भारत के कूटनीतिक एवं राजनीतिक दवाबों का पाकिस्तान पर असर

0
15

पुलवामा हमले के बाद से हीं भारत ने पाकिस्तान को दिए जाने वाले अपने सारे सहयोग काटने कि जनता के माँग को मानते हुए व्यापार संबंधित विशेष दर्जा वापस लेने के साथ-साथ सिन्धु नदी समझौते पर भी पुनर्विचार करने कि ओर कदम बढ़ा दिया है। ताजा लिए गए फैसलों का त्वरित असर पाकिस्तान में बढ़ चुके टमाटर के दाम और अन्य जरुरी चीजों के दामों पर दिखाई देने लगा था इसी बीच ऐयरस्ट्राईक करके भारत ने पाकिस्तान कि मुश्किलें बढ़ाइ। भारत से टकराने का ही असर है कि पाकिस्तान की मुश्किलें कम होने के बजाय और भी बढ़ती जा रही है।

ताजा मामला है भारत के द्वारा कुत्तों के काटने के बाद दिए जाने वाले ऐंटी रैबिज वैक्सीन बंद करने का,आपको बता दें कि पाकिस्तान ऐंटी रैबिज वैक्सीन के अलावा बहुत सारी अन्य ऐंटीबॉयोटिक और जिवन रक्षक दवाओं के लिए भारत पर निर्भर रहा है, ऐसे में अब आतंकवाद से समझौता करते हुए भारत पाकिस्तान को किसी भी तरह से मदद करने के प्रति अपना उत्साह नहीं दिखा रहा है जिससे पाकिस्तान कि मुश्किलें लगातार बढ़ने के आसार है।

billions-spice-food-courtpreastaurant-muzaffarpur-grand-mall

 

Total 0 Votes
0

Tell us how can we improve this post?

+ = Verify Human or Spambot ?