Connect with us
leaderboard image

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर के मेयर सुरेश कुमार पर लटकी नि’गरानी विभाग की त’लवार, कहीं हो न जाएं गि’र’फ्तार

Avatar

Published

on

नगर निगम के ऑटो टीपर खरीद घो’टाला में नगर निगम के तत्कालीन महापौर सुरेश कुमार के वि’रुद्ध निग’रानी का शि’कंजा क’सने जा रहा है. नगर विकास एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव ने मुजफ्फरपुर के तत्कालीन महापौर सुरेश कुमार के वि’रुद्ध अभियो’जन चलाने की अनु’शंसा कर दी है. उक्त प्रस्ताव पर वि’भागीय मंत्री सुरेश कुमार शर्मा का भी अनु’मोदन प्राप्त है.

नि’गरानी अन्वेषण ब्यूरो ने नगर विकास एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव से महापौर सुरेश कुमार के वि’रुद्ध अभियोजन चलाने की अनुमति देने को लेकर पत्र लिखा था, जिसमें उन्हें दो’षी पाते हुए अभि’योजन चलाने की स्वीकृ’ति प्रदान की है.

प्रधान सचिव ने अपने दिनांक 12 फरवरी 2020 को ज्ञापांक संख्या 783 में लिखा है की निगरानी थाना कांड संख्या 056/2018 दिनांक 12.12.2018 एवं उसके साथ संलग्न कागजात में साक्ष्यों, अनुसन्धान प्रतिवेदन के परिशीलन के बाद सरकार को यह समाधान हो गया है की अभियुक्त महापौर सुरेश कुमार के विरुद्ध धारा 409/467/468/471/120 (बी) भा.द.वि. की धा’रा 13 (2) सहपठित धारा 13 (1) एवं भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, 1988 (संशोधित अधिनियम 2018) के अंतर्गत अभियोजन के लिए प्रथम दृष्टया मामला बनता है.

नगर विकास एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव के पत्र के अनुसार भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 की धारा 19 एवं दंड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 197 के अंतर्गत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए धारा 409/467/468/471/120 (बी) भा.द.वि. की धारा 13 (2) सहपठित धारा 13 (1) एवं भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, 1988 (संशोधित अधिनियम 2018) के अंतर्गत आरोपों के लिए मुजफ्फरपुर के महापौर सुरेश कुमार के विरुद्ध अभियोजन की स्वीकृति प्रदान की जाती है. निगरानी अधिकारी महापौर के लोक सेवक होने के कारण विभाग के प्रधान सचिव की अनुमति मिलने की प्रतीक्षा में थी और अनुमति प्राप्त होते ही अभियोजन चलाए जाने की प्रक्रिया में जुट गई है. बता दें की ऑटो टीपर आपूर्तिकर्ता मौर्या मोटर्स पाटलीपुत्रा के मोहन हिम्मत सिंग्गा को भी इस मामले में आरो’पित बनाया गया है.

निगरानी अन्वेषण ब्यूरो के पुलिस अधीक्षक को भेजे अपने पत्र में विभाग के प्रधान सचिव ने लिखा है की बिहार न्यायपालिका अधिनियम 2007 की धारा 25 (5) में मुख्य पार्षद द्वारा कर्तव्यों के निर्वहन में दुराचार का दोषी पाए जाने पर सरकार द्वारा उन्हें समुचित अवसर प्रदान करते हुए उन्हें हटाने की शक्ति प्रदत्त है तथा अधिनियम की धारा 17 (4) के प्रावधानों के अनुसार नगर परिषद् के वार्ड पार्षद को पद से हटाने हेतु सक्षम प्राधिकार राज्य सरकार (नगर विकास एवं आवास विभाग) है तथा अभिकथित हैं की महापौर सुरेश कुमार ने अपराध अपने पदीय कर्तव्यों के निर्वहन में कार्य करते या कार्य करने का तात्पर्य रखते हुए किया है.

नगर निगम में ऑटो टिपर घोटाले में निगरानी अन्वेषण ब्यूरो की जांच में प्रथमदृष्टया मामला सत्य पाया गया था. जांचकर्ता निगरानी अन्वेषण ब्यूरो के डीएसपी मनोज कुमार ने महापौर समेत सभी आरोपितों के विरुद्ध अभियोजन चलाने के प्रस्ताव संबंधी पत्र निगरानी अन्वेषण ब्यूरो के पुलिस अधीक्षक को सौंपा था. आरोपितों के लोक सेवक होने के कारण निग’रानी अन्वेषण ब्यूरो के पुलिस अधीक्षक ने नगर विकास व आवास विभाग के प्रधान सचिव से अभियोजन चलाने की अनुमति देने का आग्रह किया था, जिसकी स्वीकृति बुधवार 12 फ़रवरी को प्राप्त हुई है.

क्या है मामला

शहर की साफ-सफाई के लिए मुजफ्फरपुर नगर निगम की ओर से वर्ष 2017 नवंबर में 50 ऑटो टीपर खरीद की निविदा निकाली गयी थी. निविदा में शामिल एक आपूर्तिकर्ता तिरहुत ऑटो मोबाइल के प्रोपराइटर संजय गोयनका ने निग’रानी अन्वे’षण ब्यूरो में कम कीमत के बदले अधिक कीमत वाले आपूर्तिकर्ता को निविदा की स्वीकृति देने की शिका’यत की गई. निगरानी अन्वे’षण ब्यूरो की जांच में 3.80 करोड़ से अधिक के इस खरीद मामले में करोड़ों रूपए के घो’टाला की बात प्रकाश में आई थी. ब्यूरो ने अक्टूबर 2018 में महापौर सुरेश कुमार सहित दस आरो’पितों के विरुद्ध निगरानी थाना में मामला दर्ज किया था.

बताया जाता है की तत्कालीन नगर आयुक्त व अपर समाहर्ता रंगनाथ चौधरी को भेजे एक पत्र में महापौर ने ऑटो टीपर आपूर्तिकर्ता मौर्या मोटर्स पाटलीपुत्रा को 10 प्रतिशत काट कर भुगतान करने की बात लिखी थी, जबकि तत्कालीन नगर आयुक्त ने भुगतान से पहले परिवहन विभाग से जां’च कराने की बात कही थी.

मामले में महापौर सुरेश कुमार ने कहा है की ऑटो टिपर घोटाले में मैं पूर्णतयः निर्दोष हूँ, कोई घोटाला हुआ ही नहीं है. न मैं इसके निविदा प्रक्रिया में हूँ और न ही क्रय समिति में हूँ, केवल मेरे 3 हस्ताक्षर हैं, एक स्थायी समिति की बैठक में एक बोर्ड में और तीसरा भुगतान प्रक्रिया में. अगर मामले में मेरी भूमिका सत्य पायी जाती है या मामले में 3 से अधिक हस्ताक्षर पाए जाते हैं तो मैं पद से इस्ती’फा देने को तैयार हूँ. यह एक न्यायिक प्रक्रिया हैं, और इसमें मैं दोषी नहीं हूँ.

मामले में वार्ड पार्षद राकेश कुमार सिन्हा उर्फ पप्पू ने कहा की वर्तमान महापौर सुरेश कुमार के कारनामो से मुजफ्फरपुर जिला राज्य स्तर पर शर्मसार हो रहा है. महापौर नैतिक आधार पर अपने पद से इस्तीफा दे दें अन्यथा हम सब आंदोलन करने को विवश होंगे. उन्होंने नगर विकास एवं आवास विभाग मंत्री से तत्कालीन महापौर को हटाने की मांग की है. उन्होंने कहा की दुर्भाग्य की बात है की ऐसा महापौर जिले को मिला जिस पर अभियोजन चलाने की स्वीकृति सरकार द्वारा दी गई है, जिस पर घोटाला मामले में निगरानी आ’रोप पत्र दाखिल करेगी.

विभाग द्वारा लिखे गए पत्र के अनुसार महापौर पर अभियोजन चलाये जाने की बात पर वार्ड पार्षद संजू केजरीवाल ने कहा की आरोप लगने के बाद भी वह पद पर बने हैं यह दुर्भाग्यपूर्ण है. हमारे नगर निगम का मुखिया अपने गलत कृ’त्य से फंस चूका है, उसके बाद साजिश के तहत फंसाये जाने की बात कह रहे हैं, जो हास्यास्पद प्रतीत होता है. बावजूद इसके इस साजिश का पर्दाफाश करने की भी मांग करता हूँ. उन्हें इस्तीफा देकर न्यायलय के शरण में जाकर साजिशन फंसाये जाने को लेकर गुहार लगानी चाहिए.

पूर्व वार्ड पार्षद विजय झा ने कहा की महापौर खुद को नगर निगम का मालिक समझते हैं, स्मार्ट सिटी के काम में रोड़ा अटकाते हैं, जब से पदासीन हुए हैं तब ले कर अभी तक शहर में कैसा विकास हो रहा है सभी जानते हैं. कभी अधिकारियों से उलझते हैं तो कभी नगर आयुक्त से. महापौर के हरकतों से हम सब का सर शर्म से झुक गया है. उन्होंने महापौर से अपील करते हुए कहा की नगर निगम और शहर की प्रतिष्ठा को बचाते हुए नैति’कता के आधार पर अपने पद से इस्तीफा दे और न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दें.

 

MUZAFFARPUR

रात्रि में मुजफ्फरपुर जंक्शन से आपके घर तक पहुंचाएगी जीआरपी, फोन कर लें सकते हैं मदद

Santosh Chaudhary

Published

on

देर रात आनेवाली ट्रेनाें के यात्रियाें काे जंक्शन से उनके गंतव्य तक सुरक्षित पहुंचने में GRP मदद करेगी। इसके लिए यात्री काे थानेदार अथवा हेल्पलाइन नंबर पर फाेन करना है। GRP का कहना है कि यदि किसी यात्री काे गंतव्य तक जाने में मदद चाहिए ताे वे GRP थानेदार अथवा हेल्पलाइन नंबर पर फाेन करें, जवान उन्हें सुरक्षित घर पहुंचाएंगे। फिलहाल ये व्यवस्था हाेली की छुट्टी में घर आनेवाले  यात्रियाें के लिए की गई है। बताया गया कि यात्रियाें से किसी तरह की अप्रिय घटना राेकने के लिए रेलवे, रेल पुलिस व RPF संयुक्त अभियान चलाएगा। यह निर्णय मुजफ्फरपुर जंक्शन पर मंगलवार को रेल डीएसपी स्मिता सुमन के नेतृत्व में हुई शांति समिति की बैठक में लिया गया। बताया गया कि काेई असामाजिक तत्व दिखे ताे फाैरन GRP थानेदार के नंबर 9431822707 अथवा हेल्पलाइन नंबर पर काॅल करें। बैठक के बाद जंक्शन पर यात्रियाें काे नशाखुरानी गिराेह से बचने के लिए भी जागरूक किया गया।

Muzaffarpur Junction

वेंडर और वाहन चालकाें से सुरक्षा में सहयाेगी बनने का किया गया आग्रह 

शांति समिति की बैठक में जंक्शन के वेंडर, स्टैंड संचालक व वाहन संघ के लाेग भी शामिल थे। रेल पुलिस ने आग्रह किया कि रेल कर्मचारियाें, वेंडर, वाहन-ऑटो चालक समेत जाे भी व्यक्ति जंक्शन पर ज्यादा वक्त देेते हाें, वे यात्रियाें की सुरक्षा में सहयाेगी बनें। किसी तरह की आशंका पर फाैरन GRP – RPF  काे फाेन करें। अपराधियाें काे पकड़वाने में मदद करने पर गाेपनीयता बरतने के साथ इनाम भी दिया जाएगा। बैठक में वाहन संघ के लोगों ने कहा कि जंक्शन पर बाहर से गाड़ी आकर यात्रियों को बैठा ले जाती है। इस पर डीएसपी बाेले- ऐसे  वाहनाें के नंबर नोट किए जाएं। यदि किसी निजी वाहन काे जंक्शन परिसर में यात्री बैठाते हुए देखा गया ताे उन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। माैके पर जीआरपी थानेदार नंदकिशोर सिंह, आरपीएफ इंस्पेक्टर वेद प्रकाश वर्मा, एसआई कृष्णा पासवान, जीआरपी के एसआई कृष्णा प्रसाद सिंह, पार्किंग स्टैंड संचालक रंजीत राणा समेत सैकड़ों वेंडर आदि माैजूद थे।

इनपुट : दैनिक भास्कर

 

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुजफफरपुर में 24 घंटे के अंदर दूसरे लूट के वारदात की वारदात, दिन दहाड़े लाखों की लूट

Vikash Kumar

Published

on

बिहार के मुजफ्फरपुर से एक बड़ी खबर आ रही है. जहां दिन दहाड़े अपराधियों ने एक फाइनेंस बैंक से लूट के वारदात को अंजाम दी है.घटना सरैया थाना क्षेत्र के ब्लॉक रोड की है. एसडीपीओ सरैया राजेश कुमार शर्मा के अनुसार उत्कर्ष स्माल फाइनेंस कंपनी के शाखा से लूट की रकम 15.50 लाख है. घटनास्थल पर सरैया समेत अन्य थाने की पुलिस एसडीओ सरैया के नेतृत्व में जांच में जुटी हुई है.



बताते चले कि एक दिन पूर्व दिन जिले के मोतीपुर बाजार स्थित बैंक ऑफ इंडिया की शाखा में अपराधियों ने लूट की वारदात को अंजाम देते हुए 15 लाख 50 हजार रुपए की लूट किया था. पुलिस मामले की जांच कर ही रही थी की जिले में दूसरी लूट की घटना को अपराधियों ने अंजाम दिया है. चौबीस घंटे में दो बड़ी लूट की घटनाएं सुरक्षा की दावे की पोल खोलती नजर आ रही है.

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर में फाइनेंस कंपनी के ऑफिस से लाखों रुपए की लूट

Muzaffarpur Now

Published

on

इस वक्त की बड़ी खबर मुजफ्फरपुर से आ रही है. यहां पर अ/पराधियों ने एक फाइनेंस कंपनी के ऑफिस से 15.10 लाख रुपए लू/ट लिया है.

बताया जा रहा है कि बाइक सवार अपराधी सरैया के ब्लॉक रोड में स्थिति उत्कर्ष फाइनेंस के ऑफिस में पहुंचे और इस घटना को अंजाम दिया है.

घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस पहुंची हैं और कंपनी के कर्मचारियों से घटना के बारे में जानकारी ले रही है.

Input : First Bihar

Continue Reading
Advertisement
MUZAFFARPUR36 mins ago

रात्रि में मुजफ्फरपुर जंक्शन से आपके घर तक पहुंचाएगी जीआरपी, फोन कर लें सकते हैं मदद

RELIGION1 hour ago

आज है विजया एकादशी, पढ़ें इस व्रत का महत्व और पूजा का शुभ समय

BIHAR2 hours ago

बिहार में बिजली का निजीकरण नहीं होगा: ऊर्जा मंत्री

INDIA11 hours ago

फिल्म ‘स्वदेस’ की एक्ट्रेस किशोरी बलाल का हुआ निधन, डायरेक्टर आशुतोष ने ट्वीट करके जताया शोक

INDIA11 hours ago

‘भारत के उसेन बोल्ट’ का भी टूटा रिकॉर्ड, अब ये रेसर बना नंबर 1, देखें तस्वीरें

INDIA11 hours ago

दुनिया की बेस्ट मॉम बनने की खास टिप्स, ऐसे दे सकते हैं बच्चों को प्रेरणा

INDIA11 hours ago

Indigo 3,499 रुपये में दे रही अंतरराष्ट्रीय उड़ान का मौका, चार दिन के भीतर कर लें टिकट बुकिंग

TECH11 hours ago

₹5,000 से कम में खरीदें 3000mAh बैटरी से एंड्रॉइड स्मार्टफोन्स

INDIA11 hours ago

यह शख्स है देश का सबसे अमीर सीईओ, 3,100 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति का मालिक

INDIA14 hours ago

सरकार का केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ा तोहफा, रिटायरमेंट को लेकर आई अच्छी खबर

INDIA4 weeks ago

महज 3.80 लाख रुपये में मिल रही है Maruti Suzuki की 7 सीटर कार

MUZAFFARPUR1 week ago

मुजफ्फरपुर में ल’ड़की की रे’प के बाद ह’त्या, नं’गी ला’श को प’टरी पर फें’का

BIHAR6 days ago

बिना नेट और गेट पास भी अब इंजीनियरिंग, पॉलीटेक्निक कॉलेजों में बन सकेंगे शिक्षक

Uncategorized4 days ago

IAS अफसर ने वैलेंटाइन डे को बनाया यादगार, ऑफिस में ही बिहार की IPS से कर ली शादी

INDIA4 weeks ago

उस गांव की कहानी, जहां ज्यादातर औरतों की कोख नहीं

BIHAR1 week ago

राम मंदिर निर्माण के लिए दस करोड़ का दान, पहली किश्त के तौर पर दिए 2 करोड़

INDIA4 weeks ago

बड़ी खबर : 1 जून से शुरू होगी ‘एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड’, देश में कहीं भी खरीद सकेंगे राशन

TRENDING3 weeks ago

‘मिर्जापुर 2′ की गोलू ने शेयर किया फर्स्‍ट लुक, कहा- भौकाल के लिए तैयार’

INDIA4 weeks ago

फां’सी का दिन करीब! नि’र्भया के गु’नहगा’रों से ति’हाड़ जे’ल प्रशासन ने पूछी अं’तिम इ’च्छा

MUZAFFARPUR2 weeks ago

मुजफ्फरपुर : पुलिस लाइन में जवान ने खुद को AK-47 से मा’री गो’ली, मौके पर मौ’त

Trending

0Shares