शहर में अपराध नियंत्रण के लिए एसएसपी ने अश्व मोबाइल की शुरुआत की है। रविवार की शाम सिकंदरपुर स्थित एसएसपी कोठी से उन्होंने हरी झंडी दिखाकर अश्व मोबाइल को रवाना किया।

एसएसपी मनोज कुमार ने बताया कि शहरी क्षेत्र में अपराध नियंत्रण एवं विधि-व्यवस्था में गुणात्मक सुधार के लिए अश्व मोबाइल एक अभिनव योजना शुरू की गई है। इसके तहत चार अश्व मोबाइल का गठन किया गया है। यह शहर के 16 संवेदनशील इलाकों पर पैनी नजर रखेगा।

इससे थानों की गश्ती गाड़ी की भी निगहबानी होगी। अश्व मोबाइल रात नौ बजे से लेकर सुबह चार बजे तक काम करेगा। अश्व मोबाइल की गाड़ियों में जीपीएस सिस्टम लगा है। मौके पर सिटी एसपी नीरज कुमार सिंह, एएसपी अभियान विमलेश चंद्र झा, एसडीओ पूर्वी डॉ. कुंदन कुमार, नगर डीएसपी मुकुल कुमार रंजन, डीएसपी पश्चिमी कृष्ण मृरारी प्रसाद, केपी पप्पू व अन्य उपस्थित थे।

अश्व मोबाइल की जिम्मेदारी :

-अश्व मोबाइल तैनाती स्थल पर संदिग्ध लोगों, ट्रिपल लोडिंग व संदिग्ध वाहनों की जांच-पड़ताल करेगा।

-तैनाती के क्षेत्र में स्थानीय थाने के गश्ती दल से संपर्क स्थापित कर उनकी सक्रियता भी सुनिश्चित करेगा।

-स्थानीय थाने की पुलिस को रेड/छापेमारी के दौरान (केवल आकस्मिक स्थिति में) बगैर अनुमित के सहयोग करेगा।

-एसएसपी द्वारा गठित अश्व मोबाइल तैनाती क्षेत्र के आसपास के आमजनों को भी किसी अपात स्थिति में मदद करेगा।

इस रूट पर रहेगा अश्व मोबाइल :

अश्व मोबाइल 1 : बैरिया, जूरनछपरा रोड नंबर दो, सरैयागंज टावर, बनारस बैंक

अश्व मोबाइल 2 : भगवानपुर, गोबरसही, माड़ीपुर ओवरब्रिज, मोतीझील ओवरब्रिज

अश्व मोबाइल 3: बनारस बैंक चौक, पानी टंकी, मिठनपुरा चौक, अघोरिया बाजार चौक

Input : Live Hindustan

billions-spice-food-courtpreastaurant-muzaffarpur-grand-mall

Digita Media, Social Media, Advertisement, Bihar, Muzaffarpur

Total 0 Votes
0

Tell us how can we improve this post?

+ = Verify Human or Spambot ?