Connect with us

BIHAR

बिहार के डीजीपी को संजय राउत से प्यार हो गया है? कहा-जो गाली देता है, उससे मुहब्बत और बढ़ती है

Published

on

आपने प्यार में शायर और कवि बन जाने वाले तो देखे होंगे. लेकिन गाली खाकर कोई शायर बन जाये तो क्या कहेंगे. वो भी बिहार के डीजीपी. शिवसेना सांसद संजय राउत के हमले के बाद रविवार की देर रात डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने फिर शेर कहा है- जो गाली देता है, उससे मुहब्बत और बढती है.

ट्वीटर पर डीजीपी की शेरो-शायरी

Advertisement

हालांकि बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने रविवार को दिन में भी ट्वीटर पर एक शेर लिखा था. लेकिन असली वाला शायद उन्होंने रात के लिए बचा कर रखा था. रविवार की देर रात ट्वीटर पर उनका नया शेर आया. पढिये क्या लिखा डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने

किसके लिए है ये शेरो-शायरी

Advertisement

दरअसल अपने ट्वीट में डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने ये नहीं लिख है कि उन्हें कौन गाली देता है और किससे उन्हें मुहब्बत और बढ़ती जा रही है. लेकिन लोग इस शेरो-शायरी का मतलब समझ रहे हैं. दरअसल बिहार के डीजीपी ने शिवसेना सांसद संजय राउत का जवाब दे रहे हैं. रविवार को संजय राउत ने उन पर तीखा हमला बोला था. डीजीपी उनका नाम तो नहीं ले रहे हैं लेकिन जवाब जरूर दे रहे हैं. रविवार को दिन में भी गुप्तेश्वर पांडेय ने ट्वीट कर शेरो-शायरी पढ़ी थी.

दरअसल इससे पहले सुशांत सिंह राजपूत केस को लेकर शिवसेना सांसद और नेता संजय राउत ने बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे पर जमकर निशाना साधा था. शिवसेना सांसद ने बिहार डीजीपी पर हमला करते हुए कहा कि उनकी कार्य शैली से साफ लगता है कि वह बीजेपी के लिए काम कर रहे हैं. मीडिया को दिये गये बयान में संजय राउत ने सुशांत सिंह राजपूत मामले पर बिहार के डीजीपी के बयानों की कड़ी आलोचना की थी.

Advertisement

शिवसेना सांसद संजय राउत ने अपनी पार्टी के मुखपत्र सामना में भी बिहार के डीजीपी पर करारा हमला किया है. राउत ने लिखा है कि गुप्तेश्वर पांडेय ने 2009 में उन्होंने पुलिस की नौकरी से समय से पहले रिटायरमेंट ले लिया था, ताकि वह बीजेपी के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ सकें. लेकिन उन्हें बीजेपी का टिकट नहीं मिला. संजय राउत ने यह भी आरोप लगाया है कि गुप्तेश्वर पांडे बिहार विधानसभा के अगले चुनाव में जेडीयू के टिकट पर चुनाव लड़ सकते हैं.

Input : First Bihar

Advertisement

Advertisement

BIHAR

नींबू, भैंस और बकरी चोरी के मामले को लेकर नीतीश कुमार के जनता दरबार में पहुंची महिला

Published

on

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार प्रत्येक सोमवार को आम लोगों की फरियाद सुनने के लिए ‘जनता दरबार’ लगाते हैं. इसी क्रम में आज सीएम नीतीश कुमार मुख्‍य रूप से पुलिस व जमीन से जुड़े मामले सुन रहे हैं. जनता दरबार में पहुंचने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराया जाता है लेकिन कई लोग जानकारी के अभाव में ऐसे भी पहुंच गए जिसे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलने नहीं दिया गया.

Janata Darbar: Woman Reached In Janata Darbar To Meet CM Nitish Kumar To Complain For Lemon Buffalo Goat Ann | Janata Darbar: नींबू, भैंस और बकरी चोरी के मामले को लेकर नीतीश

बताया जाता है कि महिला भभुआ जिले के कुदरा थाना क्षेत्र से अपनी शिकायत लेकर आई थी. 60 वर्षीय महिला सोना कुंवर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलकर जनता दरबार में नींबू, भैंस और बकरी चोरी की शिकायत करना चाहती थी. महिला का कहना था कि गांव के दबंगों ने तीन भैंस, छह खस्सी (बकरा) और एक बकरी चुरा ली है. पड़ोसियों ने बगीचे से नींबू, कटहल और अमरूद चुरा लिया है. इतना होने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हो रही है.

Advertisement

दारोगा कहता है- जहां जाना है जाओ

जनता दरबार के बाहर ही महिला ने बताया कि उसने स्थानीय थाने में इसकी शिकायत की, जिले के सभी अधिकारियों के पास भी शिकायत लेकर पहुंची लेकिन कहीं से कोई कार्रवाई नहीं की गई. उसने कहा कि कुदरा थाना का दारोगा कहता है कि जहां जाना है जाओ. इसलिए वह आज जनता दरबार में अपनी शिकायत करने के लिए पहुंची थी. हालांकि जनता दरबार में जाने से उसे रोक दिया गया.

Advertisement

बता दें कि जनता दरबार में गृह विभाग, राजस्‍व एवं भूमि सुधार, मद्य निषेध, उत्‍पाद एवं निबंधन आदि से जुड़ी शिकायतें सुनी जाती हैं. जनता दरबार में शिकायत लेकर जाने से पहले ऑनलाइन आवेदन किया जाता है, लेकिन महिला सीधा आवेदन लेकर पहुंची थी. इसलिए सुरक्षाकर्मियों ने मुख्यमंत्री से मिलने नहीं दिया.

Source : ABP News

Advertisement

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Advertisement
Continue Reading

BIHAR

गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंजा झाझा-पटना मेमू, महिला समेत तीन यात्री घायल, PMCH रेफर

Published

on

बिहार में अपराधियों के हौसले बुलंद हैं. अपराधी आए दिन हत्या, लूट व गोलीबारी जैसी घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं. ताजा मामला पटना से सटे खुसरूपुर रेलवे स्टेशन का है, जहां सोमवार को दिनदहाड़े अपराधियों ने झाझा-पटना मेमू ट्रेन में गोलीबारी की घटना को अंजाम दिया है. इस हादसे में तीन यात्री गोली लगने से घायल हो गए हैं. घायलों को स्थानीय लोगों की मदद से खुसरूपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां उनकी स्थिति देखते हुए ऑन ड्यूटी डॉक्टर ने दो महिला समेत सभी को पटना के पीएमसीएच रेफर कर दिया.

12 राउंड के आसपास की फायरिंग

Advertisement

बताया जाता है कि मेमू ट्रेन के मंझौली हॉल्ट से खुलते ही सुनील प्रसाद नाम के शख्स को लक्ष्य कर अपराधियों ने लगभग 12 राउंड गोली चलाई. इस घटना के बाद ट्रेन में अफरातफरी मच गई. इसी दौरान खुसरूपुर में ट्रेन के धीमी होते ही हमलावर उतर गए और बड़े आसानी से भाग निकले. गोलीबारी में सालिमपुर थाना के सम्म्तपुर निवासी नरेश सिंह के बेटे सुनील प्रसाद (45) को कमर के नीचे दो गोली लगी है.

पास बैठी महिलाओं को लगी गोली

Advertisement

हालांकि, सुनील को मारने के लिए चलाई गई गोली आसपास बैठी दो महिलाओं को भी लग गई. महिला की पहचान वैशाली जिला के जुड़ावनपुर थाना के मोहनपुर गांव निवासी प्रमोद दास की पत्नी ललिता देवी और सलीमपुर थाना क्षेत्र के हिदायतपुर निवासी देवकी साव की पत्नी दर्पनिया देवी के रूप में हुई है.

घायल सुनील के परिजनों ने बताया कि तीन माह पूर्व जमीन विवाद में उनके स्वजन भूषण यादव की हत्या की गई थी. हत्या के आरोपियों ने ही सुनील पर जानलेवा हमला किया है. इधर, इस मामले में जीआरपी प्रभारी सूर्य दयाल सिंह घायलों को अस्पताल में भर्ती कराने के बाद मामले की छानबीन में जुटे हुए हैं.

Advertisement

Source : ABP News

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Advertisement

Continue Reading

BIHAR

पटना व मुजफ्फपुर में गाड़ियों के मनचाहे नंबर के लिए मारामारी, 2 लाख तक बोली लगा रहे लोग

Published

on

बिहार में गाड़ियों के मनचाहे नंबर के लिए मारामारी है. राज्य के तीन-चार जिलों में सबसे अधिक मारामारी है. राजधानी पटना में मनचाहे नंबर की डिमांड सबसे ज्यादा है. वहीं इस फेहरिस्त में पटना के बाद गया, मुजफ्फरपुर और भागलपुर का नंबर है. लेकिन अगर इन चार जिलों को छोड़ दें तो बाकी जिलों में फैंसी नंबर बेस प्राइस पर ही उपलब्ध हो जा रहे हैं. कुछ जिलों में तो कई नंबर खाली रह जा रहे हैं. दरअसल, गाड़ियों का नंबर लेने के लिए कई लोग अपने जन्म तिथि, शादी की सालगिरह, ज्योतिष, न्यूमरोलॉजी, ऑड नंबर और धार्मिक आधार पर नंबर लेना पसंद करते हैं. वहीं कोई किसी खास अंक के नंबर को शुभ व अशुभ मानते हुए गाड़ियों के नंबर को लेते हैं.

दरअसल, अब परिवहन विभाग ने इस तरह के नंबर को च्वॉइस या फैंसी नंबर की कैटेगरी में डाल दिया है. इन नंबरों को आसानी से घर बैठे ही ऑनलाइन बुकिंग कराया जा सकता है. परिवहन विभाग ने फैंसी नंबर और लकी नंबर की डिमांड के मद्देनजर ऑनलाइन व्यवस्था शुरू की है. विभाग के नियम के अनुसार कार, बाइक या अन्य गाड़ियों के लिए फैंसी नंबर या मनपसंद का नंबर पाने के लिए पहले रजिस्ट्रेशन कराना होगा.

Advertisement

गौरतलब है कि फैंसी नंबर में एक से अधिक दावेदार होने की स्थिति में बोली लगती है. अधिकतम बोली लगाने वाले को वह नंबर दिया जाता है. पूरी प्रक्रिया पारदर्शी है और आवेदक बोली व निष्कर्ष को स्वंय बाग लेकर देखते हैं. लेकिन इस प्रक्रिया में पटना के लोग सबसे अधिक शामिल हो रहे हैं. आलम यह है कि पटना में फैंसी नंबर के लिए 2 लाख तक की बोली लग जा रही है. इस फेहरिस्त में पटना के बाद गया और मुजफ्फरपुर का नंबर है.

Source : Hindustan

Advertisement

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Advertisement
Continue Reading
BIHAR2 hours ago

नींबू, भैंस और बकरी चोरी के मामले को लेकर नीतीश कुमार के जनता दरबार में पहुंची महिला

BIHAR2 hours ago

गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंजा झाझा-पटना मेमू, महिला समेत तीन यात्री घायल, PMCH रेफर

BIHAR5 hours ago

पटना व मुजफ्फपुर में गाड़ियों के मनचाहे नंबर के लिए मारामारी, 2 लाख तक बोली लगा रहे लोग

BIHAR6 hours ago

वैशाली में 3 लोगों की संदेहास्पद मौत पर मचा हड़कंप, जहरीली शराब की जांच में जुटा प्रशासन

BIHAR7 hours ago

बिहार के पूर्व मंत्री बोले- बच्चों का भविष्य संवारने के लिए शराबबंदी कानून को हटाये सरकार

WORLD8 hours ago

ट्विटर-फेसबुक बैन झेल रहे डोनाल्ड ट्रंप बना रहे अपनी सोशल मीडिया कंपनी, 75 अरब रुपये की पूंजी खड़ी!

INDIA10 hours ago

तबादले के लिए ‘सिफारिश कल्चर’ पर सरकार की सख्ती! राजनीतिक मदद से ट्रांसफर मांगने वाले IAS अधिकारियों को चेताया

MUZAFFARPUR10 hours ago

मुजफ्फरपुर जंक्शन को मिला आईएसओ सर्टिफिकेट

MUZAFFARPUR10 hours ago

मुजफ्फरपुर : दादर से जीरोमाइल तक कब्जा वाली दुकानों पर चला प्रशासन का बुल्डोजर

BIHAR10 hours ago

बिहार : जीपीएस ई-लॉक लगे टैंकर से ही अल्कोहलिक उत्पादों की ढुलाई

VIRAL6 days ago

वीडियो : JCB पर बैठ शादी में मारी एंट्री, अचानक औंधे मुंह गिरे दूल्हा-दुल्हन

BIHAR3 weeks ago

बिहार : जो काम पुलिस नहीं कर पायी अब वह बच्चे करेंगे, शराबबंदी को सफल बनाएंगे स्कूली बच्चे

BIHAR2 weeks ago

बिहार के 38 जिलों में 28 से गुजरेंगे 4 एक्सप्रेसवे, देखें नाम और रूट प्लान

BIHAR1 day ago

बिहार : न बैंड न बारात, कोर्ट की पहल पर जेल में बंद प्रेमी से प्रेमिका ने रचाई शादी

BIHAR2 weeks ago

हिंदुस्‍तानी छोरे पर आ गया फ्रांसीसी मैम का दिल, सात समंदर पार से आकर बिहार में रचाई शादी

BIHAR2 weeks ago

बिहार में दिल दहलाने वाली वारदात, ट्रेन रोक युवती को खींचकर उतारा, सामूहिक दुष्‍कर्म के बाद की हत्‍या

BIHAR2 days ago

कोचिंग सेंटर में खेसारी लाल के गाने दिखा पढ़ाते हैं गुरूजी, मिला ‘बेस्ट टीचर ऑफ ईयर’ का अवार्ड

OMG1 week ago

गाय से शादी करके बोली महिला- ये मेरे पति हैं, मुझसे प्यार भी करते हैं

MUZAFFARPUR2 weeks ago

साइकिल से जा रही मुजफ्फरपुर की छात्रा ने बजाई शादीशुदा मर्द के दिल की घंटी

INDIA5 days ago

आज से मोबाइल रिचार्ज और LPG सिलिंडर हुआ महंगा, बैंकिंग, पेंशन से जुड़े कई बदलाव लागू

Trending