Connect with us
leaderboard image

BIHAR

बिहार में पहले भी लगते रहे हैं टिकट बेचने के आरोप

Avatar

Published

on

पूर्व केन्द्रीय मंत्री और रालोसपा प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा पर लगा टिकट बेचने का आरोप कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी बिहार में कुशवाहा के साथ ही दूसरे नेताओं पर भी ऐसे आरोप लगते रहे हैं। चुनाव का वक्त आते ही पार्टी छोड़ने और साथ ही पुराने नेता पर आरोप लगाने की परम्परा चली आ रही है। चुनाव के पहले भी दल बदलने वाले नेता अक्सर आरोप लगाकर ही पाला बदलते रहे हैं। गौरतलब है कि पूर्व केन्द्रीय मंत्री नागमणि ने भी मंगलवार को प्रेस कांफ्रेंस कर उपेन्द्र कुशवाहा पर टिकट बेचने का आरोप लगाया था।

वर्ष 2015 के विधानसभा चुनाव के दौरान दिल्ली में उपेन्द्र कुशवाहा की प्रेस कान्फ्रेंस में अचानक हंगामे के हालात पैदा हो गए थे, जब एक नेता ने उनपर टिकट बेचने का आरोप लगाया। उसी चुनाव में रामविलास पासवान के दामाद साधु पासवान ने भी 15 सितम्बर, 2019 को चिराग पासवान पर टिकट बेचने का आरोप लगाया था। पासवान की बेटी ने भी अपने पति के आरोपों का समर्थन किया था।

कभी कुशवाहा को सीएम बनाने का दम भरते थे नागमणि 

खास बात यह है कि कुशवाहा पर टिकट बेचने का आरोप लगाने वाले नागमणि राज्य सरकार पर भी कई तरह के आरोप लगाते रहे हैं। हाल में दो फरवरी को रालोसपा के आंदोलन के दौरान कुशवाहा को पुलिस की लाठी लगी तो नागमणि ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राज्य सरकार पर कुशवाहा की हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया था। सात जून 2018 को उन्होंने उपेन्द्र कुशवाहा को अगला सीएम उम्मीदवार घोषित करने की मांग एनडीए से की थी। गत 15 अक्टूबर, 2017 को उन्होंने गांधी मैदान में रालोसपा के सम्मेलन में उपेन्द्र कुशवाहा को अगला सीएम बनाने के लिए कार्यकर्ताओं से एक पैर पर खड़ा होकर समर्थन करने को कहा था।

Digita Media, Social Media, Advertisement, Bihar, Muzaffarpur

खटास की वजह 

बताया जाता है कि बाद में नागमणि की महत्वकांक्षा बढ़ने लगी तो उपेन्द्र कुशवाहा के साथ उनके रिस्ते में खटास आने लगी। सूत्रों के अनुसार वह लोकसभा चुनाव में खुद के साथ अपनी पत्नी के लिए भी टिकट चाहते थे। कुशवाहा ने इससे मना कर दिया। इस फैसले ने दोनों नेताओं की दूरी बढ़ा दी। नागमणि के आरोपों को इसी कड़ी से जोड़ कर देखा जा रहा है।

Input : Hindustan

Continue Reading

BIHAR

राज्य की एक दर्जन लोकसभा सीटों पर 3 से 5 प्रतिशत मतदाताओं ने दबाया नोटा

Avatar

Published

on

इस लोकसभा चुनाव में मतदाताओं ने नोटा यानी इनमें से कोई नहीं का बटन भी खूब दबाया। राज्य के कुल 40 लोकसभा क्षेत्रों में से करीब एक दर्जन सीटों पर हुए चुनाव में नोटा का प्रतिशत कुल पड़े वोटों का 3 से 5 प्रतिशत रहा। कहा जाय कि वोटों का यह प्रतिशत उक्त सीट पर चुनाव लड़ रहे आधे से अधिक प्रत्याशियों के टोटल वोट से अधिक रहा। हालांकि, इससे चुनाव परिणाम पर कोई असर नहीं पड़ा। क्योंकि अधिकतर लोकसभा क्षेत्रों में जीत का मार्जिन लाखों में है। हालांकि, मुजफ्फरपुर व वैशाली में नोटा एक प्रतिशत से भी कम वोटरोंं ने दबाया।

सबसे अधिक 51660 नोटा गोपालगंज के मतदाताओं ने दबाया, चुनाव लड़ रहे 14 में से 8 प्रत्याशियों को मिले कुल वोट से भी ज्यादा

सबसे ज्यादा नोटा गोपालगंज सीट पर 51660 पड़े, जो यहां कुल पड़े वोटों का 5.04% रहा। इसी सीट पर चुनाव लड़ रहे 14 प्रत्याशियों में से 8 का कुल वोट मिला देने पर भी यह आंकड़ा पार नहीं होता। यही हाल जमुई लोकसभा सीट का रहा। यहां कुल वोट का 4.16 प्रतिशत ( 39496 वोट) नोटा पड़ा। वहीं, पश्चिम चंपारण4.51% यानी 45699 मतदाताओं ने नोटा का बटन दबाया। इसी तरह तीन प्रतिशत से अधिक नोटा वोट पड़ने वाले लोकसभा क्षेत्रों में वाल्मीकि नगर (34338 वोट यानी 3.33%), समस्तीपुर (35417 वोट यानी 3.48%), सारण (28227 वोट यानी 3.01%), नवादा (35147 वोट यानी 3.73%), जहानाबाद (27574 वोट यानी 3.38%), गया (30030 वोट यानी 3.14%), भागलपुर ( 31287 वोट यानी 3.03%) शामिल है।

मुजफ्फरपुर में 0.87 और वैशाली में 0.86 प्रतिशत मतदाताओं ने नोटा को चुना

सबसे कम नोटा शिवहर में पड़ा। जहां कुल 7017वोटरों ने नोटा बटन दबाया, जो कुल पड़े वोट का 0.7 रहा। मुजफ्फरपुर व वैशाली लोकसभा क्षेत्र में बराबर-बराबर 0.86 प्रतिशत वोटरों ने नोटा का इस्तेमाल किया। मुजफ्फरपुर में 9105 और वैशाली में 9217 वोटरों ने नोटा को चुना। वहीं, पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र में 5076 मतदाता यानी 0.52 प्रतिशत वोटर और पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र में 6491 मतदाताओं यानी 0.61 वोटरों ने नोटा पर बटन दबाया।

Input : Dainik Bhaskar

 

Continue Reading

MUZAFFARPUR

युवा, महिला ही नहीं हर गरीब काे लगा कि माेदी ही देश का विकास कर सकते हैं : मंत्री सुरेश शर्मा

Avatar

Published

on

मुजफ्फरपुर | रिजल्ट का अनुमान ताे पहले हाे गया था। इस बार 2014 से बड़ी लहर थी। जाे कहर बन कर कांग्रेस व विराेधियाें पर टूटी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी ने पिछले 5 वर्षाें में देश के विकास के लिए लगातार काम किया। बिहार में भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार व डिप्टी सीएम सुशील माेदी प्रदेश काे विकास के रास्ते पर ले गए। इसमें भी पीएम ने पूरी मदद की। इस कारण किसान, युवा, महिला ही नहीं, हर गरीब काे लगने लगा कि प्रधानमंत्री माेदी के नेतृत्व में ही देश समृद्ध हाे सकता है। जाति फैक्टर काे लाेगाें ने पूरी तरह नकार दिया। युवाअाें काे काैशल विकास का प्रशिक्षण देकर ट्रेंड बनाना, दलिताें की आवाज  बुलंद करना, अगड़ी जातियाें काे भी 10 प्रतिशत आरक्षण  देना आदि  तमाम पहलुओ  काे देखें ताे प्रधानमंत्री ने जाे सबका साथ सबका विकास कहा, उसे जमीन पर उतारने का काम किया। मुजफ्फरपुर से भाजपा प्रत्याशी अजय निषाद लगातार दूसरी बार और  वैशाली में राजद के दिग्गज नेता डाॅ. रघुवंश प्रसाद सिंह काे हराकर लाेजपा की वीणा देवी ने जीत का परचम लहराया है। (जैसा कि नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा ने भास्कर काे बताया।)

Input : Dainik Bhaskar

Continue Reading

BIHAR

शॉटगन ने मारा ताना, एनडीए की जीत नहीं, बड़े पैमाने पर हुआ खेल

Avatar

Published

on

लोकसभा चुनाव में बीजेपी की आंधी के सामने सारा विपक्ष चारों खाने चित हो गया, वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस के सांसद ने एक बड़ा आरोप लगाते हुए कहा है कि यह जनता का खेल नहीं बल्कि सब इवीएम का खेल है। ये बातें बीजेपी छोड़कर कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने कहीं है।

बीजेपी की बंपर जीत के बाद कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि कुछ तो ‘खेल’ बड़े पैमाने पर हुआ है। खास तौर पर उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश में यह खेल देखा गया।आगे उन्होंने शाह की तारीफ करते हुए ‘रणनीति बनाने वाला बड़ा महारथी’ भी बताया है। सिन्हा ने कहा, ‘मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को बधाई देता हूं।

जो कि एक बेहतरीन रणनीतिकार हैं। मैं अपने पारिवारिक मित्र रवि शंकर प्रसाद को भी बधाई देता हूं और उम्मीद करता हूं कि पटना अब स्मार्ट सिटी बनेगी। बता की शत्रुघ्न सिन्हा कांग्रेस के टिकट पर कांग्रेस से पटना साहिव सीट से चुनाव लड़ रहे थे, इससे पहले इस सीट पर शत्रुघ्न सिन्हा लगातार लोकसभा चुनाव जीत चुके हैं।

चुनाव से पहले शत्रुघ्न सिन्हा लगातार पीएम नरेंद्र मोदी की आलोचना करते रहें थे, जिसके चलते उन्हें पार्टी ने टिकट न देकर पटना साहिव से केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को प्रत्याशी बनाया था। रविशंकर प्रसाद ने अच्छे मार्जन से सीट जीती है। शत्रुघ्न सिन्हा के लिए बड़ा झटका है।

Input : News24

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
BIHAR27 mins ago

राज्य की एक दर्जन लोकसभा सीटों पर 3 से 5 प्रतिशत मतदाताओं ने दबाया नोटा

MUZAFFARPUR38 mins ago

युवा, महिला ही नहीं हर गरीब काे लगा कि माेदी ही देश का विकास कर सकते हैं : मंत्री सुरेश शर्मा

INDIA1 hour ago

बेटे- बीवी की जीत की खुशी मना रहे हैं धर्मेंद्र,बोले- हमें भारत माता से प्यार है,अच्छे दिन आ गए

BIHAR8 hours ago

शॉटगन ने मारा ताना, एनडीए की जीत नहीं, बड़े पैमाने पर हुआ खेल

BIHAR8 hours ago

तेजस्वी यादव ने पीएम मोदी को दी बधाई, बोले- डबल इंजन सरकार समस्या का करेंगे समाधान

TRENDING10 hours ago

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है सिद्धू का बयान, ‘अमेठी में राहुल हारे तो छोड़ दूंगा राजनीति’

MUZAFFARPUR11 hours ago

अजय निषाद ने राजभूषण चौधरी को चार लाख से अधिक वोट से हराया

BIHAR12 hours ago

1100 करोड़ की संपत्ति वाले इस उम्मीदवार को मिले सिर्फ 1100 वोट, जानिए इनके बारे में…

TRENDING12 hours ago

पाकिस्‍तान में पीएम मोदी की जीत की धूम, इमरान खान ने ट्वीट कर दी बधाई

INDIA13 hours ago

अब नहीं रहे चौकीदार, बोले- इस स्प्रिट को अगले स्तर पर लेकर जाएंगे

BIHAR4 weeks ago

वैशाली लोकसभा से NDA प्रत्यासी वीणा देवी की बढ़ी परेशानी, रघुबंश प्रसाद सिंह ने की गि’रफ्तारी की मांग

BIHAR2 weeks ago

पीडब्ल्यूडी की महिला अधिकारी की तस्वीर देश विदेश में मचाई धमाल

BIHAR6 days ago

बिहार के युवक ने कार को बना डाला हेलीकॉप्टर, पुरे बिहार में बन गया चर्चा का विषय

BIHAR2 weeks ago

मुज़फ़्फ़रपुर की लाल की दुबई में मौ’त, घर मे मचा कोहराम

MUZAFFARPUR2 weeks ago

मुज़फ़्फ़रपुर में महागठबंधन के चुनावी सभा में लगे मोदी-मोदी के नारे

Uncategorized2 weeks ago

टाइम मैगज़ीन ने PM नरेंद्र मोदी को बताया ‘India’s Divider In Chief’

BIHAR2 weeks ago

सुप्रीम कोर्ट से नियोजित शिक्षकों को झटका, नहीं मिलेगा समान काम के बदले समान वेतन

Uncategorized4 weeks ago

जॉनसन एंड जॉनसन बेबी शैम्पू एवं पाउडर की बिक्री पर रोक

BIHAR1 week ago

माँ की बदौलत पंजाब की बेटी बिहार में बनी IPS ‘लेडी सिंघम’

Uncategorized4 weeks ago

सनी देओल का पहला रोड शो, कहा-हिंदुस्तान जिंदाबाद था, जिंदाबाद है और जिंदाबाद रहेगा

Trending

0Shares