बिहार के हजारों सेवानिवृत्त शिक्षकों व परिजनों को मिलेगी बढ़ी हुई पेंशन

0
97

राज्य के विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों के सेवानिवृत्त और मृत शिक्षकों के परिजनों को अब केंद्र सरकार के पेंशन पुनरीक्षण आदेश के हिसाब से पेंशन या पारिवारिक पेंशन मिलेगी।

राज्य कैबिनेट ने इस फैसले को सोमवार शाम हरी झंडी दे दी। राज्य सरकार के इस फैसले से हजारों की संख्या में सेवानिवृत्त शिक्षकों या उनके परिजनों को लाभ होगा। अब उन्हें केंद्र की तर्ज पर बढ़ी हुई पेंशन मिलेगी।

वहीं, कैबिनेट ने राज्य के चीनी उद्योग को संकट से उबारने के लिए भी पैकेज दिया है। गन्ना उत्पादक किसानों को ईंख मूल्य के समय से भुगतान के लिए पैकेज के रूप में पेराई सत्र 2018-19 के लिए 12.50 रुपए प्रति कुंटल की दर से 112.50 करोड़ दिए हैं।

साथ ही मौजूदा पेराई सत्र के लिए ईंख क्रय-कर की अदायगी में छूट दी गई है। क्षेत्रीय विकास परिषद कमीशन ईंख मूल्य की दर का 0.20 प्रतिशत पुनर्निर्धारण करने की स्वीकृति दी है।

अल्पसंख्यक माध्यमिक स्कूल शिक्षकों को सातवां वेतनमान
मान्यता प्राप्त अराजकीय अल्पसंख्यक माध्यमिक स्कूलों के शिक्षक व कर्मियों को सप्तम वेतन का लाभ मिलेगा। यह लाभ राजकीयकृत माध्यमिक स्कूलों के कर्मियों की तरह ही मिलेगा। साथ ही इसके लिए यह जरूरी होगा कि उनकी नियुक्ति एक जनवरी 2006 के पहले हुई हो।

इसके अलावा मान्यता प्राप्त गैर सरकारी सहायता प्राप्त (अल्पसंख्यक सहित) प्रारंभिक स्कूलों के कर्मियों को सातवें वेतन का लाभ मिलेगा। इस लाभ की गणना जनवरी 2006 से होगी, लेकिन इसका आर्थिक लाभ कर्मियों को एक अप्रैल 2007 से दिया जाएगा।

Input :Live Hindustan

Digita Media, Social Media, Advertisement, Bihar, Muzaffarpur

billions-spice-food-courtpreastaurant-muzaffarpur-grand-mall 

Total 0 Votes
0

Tell us how can we improve this post?

+ = Verify Human or Spambot ?