Connect with us

INDIA

बिहार के बाद दक्षिण पर नजरें? प्रोटोकॉल की परवाह किए बिना समर्थकों के साथ चेन्नई की सड़क पर उतरे अमित शाह

Ravi Pratap

Published

on

बिहार विधानसभा में एक बार फिर से एनडीए की सरकार बनवाने के बाद अब बीजेपी की नजरें दक्षिण पर टिक गई हैं। इसके लिए पार्टी के पूर्व अध्यक्ष और वर्तमान में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने खुद मोर्चा संभाल लिया है। अमित शाह ने शनिवार को चेन्नई में अपने समर्थकों का अभिवादन करने के लिए प्रोटोकॉल तक की परवाह नहीं की। वे वाहन से बाहर निकले और हवाई अड्डे के बाहर व्यस्त जीएसटी रोड पर पैदल चलने लगे। शाह तमिलनाडु की दो दिवसीय यात्रा पर हैं। उन्होंने महानगर के लोगों को उनके प्यार के लिए धन्यवाद दिया और कहा कि उनके लिए तमिलनाडु में होना बड़ी बात है।

दिल्ली से पहुंचने के तुरंत बाद शाह की अगवानी तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी, उपमुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम, मंत्रिमंडल के वरिष्ठ सदस्यों और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एल मुरुगन और अन्य लोगों ने की। हवाई अड्डे से बाहर निकलने के बाद शाह की कार अचानक रुकी और वह भाजपा और अन्नाद्रमुक कार्यकर्ताओं का अभिवादन करने के लिए पैदल चलने लगे।

राज्य के मुख्य सचिव के शंमुगम, पुलिस महानिदेशक जे के त्रिपाठी, चेन्नई के पुलिस आयुकत महेश कुमार अग्रवाल तथा अन्य अधिकारी भी शाह की इस दौरान मौजूद थे। शाह का हवाईअड्डा से लेकर सड़क के दोनों किनारों पर मौजूद अन्नाद्रमुक एवं भाजपा कार्यकतार्ओं ने भव्य स्वागत किया। इससे अभीभूत हो अमित शाह उनके अभिवादन को स्वाकार करने के लिए अपने वाहन से उतर कर काफी दूर तक पैदल भी चले।

शाह के दौरे के मद्देनजर सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं। दौरे के दौरान उनके अगले साल अप्रैल-मई में प्रस्तावित तमिलनाडु विधानसभा चुनावों पर राज्य भाजपा पदाधिकारियों के साथ बैठक करने की संभावना है। इस बीच शाह ने ट्वीट कर प्यार और समर्थन के लिए शहर का धन्यवाद किया। उन्होंने जीएसटी रोड पर पदयात्रा की वीडियो क्लिप पोस्ट करते हुए ट्वीट किया-तमिलनाडु में होना हमेशा शानदार रहा है, इस प्यार और समर्थन के लिए चेन्नई को धन्यवाद।

Input: Live Hindustan

INDIA

अगले महीने इनके खातों में 2000 रुपये डालेगी मोदी सरकार, लिस्ट में ऐसे चेक करें अपना नाम

Ravi Pratap

Published

on

प्रधानमंत्री किसान सम्मानिधि योजना के तहत मोदी सरकार किसानों को सलाना 6000 रुपये तीन किस्तों में दे रही है। इस समय गेहूं की बुवाई का सीजन है और किसानों को खाद-बीज की खरीदारी भी करनी है। ऐसे में इस समय किसानों को 2000 रुपये की किस्त की सबसे ज्यादा जरूरत है। तो परेशान मत होइए। सरकार आपके खाते में जल्द ही 2000 रुपये की सातवीं किस्त डालने जा रही है। अगर आपने योजना के तहत अपना नाम रजिस्टर करा चुके हैं तो घर बैठे पीएम किसान सम्मान निधि की ताजा लिस्ट में अपना नाम चेक कर सकते हैं। लिस्ट में नाम चेक करने का तरीका बहुत आसान हैं।

लिस्ट में ऑनलाइन देखने के लिए आसान स्टेप

  • वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाएं।
  • होम पेज पर मेन्यू बार देखें और यहां ‘फार्मर कार्नर’ पर जाएं।
  • यहां ‘लाभार्थी सूची’ के लिंक पर क्लिक करें।
  • इसके बाद अपना राज्य, जिला, उप-जिला, ब्लॉक और गांव विवरण दर्ज करें
  • इतना भरने के बाद Get Report पर क्लिक करें और पाएं पूरी लिस्ट

ऐसे जानें आपको अबतक कितनी किस्त मिली

  • पहले पीएम किसान (PM Kisan) की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं।
  • यहां आपको राइट साइड पर ‘Farmers Corner’ का विकल्प मिलेगा
  • यहां ‘Beneficiary Status’ के ऑप्शन पर क्लिक करें। यहां नया पेज खुल जाएगा।
  • नए पेज पर आधार नंबर, बैंक खाता संख्या या मोबाइल नंबर में से किसी एक विकल्प को चुनिए।
  • आपने जिस विकल्प का चुनाव किया है, उसका नंबर भरिए। इसके बाद ‘Get Data’ पर क्लिक करें।
  • यहां क्लिक करने के बाद आपको सभी ट्रांजेक्शन की जानकारी मिल जाएगी। यानी कौनसी किश्त कब आपके खाते में आई और किस बैंक अकाउंट में क्रेडिट हुई।
  • सातवीं किस्त से जुड़ी जानकारी भी आपको यहां मिल जाएगी।
  • यदि आपको ‘FTO is generated and Payment confirmation is pending’ लिखा हुआ दिख रहा है तो इसका मतलब है कि फंड ट्रांसफर की प्रक्रिया शुरू हो गई है। ये किस्त कुछ ही दिनों में आपके खाते में ट्रांसफर हो जाएगी।

जानिए कब-कब आती है किस्त

पीएमम किसान सम्मान निधि स्कीम मोदी सरकार ने 24 फरवरी 2019 को शुरू किया था और यह एक दिसंबर 2018 से ही प्रभावित हो गया था। इस स्कीम के तहत सरकार छोटे किसानों को हर साल 6000 रुपये तीन किस्तों में देती है।  पहली किस्त एक दिसंबर से 31 मार्च के बीच आती है। दूसरी किस्त एक अप्रैल से 31 जुलाई और तीसरी किस्त एक अगस्त से 30 नवंबर तक किसानों के खाते में डायरेक्ट ट्रांसफर कर दी जाती है।

Input: Live Hindustan

Continue Reading

INDIA

7 साल तक चला रेप का मुकदमा निकला झूठा, अब आरोप लगाने वाली युवती देगी 15 लाख का मुआवजा

Ravi Pratap

Published

on

एक शख्स पर लगे बलात्कार के आरोप झूठे पाए जाने के बाद चेन्नई की अदालत ने उस पीड़ित को 15 लाख रुपये का मुआवजा देने का आदेश दिया है। उस शख्स पर कॉलेज की छात्र ने बलात्कार का आरोप लगाया था। इसके बाद उस पर करीब सात साल तक केस चला।

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार, बलात्कार पीड़िता के डीएनए टेस्ट में साबित हुआ कि वह युवक आरोपी नहीं था। ऐसे में उसने मुआवजे के लिए मुकदमा दायर किया, जिसमें उसने कहा कि झूठे बलात्कार के आरोप ने उनके करियर और जीवन को बर्बाद कर दिया। आंशिक रूप से उनकी याचिका की अनुमति देते हुए, अदालत ने मुआवजे के रूप में उस पीड़ित को 15 लाख रुपये का मुआवजा देने का आदेश दिया है। कोर्ट ने यह मुआवजा राशि उस महिला व उसके माता-पिता को झूठी शिकायत दर्ज कराने के एवज में देने का निर्देश दिया है।

पीड़ित संतोष ने मामले की बलात्कार का आरोप लगाने वाली लड़की, उसके माता-पिता और सचिवालय कॉलोनी पुलिस निरीक्षक से हर्जाने के रूप में 30 लाख रुपये की मांग की थी। संतोष के वकील ए सिराजुद्दीन ने कहा कि उनके मुवक्किल का परिवार और महिला का परिवार पड़ोसी थे। वे एक ही समुदाय के थे, परिवारों के बीच यह सहमति थी कि संतोष महिला से शादी करेगा। हालांकि, बाद में परिवार एक संपत्ति विवाद के बाद अलग हो गए।

Input: Live Hindustan

Continue Reading

INDIA

तीन महीने से कम समय में 76 बच्चों को बचाया, दिल्ली पुलिस में सीमा ढाका का आउट-ऑफ-टर्न प्रमोशन

Muzaffarpur Now

Published

on

नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली के समयपुर बादली पुलिस थाने में तैनात एक महिला हेड कॉन्स्टेबल को आउट-ऑफ-टर्न प्रमोशन दिया गया है. हेड कॉन्स्टेबल को उनकी कार्य निष्ठा और ईमानदारी को देखते हुए उच्चाधिकारियों ने आउट-ऑफ-टर्न प्रमोशन देने का फैसला किया. महिला हेड कॉन्स्टेबल सीमा ढाका ने 76 बच्चों को ढाई महीने में ही ढूंढ निकाला. इसके चलते ही उन्हें प्रमोशन का निर्णय दिल्ली पुलिस ने लिया. मिली जानकारी के मुताबिक सीमा ढाका ने जिन 76 बच्चों को ढूंढा है, उनमें 56 की उम्र 14 साल से भी कम है.

seema dhaka – East Coast Daily Malayalam

दिल्ली पुलिस कमिश्नर एनएन श्रीवास्तव ने सीमा ढाका को आउट-ऑफ-टर्न प्रमोशन देने की घोषणा की. इन्सेंटिव स्कीम के तहत उन्हें प्रमोशन दी गई है. इस स्कीम के तहत सीमा आउट ऑफ टर्न प्रमोशन पाने वाली दिल्ली पुलिस की पहली कर्मचारी बन गई हैं. सीमा के मुताबिक उनके लिए सबसे चुनौतीपूर्ण मामलों में से एक इसी साल अक्टूबर में पश्चिम बंगाल से एक नाबालिग को छुड़ाना था. पुलिस दल ने नावों में यात्रा की और बच्चे को खोजने के लिए बाढ़ के दौरान दो नदियों को पार किया था.

Delhi: Woman Head Constable Gets Out-of-Turn Promotion For Tracing 76  Missing Children | India.com

इन राज्यों से ढूंढे बच्चे

सीमा ढाका ने कहा कि उसने दिल्ली, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, बिहार, हरियाणा और पंजाब के बच्चों को बचाया है. वह महीनों से ऐसे मामलों पर काम कर रही थी और कहा कि उसके वरिष्ठों ने उसे और अधिक मामलों को सुलझाने और परिवारों की मदद करने के लिए प्रेरित किया. ढाका ने कहा कि मेरे सीनियर्स और टीम के सदस्यों ने मुझे यह प्रमोशन दिलाने में मदद की. मैं एक मां हूं और कभी नहीं चाहती कि कोई अपना बच्चा खोए. हमने बच्चों को बचाने के लिए लापता रिपोर्ट पर हर दिन चौबीसों घंटे काम किया.

आउट ऑफ टर्न प्रमोशन पाने वाली दिल्ली की पहली अफ़सर बनीं सीमा, गुम हुए 76  बच्चों को बचाईं ।seema dhaka became first delhi police officer to get out  turn promotion

सबसे बड़ी चुनौती

ढाका ने बताया कि उनके लिए सबसे चुनौतीपूर्ण मामलों में से एक इस साल अक्टूबर में पश्चिम बंगाल से एक नाबालिग को छुड़ाना था. पुलिस दल ने नावों में यात्रा की और बच्चे को खोजने के लिए बाढ़ के दौरान दो नदियों को पार किया. लड़के की मां ने दो साल पहले शिकायत दर्ज की थी, लेकिन बाद में अपना पता और मोबाइल नंबर बदल दिया. हम उसे ट्रेस नहीं कर सकते थे लेकिन जानते थे कि वे पश्चिम बंगाल से है. तलाशी अभियान शुरू किया गया. हम एक छोटे से गांव में गए और बाढ़ के दौरान दो नदियों को पार किया. हम किसी तरह बच्चे को उसके रिश्तेदार के पास से छुड़ाने में कामयाब रहे.

Source : News18

Continue Reading
TRENDING6 mins ago

मोहल्‍ले वालों ने पार्षद को बनाया बंधक, नाले के गंदे पानी में बैठ करते रहे मिन्‍नतें, समझिए पूरा मामला

INDIA1 hour ago

बिहार के बाद दक्षिण पर नजरें? प्रोटोकॉल की परवाह किए बिना समर्थकों के साथ चेन्नई की सड़क पर उतरे अमित शाह

INDIA1 hour ago

अगले महीने इनके खातों में 2000 रुपये डालेगी मोदी सरकार, लिस्ट में ऐसे चेक करें अपना नाम

TRENDING2 hours ago

NCB ने कॉमेडियन भारती सिंह को किया गिरफ्तार, छापेमारी में घर से मिला था गांजा

FESTIVALS2 hours ago

छठ के बाद दस दिवसीय सामा-चकेवा उत्सव शुरू

MUZAFFARPUR4 hours ago

मुजफ्फरपुर : आईजी कॉलोनी के होटल बजरंग रेजीडेंसी में छापा ; मिले कई प्रेमी जोड़े

INDIA5 hours ago

7 साल तक चला रेप का मुकदमा निकला झूठा, अब आरोप लगाने वाली युवती देगी 15 लाख का मुआवजा

BIHAR5 hours ago

बिहार में छठ पूजा के दौरान हुए अलग-अलग हादसों और वारदातों में 11 की मौत

BIHAR12 hours ago

स्टार क्रिकेटर ईशान किशन ने अपने पैतृक घर नवादा में घरवालों के साथ मनाया छठ, दौरा लेकर पहुंचे घाट

FESTIVALS15 hours ago

उगते सूरज के अर्घ्य देने का शुभ मुहूर्त सुबह 06:49 बजे

WORLD6 days ago

संयुक्त राष्ट्र की शाखा ने चेताया- 2020 से भी ज्यादा खराब होगा साल 2021, दुनिया भर में पड़ेगा भीषण अकाल

BIHAR3 days ago

सात समंदर पार रूस से छठ करने पहुंची विदेशी बहू

INDIA3 weeks ago

JEE MAINS का टॉपर गिरफ्तार, परीक्षा में दूसरे को बैठाकर पाए थे 99.8 % अंक

INDIA3 days ago

मिट्टी से भरी ट्रॉली खाली करते वक्त अचानक गिरने लगे सोने-चांदी के सिक्के, लूटकर भागे लोग

TRENDING1 week ago

ठंड से ठिठुर रहा था भिखारी, DSP ने गाड़ी रोकी तो निकला उन्हीं के बैच का ऑफिसर

BIHAR2 days ago

एम्स से दीघा तक एलिवेटेड रोड पर आज से परिचालन शुरू, कोइलवर पुल पर आज ट्रायल रन

BIHAR1 week ago

जीत की खुशी में पटाखा जलाने पर BJP नेता के बेटे की पीट-पीटकर हत्या, शव पेड़ पर लटकाया

BIHAR3 weeks ago

झूठा साबित हुआ लिपि सिंह का आरोप, भीड़ ने नहीं पुलिस ने की थी फायरिंग, CISF की रिपोर्ट से खुलासा

BIHAR2 weeks ago

बड़ा ऐलान : नीतीश ने कर दिया राजनीति से संन्यास का एलान

BIHAR1 week ago

बहुमत से महज 12 सीट दूर RJD ने नहीं छोड़ी सरकार बनाने की उम्मीद, सहनी-मांझी पर नजर

Trending