बिहार में जल-प्रलय की आहट; कई जगह तटबंध टूटे, पटना-नेपाल सड़क संपर्क भंग
Connect with us
leaderboard image

BIHAR

बिहार में जल-प्रलय की आहट; कई जगह तटबंध टूटे, पटना-नेपाल सड़क संपर्क भंग

Avatar

Published

on

बिहार व नेपाल के जल-ग्रहण वाले इलाकों में भारी बारिश के कारण बिहार में अब जल-प्रलय जैसे हालात बनते दिख रहे हैं। कोसी व बागमती सहित प्रमुख नदियों में भयानक उफान के कारण त्राहिमाम की स्थिति है। देर रात बागमती के पानी के कारण सीतामढ़ी में पटना को नेपाल से जोड़ने वाला महत्‍वपूर्ण पुल टूट गया। उधर, कोसी प्रमंडल में तटबंध के भीतर अचानक पानी के प्रवेश के बाद वहां से लोगों का पलायन शुरू है। सीतामढ़ी, दरभंगा, मधुबनी, चंपारण व किशनगंज सहित जगह-जगह तटबंध टूटे हैं।

कोसी तटबंध पर पानी का भयानक दबाव है। एहतियातन कोसी बराज से चार लाख क्‍यूसेक पानी छोड़ा गया है। बराज के सभी 56 फाटक खोल दिए गए हैं।  इस बीच मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर प्रशासन अलर्ट मोड में है। प्रभावित जिलों में सरकारी अधिकारियों की छुट्टी पर रोक लगा दी गई है।


बाढ़ से प्रभावित छह जिले

आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने बताया कि बिहार के छह जिले (शिवहर, सीतामढ़ी, पूर्वी चंपारण, मधुबनी, अररिया व किशनगंज) बाढ़ प्रभावित हैं। संबंधित जिलों के डीएम बाढ़ राहत के काम में जुट गए हैं। आपदा प्रबंधन विभाग भी स्थिति पर नजर है।

सीतामढ़ी होकर पटना-नेपाल सड़क संपर्क भंग

सीतामढ़ी में सुप्पी प्रखंड के जमला गांव के पास बागमती नदी का बांध टूट गया है। इस करण सुप्पी प्रखंड के एक दर्जन से अधिक गांवों में बाढ़ का पानी तेजी से घुस रहा है। बांध टूटने से लोगों में हाहाकार मच गया है। सोनबरसा और परिहार के नए इलाकों में बाढ़ का पानी घुसने से भी लोग दहशत में हैं। सीतामढ़ी का पूर्वी चंपारण जिले से सड़क संपर्क भी भंग है।
बागमती में उफान के कारण सीतामढ़ी के मेजरगंज में पटना को सीतामढ़ी से जोड़ने वाली सड़क पर स्थित पुल शनिवार की देर रात बह गया। इस कारण पटना का सीतामढ़ी से सड़क संपर्क टूट गया है। यही सड़क पटना को नेपाल से जोड़ती है। इस कारण पटना का सीतामढ़ी होकर नेपाल से सड़क संपर्क टूट गया है।

बाढ़ के हालात को देखते हुए सीतामढ़ी में डीएम रंजीत कुमार ने जिले में सभी सरकारी व गैरसरकारी स्‍कूलों को 20 जुलाई तक बंद करने का निर्देश दिया है।

रौद्र रूप में कोसी, तटबंध के भीतर हालत गंभीर

बिहार व नेपाल में कोसी के जल-ग्रहण क्षेत्र में लगातार बारिश के कारण कोसी नदी अपना रौद्र रूप दिखाने लगी है। डेढ़ दशक बाद इसका डिस्‍चार्ज चार लाख क्‍यूसेक पार गया है। इससे पूर्व 2004 में यहां का डिस्चार्ज चार लाख के करीब पहुंचा था। रविवार घरों में पानी घुस जाने से तटबंध के अंदर के गांवों में अफरा-तफरी मच गई है। लोग सुरक्षित ठिकानों की तलाश में निकलने लगे हैं। देर रात से ही अफरा-तफरी का माहौल है। किसी के घर बह गए हैं तो किसी के मवेशी।

सुपौल में सुरक्षा बांध टूटा

सुपौल के सरायगढ भपटियाही प्रखंड अंतर्गत गढ़िया सुरक्षा बांध टूट जाने से वहां बसी एक हजार आबादी के लिए विकट समस्या खड़ी हो गई है । पूर्वी तटबंध के 33.90 किमी स्परों के उपर से पानी बह रहा है। ये स्पर एनएच 57 से बिलकुल सटे हैं। वहीं मरौना निर्मली मुख्य सड़क मरौना चौक के समक्ष टूट गई है, जिससे मरौना थाना और स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र से लोगों का संपर्क टूट गया है।

कोसी बांध पर खतरा मंडराया

कोसी में अचानक भयानक जल-प्रवाह से बांध पर खतरा मंडराने लगा है। अगर यह टूटा तो जल-प्रलय आना तय है। खतरे को देखते हुए कोसी बराज के सभी 56 फाटक खोल दिए गए हैं। इसके साथ पानी भयानक प्रवाह के साथ निचले रिहायशी इलाकों व खेतों की ओर चल पड़ा है। इस कारण सुपौल, सहरसा और मधेपुरा समेत आसपास के जिलों में तटबंध के आसपास बसी पांच लाख की आबादी खतरे में है।

सहरसा में तटबंध के अंदर बसे गांवों में बाढ़ का पानी फैलने लगा है। वहां स्थिति भयावह है। नवहट्टा, महिषी, सलखुआ आदि प्रखंडों के तटबंध के अंदर बसे गांवों के निचले इलाकों में पानी फैल गया है। मधेपुरा में भी नदियां उफान पर हैं। कोसी और उसकी उपनदियों में शुक्रवार रात से तेजी से पानी बढ़ रहा है। आलमनगर और चौसा प्रखंड के निचले इलाकों में पानी भर आया है। वहीं, कुमारखंड प्रखंड में सुरसर नदी उफान पर है।

चार लाख क्यूसेक डिस्चार्ज

सुपौल में शनिवार संध्या चार बजे कोसी बराज से 3,07,655 क्यूसेक जलस्राव रिकॉर्ड किया गया। देर रात 10 बजे तक यह डिस्चार्ज चार लाख क्यूसेक के करीब हो गया था। रविवार सुबह तक यह चार लाख क्‍यूसेक पार कर गया था। इससे सुपौल, बसंतपुर, सरायगढ़-भपटियाही, किसनपुर, मरौना और निर्मली प्रखंड के दर्जनों गांवों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है। सिकरहट्टा मझारी लो बांध के 6.40 एवं 9.40 बिंदुओं पर नदी का दबाव बढ़ गया है। पुल्टेगौड़ा स्थित स्पर संख्या 11 पर रेनकट के कारण कोसी का दबाव बढ़ गया है।

मरौना-निर्मली मुख्य सड़क पर दबाव

उधर, तिलयुगा व बिहुल नदी भी उफान पर है। बिहुल नदी में पानी बढऩे से बेलही से ललमिनिया जाने वाली सड़क दो भागों में विभक्त हो गई। वहीं, तिलयुगा नदी ने बसखेरा गांव के समीप मरौना-निर्मली मुख्य सड़क पर दबाव बना रखा है। किसनपुर प्रखंड क्षेत्र के नौआबाखर में ग्रामीणों द्वारा बनाए गए सुरक्षा बांध के टूटने से कई गांव जलमग्न हो गए।

दरभंगा में टूटा कमला नदी का तटबंध

मधुबनी जिले में कमला बलान झंझारपुुर में खतरे के निशान से तीन मीटर ऊपर बह रही है। दरभंगा जिले के तारडीह प्रखंड के ककोढ़ा एवं कैथवार के पास कमला नदी का बायां तटबंध और घनश्यामपुर के कुमरौल के पास दायां तटबंध रविवार की सुबह में टूट गया। उधर, झंझारपुर के नरूआर के पास तटबंध टूटने से मनीगाछी की दो पंचायतों में पानी घुस गया है। अफरातफरी के बीच लोग अपने सामान एवं मवेशी को सुरक्षित करने में लगे हुए हैं। पानी का प्रवाह अगस्त 2017 में आई बाढ़ से ज्यादा तेज है।

गाेपालगंज में भरभरा कर गिरा तीनमंजिला मकान
गोपालगंज के भोरे थाना क्षेत्र के पड़ौली गांव में तेज बारिश के बीच एक तीन मंजिला मकान भरभरा कर गिर गया। मकान झुकते देख समय रहते घर के सदस्यों ने घर से बाहर निकल कर अपनी जान बचाई। हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ।

पूर्वी चंपारण, सीतामढ़ी, शिवहर और मधुबनी में बढ़ रहा पानी

पूर्वी चंपारण में बंजरिया प्रखंड के घोड़मरवा गांव के पास दुधौरा नदी पर बना तटबंध टूट गया। आसपास के गांवों में तेजी से पानी फैलने लगा है। पताही व ढाका में बागमती का पानी कई गांवों में प्रवेश कर गया है। डीएम रमण कुमार ने खुद रेनकट की मरम्मत की लिए बालू की बोरियां भरीं। गुरहनवा स्टेशन के ट्रैक पर पानी के बढ़ रहे दबाव को लेकर सीतामढ़ी- रक्सौल रेलखंड पर परिचालन ठप कर दिया गया है।

समस्तीपुर और सीतामढ़ी जिले में बागमती, लखनदेई, झीम, रातो, मरहा और लालबकेया नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। सोनबरसा-नेपाल सड़क पर चार फीट पानी बह रहा है। बाढ़ को देखते हुए शनिवार को सीतामढ़ी-बैरगनिया-रक्सौल रेलखंड पर ट्रेनों के परिचालन पर रोक लगा दी गई।  मुजफ्फरपुर जिले के कटरा और औराई प्रखंड में स्थिति भयावह होती जा रही है। शिवहर- पिपराही पथ (एसएच 54) पर करीब दो फीट पानी चढ़ गया है। मंडल कारा परिसर में भी पानी प्रवेश कर गया है।

मोतिहारी में लालबकेया व बागमती खतरे से निशान से ऊपर
पूर्वी चंपारण जिले में हुई भारी बारिश के बाद यहां की नदियों में उफान है। बागमती व लालबकेया  खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। पताही, ढाका व फेनहारा के दर्जनों गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया है। पताही के जिहुली में ढाका पूर्व विधायक अवनीश सिंह और मुखिया के घर में भी बाढ़ का पानी घुस गया है। उधर, गंडक व बूढ़ी गंडक नदी के जलस्तर में भी तेजी से वृद्धि होने के साथ तटबंधों पर दबाव बढ़ने लगा है।

Input : Dainik Jagran

MUZAFFARPUR

आधुनिक तकनीक से टंकी की सफाई अब अपने शहर में भी

Pratik Ratna

Published

on

अब टंकी के गंदे पानी से नहीं होना पड़ेगा बिमार क्योंकि अपने शहर मुजफ्फरपुर में पानी की टंकी की वैज्ञानिक एवं आधुनिक तकनीक से सफाई करनें वाली Clean Care कंपनी द्वारा TANK CLEAN नामक ब्रांड की शुरुआत हो चुकी हैं। इस तकनीक से टंकी की सफाई छः चरणों में पुरी की जाती है जिससे पानी की टंकी हानिकारक जीवाणु रहित हो जाती हैं।

आज भी हमलोग ब्रश, स्नान और खाना बनाने जैसे दैनिक क्रिया टंकी के पानी से ही करतें हैं जिससे हानिकारक जीवाणु आसानी से हमारे शरीर के अंदर प्रवेश कर जाते हैं और डायरिया, जौंडिस, टाइफाइड, गैस्ट्रिक, त्वचा के संक्रमण, बालों का झड़ना आदि बिमारियों का सामना करना पड़ता हैं।

TANK CLEAN एक ISO 2001:2015 प्रमाणित कंपनी हैं जिसमें कुशल, अनुभवी एवं प्रशिक्षित कर्मचारी 500 से 1000 लीटर तक की टंकी की सफाई महज 1 घंटे से भी कम समय में कर देतें हैं जिसका शुल्क मात्र ₹499 हैं। आप मात्र ₹1200 में एक वर्ष की सदस्यता ले सकते हैं जिसमें प्रत्येक 4 महीनें पर इस सेवा का लाभ मिलेगा। किसी भी आवासीय, व्यवसायिक, स्कूल, कॉलेज, होटल, रेस्तरां, हॉस्पिटल, फैक्ट्री आदि के लिए 500 से 5 लाख लीटर तक के टंकी की सफाई कराने के लिए आज हीं संपर्क करें।

मोबाइल नंबर – 8002338888

www.citycleancare.com

Continue Reading

BIHAR

अब मुनिया नहीं बनेगी परिवार पर बोझ, जन्म से लेकर पढ़ाई तक का खर्च उठाएगी सरकार

Avatar

Published

on

भागलपुर । बेटियां अब परिवार पर बोझ नहीं बनेंगी। सरकार अब उसके जन्म से लेकर पढ़ाई तक का खर्च उठाने के लिए तैयार है। इसके लिए मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना शुरू की गई है। भागलपुर जिले में सात हजार 163 लड़कियों को इस योजना का लाभ मिलेगा। यह लाभ उन्हीं बच्चों को मिलेगा, जिसका जन्म सरकारी अस्पताल में हुआ है।

यह मिलेगा लाभ

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के अंतर्गत बिहार सरकार एक लड़की के जन्म पर 5 हजार रुपये, इंटर स्कूल परीक्षाओं (अविवाहित) के पश्चात 10 हजार रुपये, स्नातक डिग्री उत्तीर्ण करने पर 25 हजार रुपये देगी।

सेनेटरी नेपकीन के लिए मिलेगी राशि

कन्या उत्थान योजना के तहत लड़कियों को सेनेटरी नेपकीन के लिए भी सरकार की तरफ से 300 रुपये मिलेगी। इससे पहले केवल 150 रुपये मिलती थी, अब इस राशि को दुगना कर दिया है।

कन्या उत्थान योजना का उद्देश्य

कन्या मृत्यु दर को कम करना, शिशु भ्रुण हत्या को खत्म करने, शिशु मृत्यु दर में कमी लाना, लड़कियों का जन्म पंजीकरण और पूर्ण टीकाकरण करना, लिंग अनुपात में वृद्धि करना, लड़कियों के जन्म और उनकी शिक्षा को बढ़ावा देना, बाल विवाह को खत्म करना, लड़कियों को आत्मनिर्भर बनाना, परिवार और समाज के निर्माण में महिलाओं के योगदान में वृद्धि करना, लड़कियों के जीवन स्तर को बढ़ाना, लड़कियों के गौरव को बढ़ाना एवं लड़कियों को समाज में समानता का अधिकार दिलाना भी है।

जिला कार्यक्रम पदाधिकारी अर्चना कुमारी ने कहा कि मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के तहत जिले में शून्य से एक वर्ष की पांच हजार 797 और एक से दो वर्ष की एक हजार 366 बच्चियों को लाभ मिलेगा। अनुसूचित जाति के 2243 और अनुसूचित जनजाति के 127 बच्चियों को लाभ मिलेगा। योजना से जुड़ी सारी प्रक्रिया पूरी कर ली गई है।

कन्या उत्थान योजना के लिए योग्यता

-आवेदक लड़की को बिहार का मूल निवासी होना अनिवार्य है।

-कन्या उत्थान योजना का लाभ लेने के लिए लड़की गरीब घर की होनी चाहिए।

-इस योजना का लाभ उसी लड़की को मिलेगा, जिसके घर का कोई भी सदस्य सरकारी नौकरी में न हो।

-अगर लड़की को 10,000 हजार रुपये की छात्रवृत्ति राशि प्राप्त करनी है, तो उसे 12वीं कक्षा की मार्कशीट जमा करनी होगी।

-अगर लड़की को 25,000 हजार रुपये की छात्रवृत्ति राशि प्राप्त करनी है तो उसे स्नातक की मार्कशीट जमा करनी होगी।

योजना के लाभ के लिए जरूरी

-आधार कार्ड की फोटो कॉपी

-वोटर आइडी कार्ड की कॉपी

-बैंक पासबुक की फोटो कॉपी

-पासपोर्ट साइज की फोटो

-12वीं कक्षा की मार्कशीट

-स्नातक की मार्कशीट

Input : Dainik Jagran

Continue Reading

MUZAFFARPUR

दिनदहाड़े बाइक सवार अप’राधियों ने सेंट्रल बैंक के सीएसपी से दो लाख लू’टे

Avatar

Published

on

करजा थाना क्षेत्र के विशुनपुर चौक स्थित सेंट्रल बैंक के ग्राहक सेवा केंद्र (सीएसपी) से शनिवार को दिनदहाड़े बाइक सवार स’शस्त्र न’काबपोश नौ अप’राधियों ने संचालक व ग्राहकों की पिटाई कर दो लाख रुपये लू’ट लिया। घ’टना के बाद आराम से बड़कागांव की तरफ भाग निकलेे। सूचना पर पहुंची करजा पुलिस मामले की जांच- पड़ताल में जुट गई।

इस संबंध में सीएसपी संचालक कुमोद राम ने बताया कि शनिवार की दोपहर 12.30 बजे बाइक सवार नौ अपराधी पिस्टल लहराते हुए सीएसपी के अंदर घुस गए व मारपीट करना शुरू कर दिया। आठ अपराधियों के मुंह पर नकाब था जबकि एक अपराधी का मुंह खुला था। अपराधी अचानक धक्का देकर अंदर घुस गए व अंदर बैठे लोगों को पिस्टल के बल पर कब्जे में लेकर काउंटर से लगभग दो लाख रुपये लूट लिया।

इस दौरान अपराधियों ने मारपीट भी की। वहीं, बाहर बैठी ग्राहक निर्मला देवी से पिस्टल के बल पर 4000 रुपये लूट लिया। इस दौरान अपराधियों ने पांच मोबाइल व एक लैपटॉप भी लूट लिया। वहीं प्रिंटर को तोडफ़ोड़ कर क्षतिग्रस्त दिया। सभी अपराधी हाफ पैंट और टी शर्ट पहने थे। इस संबंध में थानाध्यक्ष सरोज कुमार ने बताया कि अपराधियों के भागने की दिशा में छापेमारी की जा रही है।

Input : Dainik Jagran

 

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
MUZAFFARPUR2 hours ago

आधुनिक तकनीक से टंकी की सफाई अब अपने शहर में भी

BIHAR4 hours ago

अब मुनिया नहीं बनेगी परिवार पर बोझ, जन्म से लेकर पढ़ाई तक का खर्च उठाएगी सरकार

MUZAFFARPUR4 hours ago

दिनदहाड़े बाइक सवार अप’राधियों ने सेंट्रल बैंक के सीएसपी से दो लाख लू’टे

INDIA7 hours ago

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का निधन

BIHAR9 hours ago

मीरा देवी बनी पटना नगर निगम की उपमहापौर, लॉटरी से हुआ चुनाव

BIHAR9 hours ago

बदले गए बिहार के राज्यपाल, लालजी टंडन की जगह लेंगे फागू चौहान

MUZAFFARPUR10 hours ago

पहली साेमवारी काे पुष्प, दूसरी काे चावल से, तीसरी काे फल व चाैथी काे पान के पत्ते से होगा बाबा गरीबनाथ का महाशृंगार

MUZAFFARPUR12 hours ago

अस्पतालों, स्कूल-काॅलेजों के पास दिन में भी ध्वनि प्रदूषण फैलाने पर लगेगी राेक, सख्ती की तैयारी में जिला प्रशासन

BIHAR13 hours ago

जयनगर इंटरसिटी और गरीब रथ में हो सकती थी टक्कर, ड्राइवर ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर रोकी ट्रेन

BIHAR15 hours ago

दरभंगा एयरपोर्ट के लिए 121 करोड़

INDIA4 weeks ago

पूरे देश में एक जैसा होगा लाइसेंस, राज्य नहीं कर पाएंगे कोई बदलाव

BIHAR7 days ago

सुबह में ढोयी बालू की बोरियां, शाम में लग गए एनडीआरएफ के साथ… ऐसे हैं डीएम साहब

BIHAR4 days ago

बिहार में पहली बार पुलिसकर्मियों पर हुई बड़ी कार्रवाई, 3 DSP, 50 इंस्पेक्टर सहित 66 पर FIR

BIHAR4 days ago

पटना पहुंचे रितिक रोशन, आनंद कुमार के पैर छुए, कहा- लगता है पिछले जन्म में मैं बिहारी ही था

MUZAFFARPUR2 weeks ago

मुजफ्फरपुर में सरकारी राशि की मची है लूट, मनरेगा योजना में मजदूरों के बदले चल रहे JCB और टैक्टर

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर : लड़की ने किया सु’साइड, कूद गई पानी की टंकी से

MUZAFFARPUR4 weeks ago

DM ने बढ़ाई स्कूल खुलनें की तारीख, सभी सरकारी-गैर सरकारी मे जारी रहेगा धारा 144

BIHAR3 weeks ago

बिहार में मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, इन जिलों में भीषण बारिश और आंधी

INDIA3 weeks ago

चलते वाहन की चाबी नहीं निकाल सकती पुलिस, सिर्फ इनका है चालान करने का अधिकार

MUZAFFARPUR2 weeks ago

पब्लिक ट्रांसपोर्ट : Hello My Taxi ने मुजफ्फरपुर कैब के साथ शुरू की कैब सर्विस

Trending

0Shares