Connect with us
leaderboard image

Uncategorized

बिहार के सभी रेस्टोरेंट में एंट्री बंद, बिना हैंड सेनेटाइज किये अब नहीं खा सकेंगे खाना

Himanshu Raj

Published

on

कोरोना के संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने एक अहम कदम उठाया है. स्वास्थ्य विभाग की ओर से तमाम बड़े फैसले अपने लोगों को सुरक्षित रखने के लिए लिए जा रहे हैं. विभाग की ओर से एक और बड़ा निर्देश जारी किया गया है. बिहार में सभी शॉपिंग मॉल बंद रखने के साथ ही अब रेस्टोरेंट में भी एंट्री बंद कर दी गई है. आपको तबतक इंट्री नहीं मिलेगी, जब तक की आप अपने हैंड को सेनेटाइज कर के अंदर ना जाएं. बिहार की सभी बड़ी दुकानों और रेस्टोरेंट में हैंड सेनेटाइजर की व्यवस्था करने को कहा गया है. जो बड़े रेस्टोरेंट हैं, उनके एंट्रेंस यानी की मेन दरवाजे पर हैंड सेनेटाइजर रखने की बात कही गई है. हाथ सेनेटाइज करने के बाद ही रेस्टोरेंट में एंट्री देने की बात कही गई है.

स्वास्थ्य विभाग की ओर से एक बड़ा निर्देश जारी किया गया है. बिहार के सभी जिलों में शॉपिंग मॉल, व्यायामशाला (जिम्नेजियम), स्विमिंग पूल्स और स्पा सेंटर को 31 मार्च तक बंद करने का आदेश जारी किया गया है. स्वास्थ्य विभाग के मुख्य सचिव संजय कुमार की ओर से जारी निर्देश के मुताबिक शादी विवाह के कार्यक्रमों को छोड़कर किसी भी स्थान पर 50 से अधिक लोगों के नहीं जुटने की अपील की गई है. सरकार की ओर से लिए गए इस फैसले में इस बात का भी जिक्र किया गया है कि किसी भी प्राइवेट हॉस्पिटल में अगर कोरोना या कोरोना संदिग्धों से जुड़ा कोई भी मामला सामने आता है तो 3 घंटे के भीतर जिले के सिविल सर्जन को इसकी जानकारी देनी आवश्यक है.

बिहार में कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए सरकार कई बड़े उपाए कर रही है. सरकार की ओर से कई बड़े फैले लिए गए हैं. बिहार में स्कूल, कालेज, सिनेमा घर, पार्क, चिड़ियाघर और म्यूजियम को 31 मार्च तक के लिए पूरी तरह से बंद कर दिया गया है. नीतीश सरकार ने कोरोना वायरस को लेकर एक और बड़ा कदम उठाते हुए उसे बिहार में महामारी रेगुलेशन एक्ट घोषित कर दिया है. नीतीश सरकार 1897 के महामारी एक्ट के तहत कोरोना वायरस एक्ट को ले आई है. इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने अधिसूचना भी जारी कर दी है. बिहार में कोरोना वायरस को महामारी घोषित किए जाने के बाद अब सरकार के पास इससे बचाव के लिए कई अधिकार आ जायेंगे. सरकार महामारी की रोकथाम के लिए सख्त कदम उठा सकेगी.

 

 

इससे पहले कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए राज्य सरकार ने एक और बड़ा कदम उठाया है. राज्य के सभी सरकारी और प्राइवेट हॉस्टलों को बंद कर दिया गया है. शिक्षा विभाग ने सभी कॉलेजों और विश्वविद्यालयों को 31 मार्च तक बंद रखने का आदेश जारी किया था. इसके बाद अब सभी सरकारी और प्राइवेट हॉस्टल 31 मार्च तक बंद करने का आदेश दिया गया है. इसके साथ ही भारत में बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर बिहार पुलिस की ओर से एक बड़ा निर्णय लिया गया है. पुलिस मुख्यालय की ओर से जारी निर्देश के मुताबिक पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय की ओर से आयोजित हो रही जनता दरबार को 31 मार्च तक स्थगित करने का निर्णय  लिया गया है.

 

Input:First Bihar

INDIA

COVID-19: सिंगर कनिका कपूर की छठवीं रिपोर्ट भी आई नेगेटिव, अस्पताल से डिस्चार्ज

Ravi Pratap

Published

on

लखनऊ. बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर (Kanika Kapoor) को रविवार सुबह SGPGI अस्पताल से छुट्टी मिल गई. पीजीआई से मिली जानकारी के मुताबिक, कनिका कपूर की छठवीं रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद उन्‍हें डिस्‍चार्ज किया गया. फिलहाल बॉलीवुड सिंगर को 14 दिनों तक अपने घर में क्‍वारेंटाइन रहना होगा. इसका मतलब यह हुआ कि इस अवधि में वह किसी से नहीं मिलेंगी. बताया जा रहा है कि अब वह खतरे से बाहर हैं. इससे पहले बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर की पांचवीं रिपोर्ट भी नेगेटिव आई थी.

बता दें कि कनिका कपूर 9 मार्च को लंदन (London) से वापस आईं थीं, जिसके बाद 20 मार्च को उन्होंने खुद के कोरोना पॉजिटिव होने की बात सार्वजनिक की थी. इसके बाद उनपर खुद के कोरोना पॉजिटिव होने की खबर छुपाने और लापरवाही बरतने के आरोप लगने लगे थे. हालांकि, सिंगर का कहना है कि जब वह भारत वापस आईं थीं, तो देश में सेल्फ आईसोलेशन जैसी कोई व्यवस्था लागू नहीं की गई थी, बल्कि 10 मार्च को लोग होली खेल रहे थे. इसके बाद लगातार चार कोरोना टेस्ट में वो संक्रमण से पॉजिटिव पाई गई थीं.

उल्लेखनीय है कि कनिका कपूर संग एक होली पार्टी में मौजूद रहने के चलते राजस्‍थान की पूर्व सीएम वसुंधराजे सिंधिया और उनके बेटे दुष्यंत सिंह ने भी खुद को सेल्फ आइसोलेशन में रखा हुआ है. बात दें कि बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर के कई हाईप्रोफाइल लोगों के संपर्क में आने की बात कही गई थी. इसके बाद खलबली सी मच गई थी. आनन-फानन में उन्‍हें अस्‍पताल में भर्ती करवाया गया था. जहां उनका इलाज चला. शुरुआत रिपोर्ट में उनमें लगातार हाई-लोड आ रहा था. लेकिन, पांचवीं और छठवीं रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद उन्‍हें अस्‍पताल से छुट्टी दे दी गई.

यूपी में 296 हुई कोरोना मरीजों की संख्या

उत्तर प्रदेश में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के 296 मामले सामने आ चुके हैं. इनमें तबलीगी जमात (Covid-19) के 138 लोग शामिल हैं. प्रमुख सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने रविवार लखनऊ में संवाददाताओं से कहा कि, ‘अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित रोगियों की संख्या 296 हो गई है. इसमें से तीन-चार जनपद ऐसे हैं, जहां ज्यादा मामले सामने आए है.’

Input : News18

fight-against-covid-19-by-muzaffarpur-now

Continue Reading

Uncategorized

9 बजे 9 मिनट: सैंड आर्ट के जरिए बिहार के इस कलाकार ने PM की अपील को दोहराया

Muzaffarpur Now

Published

on

छपरा. देश भर में जारी कोरोना संकट (Covid-19) के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने आज रात के 9 बजे लोगों से घर के लाइट ऑफ कर दीपक, मोमबत्ती, टॉर्च या फ्लैश लाइट जलाने का आह्वान किया है. पीएम (PM) की इस अपील का जहां पूरे देश भर में स्वागत हो रहा है तो वहीं लोग तरह-तरह से इस अपील का सपोर्ट कर रहे हैं और पीएम के संदेश को मानने का आग्रह कर रहे हैं. पीएम मोदी के आह्वान पर 5 अप्रैल को रात्रि 9 बजकर 9 मिनट पर भारत के हर नागरिक को दीया, मोमबत्ती, टार्च, मोबाइल फ्लैश इत्यादि जलाने का जो सुझाव दिया गया है उसी के बारे में कलाकार अशोक ने सैंड आर्ट के जरिए लोगों से अपील की है.

ये है आर्ट बनाने की वजह

इस कलाकार ने बताया है कि अपने घरों में रहते हुए एक दीया जरूर जलाएं. इससे हमारी एकता और अखंडता का पैगाम पूरे विश्व मे जाएगा और हम इस वैश्विक महामारी में एक दूसरे की हिम्मत बनकर इस बीमारी का डटकर सामना करेंगे. सैंड आर्टिस्ट अशोक पहले भी कई सामाजिक कार्यों को लेकर सैंड आर्ट बनाते रहे हैं जिसकी लोग सराहना भी करते हैं.

शुक्रवार को जारी किया था मैसेज

पीएम मोदी ने शुक्रवार को एक वीडियो मैसेज के जरिए देशवासियों को इसकी अपील की थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘5 अप्रैल यानी इस रविवार को रात नौ बजे लोग अपने घरों से बाहर आएं. घरों की लाइटें बंद करें और दरवाजे पर खड़े होकर दीया जलाएं, मोमबत्ती जलाएं या फिर कुछ भी प्रकाश जलाएं. इस संदेश के जरिए पीएम ने देशवासियों के एकजुट होने की बात कही और कहा कि एकजुटता के दमपर ही इस महामारी को मात दी जा सकती है’.

सोशल डिस्टेंसिंग का रखें ध्यान

हालांकि, ये अपील करते हुए पीएम मोदी ने लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने को कहा. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, मेरी एक और प्रार्थना है, कि इस आयोजन के समय किसी को भी, कहीं पर भी इकट्ठा नहीं होना है. रास्तों में, गलियों या मोहल्लों में नहीं जाना है, अपने घर के दरवाज़े, बालकनी से ही इसे करना है.सोशल डिस्टेंसिंग की लक्ष्मण रेखा को कभी भी लांघना नहीं है. सोशल डिस्टेंसिंग को किसी भी हालत में तोड़ना नहीं है. कोरोना की चेन तोड़ने का यही रामबाण इलाज है.

Input : News18

fight-against-covid-19-by-muzaffarpur-now

Continue Reading

Uncategorized

CBSE 10th 12th Exam 2020: CBSE ने जारी की नोटिस, केवल 29 विषयों की होगी परीक्षा

Santosh Chaudhary

Published

on

CBSE ने बोर्ड एग्ज़ाम में हुई देरी को लेकर एक ऑफीशियल नोटीफिकेशन जारी करके कहा है कि सिर्फ 29 विषयों की ही परीक्षा कराई जाएगी. इससे पहले मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने भी कहा था कि सिर्फ 29 विषयों के लिए ही परीक्षा ली जाएगी. जिन पेपर्स के अंक हायर एजुकेशन इन्स्टीट्यूशन में एडमिशन के लिए ज़रूरी नहीं होते उनका एग्जाम नहीं लिया जाएगा. इसलिए बिजनेस स्टडीज़, भूगोल, सामाजिक विज्ञान और इंग्लिश जैसे पेपर की परीक्षा होगी. इस रिवाइज़्ड एग्जाम की डेट शीट उम्मीद की जा रही है कि जल्द ही जारी की जाएगी.

इसलिए 10वीं कक्षा का आईसीटी (इन्फॉर्मेशन एंड कम्युनिकेशन टेक्नॉलजी) से संबंधित पेपर जो कि छूट गया था, उसे कैंसिल किया जा सकता है. इसी तरह से बारहवीं के लिए बिजनेस स्टडीज़, भूगोल, हिंदी (इलेक्टिव और कोर), होम साइंस, सामाजिक विज्ञान, कंप्यूटर साइंस, इन्फॉर्मेशन प्रेक्टिस (नया और पुराना), इन्फॉर्मेशन टेक्नॉलजी और बायो टेक्नॉलजी का पेपर कंडक्ट करवाया जाएगा.

वहीं, उस वक्त पूर्वोत्तर दिल्ली में विरोध प्रदर्शन के चलते फैली अव्यव्था के कारण जिन पेपर्स को उस वक्त कैंसिल करना पड़ा था, उसे भी कंडक्ट करवाया जाएगा. बता दें कि सीबीएसई बोर्ड एग्जाम 19 से लेकर 31 मार्च के बीच होना था, लेकिन कोरोना वायरस की वजह से उसे टाल दिया गया था. इसी नोटिस में सीबीएसई ने ये भी कहा है कि पहली कक्षा से आठवीं कक्षा के स्टूडेंट्स को बिना एग्जाम के ही प्रमोट कर दिया जाएगा, जबकि 9वीं और 11वीं कक्षा के स्टूडेंट्स को इंटरनल स्कूल असेसमेंट के जरिए प्रमोट किया जाएगा.

Continue Reading
INDIA58 mins ago

देशभर में संक्रमित मरीजों की संख्या 4281 हुई, अब तक 111 लोगों की मौत

INDIA1 hour ago

कोरोना: समस्याओं से अधिक चुनौतियां

MUZAFFARPUR1 hour ago

भगवान श्रीराम के खिलाफ अमर्यादित वीडियो वायरल करने वाला गिरफ्तार; समाज ने ही किया बहिष्कृत

BIHAR2 hours ago

बाहर फंसे अप्रवासी बिहारियों के खाते में भेजे 10.35 करोड़

BIHAR2 hours ago

लॉकडाउन : अब तक 9000 से अधिक वाहन जब्त, 445 लोग हुए गिरफ्तार

BIHAR3 hours ago

बिहार: सात साल से था जेल में बंद, परिवार ने सोचा मर गया है बेटा, Corona ने ऐसे मिलवाया

BIHAR4 hours ago

गांवों की चहल-पहल पर भारी पड़ा लॉकडाउन, लेकिन अनुशासन देखने लायक

WORLD4 hours ago

UK PM बोरिस जॉनसन की हालत बिगड़ी, सांस लेने में दिक्‍कत के बाद आईसीयू में किया गया शिफ्ट

BIHAR4 hours ago

कोरोना से जिंदगी की जंग जीतकर NMCH से डिस्चार्ज हुए सिवान के चार मरीज, बिहार में कोई नया केस भी नहीं

MUZAFFARPUR14 hours ago

बरुराज में हथियार के साथ 5 अपराधी गिरफ्तार, लूटी गई बाइक, मोबाइल समेत अन्य समान बरामद

INDIA3 days ago

गृह मंत्रालय का बड़ा फैसला, अब लॉकडाउन के दौरान मिलेगी ये छूट, देखें लिस्ट

BIHAR2 weeks ago

स्पाइसजेट का सरकार को प्रस्ताव, दिल्ली-मुंबई से बिहार के मजदूरों को ‘घर’ पहुंचाने के लिए हम तैयार

INDIA2 weeks ago

PM मोदी को पटना के बेटे ने दिए 100 करोड़ रुपये, कहा – और देंगे, थाली भी बजाई

INDIA2 weeks ago

पूरी हुई जनता की डिमांड, कल से दोबारा देख सकेंगे रामानंद सागर की ‘रामायण’

BIHAR2 days ago

बिहार में शुरू हुआ कोरोना का चेन ब्रेक, थर्ड स्टेज का खतरा भी कमा

BIHAR3 weeks ago

जूली को लाने सात समंदर पार पहुंचे लवगुरु मटुकनाथ, बोले- जल्द ही होंगे साथ

BIHAR3 weeks ago

बिहार में 81 एक्सप्रेस और 32 पैसेंजर ट्रेनें दो सप्ताह के लिए रद्द, देखें लिस्ट

INDIA1 week ago

Lockdown के दौरान युवक ने फोन करके कहा 4 समोसे भिजवा दो, डीएम ने भिजवाए 4 समोसे और साफ कराई नाली

BIHAR2 weeks ago

अब नहीं सचेत हुए बिहार वाले तो, अपनों की लाशें उठाने को रहें तैयार

INDIA1 week ago

COVID-19 के बीच सलमान खान के भतीजे की मौत, परिवार में शोक की लहर

Trending