Connect with us

BIHAR

मुंबई में जबरन क्वारंटाइन किए गए बिहार के IPS विनय तिवारी को बीएमसी ने छोड़ा, आज लौटेंगे पटना

Ravi Pratap

Published

on

बॉलीवुड अभिनेता दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत केस के सिलसिले में मुंबई में जांच कर रही बिहार की पटना पुलिस की एसआईटी को लीड करने गए आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी आज पटना लौटेंगे। मुंबई पहुंचने पर बीएमसी ने उन्हें जबरन क्वारंटाइन में भेज दिया था।

मुंबई में क्वारंटाइन किए गए आईपीएस विनय तिवारी ने बताया कि बीएमसी के अधिकारियों ने मैसेज कर बताया है कि मुझे क्वांटाइन से छोड़ा जा रहा है। उन्होंने बताया कि वे आज पटना लौटेंगे। इससे पहले सुशांत केस को सीबीआई को सौंपे जाने के बाद बिहार पुलिस की चार सदस्यों वाली पटना पुलिस की एसआईटी बुधवार को वापस लौट आई थी।

जबरन क्वारंटाइन करने पर मचा था हंगामा
उल्लेखनीय है कि आईपीएस विनय तिवारी को क्वारंटाइन करने पर काफी हंगामा मच गया था। बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय से लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और बिहार के सत्तापक्ष और विपक्ष के कई नेताओं ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी। मामले में सु्प्रीम कोर्ट तक ने कड़ी टिप्पणी करते हुए कहा था कि ‘अभिनेता की मौत के मामले में सच्चाई सामने आनी चाहिए। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि मुंबई पुलिस की पेशेवर प्रतिष्ठा अच्छी है लेकिन बिहार पुलिस ऑफिसर को क्वारंटाइन करने से अच्छा संदेश नहीं गया है।’

बिहार पुलिस ने दी थी कानूनी कार्रवाई की चेतावनी
वहीं बिहार के डीजीपी ने सुशांत मामले की जांच के लिए मुंबई गए आईपीएस विनय तिवारी को लौटने की मंजूरी नहीं देने पर कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी थी। डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा था कि पटना के एसपी विनय तिवारी को जबरन क्वारंटाइन में रखे जाने पर सरकार को पूरे प्रकरण की जानकारी दी गई है। अगर उन्हें नहीं छोड़ा गया तो महाधिवक्ता से राय लेकर शुक्रवार को तय करेंगे कि क्या करना है। अदालत भी जाने का एक विकल्प है। उन्होंने कहा कि विनय तिवारी मुंबई पुलिस को सूचना देकर गए थे। पत्र लिखकर तीन दिन तक उनके ठहरने के लिए आईपीएस मेस की व्यवस्था कराने का अनुरोध किया था। आईपीएस मेस में ठहरने की व्यवस्था नहीं होने पर वे जहां ठहरे हुए थे, आधी रात को बीएमसी ने बिना जांच कराए उन्हें क्वारंटाइन कर दिया। बीएमसी अधिकारी विनय को छोड़ने को तैयार नहीं हैं।

बीएमसी ने दिखाई थी हेकड़ी, कहा था 15 अगस्त तक होम क्वारंटाइन रहना होगा
इससे पहले आईपीएस को जबरन क्वारंटाइन के मुद्दे पर बीएमसी अधिकारियों ने कहा था कि सेंट्रल पटना के एसपी विनय तिवारी को क्वारंटाइन से छूट चाहिए तो उन्हें शर्तें मानने के साथ आवेदन करना होगा, तभी उन्हें मुंबई से जाने की इजाजत दी जा सकती है। अगर वह ऐसा नहीं करते हैं तो 15 अगस्त तक उन्हें होम क्वारंटाइन रहना होगा।  तिवारी को गोरेगांव के एसआरपीएफ गेस्ट हाउस में रखा गया है। बीएमसी अफसरों ने कहा कि तिवारी को वार्ड अधिकारी या अन्य सक्षम अधिकारी के समक्ष क्वारंटाइन से छूट के लिए आवेदन करना होगा और तब इस पर निर्णय लिया जाएगा। मुंबई के एसीपी पी वेलरासु ने कहा कि तिवारी ऑनलाइन महाराष्ट्र के अधिकारियों से संपर्क साध सकते हैं। उन्हें नगर निकाय के नियमों का पालन करना होगा।

Input : Live Hindustan

BIHAR

पीएम मोदी की अपील- त्‍योहारों पर अधिक से अधिक लोकल खरीदें

Muzaffarpur Now

Published

on

भागलपुर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने शुक्रवार को बिहार (Bihar) के भागलपुर में चुनावी सभा के दौरान लोगों से खास अपील की. पीएम मोदी ने कहा, ‘त्योहारों का सीजन है. इसलिए जो भी खरीदारी आप करेंगे, अधिक से अधिक लोकल खरीदिए. हमारे मिट्टी के हस्तशिल्पियों, दूसरे शिल्पियों के बनाए बर्तन, दीए, खिलौने जरूर खरीदिए. हम मिलकर कोशिश करेंगे तो बिहार भी आत्मनिर्भर होगा, भारत भी आत्मनिर्भर होगा.’ उन्‍होंने कहा कि बिहार आत्मनिर्भरता के संकल्प के साथ आगे बढ़ रहा है. अगर बिहार में विरोध और अवरोध को जरा भी मौका मिला तो बिहार की गति और प्रगति दोनों धीमी पड़ जाएगी. इसलिए, नीतीश जी की अगुआई में भाजपा, जेडीयू, हम और VIP के गठबंधन यानी NDA को एक-एक वोट पड़ना चाहिए.

पीएम मोदी ने कहा, ‘जब ये लोग सरकार में थे उसकी तुलना में बिहार में ही धान की सरकारी खरीद चार गुना और गेहूं की सरकार खरीद पांच गुना बढ़ी है. इनके पास आज तक इसका जवाब नहीं है कि जब इनकी सरकार थी तब MSP पर फैसला क्यों नहीं लिया?’ उन्‍होंने कहा कि ये NDA की ही सरकार है जिसने किसानों को लागत का डेढ़ गुना MSP देने की सिफारिश लागू की थी. ये NDA की ही सरकार है जिसने सरकारी खरीद केंद्र बनाने और सरकारी खरीद, दोनों पर बहुत जोर दिया है. एनडीए के विरोधी दल जब किसानों के लिए कुछ कर नहीं पाए तो अब किसानों को लगातार झूठ बोलने में जुट गए हैं. आजकल ये लोग MSP को लेकर अफवाहें फैला रहे हैं.

कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर पर और तेजी से काम होने की संभावना बनी है: PM

प्रधानमंत्री ने कहा कि अब बिहार के गांवों में, छोटे शहरों में कोल्ड स्टोरेज की व्यवस्था का और विस्तार होगा. जो नए कानून बने हैं उससे यहां के आम, मक्का, लीची, केले की पैदावार करने वाले किसानों को बहुत मदद मिलने वाली है. नए प्रावधानों से खेत के पास ही स्टोरेज की सुविधाएं तैयार होंगी. हाल ही में देश की कृषि को आधुनिक बनाने के लिए बड़े सुधार किए गए हैं, उनका भी लाभ बिहार के किसानों को होगा. मंडियों से जुड़ा कानून तो यहां पहले ही खत्म कर दिया गया था अब बिहार में कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर पर और तेजी से काम होने की संभावना बनी है.
पीएम मोदी ने कहा, ‘बिहार में पहले जो सरकारें रही उन्होंने आदिवासियों के कल्याण के लिए उन्हें शोषण से मुक्ति दिलाने के लिए सिर्फ और सिर्फ झूठे वादे किए. अब एनडीए सरकार आदिवासी बच्चों की शिक्षा, स्वास्थ, उनके लिए घर, उनके लिए रोजगार पर पूरा ध्यान दे रही है.’ उन्‍होंने कहा कि सामान्य जन की सुविधा के लिए, बिहार के युवा के रोजगार और स्वरोजगार के लिए बिहार के इंफ्रास्ट्रक्चर पर ध्यान देना बहुत ज़रूरी था. इसी सोच के साथ बिहार के लिए 1.25 लाख करोड़ रुपये का प्रधानमंत्री पैकेज घोषित किया गया था.

प्रधानमंत्री ने कहा कि भागलपुर सहित बिहार के शहरों की जो हालत इन लोगों ने कर दी थी, वो आप अच्छी तरह जानते हैं. छोटे दुकानदार, व्यापारी कारोबारी, मज़दूर इनके जंगलराज में हर कोई परेशान था. बिहार अच्छी शिक्षा के अवसरों का भी हकदार है. क्या ये उन लोगों द्वारा सुनिश्चित किया जा सकता जिन्हें शिक्षा का महत्व ही नहीं पता या वो लोग जो IIT, IIM और AIIMS को राज्य में लाने के लिए चौबीसों घंटे काम कर रहे हैं. बिहार बेहतर कानून व्यवस्था का हकदार है. ये कौन सुनिश्चित करेगा? वो जिन्होंने गुंडों को खिलाया-पिलाया पाला या वो जिन्होंने गुंडों पर डंडा चलाया. बिहार निवेश का हकदार है. ये कौन सुनिश्चित कर सकता है? जिन्होंने बिहार को जंगल-राज बना दिया या जो लोग बिहार को सुशासन दे रहे हैं, बिहार के विकास में जी जान से जुटे हैं.

Source : News18

Continue Reading

BIHAR

‘बिहार में का बा’ पर पीएम मोदी ने दिया जवाब, जानिए क्या बोले

Muzaffarpur Now

Published

on

बिहार की चुनावी जंग में नेहा राठौर के गाने, ‘बिहार में का बा…’ काफी चर्चा हो रही है। नेहा के इस गाने को विपक्ष ने जहां नीतीश सरकार के खिलाफ हथियार बनाया तो वहीं जद यू और भाजपा की ओर से भी चुनावी गानों के जरिए इसका जवाब देने की कोशिश की गई। पिछले दिनों युवा लोक गायिका मैथिली ठाकुर ने ‘बिहार में ई बा’ नाम से एक वीडियो जारी किया था। शुक्रवार की रैली में पीएम मोदी के भाषण का एक अंश भी ‘बिहार में का बा…’ के जवाब सरीखा लगा। हालांकि पीएम मोदी ने न किसी गाने की लाइनें बोलीं न ही किसी का नाम लिया।

अपने भाषण की शुरुआत भोजपुरी से करते हुए पीएम मोदी ने बिहार को स्‍वाभिमान की धरती बताया। उन्‍होंने कहा, ‘बिहार के स्‍वाभिमानी और मेहनती भाई बहन आप सब के प्रणाम। अन्‍नदाता, मेहनतकश, किसान भाई-बहन लोग के इ धान के कटोरा कहल जाये गौरवशाली धरती के हम नमन करत बानी। मां मुंडेश्‍वरी ताराचंडी माता के इ पावन भूमि पर रऊरा सबकर अभिनंदन करत बानी।’ इसके बाद पीएम मोदी ने भोजपुरी में एक-एक बिहार की कई खूबियां गिनाईं। पीएम बोले-‘भारत के सम्मान बा बिहार, भारत के स्वाभिमान बा बिहार, भारत के संस्कार बा बिहार, संपूर्ण क्रांति के शंखनाद बा बिहार, आत्मनिर्भर भारत के परचम बा बिहार।’

पीएम के इस अंदाज का रैली में तालियां बजाकर जनता ने स्‍वागत किया। रैली में मोदी-मोदी के नारे लगेे। पीएम मोदी ने बिहार में नीतीश राज की खुलकर तारीफ की। उन्‍होंने कहा कि अब इसे कोई बीमारू राज्‍य नहीं कह सकता। नीतीश राज में बिहार से उजाले की ओर जा रहा है।

पीएम ने कहा कि बिहार के लोगों की खासियत है कि वे कभी कन्फ्यूज़ नहीं होते हैं। बिहार में फिर एक बार एनडीए सरकार बनने जा रही है। पीएम मोदी ने कहा कि कुछ लोग भ्रम फैलाने में लग जाते हैं। अचानक नई शक्ति को बढ़ाते हैं लेकिन इसका कोई असर नहीं पड़ता। बिहार का मतदाता भ्रम फैलाने वालों को खुद ही नाकाम कर रहा है। जिनका इतिहास बिहार को बीमारू बनाने का रहा है उन्हें आसपास भी नहीं फटकने देंगे।

बिहार के शहीदों को भोजपुरी में किया याद
पीएम मोदी ने गलवान घाटी और पुलवामा में शहीद हुए बिहार के जवानों को भोजपुरी में याद करते हुए उन्‍हें श्रद्धांजलि दी। पीएम बोले-बिहार स्‍वाभिमान, संस्‍कार, आजादी के जयघोष, सम्‍पूर्ण क्रांति के शंखनाद, आत्‍मरक्षा, देश की सुरक्षा और विकास की धरती है। ‘बिहार के जवान गलवान घाटी में तिरंगा की खातिर शहीद हो गईलं, देश का माथा झुके नाहि दिहलं। हम उनके चरणन में शीश झुकावत बानी। बिहार विकास की ओर तेजी से बढ़त बा। कोई ऐके बीमारू राज्‍य नाहि कह सकत बा। लालटेन का जमाना गइल। बिजली क खपत तीन गुना बढ़ गईल बा।

Source : Hindustan

Continue Reading

BIHAR

त्योहारों के मौसम और सर्दियों के महीनों में कोरोना को लेकर बरतें सावधानी, स्वास्थ्य मंत्रालय की अपील

Muzaffarpur Now

Published

on

त्योहारों का मौसम सभी लोगों को एक साथ लाता है, जो सभी समुदायों को सांस्कृतिक और भाषाई एकीकरण प्रदान करता है। हालांकि, इस साल चीजें थोड़ी अलग है। नवरात्रि और दशहरा बिल्कुल पास हैं तो दिवाली और क्रिसमस जैसे त्योहार आने वाले हैं। इस बीच सरकार ने लोगों को सार्वजनिक समारोहों से बचने, शारीरिक दूरी बनाए रखने और त्योहार मनाने को अपने घरों तक सीमित रखने की सलाह दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी एक सलाह में लोगों से अपील की गई है कि त्योहारों के मौसम और सर्दियों के महीनों में कोरोना को लेकर अति सजग रहने की जरूरत है, क्योंकि इस कारण कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी हो सकती है।

सामाजिक शिष्टाचार बनाए रखने की इस अपील को देशव्यापी maintain जन आंदोलन ’अभियान के शुभारंभ के साथ आगे बढ़ाया गया है, जो त्योहारों को मनाते समय बीमारियों के प्रसार को रोकने के लिए लोगों को COVID-19 उपयुक्त व्यवहारों को अपनाने और अभ्यास करने के लिए प्रोत्साहित करता है।

स्वास्थय मंत्रालय ने एक ट्वीट में लिखा है कि त्योहारों की खुशियों में सुरक्षा के प्रति लापरवाही ना बरतें। मास्क पहनें, हाथ धोएं और दूसरों से उचित दूरी बना कर रखें। 2 गज की दूरी, मास्क है ज़रूरी।

यह एक महत्वपूर्ण समय है, हमारे हेल्थकेयर मशीनरी, डॉक्टर, नर्स और नागरिक अधिकारी चौबीस घंटे काम कर रहे हैं ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि हम COVID-19 के खिलाफ अपनी लड़ाई में विजयी हों। शारीरिक दूरी का पालन करके हम अपने हिस्से का काम कर सकते हैं क्योंकि हम अपने प्रियजनों को सुरक्षित रखते हुए इन बहुप्रतीक्षित त्योहारों को मनाना चाहते हैं।

इससे पहले अपने संडे संवाद के एक अंक में भी स्वास्थ्य मंत्री ने लोगों को कोरोना को लेकर सावधानी बरतने की सलाह दी थी। स्वास्थ्य मंत्री ने लोगों को त्योहारों के मौसम में कोरोना से बचाव के तरीके समझाए हैं। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से अपील की है कि वह त्योहारों के मौसम में सावधानी बरतें, अन्यथा कोरोना फिर से विकराल हो जाएगा।

Source : Dainik Jagran

Continue Reading
BIHAR4 mins ago

पीएम मोदी की अपील- त्‍योहारों पर अधिक से अधिक लोकल खरीदें

BIHAR21 mins ago

‘बिहार में का बा’ पर पीएम मोदी ने दिया जवाब, जानिए क्या बोले

INDIA2 hours ago

महान क्रिकेटर कपिल देव को आया हार्ट अटैक, दिल्ली के अस्पताल में भर्ती

BIHAR3 hours ago

त्योहारों के मौसम और सर्दियों के महीनों में कोरोना को लेकर बरतें सावधानी, स्वास्थ्य मंत्रालय की अपील

INDIA3 hours ago

Voter ID के लिए करें ऑनलाइन आवेदन, जानिए सबसे आसान तरीका

BIHAR4 hours ago

बिहार चुनाव: प्रधानमंत्री मोदी ने कही ऐसी बात कि तोड़ दिया चिराग पासवान का भ्रम!

BIHAR6 hours ago

सबसे अमीर प्रत्याशी अनंत सिंह पर है 17 करोड़ की देनदारी, इन 5 प्रत्याशियों के पास 0 संपत्ति

ENTERTAINMENT6 hours ago

बिहार और ब्राह्मणो के प्रति घृणा फ़ैलाने के उद्देश्य से बना है – मिर्जापुर का नया सीज़न

OMG6 hours ago

इस कारण से महिला ने 15 सालों से नहीं कटवाए बाल, ब्वॉयफ्रेंड क्लिक करता है ऐसी फोटोज!

INDIA6 hours ago

मोबाइल की स्क्रीम टूटने से ऑनलाइन क्लास में आ रही थी दिक्कत, परिवार ने नहीं कराया ठीक तो छात्र ने कर ली खुदकुशी

BIHAR4 weeks ago

गुप्तेश्वर पांडेय के वीडियो पर मचा बवाल, इंडियन पुलिस फाउंडेशन ने की कार्रवाई की मांग

TRENDING4 weeks ago

गर्लफ्रेंड को घुटने पर बैठकर कर रहा था प्रपोज, एक सेकंड में धुली रह गई सारी मेहनत

BIHAR4 weeks ago

पिता ने ‘लूडो’ में की चीटिंग तो बेटी पहुंची फैमिली कोर्ट, जानें पूरा मामला

BOLLYWOOD2 weeks ago

बॉलीवुड को झटका! अजय देवगन के छोटे भाई अनिल देवगन का निधन

INDIA7 days ago

PNB खोल रहा है महिलाओं के लिए खास खाता, मुफ्त में मिलेंगी ये 6 सुविधाएं

INDIA3 weeks ago

इस साल पड़ेगी कड़ाके की ठंड, सर्दी का मौसम होगा लंबा; जानें- कब से होगी जाड़े की शुरुआत

BIHAR2 weeks ago

अंतिम दर्शन को पहुंची पहली पत्नी राजकुमारी, थम नहीं आंसुओं की धार

INDIA3 weeks ago

1 अक्टूबर से होने वाले हैं ये बड़े बदलाव, आपकी जेब पर ऐसे पड़ेगा असर

BIHAR5 days ago

पति के सामने पत्नी ने ठोकी ताल, चुनावी मैदान में निर्दलीय उतरे

BIHAR3 weeks ago

MLA का टिकट लेने 74 लाख रुपए लेकर पटना आया था कारोबारी, पुलिस ने ड्राइवर समेत 2 को पकड़ा

Trending