बेटियों को 51-51 हजार रुपए दे रहे हैं प्रधानमंत्री मोदी..आपके घर में भी बेटी है तो यहां क्लिक करें

0
3514

केंद्र सरकार ने लड़कियों की सुरक्षा, पोषण, और उच्च शिक्षा इत्यादि के लिए बहुत सारे योजनाएं बनाई हैं। इसी योजनाओं में शादी शगुन योजना भी शामिल किए गए है। जिसके बारे में आज हम आपलोगों को बताने जा रहे हैं।

पीएम मोदी ने ईस शादी शगुन योजना की शुरूआत देश की अल्पसंख्यक समुदाय की बेटियों के लिए खासकर किया हैं। इस योजना के तहत सरकार शादी से पहले ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करने वाली सभी अल्पसंख्यक समुदाय की लड़कियों को 51 हजार रुपए देने की फैसला लिया है। इस योजना का मेन मकसद लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देना है। ये योजना सिर्फ मुस्लिम अल्पसंख्यक समुदाय की लड़कियों के लिए चलाया गया है। क्योंकि देश में मुस्लिम लड़कियों की शिक्षा की स्थिति बहुत ही ज्यादा ख़राब है। इस योजना का मेन मकसद मुस्लिम लड़कियों को तथा उनके अभिभावकों को इसके लिए प्रोत्साहित करना है ताकि लड़कियां विश्वविद्यालय या उससे उची कॉलेज स्तर की पढ़ाई पूरी कर पाये।इसलिए ही इस योजना का नाम शादी शगुन योजना रखा गया है।

मुस्लिम समाज के एक बड़े हिस्से में आज भी मुस्लिम बच्चियों को उच्च शिक्षा सही तरीके से नहीं मिल पा रही है। इसकी एक बहुत बड़ी वजह आर्थिक तंगी है। इसी को देखते हुए पीएम मोदी के द्वारा 8 अगस्त 2017 को इस योजना की शुरूआत कीया गया था।आपको यह बता दें कि शादी शगुन योजना की 51 हजार रुपए की बड़ी राशि ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी कर लेने वाली उन्हीं मुस्लिम लड़कियों को दी जाएगी जिन्होंने स्कूली स्तर पर एमएईएफ की ओर से मिलने वाली छात्रवृत्ति प्राप्त कर ली होगी।इसके साथ ही लड़की के माता-पिता की सालाना इनकम दो लाख रुपए से अधिक नहीं हो। शादी शगुन योजना के बारे में आप पूरी जानकारी केंद्र सरकार के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रालय की वेबसाइट के जरिए भी हासिल कर सकते है।

Input : Live Bavaal

billions-spice-food-courtpreastaurant-muzaffarpur-grand-mall