Connect with us

BIHAR

बिहार बोर्ड इंटर मूल्यांकन अंतिम चरण में, जानें कब आ सकते हैं नतीजे

Muzaffarpur Now

Published

on

बिहार बोर्ड इंटर मूल्यांकन अंतिम चरण में है। पटना जिले के केंद्रों पर मूल्यांकन लगभग समाप्त हो चुका है। अब दूसरे जिलों से उत्तर पुस्तिका मंगवा कर पटना जिला के मूल्यांकन केंद्रों पर जांच करवाई जा रही है। ऐसे में कहा जा सकता है कि बिहार बोर्ड के नतीजों  समय पर जारी हो सकते हैं। आपको बता दें कि बिहार बोर्ड इंटरमीडिएट एवं वार्षिक माध्यमिक परीक्षा, 2020 का परीक्षाफल मार्च-अप्रैल माह में जारी होगा।

पटना जिला शिक्षा कार्यालय की मानें तो एक लाख कॉपियां अभी अन्य जिलों से आई हैं। ज्ञात हो कि पटना जिले में इंटर की तीन लाख कॉपियों की जांच होनी थी। इंटर मूल्यांकन पहले नौ मार्च तक समाप्त होना निर्धारित था। इसे बढ़ा कर 14 मार्च किया गया है।

आनंद किशोर ने बताया कि समिति द्वारा इंटरम एवं वार्षिक माध्यमिक परीक्षा का रिजल्ट समय पर ही जारी किया जाएगा। हालांकि इंटर की कॉपियों का मूल्यांकन तो पहले से ही शुरू हो चुका है। बताया जा रहा है कि अधिकतर केंद्रों पर 50 फीसदी से भी कम शिक्षकों ने मूल्यांकन में योगदान दिया है।

वहीं, मैट्रिक मूल्यांकन 17 मार्च तक समाप्त करना है, लेकिन इसपर शिक्षकों की हड़ताल का असर दिख रहा है। पटना जिला शिक्षा कार्यालय की मानें तो 12 मूल्यांकन केंद्रों पर 2650 परीक्षकों को मूल्यांकन में लगाया गया है। अब तक 1481 परीक्षकों ने ही योगदान दिया है। इससे मैट्रिक मूल्यांकन में देरी हो रही है। सूत्रों के अनुसार आठ लाख में अब तक लगभग दो लाख उत्तर पुस्तिकाओं की ही जांच हो पायी है। मैट्रिक मूल्यांकन में योगदान नहीं देने पर अब तक 120 परीक्षकों पर प्राथमिकी भी दर्ज करायी जा चुकी है।

MUZAFFARPUR

श्रावणी मेला नहीं लगने से करोड़ों का कारोबार चौपट

Santosh Chaudhary

Published

on

मुजफ्फरपुर : कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के कारण इस साल जिले में श्रावणी मेला नहीं लग सकेगा। इससे करोड़ों का कारोबार चौपट हो जाएगा। जिले में बाबा गरीबनाथ मंदिर के अलावा औराई प्रखंड के बाबा आनंद भैरवनाथ मंदिर, बन्दरा के बाबा खगेश्वरनाथ महादेव मंदिर, सरैया के कामेश्वरनाथ महादेव मंदिर व मुशहरी के दूधनाथ महादेव मंदिर में श्रावणी मेला लगता था। इन मंदिरों के अलावा अन्य मंदिरों को मिलाकर 25 से 30 लाख कांवरिया व स्थानीय श्रद्धालु भोलेनाथ का जलाभिषेक करते थे। इससे पूरे सावन भर कपड़ा, फूलमाला, प्रसाद, कांवर, ट्रांसपोर्ट समेत अन्य कारोबार 50 से 60 करोड़ का हुआ करता था।

इस बार भी कई व्यवसायियों ने श्रावणी मेले को लेकर तैयारी कर रखी थी। बेहतर कारोबार की आस लगाए बैठे कारोबारियों की उम्मीद पर मेला नहीं लगने से पानी फिर गया है। सूतापट्टी के कपड़ा व्यवसायी नवीन चाचान ने बताया कि पिछले साल का भी माल है और इस बार की भी तैयारी कर रखी थी। श्रावणी मेला नहीं लगने से खरीदार नहीं आ रहे हैं। वहीं, चैम्बर ऑफ कॉमर्स के मीडिया प्रभारी सज्जन शर्मा ने बताया कि अधिकतर व्यवसायियों ने माल मंगवा लिया था। मेला नहीं लगने से 20 से 25 करोड़ का कपड़े का कारोबार प्रभावित हो जाएगा। स्टेशन रोड के होटल संचालक राजेश कुमार ने बताया कि कांवरियों के हिसाब से खाना बनता था। इससे सावन भर 50 हजार से अधिक की कमाई होती थी।

फूलमाला आर प्रसाद का कारोबार प्रभावित : फूलमाला, चिउरा, मकुरदाना, पेड़ा, बधी का कारोबार भी प्रभावित हो जाएगा। कारोबारी कमलेश कुमार ने बताया कि बंगाल से चिउरा व खगड़ियां से पेड़ा मंगवाने के साथ स्थानीय तौर पर मकुरदाना व पेड़ा बनाकर बेचा करते थे। मेला नहीं लगने से लगभग दो करोड़ का कारोबार नहीं हो सकेगा। वहीं, फूल-माला कारोबारी विनोद कुमार ने बताया कि मंदिर बंद होने से फूलों के कारोबार पर असर पड़ा है।

एक करोड़ का ट्रांसपोर्ट का कारोबार प्रभावित : सावन में जलबोझी के लिए जाने को कांवरिया ट्रांसपोर्ट का अधिक इस्तेमाल किया करते थे। बिहार मोटर ट्रांसपोर्ट फेडरेशन के अध्यक्ष उदय शंकर प्रसाद सिंह ने बताया कि पूरे बिहार में 20 से 25 करोड़ का ट्रांसपोर्ट का कारोबार प्रभावित हुआ है। जिले में एक करोड़ का कारोबार मेले पर रोक से चौपट हो गया है।

गरीबनाथ मंदिर में 15 लाख श्रद्धालु करते थे जलाभिषेक

गरीबनाथ मंदिर में जलाभिषेक के लिए तांता लगता रहता था। प्रधान पुजारी पं. विनय पाठक बताते हैं कि सोमवारी पर रविवार रात से लगातार जलाभिषेक का शुरू सिलसिला सोमवार दोपहर बाद तक चलता था। पूरे सावन माह में 10 से 15 लाख कांवरिया व स्थानीय श्रद्धालु बाबा का जलाभिषेक किया करते थे।

bol-bam-098

Input : Hindustan

Continue Reading

BIHAR

बिहार में मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, 11 जिलों में बारिश और वज्रपात की चेतावनी

Muzaffarpur Now

Published

on

मौसम विभाग ने एक बार फिर बिहार में कई जिलों में बारिश और वज्रपात का अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग ने 11 जिलों के लिए अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग ने शिवहर, सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर बक्सर, सीवान, भभुआ, रोहतास, पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण और गोपालगंज में अगले 2 से 3 घंटे के अंदर बारिश और वज्रपात की आशंका जताई है. मौसम विभाग ने अलर्ट के जरिए इन जिलों के लोगों को वज्रपात से सावधान रहने को कहा है.

View this post on Instagram

देखें,भारी वर्षा के साथ ठनका को लेकर राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के द्वारा जन-हित मे जारी वीडियो

A post shared by Muzaffarpur Now (@muzaffarpurlive) on

मौसम विभाग ने अपील की है कि जरूरत न हो तो घरों से न निकले. मौसम विज्ञान केंद्र पटना के निदेशक विवेक सिन्हा के अनुसार ये स्थिति अमूमन रविवार तक रहेगी. दरअसल राज्य में ऐसी परिस्थितियां बन रही हैं, जिसके अनुसार कई जिले वज्रपात से प्रभावित होंगे. मौसम विज्ञान केंद्र पटना ने राज्य के अलग- अलग हिस्सों में 48 घंटे तक मेघगर्जन के साथ बारिश और वज्रपात का अलर्ट जारी किया है.

आपको बता दें कि बिहार में आकाशीय बिजली गिरने से कई लोगों की मौत हो गई. प्रदेश में शुक्रवार को ठनका गिरने से कुल चौदह लोगों की मौत हो गयी. वैशाली में सबसे अधिक छह लोगों की जानें गयी जबकि पूर्वी बिहार में चार, समस्तीपुर में तीन व गया में एक किशोरी की ठनका गिरने से मौत हो गयी.

Input : Live Cities

Continue Reading

BIHAR

बिहार के किसानों के लिए राहत की खबर, टिड्डी मुक्त हुआ प्रदेश

Muzaffarpur Now

Published

on

पटना. बिहार के किसानों (Farmers) के लिए राहत की खबर है. सूबे में अब टिड्डियों (Locusts) का खतरा टल गया है. कृषि मंत्री डॉ प्रेम कुमार ने इस बात की जानकारी दी. कृषि मंत्री ने कहा कि राज्य में पिछले दिनों टिड्डियों का हमला हुआ था, पर विभाग एवं स्थानीय प्रशासन की सक्रियता एवं किसानों के सहयोग से इस समस्या का निबटारा कर लिया गया है. बिहार में करीब चार लाख टिड्डियों का प्रवेश हुआ था. इनमें से अधिकतर को मार दिया गया. बाकी टिड्डियां सूबे से बाहर चल गई. हालांकि बतौर मंत्री जी कृषि विभाग अभी भी कुछ जिलों को एहतियात के तौर पर अलर्ट पर रखा है.

बिहार के किसानों के लिए राहत की खबर, टिड्डी मुक्त हुआ प्रदेश

3.85 लाख टिड्डियों ​का हुआ था प्रवेश

फिलहाल राज्य के किसी भी जिले से टिड्डी दल के होने की सूचना नहीं है. और कहीं से भी फसल के नुकसान की भी खबर नहीं है. ये राज्य के किसानों और कृषि विभाग दोनों के लिए राहत की बात है. कृषि मंत्री ने कहा कि बिहार में दो लाख से 3.85 लाख टिड्डियों का प्रवेश हुआ था. भोजपुर, समस्तीपुर, पटना, पश्चिमी चम्पारण, कैमूर, जहानाबाद और रोहतास जिलों में लगभग सभी टिड्डियों का सफाया कर दिया गया. शेष टिड्डियां कहीं अन्यत्र चली गईं.

स्थिति नियंत्रण में फिर भी कुछ जिलों में अलर्ट

मंत्री ने कहा कि मैं स्वयं पल-पल इस विषय पर माॅनिटरिंग कर रहा था. गुरूवार को कृषि निदेशक के द्वारा 48 घंटे के अन्दर टिड्डियों पर नियंत्रण के लिए विभागीय पदाधिकारियों को निर्देशित किया गया था. कृषि विभाग के पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों के संयुक्त प्रयास से बहुत हद तक टिड्डियों की समस्या का समाधान हो गया है. बतौर मंत्री अब स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है, बावजूद इसके एहतियातन समस्तीपुर, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, वैशाली एवं बेगूसराय जिले को अलर्ट पर रखा गया है.

गुरूवार देर रात समस्तीपुर जिले के समस्तीपुर एवं वारिस नगर प्रखंड में टिड्डी दल होने की सूचना मिली. जिसके बाद कृषि विभाग के अधिकारियों ने कीटनाशकों का छिड़काव कर बड़ी संख्या में टिड्डियों को मार डाला.

Input : News18

 

Continue Reading
MUZAFFARPUR4 mins ago

श्रावणी मेला नहीं लगने से करोड़ों का कारोबार चौपट

BIHAR25 mins ago

बिहार में मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, 11 जिलों में बारिश और वज्रपात की चेतावनी

BIHAR41 mins ago

बिहार के किसानों के लिए राहत की खबर, टिड्डी मुक्त हुआ प्रदेश

BIHAR1 hour ago

बिहार के उर्जा मंत्री ने उठाई मांग, एक देश एक बिजली दर हो लागू

BIHAR1 hour ago

बिहार: लग्जरी कार से भारी मात्रा में विदेशी शराब बरामद, JDU महासचिव का लगा है बोर्ड

BIHAR2 hours ago

बिहार में तेजी से कोरोना संक्रमण देख DGP बोले.. बाप रे बाप! बढ़त जात करोना!!

MUZAFFARPUR3 hours ago

मुजफ्फरपुर : डॉक्टरों के संपर्क वालों की तलाश तेज

MUZAFFARPUR4 hours ago

डॉक्टरों व अस्पताल को प्रशासन ने भेजा नोटिस

MUZAFFARPUR4 hours ago

मंत्री ने खुद संभाली कमान, तीन दिनों में कचरा मुक्त होगा शहर

MUZAFFARPUR4 hours ago

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत खुदकुशी मामले में सलमान के अधिवक्ता मुजफ्फरपुर कोर्ट में हुए हाजिर

INDIA4 weeks ago

धोनी ने खरीदा स्‍वराज ट्रैक्‍टर तो आनंद महिंद्रा ने दिया बड़ा बयान, वायरल हुआ ट्वीट

BIHAR3 weeks ago

सुशांत के परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़, सदमा नहीं झेल पाईं भाभी, तोड़ा दम

ENTERTAINMENT4 days ago

सामने आया चंद्रचूड़ सिंह के फिल्म इंडस्ट्री छोड़ने का असली रीजन

BIHAR3 weeks ago

प्रिय सुशांत – एक ख़त तुम्हारे नाम, पढ़ना और सहेज कर रखना

INDIA3 weeks ago

सुशांत स‍िंह राजपूत की सुसाइड पर बोले मुकेश भट्ट, ‘मुझे पता था ऐसा होने वाला है…’

BIHAR3 weeks ago

लालू के बेटे तेजस्वी यादव की कप्तानी में खेलते हुए बदली विराट कोहली की किस्मत!

MUZAFFARPUR2 weeks ago

सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर एकता कपूर ने तोड़ी चुप्पी, कहा- मेरे खिलाफ मुकदमा करने के लिए शुक्रिया

BIHAR1 week ago

बिहार में नहीं चलेंगी सलमान खान, आलिया भट्ट, करण जौहर की फिल्में

INDIA2 weeks ago

सुशांत के व्हॉट्सऐप चैट आये सामने, उनको फिल्म करने में हो रही थी परेशानी

INDIA3 weeks ago

चांद पर प्लॉट खरीदने वाले पहले एक्टर थे सुशांत सिंह राजपूत!

Trending