Connect with us

BIHAR

बिहार में 10 महीने बाद नए साल में खुलेंगे स्कूल व कोचिंग सेंटर, इन शर्तों का करना होगा पालन

Published

on

कोविड-19 के प्रकोप के बाद पिछले 10 महीने से बंद पड़े स्कूल-कॉलेज और कोचिंग संस्थानों में रौनक फिर लौटने वाली है। सरकार ने चार जनवरी से चरणवार स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान खोलने को हरी झंडी दे दी है। शुरुआती दौर में उच्च कक्षाओं के लिए स्कूल कॉलेज खुलेंगे। समीक्षा के बाद 18 जनवरी से शेष कक्षाओं के लिए स्कूल और कॉलेज खोल दिए जाएंगे। शुक्रवार को मुख्य सचिव दीपक कुमार की अध्यक्षता में राज्य आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में कुछ शर्तों के साथ स्कूल कॉलेज और कोचिंग संस्थानों को खोलने का फैसला लिया गया।

मुख्य सचिव दीपक कुमार ने बैठक के बाद बताया कि स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान खोलने को लेकर आपदा प्रबंधन समूह की बैठक ने गहन मंथन के बाद यह फैसला लिया है कि स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान कुछ शर्तों के साथ खोले जाएंगे। चार जनवरी से पहले नौवीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों के लिए स्कूल खुलेंगे। जबकि कॉलेज सिर्फ अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों के लिए खोले जाएंगे।

समीक्षा के बाद लिया जाएगा निर्णय

एक सप्ताह के बाद आपदा प्रबंधन समूह समीक्षा करेगा, जिसमें देखा जाएगा कि स्कूल-कॉलेज खोलने के बाद कोरोना का प्रकोप कहीं बढ़ तो नहीं रहा है। समीक्षा में यदि पाया जाएगा कि सबकुछ ठीक है तो 18 जनवरी से कक्षा 1-8 तक के स्कूल और सभी कक्षा के लिए कॉलेज खोल दिए जाएंगे। इसके बाद भी नियमित रूप से साप्ताहिक समीक्षा जारी रहेगी।

रोटेशन में चलेंगी कक्षाएं

सरकार ने स्कूल और कॉलेजों में कक्षाएं रोटेशन के हिसाब से संचालित करने का फैसला लिया है। यानी आधे बच्चे एक दिन स्कूल-कॉलेज में आएंगे तो आधे दूसरे दिन। यही नियम कक्षाओं में भी लागू होगा। यदि कक्षा में 59 बच्चे हैं हैं तो सिर्फ 25 बच्चों से ही कक्षा में आएंगे शेष 25 बच्चों की कक्षा अगले दिन होगी। स्कूल-कॉलेज प्रबंधन इस नियम का सख्ती से पालन करेंगे।

स्कूल-कॉलेज खोलने के लिए निर्धारित शर्त

-स्कूल-कॉलेज प्रबंधन मास्क और शारीरिक दूरी के नियमों का पालन कराएंगे।

-बच्चों और विद्यार्थियों के लिए अनिवार्य रूप मास्क पहनना आवश्यक होगा।

-स्कूल-कॉलेज रोटेशन में चलेंगे। आधे बच्चे एक दिन आएंगे, आधे दूसरे दिन।

-स्कूलों की भांति यही नियम सभी कॉलेजों में भी प्रभावी होगा।

सरकारी स्कूल के बच्चों को दिए जाएंगे मुफ्त दो-दो मास्क

मुख्य सचिव के अनुसार राज्य के सरकारी स्कूलों में पढऩे वाले बच्चों को शिक्षा विभाग की ओर से बच्चों और शिक्षकों में को मुफ्त मास्क दिए जाने का फैसला हुआ है। स्कूल की ओर से प्रत्येक बच्चे और शिक्षक को दो-दो मास्क मुफ्त में दिया जाएगा।

कोचिंग संस्थान कार्य योजना बना जिलाधिकारी से कराएंगे पास

आपदा प्रबंधन समूह की बैठक का फैसला है कि स्कूल-कॉलेजों के साथ ही चार जनवरी से राज्य के कोचिंग संस्थान भी खुलेंगे। लेकिन अधिकांश कोचिंग संस्थानों के साथ हॉस्टल भी जुड़े होते हैं इस वजह से कोचिंग संस्थानों को पहले कोविड -19 के नियमों के आलोक में संस्थान शुरू करने की कार्य योजना बनानी होगी। जिसमें कोरोना से बचाव के लिए उठाए जाने वाले कदमों की जानकारी देनी होगी। कोचिंग संस्थानों की कार्य योजना को जिलाधिकारी के स्तर पर मंजूरी मिलेगी। जिलाधिकारी की अनुमति के बाद ही कोचिंग संस्थान और उनके हॉस्टल शुरू होंगे।

आपदा प्रबंधन समूह हर सप्ताह करेगा समीक्षा

सरकार ने स्कूल और कॉलेज प्रबंधन के आग्रह पर संस्थान खोलने की अनुमति तो जरूर दी है लेकिन सभी स्कूल कॉलेज पर प्रशासन की निगाह रहेगी। यदि नियमों का उल्लंघन हुआ तो ऐसे स्कूल कॉलेजों पर कार्रवाई भी हो सकती है। मुख्य सचिव ने कहा कि सरकार चौकस रहेगी और प्रत्येक सप्ताह स्कूल-कॉलेजों को लेकर समीक्षा करेंगे।

Source : Dainik Jagran

rama-hardware-muzaffarpur

BIHAR

लालू यादव के कहने पर शांत हुए तेज प्रताप, BJP ने ली चुटकी

Published

on

lalu-tejpratap

राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव रविवार को यह आरोप लगाने के कुछ मिनट बाद अपने आवास पर धरने पर बैठ गए कि उनके विरोधियों ने उन्हें अपने पिता के साथ समय बिताने से रोक दिया, जिन्हें वह हवाई अड्डे पर लेने गए थे. हालांकि लालू यादव अपनी पत्नी राबड़ी देवी के साथ तेज प्रताप यादव के घर पहुंचे. इस दौरान उन्होंने तेज प्रताप से बात की तब जाकर उन्होंने धरना खत्म किया. तेज प्रताप ने कार में बैठे अपने पिता के पैर भी धोए. इन सारी गतिविधियों के बीच बीजेपी ने चुटकी भी ली है और घटना को तेज प्रताप की पत्नी ऐश्वर्या से जोड़ा है.

‘जगदानंद सिंह आरएसएस के आदमी’

इसके पहले पत्रकारों से बात करते हुए तेज प्रताप यादव ने कहा, “देखिए, मैंने अपने पिता के स्वागत के लिए किस तरह अपने घर को सजाया था. मैं बेहद नाराज हूं. जगदानंद सिंह (आरजेडी अध्यक्ष) आरएसएस के आदमी हैं, जो मेरा अपमान करते रहते हैं. मैं अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव को भी आगाह करता हूं. मैं अक्सर कहता हूं कि वह (तेजस्वी) अर्जुन की तरह और मैं भगवान कृष्ण की तरह हूं. उसका जो हक है उसे पाने में उसकी मदद करने के लिए प्रतिबद्ध हूं, लेकिन उसे इस बात का एहसास होना चाहिए कि वह अब वह बच्चा नहीं है. तेजप्रताप ने कहा कि अगर पार्टी इसी तरह से चलती रही, तो वह कभी मुख्यमंत्री नहीं बन पाएगा.”

तेज प्रताप को लेकर बीजेपी ने क्या कहा?

बिहार में आरजेडी की प्रमुख प्रतिद्वंदी बीजेपी ने मौके को भांपते हुए चुटकी लेने की कोशिश की. भाजपा ओबीसी मोर्चा के राष्ट्रीय महासचिव और राज्य के प्रवक्ता निखिल आनंद ने तेज प्रताप यादव के ‘अपमान’ को उनकी पत्नी ऐश्वर्या के साथ उनके कटु वैवाहिक विवाद से जोड़ा. निखिल आनंद ने कहा, “जिस परिवार के सदस्यों ने ऐश्वर्या को अपमानित करने में तेज प्रताप यादव का समर्थन किया था, उन्होंने अब उनसे मुंह मोड़ लिया है और उनके साथ ऐसा व्यवहार कर रहे हैं जैसे कि वह एक पागल हों. तेज प्रताप राजनीतिक रूप से परिपक्व हैं, लेकिन बड़े बेटे होने के बावजूद उन्हें अपने ही पिता द्वारा स्थापित पार्टी में दरकिनार कर दिया गया है. वह खुद के खिलाफ साजिश को कभी नहीं समझ सके.”

जेडीयू ने भी कसा तंज

जेडीयू के नेता निखिल मंडल ने भी इस पूरे मामले पर अपनी प्रतिक्रिया दी है. निखिल मंडल ने ट्वीट कर तेज प्रताप का वीडियो पोस्ट किया है. निखिल मंडल ने लिखा, “तेजस्वी यादव ने पहले पार्टी हथिया लिया और पिता को हथिया लिया. बेचारे भोले भाले तेज प्रताप यही सोच रहे होंगे, अच्छा सिला दिया तूने मेरे प्यार का भाई ने ही लूट लिया घर भाई का.”

Source : ABP News

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

krishna-motors-muzaffarpur

Continue Reading

BIHAR

दीवाली-छठ में बिहार आने वाले लोगों का होगा कोरोना टेस्ट, आज से चलेगा मेगा ड्राइव

Published

on

बिहार में दीवाली और छठ को देखते हुए आज से कोरोना जांच एक बार फिर से रफ्तार पकड़ने वाली है. सभी सार्वजनिक स्थलों पर खासकर बस स्टॉप, रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट पर बाहर से आने वालों का सैम्पल लिया जाएगा. सीएम नीतीश कुमार ने इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग को ना सिर्फ विशेष रूप से अभियान चलाने का निर्देश दिया है बल्कि आज से रोजाना सवा 2 लाख जांच का लक्ष्य भी दिया है.

बाहर से आने वाले वैसे लोगों की जांच नहीं होगी जिनके पास आरटीपीसीआर जांच का प्रमाण पत्र है और अगर उन्होंने टीका नहीं लिया है तो वैसे लोगों का टीकाकरण भी किया जाएगा. राज्य में 28 अक्टूबर और 7 नवम्बर को फिर से टीकाकरण को लेकर मेगा ड्राइव चलाया जाएगा और अधिकारी से लेकर कर्मचारी तक डोर टू डोर अभियान चलाकर सभी छूटे हुए लोगों का टीकाकरण करवाएंगे. सार्वजनिक स्थलों पर शुरुआती जांच एंटीजन के माध्यम से होगी लेकिन एंटीजन में जैसे ही रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो उनका आरटीपीसीआर जांच तत्काल कराया जाएगा.

krishna-motors-muzaffarpur

बिहार में अब गांव से लेकर शहर तक आशा कार्यकर्ता और एएनएम के द्वारा वोटर लिस्ट के आधार पर लोगों की पहचान की जा रही है और वैसे लोग जो अब तक टीका नहीं लिए हैं उनका टीकाकरण किया जा रहा है. सरकार का प्रयास है कि 31 दिसम्बर तक राज्य के 8 करोड़ से ज्यादा लोगों का टीकाकरण कराया जा सके साथ तीसरी लहर को आने से रोका जा सके. अब तक राज्य में टीकाकरण की बात करें तो साढ़े 6 करोड़ तक टीकाकरण का आंकड़ा पहुंचने वाला है जो कि राज्य के लिए बड़ी उपलब्धि है.

Source : News18

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Continue Reading

BIHAR

बेटे के बगावती तेवर देख नरम पड़े लालू यादव और राबड़ी देवी, रात में ही घर पहुंचे

Published

on

lalu-tejpratap

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव  के पटना पहुंचने के बाद रविवार की रात उनके बड़े बेटे तेज प्रताप यादव धरने पर बैठ गए. तेज प्रताप यादव  का कहना था कि एयरपोर्ट पर उनके साथ पार्टी से जुड़े लोगों ने धक्का-मुक्की की है. वे लालू यादव और राबड़ी देवी को अपने घर ले जाना चाहते थे लेकिन ऐसा नहीं होने दिया गया. इससे नाराज होकर वे छात्र जनशक्ति परिषद के साथ अपने घर के बाहर ही धरने पर बैठ गए. बेटे के इस बगावती तेवर को देख रात में ही लालू यादव और राबड़ी देवी अपने तेज प्रताप के घर पहुंचे. इसके बाद जाकर तेज प्रताप का गुस्सा शांत हुआ.

घर आने के बाद तेज प्रताप ने पिता का पैर धोया और इसी के साथ लालू प्रसाद और राबड़ी देवी दोनों वापस चले गए और तेज प्रताप भी अपने आवास में चले गए. तेज प्रताप यादव ने कहा कि तेजस्वी यादव  को तो समझना चाहिए था कि आज मेरे भी पिता पटना आए हैं. आरोप लगाया कि कुछ लोगों ने पार्टी को बर्बाद कर दिया है. यही हाल रहा तो मेरा अर्जुन गद्दी पर नहीं बैठ पाएगा. इस दौरान तेज प्रताप यादव ने आरजेडी से जुड़े कुछ लोगों पर आरोप भी लगाया.

इस अवसर पर भी किया गया बेइज्जतः तेज प्रताप

इसके पहले तेज प्रताप यादव ने कहा, “मुझे शुरू से पिता के नहीं आने को लेकर कमी खलती रही. पार्टी से या संगठन से कोई मतलब नहीं है. लालू यादव हमारे पिता हैं और आजीवन हमारे पिता ही रहेंगे. मैं हमेशा उनका आदर करुंगा. आज खुशी का इतना बड़ा मौका था और सबको एक होना था लेकिन इस अवसर पर भी मुझे बेइज्जत किया गया है.”

krishna-motors-muzaffarpur

तेज प्रताप यादव ने कहा, “एयरपोर्ट पर जगदानंद सिंह ने मुझे धक्का दिया. यह सबने देखा है कि किस तरह हाथ से हटो-हटो किया जा रहा था. तुम आरएसएस वाले हो. जब तक हम तुमको पार्टी से निकालेंगे नहीं, तब तक हमको आरजेडी से कोई मतलब नहीं है. छात्र आरजेडी में जो गुंडों पल रहे हैं उनके द्वारा ठेलने का काम किया गया. यह सब पिता जी देखेंगे तो तुरंत एक्शन लेंगे.”

Source : ABP News

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Continue Reading
SPORTS9 hours ago

पाकिस्तान के खिलाफ हार के बाद शमी हुए ट्रोल, राहुल गांधी-सचिन-सहवाग आए सपोर्ट में

WORLD10 hours ago

पहली बार मिली जीत तो बौखला गए पाकिस्तानी गृह मंत्री, बोले- साथ थे हिन्दुस्तान के मुस्लिमों के जज्बात

SPORTS10 hours ago

पाकिस्तान की जीत पर भारत में फोड़े गए पटाखे तो भड़के वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर

INDIA10 hours ago

कश्मीर : अमित शाह की मौजूदगी के बीच आतंकियों ने किया हमला, पुलवामा में पुलिस पोस्ट पर फेंका ग्रेनेड

INDIA12 hours ago

आर्यन खान ड्रग्स केस: ‘जबरन वसूली’ मामले में NCB ने दिए जांच के आदेश, तो समीर वानखेड़े बोले- तैयार हूं

VIRAL13 hours ago

बाजार में आई लाइट वाली अनोखी साड़ी, वायरल हुआ वीडियो

INDIA15 hours ago

आर्यन केस : समीर वानखेड़े बोले- ‘मेरी मां मुस्लिम थीं तो क्या अब उन्हें भी मामले में घसीटना चाहते हैं’

SPORTS16 hours ago

10 विकेट… 29 साल… हार के बाद विराट कोहली के नाम जुड़ गए कई शर्मनाक रिकॉर्ड

BOLLYWOOD16 hours ago

67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार : रजनीकांत को दादा साहब फाल्के पुरस्कार, कंगना, धनुष और मनोज बाजपेयी बने बेस्ट एक्टर्स

lalu-tejpratap
BIHAR17 hours ago

लालू यादव के कहने पर शांत हुए तेज प्रताप, BJP ने ली चुटकी

BIHAR3 weeks ago

घर तक आती थी ट्रेन और निजी प्लेन, दरभंगा महराज के राज- ठाठ की कहानी –

BIHAR3 weeks ago

खुशखबरी: पटना चिड़‍ियाघर में आज से नहीं लगेगा प्रवेश शुल्‍क

BIHAR3 weeks ago

नई सौगात भागलपुर, बक्‍सर, दरभंगा, हाजीपुर और सिवान को होगा फायदा – पांच नए हाइवे का होगा ऐलान

BIHAR4 weeks ago

जल्द बंद होगा बरौनी और कांटी थर्मल पावर स्टेशन, दोनो थर्मल पावर से बिहार को मिल रही है 330 मेगावाट बिजली

BIHAR4 weeks ago

बिहार में अब बिल्कुल अलग अंदाज में मिलेगा बिजली के बकाया बिल का रिमाइंडर

BIHAR4 weeks ago

पारले जी बिस्कुट नहीं खाने से होगी अनहोनी, अफ़वाह के बाद बिस्कुट आउट ऑफ स्टॉक

BIHAR4 weeks ago

बिहार के 8 जिलों में कल से शुरू होगा बालू खनन, उचित कीमत पर मिलेगा बालू

VIRAL3 weeks ago

दिल्ली में फुटओवर ब्रिज के नीचे अटक गया एयर इंडिया का प्लेन, वीडियो हुआ वायरल

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर : नक़ली कफ़ सिरप बनाने वाली कंपनी का भंडाफोड़, कारोबारी फ़रार

JOBS4 weeks ago

रेलवे में 10वीं पास के लिए 3 हजार नौकरियां, बगैर परीक्षा होगी भर्ती

Trending