Connect with us

BIHAR

मुजफ्फरपुर में महिला की मौत पर नीतीश सरकार से जवाब तलब, दर्दनाक वीडियो का हाईकोर्ट ने लिया स्वतः संज्ञान

Muzaffarpur Now

Published

on

मुजफ्फरपुर रेलवे प्लेटफार्म पर महिला की मौत के मामले में पटना हाईकोर्ट ने स्वत संज्ञान लेते हुए इस मामले पर सुनवाई की है. पटना हाईकोर्ट ने मुजफ्फरपुर की घटना पर नीतीश सरकार से जवाब तलब किया है. हाईकोर्ट ने इसे जनहित का मामला करार देते हुए राज्य सरकार से विस्तृत जवाब मांगी है. हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस संजय करोल और जस्टिस एस कुमार की खंडपीठ ने मुजफ्फरपुर रेलवे प्लेटफार्म के उस दर्दनाक वीडियो के मामले पर सुनवाई की. जिसमें एक महिला की मौत के बाद उसका बच्चा वही खेलते हुए नजर आया था. देशभर में यह वीडियो बड़ी तेजी से वायरल हुआ और यह जानकारी सामने आई की श्रमिक स्पेशल ट्रेन से आ रही महिला की मौत सफर के दौरान ही हो गई.

Heart-breaking video of toddler trying to wake up dead mother at ...

हाई कोर्ट ने इस मामले पर सुनवाई के दौरान बेहद हैरत जताते हुए कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण और सदमा पैदा कर देने वाली स्थिति है. इस वीडियो को देखते हुए हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार, भारतीय रेलवे, बिहार सरकार के आपदा प्रबंधन, स्वास्थ्य समाज कल्याण विभाग के प्रधान सचिव और अन्य को पक्षकार बनाते हुए जवाब तलब किया है.

हाई कोर्ट ने आज इस मामले की सुनवाई करने के बाद दोपहर 2:15 बजे तक सरकार से जवाब मांगा. हाईकोर्ट में जिन बिंदुओं पर जवाब मांगा था वह इस प्रकार रहे –

1) उस महिला की मौत वाकई भूख के कारण हुई या किसी अन्य वजह से ?

2) मृत महिला का पोस्टमार्टम कराया गया था या नही ?

3) मृतक महिला अपने बच्चे के साथ अकेले सूरत से आ रही थी या उसके साथ उसके कोई परिवार वाला था ?

4) उसके मौत की जानकारी के बाद पुलिस व अन्य महकमे ने फौरन क्या कदम उठाए उसका अंतिम संस्कार रीति रिवाजों के साथ हुआ या नही ?

5) मृतका के बच्चे की किसके संरक्षण में है और उसकी देखभाल कौन कर रहा है ?

साथ ही इस जनहित मामले में युवा एडवोकेट आशीष गिरी को बतौर “कोर्ट मित्र” ( अमेक्स क्यूरी ) नियुक्त करते हुए कोर्ट ने उन्हें जनहित याचिकाकर्ता के वकील के तौर पर सुनवाई में कोर्ट को सहायता देने का भी अनुरोध किया ।

लंच टाइम के बाद हुई सुनवाई

हाईकोर्ट ने जिन पांच बिंदुओं पर सरकार से जवाब तलब किया. उस पर लंच टाइम के बाद सुनवाई हुई. राज्य सरकार की तरफ से अपर महाधिवक्ता सूर्य देव यादव ने कोर्ट को यह जानकारी दी कि मीडिया में छपी रिपोर्ट आंशिक तौर पर सही है. महिला मानसिक तौर पर बीमार थी और परित्यक्त हो गई थी. कटिहार की रहने वाली महिला गुजरात के सूरत से घर वापस लौट रही थी. उसके साथ उसके बहन और बहनोई भी थे, लेकिन यात्रा के दौरान उसकी प्राकृतिक तरीके से मौत हो गई. महिला के बहनोई ने मुजफ्फरपुर आकर रेलवे के अधिकारियों को इस बाबत जानकारी दी. जिसके बाद डेड बॉडी की जांच पड़ताल के बाद उसके परिजनों को सौंप दिया गया, हालांकि इस मामले में कोई एफआईआर दर्ज नहीं की गई और ना ही पोस्टमार्टम हुई. मुजफ्फरपुर जिला प्रशासन ने महिला के मृत शरीर और उसके बच्चों को परिजनों के साथ कटिहार एंबुलेंस से भेजने का प्रबंध किया और आवश्यक सामान भी मुहैया कराये. कोर्ट राज्य सरकार के इस जवाब से संतुष्ट नहीं हुआ और उसने इस मामले पर विस्तृत रिपोर्ट तलब की है. कोर्ट ने कहा राज्य सरकार इस घटना का पूरा ब्यौरा परिस्थितियों की जानकारी हलफनामे पर दायर कर अगली सुनवाई में दे. साथ ही साथ अनाथ बच्चे की मौजूदा स्थिति के बारे में भी जानकारी उपलब्ध कराएं. कोर्ट इस मामले में अगली सुनवाई 3 जून को करेगा.

Input : First Bihar

BIHAR

अब बदल गई है Cycle Girl ज्योति की जिंदगी, PM Modi आज करेंगे वर्चुअल संवाद

Muzaffarpur Now

Published

on

दरभंगा: बिहार के दरभंगा के सिंहवाड़ा प्रखंड क्षेत्र के सिरहुल्ली निवासी साइकिल गर्ल ज्योति एक बार फिर सुर्खियों में है. लॉकडाउन के दौरान हरियाणा के गुरुग्राम से बीमार पिता को लेकर साइकिल से अपने गांव दरभंग जिला के सिरहुल्ली पहुंची ज्योति देश ही नहीं विदेशों में भी सुर्खी पा चुकी हैं. उस समय अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पुत्री इवांका ट्रंप ने ज्योति को ट्वीट कर बधाई दी थी. इसके बाद रातों-रात ज्योति सुर्खियों में आ गई थी.

Darbhanga: अब बदल गई है Cycle Girl ज्योति की जिंदगी, PM Modi आज करेंगे वर्चुअल संवाद

एक बार पुनः ज्योति सुर्खियों में हैं, क्योंकि 25 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से ज्योति वर्चुअल संवाद करने जा रही है. इसको लेकर परिजनों सहित पूरे क्षेत्र में खुशी की लहर दौड़ गई है. ज्योति सहित परिजनों ने कहा कि कभी सोचा भी नही था कि इतना सम्मान मिलेगा. पीएम से संवाद को लेकर खुशी में ज्योति के घर मे मिठाई बंटी और एक दूसरे को बधाई दी.

ज्योति की मां बोली- उनकी वजह से पढ़ रही गरीब लड़कियां

ज्योति की मां ने बताया कि ज्योति की वजह से आज हमलोगों को बहुत सम्मान मिल रहा है. लोग आकर बधाई दे रहे हैं. हम लोगों ने सपने में भी नहीं सोचा था कि मंत्री और प्रधानमंत्री से हम लोगों की बात होगी, लेकिन यह सब ज्योति के कारण हो रहा है. आज ज्योति को देखकर इस क्षेत्र के बड़ी संख्या में गरीब लड़कियां पढ़ने को जाती हैं.

उनका मानना है कि अगर ज्योति अपने पिता को साइकिल से लाकर ऐसी साहसिक कदम से इतना नाम कमा सकती है तो हम लोग भी पढ़ लिखकर कुछ कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समय में बेटियों पर ध्यान दिया जा रहा है और बेटियां पढ रही हैं.

ज्योति के पिता बोले- PM मेरी बेटी को आशीर्वाद दें

ज्योति के पिता मोहन पासवान ने बताया कि डीएम साहब के द्वारा हम लोगों को बताया गया कि प्रधानमंत्री से बात करनी है. मैं बहुत खुश हूं कि आज ज्योति की वजह से प्रधानमंत्री से हम लोगों की बात होगी. मैं तो कहूंगा प्रधानमंत्रीजी मेरी बेटी को भी आशीर्वाद दें और भी बेटियों को आशीर्वाद दें, जो ज्योति को देखकर पढ़ लिख कर आगे बढ़ना चाह रही हैं.

ज्योति को नशा मुक्त अभियान के ब्रांड एंबेसडर बनाए जाने को लेकर ज्योति के पिता ने कहा कि मुझे तो मालूम भी नहीं कि ब्रांड एंबेसडर क्या होता है. बाद में लोगों से पता चला यह तो बड़े-बड़े लोगों को बनाया जाता है .मैं अपनी खुशी कैसे बयां करूं ,आज मेरी बेटी इतनी कम उम्र में इतना सम्मान मिला.

ज्योति ने कहा- मैं बेहद खुश हूं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से वर्चुअल संवाद को लेकर उत्साहित ज्योति ने बताया कि मैं बेहद खुश हूं. मैंने सपने में भी नही सोचा था कि प्रधानमंत्री जी से बात करूंगी. मुझे पता भी नहीं था. पापा से पता चला. फिर डीएम सर के द्वारा जानकारी मिली कि प्रधानमंत्री जी से बात करनी है. ज्योति ने बताया कि आज उसके जीवन में बहुत बदलाव आया है. पहले घर नहीं था, बाथरूम नहीं था. आज हमें देखकर अन्य लड़कियां भी पढ़ रही हैं.

वे कहते हैं कि ज्योति अगर इतना कुछ कर सकती है तो हम लोग पढ़ लिखकर और आगे बढ़ सकते हैं. आज हमें नशा मुक्ति अभियान का ब्रांड एम्बेसडर बनाया गया है.

Source : Zee News

rama-hardware-muzaffarpur

Continue Reading

BIHAR

किडनी के साथ फेफड़ों के संक्रमण से भी लड़ रहे लालू, सांस लेने में परेशानी बरकरार

Muzaffarpur Now

Published

on

RJD सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के स्वास्थ्य में फिलहाल सुधार होता नहीं दिख रहा है. सूत्रों से जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक लालू प्रसाद यादव को सांस लेने में अभी भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. रांची के रिम्स (RIMS) अस्पताल से दिल्ली के एम्स (Delhi AIIMS) में शिफ्ट हुए लालू प्रसाद को कई बीमारियों के संक्रमण का सामना करना पड़ रहा है.

Worries over Lalu Prasad's health grow, Tejashwi Yadav to meet CM today - India News

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, रविवार की रात लालू प्रसाद यादव के स्वास्थ्य का हाल डॉ राकेश यादव और उनकी टीम ने लिया. न्यूज़ 18 को जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक डॉक्टरों की प्राथमिकता लालू के फेफड़ों के संक्रमण को ठीक करना है. डॉक्टरों की टीम चाहती है कि लालू का निमोनिया पहले ठीक हो जाए, क्योंकि लालू प्रसाद यादव पहले भी बाईपास सर्जरी करा चुके हैं.

डॉक्टरों को यह खतरा सता रहा है कि फेफड़ों पर लंबे वक्त तक संक्रमण रहने से इसका असर लालू प्रसाद यादव के हार्ट पर भी पड़ सकता है. मालूम हो कि लालू प्रसाद यादव की किडनी पहले से ही खराब है और वो महज 25 फ़ीसदी काम कर रही है. लालू प्रसाद यादव कई अन्य बीमारियों से ग्रसित हैं, ऐसे में डॉक्टरों की टीम लगातार उनके स्वास्थ्य पर फिलहाल नजर बनाए हुए हैं.

इस बीच, राजद के नेता और कार्यकर्ता लालू प्रसाद का हाल जानने के लिए दिल्ली के एम्स में जुटने लगे हैं. इससे अस्पताल में गैरजरूरी भीड़ भी बढ़ने लगी है. इन स्थितियों को देखते हुए लालू प्रसाद यादव के बेटे और बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने अपने नेताओं और कार्यकर्ताओं से गुजारिश की है कि वे एम्स में भीड़ न लगाएं, बल्कि वे जहां भी हैं, वहीं से उनके पिता के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करें.

इनपुट- अमितेश

rama-hardware-muzaffarpur

Continue Reading

BIHAR

सीएम नीतीश कुमार को क्‍यों सता रहा है कुर्सी जाने का डर? कर्पूरी ठाकुर का जिक्र छेड़ कह दी बड़ी बात

Muzaffarpur Now

Published

on

पटना. बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने इशारों में ही सीएम कुर्सी को लेकर बड़ी बात कही है. उन्‍होंने संकेत दिया कि उनको भी कार्यकाल के बीच में ही सीएम की कुर्सी से हटाया जा सकता है. पटना में नीतीश कुमार (Bihar CM Nitish Kumar) ने इस बात के संकेत पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर (Karpuri Thakur) की जयंती के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान दिया. नीतीश कुमार ने कर्पूरी ठाकुर का जिक्र करते हुए अप्रत्यक्ष तौर पर कहा कि उनको भी कार्यकाल के बीच में ही सीएम की कुर्सी से हटाया जा सकता है.

News18 इंग्लिश की एक रिपोर्ट के अनुसार, नीतीश कुमार ने जननायक का जिक्र करते हुए पूछा कि उनके साथ आखिर अन्याय क्यों हुआ, जबकि वह अति पिछड़ों के सबसे बड़े हितैषी थे. कर्पूरी ठाकुर को 21 अप्रैल 1979 को सीएम पद से इस्तीफा देना पड़ा था. नीतीश कुमार जननायक के दूसरे कार्यकाल की तरफ इशारा करते हुए यह बात कह रहे थे. नीतीश ने कहा कि नाराज लोगों ने 2 साल और कुछ महीने में ही उन्हें पद से हटा दिया, जबकि उन्होंने समाज के सभी वर्ग के हितों का ख्याल रखा था. नीतीश ने कहा कि कभी-कभी सबके हित में काम करने वाले लोगों से भी कुछ लोग नाराज हो जाते हैं.

नीतीश ने कहा कि कुछ लोग सिर्फ सत्ता का सुख लेना चाहते हैं, लेकिन हमारे लिए सत्ता का बस एक मतलब है और वो है सेवा. लोगों की सेवा करना ही हमारा धर्म है. मैं वचन देता हूं, जब तक हम हैं, लोगों की सेवा करते रहेंगे इससे पहले नीतीश कुमार ने अपने विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा कि बहुत लोगों की आदत है बिना मतलब का बोलने की, खासकर के मेरे खिलाफ. लेकिन मुझे इसके विषय में कुछ नहीं कहना है. शायद मुझ पर बोलने से भी उनकी पब्लिसिटी हो जाए, यही सोचकर कुछ लोग बोलते हैं. नीतीश कुमार ने कहा कि जब तक हम हैं लोगों की सेवा करते रहेंगे.

नीतीश कुमार ने कहा कि हमारा धर्म लोगों की सेवा करना है, विकास करना है. बाक़ी लोग क्या बोल रहे हैं उससे हमें कोई मतलब नहीं है. लेकिन लोगों को वस्तुस्थिति बताना चाहिए. पहले क्या था आज कैसा हाल है, ये किसी से छुपा हुआ है? जब काम होगा तो लोगों को रोज़गार भी मिलेगा इसका इंतज़ार कीजिए.

Source : News18

rama-hardware-muzaffarpur

Continue Reading
INDIA5 hours ago

अब वोट देने के लिए नहीं जाना होगा घर, कहीं से भी कर पाएंगे मतदान, यह है EC की प्लानिंग

INDIA5 hours ago

राशन कार्ड हुआ गजब खेल, पत्नी बनी बहन, बेटा बना भाई

BIHAR5 hours ago

अब बदल गई है Cycle Girl ज्योति की जिंदगी, PM Modi आज करेंगे वर्चुअल संवाद

BIHAR5 hours ago

किडनी के साथ फेफड़ों के संक्रमण से भी लड़ रहे लालू, सांस लेने में परेशानी बरकरार

BIHAR5 hours ago

सीएम नीतीश कुमार को क्‍यों सता रहा है कुर्सी जाने का डर? कर्पूरी ठाकुर का जिक्र छेड़ कह दी बड़ी बात

INDIA7 hours ago

अब Aadhar कार्ड की तरह फोन पर Download कर सकेंगे Voter ID कार्ड, आज से शुरू हो जाएगी सुविधा

BIHAR7 hours ago

मोतीपुर में उपद्रवियों ने वैशाली पुलिस पर किया हमला, हथियार छीनने की कोशिश

BIHAR7 hours ago

बिहार : मुखिया लगवाएंगे गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट

TRENDING1 day ago

दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क ईनाम में देंगे 730 करोड़ रुपये, लेकिन करना होगा ये काम

BIHAR1 day ago

लालू प्रसाद की बिगड़ी तबीयत पर बोले नीतीश कुमार- वे जल्द ठीक हों, मेरी शुभकामना उनके साथ

TRENDING7 days ago

WagonR का Limousine अवतार! तस्वीरों में देखिए एक मैकेनिक का शाहकार

INDIA3 weeks ago

लड़कियों के लिए मिसाल हैं ये महिला IAS, अपनी हाइट को नहीं बनने दिया बाधा

INDIA1 week ago

इंग्लिश मीडियम बहू और हिंदी मीडियम सास के रिश्‍तेे में यूं आ रही दरार, पहुंच रहे थाने तक

TRENDING3 weeks ago

12 लीटर सोडा, 40 बोतल बीयर रोज: 412 किलो के शख्स ने दुनिया को कहा अलविदा

JOBS4 weeks ago

डाक विभाग ने निकाली है बंपर भर्तियां, 10वीं पास करें आवेदन, जानें फॉर्म भरने का तरीका

BIHAR3 weeks ago

29 IAS, 38 IPS की ट्रांसफर-पोस्टिंग: 12 DM बदले, चंद्रशेखर सिंह पटना के नए DM बने; 13 SP बदले, लिपि सिंह को सहरसा SP बनाया गया

TRENDING1 week ago

‘दोस्त’ ने किया बेइज्जत: ‘कंगाल’ पाकिस्तान का यात्री विमान मलेशिया ने किया जब्त, उतारे गये यात्री

MUZAFFARPUR4 weeks ago

निगम में शामिल होंगे शहर से सटे 32 गांव, 49 से बढ़ कर हाे सकते हैं अब 76 वार्ड

MUZAFFARPUR5 days ago

मुजफ्फरपुर समेत 3 शहरों में फरवरी से दौड़ने लगेंगी इलेक्ट्रिक बसें, किराया भी कम लगेगा

BIHAR1 week ago

बिहार: अब सभी जिलों में चलेगी BSRTC की बस, पटना से काठमांडू, जनकपुर व भूटान सीमा तक मिलेगी सर्विस

Trending