के पास नहीं था कोई हथियार

बताया जा रहा है कि जिस समय विकास की गिरफ्तारी हुई उस समय उसके पास कोई सामान नहीं था. उसके पास कोई हथियार भी नहीं था. इसमें सबसे बड़ी लापरवाही यूपी पुलिस की सामने आई है. आखिर कैसे वह उज्जैन पहुंच पाया है. यूपी पुलिस क्या कर रही थी. बता दें कि विकास दुबे के बिकरू गांव पुलिस छापेमारी करने गई थी तो विकास ने अपने गुर्गों के साथ पुलिस टीम पर हमला कर दिया था. इस हमले में एक डीएसपी समेत 8 पुलिसकर्मी मारे गए थे. जिसके बाद से पुलिस विकास की तलाश में जुटी है वह फरार चल रहा है.

Input : First Bihar

Continue Reading
INDIA3 hours ago

विकास दुबे का कबूलनामा- 5 पुलिसकर्मियों के लाशों की बनाई दीवार, जलाने की थी तैयारी

INDIA4 hours ago

विकास दुबे के बाद अब उसकी पत्नी और बेटा भी लखनऊ से गिरफ्तार

BIHAR4 hours ago

तेजप्रताप ने ठेठ अंदाज में डीजीपी पर कसा तंज, दूसरे की थाली में पड़ी चटनी से नज़र हटाइये

MUZAFFARPUR4 hours ago

पताही गाँव में गई मेडिकल टीम का सहयोग करने पर मुखिया पर हमला

BIHAR5 hours ago

पटना के बाद पूर्णिया में भी सुशांत सिंह चौक, मेयर ने शिलापट्ट का किया उद्घाटन

BIHAR7 hours ago

विकास दुबे की गिरफ्तारी पर बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय बोले- डर के मारे यहां घुसने की हिम्मत नहीं हुई

BIHAR7 hours ago

NDA क्राइसिस पर रामविलास पासवान का बड़ा बयान, LJP को लेकर चिराग का फैसला अंतिम होगा

mlc-dinesh-singh
MUZAFFARPUR7 hours ago

JDU MLC दिनेश सिंह कोरोना पॉजिटिव, पत्नी वीणा देवी पहले ही पाई गई हैं संक्रमित

BIHAR7 hours ago

BPSC 65वीं की मुख्य परीक्षा रद्द, अगले ही महीने होने वाला था एग्जाम

MUZAFFARPUR8 hours ago

सुशांत मामले में फिल्मी हस्तियों को मिली राहत, मुजफ्फरपुर में दाखिल दो परिवाद खारिज

BIHAR3 weeks ago

सुशांत के परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़, सदमा नहीं झेल पाईं भाभी, तोड़ा दम

ENTERTAINMENT1 week ago

सामने आया चंद्रचूड़ सिंह के फिल्म इंडस्ट्री छोड़ने का असली रीजन

BIHAR3 weeks ago

प्रिय सुशांत – एक ख़त तुम्हारे नाम, पढ़ना और सहेज कर रखना

INDIA4 weeks ago

सुशांत स‍िंह राजपूत की सुसाइड पर बोले मुकेश भट्ट, ‘मुझे पता था ऐसा होने वाला है…’

MUZAFFARPUR6 days ago

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत खुदकुशी मामले में सलमान के अधिवक्ता मुजफ्फरपुर कोर्ट में हुए हाजिर

BIHAR2 weeks ago

बिहार में नहीं चलेंगी सलमान खान, आलिया भट्ट, करण जौहर की फिल्में

BIHAR4 weeks ago

लालू के बेटे तेजस्वी यादव की कप्तानी में खेलते हुए बदली विराट कोहली की किस्मत!

MUZAFFARPUR3 weeks ago

सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर एकता कपूर ने तोड़ी चुप्पी, कहा- मेरे खिलाफ मुकदमा करने के लिए शुक्रिया

INDIA4 days ago

महिला सब इंस्पेक्टर गिरफ्तार, रेप के आरोपी को बचाने के लिए 35 लाख रुपए लिया रिश्वत

INDIA2 weeks ago

सुशांत के व्हॉट्सऐप चैट आये सामने, उनको फिल्म करने में हो रही थी परेशानी

Trending