Connect with us

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर के लाल शाहबाज नदीम का क्रिकेट देखेगा पूरा विश्‍व, भारतीय टीम में शामिल होने पर पिता ने कही बड़ी बात

Muzaffarpur Now

Published

on

बिहार के मुजफ्फरपुर निवासी व बाद में झारखंड में बसने वाले युवा क्रिकेटर शाहबाज नदीम के भारतीय टेस्ट टीम में चुने जाने पर उनके परिवार में खुशी का माहौल है। आस-पास के लोग उनके घर पहुंच बधाई दे रहे हैं। स्पेशल ब्रांच के डीएसपी पद से सेवानिवृत्त नदीम के पिता जावेद महमूद बेटे की इस उपलब्धि से खासे उत्साहित हैं। उन्होंने कहा कि भारत के लिए खेलने का जो वादा नदीम ने किया था उसे आज पूरा कर दिया।

वे बताते हैं कि बेटे ने जब पहली बार बल्ला पकड़ा था, तब वे बहुत नाराज हुए थे। उसके बल्ले को जला दिया था। तब उसने वादा किया था कि वह भारत के लिए खेलकर दिखाएगा। उसके जुनून को देखकर बाद में उसे प्रोत्साहित किया। आज उसने मेरा सपना पूरा कर दिया।

शहर के बिंदेश्वरी कंपाउंड मोहल्ला निवासी नदीम की मां हुस्न आरा भी बेटे की उपलब्धि पर खुश हैं। वह कहती हैं कि मेरे दोनों बेटे क्रिकेट खेलते हैं। बड़े बेटे अशहद इकबाल ने खेल छोड़ दिया। भारत के लिए खेलने के नदीम के जुनून ने ही उसे इस मुकाम तक पहुंचाया है। उनको अपने बेटे की उपलब्धि पर गर्व है।

उनके घर बधाई देने पहुंचे पूर्व उपमहापौर सैयद माजिद हुसैन ने कहा कि छोटे शहर के इस युवा ने बड़ी उपलब्धि हासिल कर पांच लाख शहरवासियों को गौरवान्वित होने का मौका दिया है। नदीम ही नहीं, उसके परिजनों को भी शहरवासी बधाइयां दे रहे हैं।

शहर का बेटा शाहबाज नदीम भारत के लिए खेलेगा, यह यहां के क्रिकेट खिलाडिय़ों के लिए गौरव की बात है। इस उपलब्धि के साथ वह मुजफ्फरपुर की अंतरराष्ट्रीय पहचान बन गया है। नदीम की उपलब्धि पर जिला क्रिकेट संघ के पूर्व अध्यक्ष परमानंद सिन्हा उर्फ बमबम जी, पूर्व सचिव रविशंकर शर्मा, अमोद दत्ता, नरेंद्र शर्मा, उत्पल रंजन, मनोज कुमार सिंह आदि ने नदीम के साथ-साथ उसके परिवार को बधाई दी है। कहा कि यह शान की बात है कि शहर का बेटा भारतीय टेस्ट क्रिकेट टीम का हिस्सा बना है।

बता दें कि बिहार के मुजफ्फरपुर निवासी शाहबाज नदीम की ससुराल झारखंड के झरिया में है। झारखंड में ही उनके पिता जावेद महमूद 19 इंस्पेक्टर थे। बाद में वे डीएसपी होकर सेवानिवृत्त हुए। पिता जावेद सेवानिवृत्‍त होकर बिहार स्थित अपने पैतृक शहर मुजफ्फरपुर रहने के लिए आ गए। उनकी अम्‍मी भी मुजफ्फरपुर में ही रहती हैं। वहीं नदीम की प्रारंभिक शिक्षा झरिया के डिगवाडीह के डिनोबिली स्कूल से हुई है। बाद में झारखंड की ओर से खेलने लगे।

Input : Dainik Jagran

(हम ज्यादा दिन WhatsApp पर आपके साथ नहीं रह पाएंगे. ये सर्विस अब बंद होने वाली है. लेकिन हम आपको आगे भी नए प्लेटफॉर्म Telegram पर न्यूज अपडेट भेजते रहेंगे. इसलिए अब हमारे Telegram चैनल को सब्सक्राइब कीजिए)

MUZAFFARPUR

जो चिकित्सक संक्रमित हुए हैं वो आपके परिजनों का इलाज़ करते-करते ही संक्रमित हुए हैं,करें उनकी निज़ता का ख्याल

Thakur Divya Prakash

Published

on

आ रहे ख़बर के अनुसार अपने मुजफ्फरपुर के कुछ चिकित्सक कोरोना संक्रमण से गुज़र रहें हैं। विगत चार दिनों से जब से चिकित्सकों के कोरोना संक्रमित होने के चर्चा का बाज़ार गर्म हुआ है ज़िला वासियों के बीच उन चिकित्सकों के नाम जाननें कि बेवजह उत्सुकता तेज हो गई है।पुष्ट जानकारी नहीं मिलने और समय बीतने के साथ अफ़वाह के आधार पर पहले 4-5 चिकित्सकों का और अब कल से 12-14 चिकित्सकों का नाम वाट्सएप फारवार्ड में फैलाया जा रहा है जिससे कि हर चौक चौराहे पर भय का माहौल बनता जा रहा है। हमारे पेज के इनबाक्स में,वाट्सएप ग्रूप में,अन्य सोशल मीडिया प्लैटफार्म पर हर वक्त सवाल पुछ उन चिकित्सकों का नाम जाननें के लिए लोग व्याकुल हैं।आपका मुजफ्फरपुर नाउ एक जिम्मेदार मिडिया हाउस है ऐसी जानकारी हमारे द्वारा सार्वजनिक नहीं कि जाएगी।

mask-up-bihar-muzaffarpur-now

चिकित्सक हैं जिम्मेदार कोरोना वारियर उनका करें सम्मान

हमें हमेशा स्वस्थ रखने वाले ज़िले के धरती पर मौजूद भगवानों के लिए किसी एक भी फेसबुक पोस्ट या वाट्सएप फारवार्ड में जल्दी स्वस्थ होने कि कामना किसी ने नहीं कि है लेकिन उन चार-पाँच संक्रमित चिकित्सकों के पहचान के पीछे सभी पड़े हुए हैं। जो सम्मानित चिकित्सक कोरोना संक्रमण से गुजर रहें हैं वो कोरोना संक्रमण के भय के बीच मरीजों का जिम्मेदारी से इलाज़ करते करते ही संक्रमित हुए हैं। अपनी और अपने परिवार के सदस्यों के भलाई को तरजीह ना देके वो आपके परिजनों के स्वास्थ्य को तरजीह देकर संक्रमित हुए हैं। वैसे भी चिकित्सक इतने जिम्मेदार तो हैं कि संक्रमित होते हुए वो कभी भी मरीज़ नहीं देखेंगे या उनके लिए ज़ारी गाइडलाइन के तहत हीं काम करेंगे इसलिए उनके जीवन कि निज़ता का सम्मान करना हम सब का दायित्व है।

क्यों नहीं किया जा सकता है नाम सार्वजनिक?

कोरोना संक्रमण के शुरुआत के दिनों से ही सरकार कि ओर से साफ साफ शब्दों में निर्देश जारी कर दिया गया था कि संक्रमित मरीज़ कि पहचान सार्वजनिक नहीं कि जाएगी और ऐसा करने वालों पर क़ानून निर्गत करवाई होगी,और हूई भी है। हर नागरिक के जीवन कि निज़ता का सम्मान करना हर दूसरे नागरिक का कर्तव्य है,इसको ध्यान में रख कर चल रहे वाट्सएप फारवार्ड जिसमें कुछ चिकित्सकों के नाम सार्वजनिक करके भय का माहौल खड़ा किया जा रहा है,उसका हिस्सा अगर आप बन चूके हैं तो रुक जाएं नहीं बनें हैं तो अपनी नाम जाननें कि उत्सुकता को विराम दे।अपुष्ट सूत्रों के खबर को प्राथमिकता नहीं दें।

सरकार कि ओर से कभी की भी नाम पहचान सार्वजनिक नहीं कि जाएगी इसलिए अफवाह का हिस्सा बन के डर का माहौल खड़ा करने में अपना योगदान न दें। वाट्सएप फारवार्ड में आपके द्वारा फैलाया गया गलत जानकारी किसी के लिए जानलेवा हो सकता है क्योंकि सामान्य अन्य बीमारीयों अथवा परेशानीयों से गुज़र रहें मरीज़ उन चिकित्सकों के पास भी कोरोना संक्रमण के भय से इलाज़ कराने भी नहीं जा पाएंगे जिनमें कोरोना संक्रमण तो नहीं है लेकिन आपके द्वारा वाट्सएप फारवार्ड कि लिस्ट में आप सब ने उन्हें डालते हुए संक्रमित बता कर अफ़वाह का हिस्सा बना दिया है।

Continue Reading

MUZAFFARPUR

31 जुलाई तक विश्वविद्यालय और सभी कॉलेज रहेंगे बंद

Muzaffarpur Now

Published

on

मुजफ्फरपुर : बीआरए बिहार विश्वविद्यालय समेत इससे संबद्ध सभी कॉलेजों को 31 जुलाई तक बंद करने का आदेश दिया गया है। हालांकि, सभी विभागाध्यक्षों, प्राचार्य और अधिकारियों को शारीरिक दूरी का पालन करते हुए अपने कार्यालय में रहने को कहा गया है। कुलपति प्रो.हनुमान प्रसाद पांडेय के आदेश से कुलसचिव डॉ.आरके ठाकुर ने सभी पीजी विभागाध्यक्षों और कॉलेज के प्राचार्यों को पत्र जारी कर दिया है।

कहा गया है कि कोविड-19 के तेजी से फैल रहे संक्रमण को देखते हुए केंद्र सरकार की ओर से जारी दिशानिर्देश के बाद विवि ने यह फैसला लिया है। कहा गया है कि सभी शिक्षक और कर्मचारी मुख्यालय में ही रहेंगे। मुख्यालय छोड़ने से पहले संबंधित अधिकारियों को सूचना देंगे। साथ ही घर से ही ऑनलाइन कक्षाओं का संचालन करेंगे। समय-समय पर इसका रिपोर्ट राजभवन को दी जाएगी।

कर्मचारियों को कहा गया है कि वे घर पर रहें और जरूरत पड़ने पर उन्हें फोन कर कार्यालय बुलाया जा सकता है। बता दें कि विवि और कॉलेज खुलने के कारण विद्यार्थी विभिन्न कार्यों को लेकर पहुंच रहे थे। भीड़ को देखते हुए संक्रमण का खतरा बढ़ गया था।

Input : Dainik Jagran

 

Continue Reading

MUZAFFARPUR

गुरुवार को मुजफ्फरपुर में तीन चिकित्सकों समेत 32 नए संक्रमित मिले

Muzaffarpur Now

Published

on

पटना/मुजफ्फरपुर : कोरोना का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। गुरुवार को मुजफ्फरपुर में तीन चिकित्सकों समेत कुल 32 नए पॉजिटिव मरीज मिले हैं। तीनों चिकित्सक एसकेएमसीएच से जुड़े बताए जा रहे हैं। इस बीच पहली बार सूबे में एक दिन में रिकॉर्ड 478 नए संक्रमित मिले हैं। इनमें पश्चिम चंपारण के 14, मधुबनी के 11, दरभंगा के पांच व शिवहर के दो हैं। पटना में इस महामारी ने सबसे तेजी से पांव पसारा है। गुरुवार को यहां कुल 127 मरीज मिले। इस बीच पिछले 24 घंटे में 183 पॉजिटिव मरीज स्वस्थ हो गए हैं। स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि कोरोना संक्रमण से पांच की मौत हुई है। इनमें रोहतास, पटना, मुजफ्फरपुर, किशनगंज और भोजपुर के एक-एक हैं। सभी महामारी के अलावा अन्य बीमारियों के शिकार थे। अब तक कोरोना से प्रदेश में 81 लोगों की जान गई है।

कोरोना संक्रमित चिकित्सकों की संख्या हो गई सात

जिले में गुरुवार को भी कोराना का कहर जारी रहा। 32 लोग पॉजिटिव मिले। इनमें तीन चिकित्सक शामिल हैं। ये एसकेएमसीएच से जुड़े बताए जा रहे हैं। इस तरह पिछले दो दिनों में संक्रमित चिकित्सकों की संख्या सात हो गई है। इस बीच सोशल मीडिया पर 14 चिकित्सकों के संक्रमित होने की सूची दिनभर वायरल होती रही। सिविल सर्जन डॉ.एसपी सिंह ने कहा कि जो सूची वायरल हो रही वह फेक है। साथ ही चेतावनी दी कि कोरोना की गलत खबर चलाने व मरीज का नाम सार्वजनिक करनेवालों पर सख्ती होगी। इधर वरीय मेडिसिन विशेषज्ञ डॉ.एके दास ने जिलाधिकारी व एएसपी से शहर के नामी विशेषज्ञ चिकित्सकों की फर्जी सूची वायरल करने वाले की पहचान कर कानूनी कार्रवाई की मांग की है। उधर, पटना एम्स में इलाजरत सदर अस्पताल से जुड़े चिकित्सक के स्वास्थ्य में लगातार सुधार हो रहा है। एम्स से मिली जानकारी के अनुसार पहले से हालत में सुधार है। इधर जिले के एक वरीय स्वास्थ्य अधिकारी की देर शाम तबीयत बिगड़ गई। बताया कि नमूना देकर जांच कराएंगे।

चिकित्सकों व कर्मियों ने दिए नमूने

सदर अस्पताल के 25 स्वास्थ्य और 30 सफाई कर्मियों ने अपने नमूने संग्रहित कराए। इधर, एसकेएमसीएच के अधीक्षक ने बताया कि नौ चिकित्सकों ने अपने नमूने दिए हैं। सभी नमूनों को जांच के लिए भेजा गया है। मेडिसिन विभाग के एक चिकित्सक के संपर्क में आए लोगों की तलाश कर उनके नमूने भी लेकर जांच कराई जाएगी।

जूरन छपरा में पसरा रहा सन्नाटा : जूरन छपरा में दो चिकित्सकों के पॉजिटिव आने के बाद वहां पूरे दिन सन्नाटा पसरा रहा। अधिकतर चिकित्सकों के क्लीनिक बंद रहे। मरीज भी सहमे दिखे। इस इलाके के शिशु रोग विशेषज्ञ भी चपेट में हैं। उनके क्लीनिक पर भर्ती मरीजों के नमूने संग्रहित किए जाएंगे। जानकारी के अनुसार उनके क्लीनिक में करीब 50 बच्चे इलाजरत हैं। सभी की पहचान कर जांच होगी। सिविल सर्जन ने बताया कि अस्पताल के संबंध में जानकारी मिली है। वहां पर टीम भेजकर जांच व नमूने संग्रहित कराए जाएंगे।

  • सदर अस्पताल के चिकित्सकों समेत 55 कर्मियों ने संग्रहित कराए नमूने
  • स्वास्थ्य विभाग के वरीय पदाधिकारी की तबीयत बिगड़ी, कराएंगे जांच
  • चिकित्सकों के संक्रमित होने की सूची सोशल मीडिया पर दिनभर होती रही वायरल

मुजफ्फरपुर : जिले में कोरोना पॉजिटिव के लगातार मिल रहे मामलों से घबराने की जरुरत नहीं है। डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने यह कहा। उन्होंने जिलेवासियों से अपील करते हुए कहा कि सतर्क रहने की जरूरत है। निर्धारित मापदंड का पालन करते हुए मास्क पहनें और शारीरिक दूरी बनाकर रहें। अभी जो पॉजिटिव पाए जा रहे वे संपर्क वाले नहीं है। रैंडम जांच के क्रम में पॉजिटिव मिले है। अभी श्रृंखला संक्रमण का मामला सामने नहीं आया है। इसलिए इसे कम्युनिटी स्प्रेड नहीं कहा जा सकता है। अगर इस तरह का मामला सामने आता है तो संक्रमण से बचाव को कंटेंटमेंट जोन बनाने की कवायद की जाएगी। इसके लिए एसडीओ व डीएसपी को निर्देश दिया गया है कि सिविल सर्जन से बात कर कंटेंटमेंट जोन के संबंध में रूपरेखा तैयार कर प्रस्तुत करें। बता दें कि बुधवार को 54 पॉजिटिव केस सामने आए थे। डीएम ने कहा कि मिले संक्रमित मरीजों को निर्धारित प्रोटोकॉल के तहत इलाज कराने की कार्रवाई चल रही है। जो भी डॉक्टर संक्रमित पाए गए हैं, उनकी क्लिनिक को बंद कराया जा रहा है। इधर, सराफा कारोबारियों ने शाम चार बजे तक दुकानें खोलने का निर्णय लिया है। होम डिलीवरी की भी व्यवस्था की है।

  • पॉजिटिव पाए गए डॉक्टरों की क्लीनिक बंद कराने की कवायद

डॉक्टरों व नर्सो की छुट्टियां 30 अगस्त तक रद

पटना : कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच सरकार ने डॉक्टरों, नर्सो और पारामेडिकल स्टाफ की छुट्टियां 30 अगस्त तक रद कर दी हैं। स्वास्थ्य विभाग ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं। इसके दायरे में डॉक्टर, मेडिकल अफसर, संविदागत चिकित्सक, प्राचार्य और अधीक्षक आदि भी आएंगे।

सूबे में पांच की मौत, पहली बार एक दिन में मिले 478 कोरोना पॉजिटिव, मुजफ्फरपुर के संक्रमित तीनों चिकित्सक एसकेएमसीएच से जुड़े हुए

Input : Dainik Jagran

Continue Reading
MUZAFFARPUR1 hour ago

जो चिकित्सक संक्रमित हुए हैं वो आपके परिजनों का इलाज़ करते-करते ही संक्रमित हुए हैं,करें उनकी निज़ता का ख्याल

BIHAR1 hour ago

पायलों की छन-छन और चूड़ियों की खनक के साथ ससुराल से सीधे अस्पताल पहुंची दुल्हन, किया ऐसा काम कि बन गईं मिसाल

MUZAFFARPUR3 hours ago

31 जुलाई तक विश्वविद्यालय और सभी कॉलेज रहेंगे बंद

INDIA4 hours ago

होम आइसोलेशन के लिए सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन

INDIA4 hours ago

मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का निधन, बॉलीवुड को एक और बड़ा झटका

BIHAR4 hours ago

राशन कार्ड की आपत्तियां लोक शिकायत कानून में हो सकेंगी दर्ज

MUZAFFARPUR4 hours ago

गुरुवार को मुजफ्फरपुर में तीन चिकित्सकों समेत 32 नए संक्रमित मिले

BIHAR14 hours ago

चुनाव आयोग का बड़ा फैसला- 65 साल से अधिक उम्र और कोविड पॉजिटिव कर सकेंगे पोस्टल बैलेट का इस्तेमाल

MUZAFFARPUR14 hours ago

चुनाव पुर्व तैयारी के तहत जिलाधिकारी ने किया राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि के साथ बैठक

MUZAFFARPUR15 hours ago

जिले में आगामी विधानसभा चुनाव कि तैयारी तेज ईवीएम और वीवीपैट का दिया गया हैंड्स ऑन ट्रेनिंग

INDIA4 weeks ago

धोनी ने खरीदा स्‍वराज ट्रैक्‍टर तो आनंद महिंद्रा ने दिया बड़ा बयान, वायरल हुआ ट्वीट

BIHAR2 weeks ago

सुशांत के परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़, सदमा नहीं झेल पाईं भाभी, तोड़ा दम

BIHAR2 weeks ago

प्रिय सुशांत – एक ख़त तुम्हारे नाम, पढ़ना और सहेज कर रखना

INDIA3 weeks ago

सुशांत स‍िंह राजपूत की सुसाइड पर बोले मुकेश भट्ट, ‘मुझे पता था ऐसा होने वाला है…’

BIHAR3 weeks ago

लालू के बेटे तेजस्वी यादव की कप्तानी में खेलते हुए बदली विराट कोहली की किस्मत!

MUZAFFARPUR2 weeks ago

सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर एकता कपूर ने तोड़ी चुप्पी, कहा- मेरे खिलाफ मुकदमा करने के लिए शुक्रिया

BIHAR1 week ago

बिहार में नहीं चलेंगी सलमान खान, आलिया भट्ट, करण जौहर की फिल्में

INDIA2 weeks ago

सुशांत के व्हॉट्सऐप चैट आये सामने, उनको फिल्म करने में हो रही थी परेशानी

INDIA3 weeks ago

चांद पर प्लॉट खरीदने वाले पहले एक्टर थे सुशांत सिंह राजपूत!

INDIA2 weeks ago

मरने से पहले सुशांत सिंह राजपूत ने किया था ट्वीट, ‘मैं इस जिंदगी से तंग आ गया हूं, गुड बाय’

Trending