Connect with us

Uncategorized

बस तीन डॉक्यूमेंट देकर मिल जाएंगे खेती के लिए 3 लाख रुपये, ये है पूरा प्रोसेस

केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा है कि किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) के लिए सिर्फ तीन डॉक्यूमेंट ही लिए जाएंगे. पहला यह कि जो व्यक्ति अप्लीकेशन दे रहा है वो किसान है या नहीं. इसके लिए बैंक उसके खेती के कागजात देखें और उसकी कॉपी लें. दूसरा निवास प्रमाण पत्र और तीसरा आवेदक […]

Published

on

केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा है कि किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) के लिए सिर्फ तीन डॉक्यूमेंट ही लिए जाएंगे. पहला यह कि जो व्यक्ति अप्लीकेशन दे रहा है वो किसान है या नहीं. इसके लिए बैंक उसके खेती के कागजात देखें और उसकी कॉपी लें. दूसरा निवास प्रमाण पत्र और तीसरा आवेदक का शपथ पत्र कि उसका किसी और बैंक में लोन बकाया नहीं है. सरकार ने बैंकिंग एसोसिएशन से कहा है कि केसीसी आवेदन के लिए कोई फीस न ली जाए.

न्यूज18 हिंदी से बातचीत में शेखावत ने कहा, हम कोशिश कर रहे हैं कि किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) की कवरेज बढ़ जाए. अभी यह लगभग 50 फीसदी किसानों के पास ही है. देश में 14 करोड़ किसान परिवार हैं, जिसमें से सात करोड़ के पास ही किसान क्रेडिट कार्ड है. ऐसा इसलिए है क्योंकि इसे बनवाने के लिए किसानों को जटिल प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है.

Advertisement

 farmer, किसान, kisan, kcc, केसीसी, Kisan Credit Card, किसान क्रेडिट कार्ड, बैंक, bank, नरेंद्र मोदी, pradhanmantri kisan samman nidhi, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम, narendra modi,बीजेपी, BJP, Aadhaar, आधार, 2019 लोकसभा चुनाव, lok sabha elections 2019, farmers welfare, former income, किसानों की आय, किसान कल्याण, गोरखपुर, gorakhpur, Agriculture, कृषि, kcc, केसीसी, kisan credit card, किसान क्रेडिट कार्ड, interview of central agriculture minister gajendra singh shekhawat,

शेखावत ने बताया कि राज्य सरकारों और बैंकों को कहा गया है कि वो पंचायतों के सहयोग से गांवों में कैंप लगाकर किसान क्रेडिट कार्ड बनवाएं. मोदी सरकार ने केसीसी को सिर्फ खेती तक सीमित नहीं रखा है. इसे हमने पशुपालन और मछलीपालन के लिए भी खोल दिया है. इन दोनों श्रेणियों में अधिकतम दो लाख रुपये तक मिलेंगे जबकि फार्मिंग के लिए तीन लाख रुपये तक मिलते हैं.

उधर, सरकार ने बताया है कि पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम  (पीएम-किसान) की दूसरी किस्त एक अप्रैल से जारी की जाएगी. योजना को मंजूरी देते समय दूसरी किस्‍त के लिए आधार को अनिवार्य बनाया गया था. जबकि अब इसमें ढील दे दी गई है. कृषि मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक नामों की वर्तनी में अंतर से बड़े पैमाने पर लाभार्थियों के नाम रद्द हो जाएंगे. लाभार्थियों के आधार ब्‍यौरे को प्रमाणित करने के कारण दूसरी किस्‍त को जारी करने में विलंब होगा.

Advertisement

 farmer, किसान, kisan, kcc, केसीसी, Kisan Credit Card, किसान क्रेडिट कार्ड, बैंक, bank, नरेंद्र मोदी, pradhanmantri kisan samman nidhi, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम, narendra modi,बीजेपी, BJP, Aadhaar, आधार, 2019 लोकसभा चुनाव, lok sabha elections 2019, farmers welfare, former income, किसानों की आय, किसान कल्याण, गोरखपुर, gorakhpur, Agriculture, कृषि, kcc, केसीसी, kisan credit card, किसान क्रेडिट कार्ड, interview of central agriculture minister gajendra singh shekhawat,

दूसरी किस्‍त को जारी करने की तारीख 01 अप्रैल, 2019 है. देर होने से किसानों में असंतोष बढ़ेगा, इसलिए आधार के शर्त में ढील दी गई है. यह शर्त तीसरी किस्‍त जारी करने के लिए मान्‍य होगी. दूसरी किस्‍त के लिए केवल आधार संख्‍या को ही अनिवार्य माना जाएगा. भुगतान से पहले सरकार आंकड़ों को प्रमाणित करने के लिए पर्याप्‍त कदम उठाएगी.

एग्रीकल्चर लोन

Advertisement

अगर आपके पास खेती करने के लिए ज़मीन है तो अपनी जमीन को बिना गिरवी रखे बिना लोन ले सकते हैं. इसकी सीमा एक लाख रुपये है. एक लाख रुपये से ज्यादा के लोन पर जमीन गिरवी रखने के साथ-साथ गारंटर भी देना होगा. आपको बता दें कि आरबीआई ने बिना गारंटी वाले कृषि लोन की सीमा बढ़ाकर 1.60 लाख  रुपये कर दी है. लेकिन बैंक में इसे लागू करने में अभी वक्त लेगा. इसके लिए नोटिफिकेशन जारी होगा. आपको बता दें कि लोन के लिए अब सभी बैंक किसान क्रेडिट कार्ड जारी करते है.

Digita Media, Social Media, Advertisement, Bihar, Muzaffarpur

सवाल:अगर मेरे पास एक हेक्टेयर जमीन है तो मुझे कितना लोन मिलेगा?
जवाब:
 उत्तर प्रदेश के जिले अमरोहा में स्थित प्रथमा बैंक के ब्रांच मैनेजर अंकुर त्यागी ने बताया कि 1 हेक्टेयर जमीन पर 2 लाख रुपये तक का लोन मिल सकता है. लोन की लिमिट हर बैंक की अलग-अलग होती है. बैंक आपको इसके लिए किसान क्रेडिट कार्ड जारी करेगा. जिसके जरिए आप कभी भी पैसा निकाल सकते है.

Advertisement

लोन के लिए दो सबसे महत्वपूर्ण डॉक्युमेंट खसरा और खतौनी होती है. यानी राजस्व रिकॉर्ड, जिससे पता चलेगा कि आप किसान हैं. खसरा खतौनी पटवारी बनाता है. इसमें खेती की जमीन की डिटेल होती है. मतलब साफ है कि उस जमीन पर अभी क्या हो रहा है और वह खेती के लिए कितनी उपयोगी है या फिर वह आबादी के बीच में तो नहीं है.

Input : News18

Advertisement
Advertisement

Uncategorized

बैंक ऑफ बड़ौदा में ऑफिसर बनने का सुनहरा मौका, निकली है बंपर वैकेंसी

Published

on

बैंक ऑफ बड़ौदा (BOB) ने स्पेशलिस्ट ऑफिसर (SO) के पदों को भरने के लिए आवेदन मांगे हैं. इच्छुक एवं योग्य उम्मीदवार जो इन पदों के लिए आवेदन करना चाहते हैं, वे Bank of Baroda की आधिकारिक वेबसाइट bankofbaroda.in पर जाकर अप्लाई कर सकते हैं. इन पदों  के लिए आवेदन 22 जून से शुरू हो गई है.

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

इसके अलावा उम्मीदवार सीधे इस लिंक https://www.bankofbaroda.in/career पर क्लिक करके भी इन पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं. साथ ही इस लिंक https://www.bankofbaroda.in/-/media/Project/BOB/CountryWebsites के जरिए आधिकारिक नोटिफिकेशन को भी देख सकते हैं. इस भर्ती  प्रक्रिया के तहत कुल 325 पदों को भरा जाएगा.

Advertisement

BOB SO Recruitment 2022 के लिए महत्वपूर्ण तिथियां

ऑनलाइन आवेदन करने की शुरुआत तिथि- 22 जून 2022

Advertisement

ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि – 12 जुलाई 2022

nps-builders

BOB SO Recruitment 2022 के लिए रिक्ति विवरण

Advertisement

पद का नाम ग्रेड रिक्तियों की संख्या

रिलेशनशिप मैनेजर एसएमजी/एस-IV- 75

Advertisement

कॉर्पोरेट और संस्थान क्रेडिट एमएमजी/एस-III- 100

क्रेडिट विश्लेषक एमएमजी/एस-III- 100

Advertisement

कॉर्पोरेट और संस्थान क्रेडिट एमएमजी/एस-II- 50

BOB SO Recruitment 2022 के लिए योग्यता मानदंड

Advertisement

संबंध प्रबंधक और कॉर्पोरेट और संस्थान (क्रेडिट) – ग्रेजुएट (किसी भी विषय में) और वित्त में विशेषज्ञता के साथ पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री / डिप्लोमा (न्यूनतम 1 वर्ष का पाठ्यक्रम) होना चाहिए.

क्रेडिट एनालिस्ट- ग्रेजुएशन (किसी भी विषय में) और फाइनेंस में स्पेशलाइजेशन के साथ पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री या सीए/सीएमए/सीएस/सीएफए होना चाहिए.

Advertisement

कॉर्पोरेट और संस्थान क्रेडिट – ग्रेजुएट (किसी भी विषय में) और CA होना चाहिए.

BOB SO Recruitment 2022 के लिए आयु सीमा

Advertisement

रिलेशनशिप मैनेजर – 25 से 42 वर्ष

कॉर्पोरेट और संस्थान क्रेडिट – 28 से 35 वर्ष

Advertisement

क्रेडिट एनालिस्ट – 28 से 35 वर्ष

कॉर्पोरेट और संस्थान क्रेडिट – 25 से 30 वर्ष

Advertisement

BOB SO Recruitment 2022 के लिए वेतन 

एमएमजीएस II: रु. 48170 x 1740 (1) – 49910 x 1990 (10) – 69180

Advertisement

एमएमजीएस III: रु। 63840 x 1990 (5) – 73790 x 2220 (2) – 78230

एसएमजी/एस-IV : रु. 76010 x 2220 (4) – 84890 x 2500 (2) – 89890

Advertisement

BOB SO Recruitment 2022 के लिए आवेदन शुल्क

अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति / विकलांग व्यक्ति (पीडब्ल्यूडी) / महिला – 100 / – रुपये

Advertisement

जनरल/ओबीसी/ईडब्ल्यूएस- 600/- रुपये

Source : News18

Advertisement

Genius-Classes

Continue Reading

Uncategorized

मुजफ्फरपुर : अग्निपथ योजना संबधी जानकारी के लिए सेना के अधिकारी से संपर्क कर ले सकते जानकारी

Published

on

सेना भर्ती निर्देशक कर्नल बॉबी जसरोटिया ने जिले के युवाओं से अपील की है कि वे अग्निपथ योजना से संभंबित किसी भी प्रकार की जानकारी लेने के लिए सेना भर्ती कार्यालय मै 10 बजे से 1 बजे के बीच आ कर जानकारी पराप्त कर सकते है।

साथ ही साथ सेना भर्ती निर्देशक ने सेना भर्ती कार्यालय के आधीन आठों जिलों के युवाओं से आग्रह किया की बह किसी के बहकावे में न आएं और उपद्रवी गतिविधियों में भाग न लें। इससे न केवल उनके वविश का नुकसान होगा बल्कि देश और समाज का भी नुकसान होगा।

Advertisement

कर्नल बॉबी जसरोटिया ने बताया कि कुछ आसामाजिक तत्व अग्निपथ योजना पर बारंभ फला रहे है आप उन के जासे मै ना आए।

किसी भी क्षण भारतीय सेना के JIA साइट पर अग्नि पथ योजना में भर्ती का नोटिफिकेशन जारी हो सकता है। बताया कि नोटिफिकेशन जारी होने पर उसके आलोक में युवा/नौजवान सेना बहाली की विभिन्न प्रक्रियाओं में भाग लेने की दिशा में पूरी तत्परता एवं मनोयोग के साथ आगे आएं और सेना में बहाल होकर देश की सेवा करें।

Advertisement

उन्होंने कहा कि किसी के बहकावे म आकर उपद्रवी गतिविधियों में शामिल होने के कारण यदि प्रथमिकी दर्ज होती है तो आपका और आपके माता- पिता के सपने पूरे नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि सरकारी संपत्ति पब्लिक की ही संपत्ति है।अतः किसी भी प्रकार की संपत्ति यथा: सड़क, रेलवे स्टेशन, ट्रेन, बस, निजी वाहनों इत्यादि को नुकसान न पहुंचाया जाए।

Genius-Classes

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

nps-builders

Advertisement
Continue Reading

Uncategorized

पटना में एक साथ बनेंगे तीन फाइव स्टार होटल, 1500 लोगों को सीधे मिलेगी नौकरी

Published

on

 राजधानी में एक साथ तीन फाइव स्टार यानी पांच सितारा सुविधाओं वाले होटल बनाए जाएंगे। वीरचंद पटेल पथ स्थित होटल पाटलिपुत्र अशोक व सुल्तान पैलेस और गांधी मैदान के समीप बांकीपुर बस पड़ाव की जमीन पर नए सिरे से अत्याधुनिक फाइव स्टार होटल बनाया जाएगा। राज्य सरकार 45 साल की लीज पर निजी निवेशकों के जरिए इनका निर्माण कराएगी। निर्माण कार्य के लिए तीन साल का समय दिया जाएगा। तीनों होटल में फाइव स्टार की सुविधा वाले करीब 1075 कमरे होंगे। अभी बिहार में एक भी फाइव स्टार होटल नहीं है। नए फाइव स्टार होटल बनने से पर्यटकों को अत्याधुनिक सुविधाएं मिल सकेंगी।

शुक्रवार को कैबिनेट की स्वीकृति के बाद पर्यटन मंत्री नारायण प्रसाद और प्रधान सचिव संतोष कुमार मल्ल ने विस्तार से प्रोजेक्ट के बारे में जानकारी दी। मंत्री ने बताया कि होटल निर्माण के लिए खुली निविदा निकाली जाएगी। इसमें होटल इंडस्ट्री के बड़े नाम आइटीसी, ताज, रेडिसन, हयात, लीला के प्रस्ताव पर भी विचार होगा। जिनका आफर सबसे अच्छा होगा, उन्हें होटल निर्माण की स्वीकृति दी जाएगी। उम्मीद है कि 2026 तक पटना को अपना पहला फाइव स्टार होटल मिल जाएगा। नए होटल खुलने से करीब 1500 लोगों को सीधे तौर पर रोजगार मिलेगा।

Advertisement

Genius-Classes

45 साल बाद पर्यटन विभाग को ट्रांसफर हो जाएंगे होटल

प्रधान सचिव संतोष कुमार मल्ल ने बताया कि 45 वर्ष की लीज की अवधि पूरी होते ही होटल चालू हालत में स्वत: पर्यटन विभाग को ट्रांसफर हो जाएंगे। इसके बाद सरकार इसके संचालन को लेकर उचित निर्णय लेगी। लीज तथा निविदा की शर्तों के निर्धारण के लिए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में पांच सदस्यीय समिति का गठन किया जाएगा। इसमें राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग, वित्त विभाग, उद्योग विभाग, नगर विकास एवं आवास विभाग और पर्यटन विभाग के प्रधान सचिव या अपर मुख्य सचिव स्तर के अधिकारी सदस्य होंगे।

Advertisement

फाइव स्टार होटलों में होगी यह सुविधा

लग्जरी रूम, वीआइपी सूइट, प्रेसिडेंशियल सूइट, कांफ्रेंस हाल, बैंक्वेट, फाइन डाइन रेस्तरां, स्विमिंग पूल, काफी शाप, जूस बार, ब्यूटी पार्लर, जिम, स्पा, गैलरी, बिजनेस सेंटर, पार्किंग आदि।

Advertisement

22 मंजिला होगा बांकीपुर में बनने वाला फाइव स्टार होटल

गांधी मैदान के पास बांकीपुर बस पड़ाव की जमीन पर बनने वाला फाइव स्टार होटल राजधानी का सबसे ऊंचा भवन होगा। इस जमीन की सरकारी कीमत 105 करोड़ रुपये आंकी गई है। इस होटल का फ्लोर एरिया रेशियो यानी एफआरए-6 स्वीकृत किया गया है। प्रधान सचिव के अनुसार, यहां कम से कम 22 मंजिला भवन बनाने की योजना है। करीब 3.5 एकड़ जमीन पर बनने वाले होटल में 500 कमरे होंगे। इसमें 160-160 स्टैंडर्ड और डीलक्स रूम, 72 फैमिली डीलक्स रूम, पांच ब्राइडल सूइट, 10 एग्जीक्यूटिव सूइट, चार प्रेसिडेंशियल सूइट, चार रेसिडेंस सूइट, पांच बैंक्वेट हाल, पांच रेस्तरां आदि शामिल होंगे। गांधी मैदान के आसपास बड़ी संख्या में सरकारी कार्यालय व महत्वपूर्ण इमारतों के कारण यहां पांच सितारा होटल की जरूरत महसूस की जा रही थी।

Advertisement

सुल्तान पैलेस को तोड़कर बनेगा नया 12 मंजिला होटल

वीरचंद पटेल पथ पर बने करीब 100 साल पुराने सुल्तान पैलेस को तोड़कर नया 12 मंजिला फाइव स्टार होटल बनाया जाएगा। इस जमीन की सरकारी कीमत 91.20 करोड़ रुपये आंकी गई है। पहले यहां पुराने भवन में ही हेरिटेज होटल खोलने की योजना थी मगर जीर्ण-शीर्ण इमारत के कारण अब यहां नए सिरे से अत्याधुनिक भवन बनाया जाएगा। करीब 4.8 एकड़ जमीन पर बनने वाले होटल में करीब 400 कमरे होंगे। इसमें 300 डबल बेडरूम, 40 सिंगल बेडरूम, 20 वीआइपी सूइट, चार प्रेसिडेंशियल सूइट, दो-दो कांफ्रेंस हाल, बैंक्वेट व रेस्तरां आदि का निर्माण होगा। प्रधान सचिव संतोष कुमार मल्ल ने बताया कि अभी यहां बिहार राज्य पथ परिवहन निगम का कार्यालय चल रहा है, जिसे फुलवारीशरीफ शिफ्ट करने का काम शुरू हो गया है। उम्मीद है कि अगले एक-दो माह में इसे पर्यटन विभाग को सुपुर्द कर दिया जाएगा। सुल्तान पैलेस का निर्माण 1926-28 ईस्वी के बीच किया गया था। भूकंप या खराब मौसम के कारण इसके धाराशायी होने की आशंका के कारण नया निर्माण किए जाने की योजना बनाई गई है।

Advertisement

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

1976 में बना था होटल पाटलिपुत्र अशोक, अब टूटकर बनेगा 12 मंजिला होटल

आयकर गोलंबर के समीप वीरचंद पटेल पथ पर बने होटल पाटलिपुत्र अशोक को तोड़कर वहां 12 मंजिला नया फाइव स्टार होटल बनाया जाएगा। इस जमीन की सरकारी कीमत 28.50 करोड़ रुपये आंकी गई है। पुराने होटल का निर्माण 1976 ई. में किया गया था। पहले यह होटल पर्यटन मंत्रालय के अधीन था जिसे कुछ वर्ष पूर्व राज्य सरकार ने अपने नियंत्रण में ले लिया है। करीब डेढ़ एकड़ क्षेत्र में बनने वाले नए पांच सितारा होटल में 175 कमरे होंगे। इसमें 15-20 सिंगल बेडरूम, 140-160 डबल बेडरूम, 15 वीआइपी सूइट, चार प्र्रेसिडेंशियल सूइट के साथ कांफ्रेंस हाल, एक्जीबिशन सह बिजनेस सेंटर, फाइन डाइन रेस्तरां, स्पा आदि की सुविधा होगी।

Advertisement

Source : Dainik Jagran

nps-builders

Advertisement
Continue Reading
BIHAR2 hours ago

महाराष्ट्र के एक’नाथ’ बने शिंदे, मुख्यमंत्री पद की ली शपथ, देवेंद्र फडणवीस डिप्टी सीएम पर माने

BIHAR3 hours ago

तेज प्रताप यादव का एक और 2 मिनट, इस बार विधानसभा स्पीकर से अकेले में मिलना चाहते हैं लालू के लाल

BIHAR5 hours ago

पीएम नरेंद्र मोदी 12 जुलाई को आयेंगे बिहार, विधानसभा भवन के शताब्दी समारोह में होंगे शामिल

BIHAR6 hours ago

बिहार के हर जिले में बनेगा ‘मोदी नगर’ और ‘नीतीश नगर’

INDIA6 hours ago

एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री, देवेंद्र फडणवीस ने किया ऐलान

INDIA7 hours ago

निरहुआ के बड़े भाई का हुआ एक्सीडेंट, हुए जख्मी, पलट गई कार

BIHAR8 hours ago

बिहार: मुंगेर के कॉलेज में बिजली गुल, मोबाइल टॉर्च की लाइट में छात्रों ने दी परीक्षा

BIHAR11 hours ago

सोन ब्रिज पर एक साथ दौड़ीं 5 ट्रेनें, इंडियन रेलवे ने बनया अनोखा रिकॉर्ड

INDIA14 hours ago

‘तो पापा बच जाते अगर पुलिस प्रोटेक्शन ना हटती’, कन्हैयालाल के बेटों का छलका दर्द

MUZAFFARPUR15 hours ago

मुजफ्फरपुर: पुलिस चौकी के पास सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, अड्डे से आती थी रोने की आवाज

TECH1 week ago

अब केवल 19 रुपये में महीने भर एक्टिव रहेगा सिम

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर की बेटी ने यूपीएससी में 122वां रैंक लाकर किया गौरवान्वित

BIHAR4 days ago

बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद से मदद मांगना बिहार के बीमार शिक्षक को पड़ा महंगा

BIHAR3 weeks ago

गांधी सेतु का दूसरा लेन लोगों के लिए खुला, अब फर्राटा भर सकेंगे वाहन, नहीं लगेगा लंबा जाम

BIHAR3 weeks ago

समस्तीपुर के आलोक कुमार चौधरी बने एसबीआई के एमडी, मुजफ्फरपुर से भी कनेक्शन

MUZAFFARPUR15 hours ago

मुजफ्फरपुर: पुलिस चौकी के पास सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, अड्डे से आती थी रोने की आवाज

BIHAR2 weeks ago

बिहार : पिता की मृत्यु हुई तो बेटे ने श्राद्ध भोज के बजाय गांव के लिए बनवाया पुल

JOBS3 weeks ago

IBPS ने निकाली बंपर बहाली; क्लर्क, PO समेत अन्य पदों पर निकली वैकेंसी, आज से आवेदन शुरू

BIHAR1 week ago

बिहार का थानेदार नेपाल में गिरफ्तार; एसपी बोले- इंस्पेक्टर छुट्टी लेकर गया था

MUZAFFARPUR2 weeks ago

मुजफ्फरपुर समेत पूरे बिहार में सेना की अग्निपथ स्कीम का विरोध, सड़क जाम व ट्रेनों पर पथराव

Trending